*पौराणिक काल से पूज्यनीय है पत्रकारिता *
*संघर्षों की जटिल राह पर पत्रकारिता शुरु की थी देवर्षि नारद ने*
राजेन्द्र पंत ‘रमाकांत’/उत्तराखण्ड आज
भारतवर्ष में पत्रकारिता का अनुभव सदियों पूर्व किया जाता रहा है। किसी न किसी रूप में सनातन काल से कलम साध...

(पूरा पढ़ें)
+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

🌹* *रहस्य,रोमाचं की अलौकिक गाथा थावेश्वरी माता जो आवे थावे वो सब कुछ पावै* *🌹आस्था व भक्ति का संगम है,थावे वाली देवी का दरबार* *राजेन्द्र पंत ,'रमाकान्त '*प्रभारी उत्तराखण्ड आज थावे(गोपालगंज)बिहार।नवरात्री के पावन अवसर प...

(पूरा पढ़ें)
+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

*🌹आस्था व भक्ति का संगम स्थल विनसर महादेव*
राजेन्द्र पन्त ‘रमाकांत’
अगर आध्यात्म के साकार दर्शन करने हैं, तो हिमालय की छवि ही काफी है। सफेद बर्फ से ढकी हिमालय की चोटियों की शांति आपकी आत्म को छू लेगी, हिमालय के एक ऐसे हिमनद पर मिले एक तीर्थयात्र...

(पूरा पढ़ें)
+9 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

*🌹माँ भद्रकाली दरबार में 30 मई से बहेगी श्रीमद्देवी भागवत की ज्ञान गंगा* *🌹शत चण्डी महायज्ञ का भी होगा आयोजन* *🌹कार्यक्रमों को लेकर कमस्यार घाटी में जबरदस्त उत्साह* *🌹प्रसिद्ध कथा...

(पूरा पढ़ें)
+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 1 शेयर