🌹* *🌹हिमालय की छटाओं में प्राकृतिक सौदर्य का संगम समेटे हुए है,मलयनाथ की नगरी डीडीहाट* ( *🥬रमाकान्त, पन्त उत्तराखण्ड़ आज*)🥬🥬🥬🥬🥬 डीडीहाट(पिथौरागढ़)/हिमालय की गोद में स्थित डीडीहाट का सौदर्य अतुलनीय है,यहां की प्राकृतिक आभाओं में...

(पूरा पढ़ें)
+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

*🌹काशी व कैलाश से ज्यादा फलदायी है, बागेश्वर*
*🌹रहस्य,रोंमाच व आस्था का अद्भूतसंगम बागेश्वर*
*राजेन्द्रपन्त‘रमाकान्त*ब्यूरो चीफ कुमाऊँ,उत्तराखण्ड़ आज*
बागेश्वर/* * इस क्षेत्र को हिमालय का काशी भी कहते है। पर्यटन व तीर्थाटन की दृष्टि ...

(पूरा पढ़ें)
+2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर

सप्तकोटिमहामंत्राश्चित्तविभ्रंशकारकाः।
एक एव महामंत्रो गुरुरित्यक्षरद्वयम् ॥

*सात करोड़ महामंत्र विद्यमान हैं वे सब चित्त को भ्रमित करने वाले हैं..*
*गुरु नाम का दो अक्षर वाला मंत्र एक ही महामंत्र है.!!*

*शिव ही गुरू हैं * 🌹🌹 और गुर...

(पूरा पढ़ें)
+41 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर

*आप सभी को गुप्त नवरात्रों की हार्दिक शुभकामनाएं*🌹🌹🌹🌹🌹🌹* *भद्रकाली की उत्पत्ति की एक गाथा दक्ष प्रजापति के यज्ञ से भी जुड़ी हुई है। वीर भद्र और भद्रकाली की उत्पत्ति भगवान शिव की जटाओं से भी मानी जाती है ।वीरभद्र और भद्रकाली के साथ शिव की जटाओ...

(पूरा पढ़ें)
+18 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

*🌹रामायण काल की ऐतिहासिकता का अहम हिस्सा है, दूनागिरी पर्वत*
*🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹दूनागिरी की सिंह वाहिनी, तेरी जयकार मां चन्द्रवदनी*
*🌹 ’रमाकांत पंत,प्रभारी उत्तराखण्ड़ आज*
दूनागिरी///’*’ताः सर्वाः पूजिताः पृथ्व्यां पुण्यक्षेत्रे च भारते*।
पूजिता ...

(पूरा पढ़ें)
+8 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर

*कुछ अलग हटके अद्भुत जानकारी* *🌹 नर्मदा नदी में स्नान कर पापों से मुक्त होती है गंगा*

अमरकटंक/(मध्य प्रदेश)/माँ *गंगा लोगों के पाप धोते धोते जब स्वंय मैली होकर बन्धन में पड़ जाती है, तब वह माँ नर्मदा में काली गाय का रुप...

(पूरा पढ़ें)
+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर

https://youtu.be/8U_CBEIRW_k

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर

🌹* *कभी कैलाश यात्रा पथ का प्रथम पड़ाव था ऋषेश्वर*
*🌹रमाकान्त पन्त*🌹 *चम्पावत/अलाैंकिक विरासत को समेटे कुर्मांचल पर्वत पर विराजमान देवालयों की महिमा का वर्णन बड़ा ही मनोहारी है। रामायण, महाभारतकाल व उससे पूर्व से भी ऋषि-मुनियों की यह तपःस्थली ...

(पूरा पढ़ें)
+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर