+69 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 6 शेयर

*ईश्वर* टूटी हुई चीज से बहुत सुन्दरता✴️ से काम लेता है! बादल टूटते हैं तो बारिश होती है ! मिट्टी टूटती है तो "खेत" बनते हैं ! फसल टूटती है तो अनाज " बीज" बनता है ! बीज टूटता है तो नया "पौधा" बनता है ! इसलिए जब भी अपने को टूटा हुआ महसूस करें तो समझ लीजिए ईश्वर हमारा उपयोग "बेहतर" करना चाहता है !!------ कुछ हंस कर बोल दो, कुछ हंस कर टाल दो, परेशानियां तो बहुत ही है , कुछ वक्त पर डाल दो !!----- समुद्र मंथन सा लग रहा है यह साल ! इतना विष निकल रहा है तो " अमृत" भी जरूर निकलेगा !!------ परिवार इंसान की वह सुरक्षा "कवच"है जिसमें रहकर व्यक्ति "सुख-शांति" का अनुभव करता है !!------ इस बार बहुत ठंड पड़ेगी कारण "पैसों" की गरमी सबकी निकल गई है !!----- दीर्घ आयु के लिए " खुराक" आधी करें , पानी "दुगुना"करें, व्यायाम "तीगुना" करें, हंसना "चौगुना " करें और भगवान का ध्यान " सौगुना " करें !! ----- जिनके " परमात्मा " से रिश्ते गहरे होते हैं , उनके आज और कल "सुनहरे " होते हैं !!🙏🙏🙏🙏🙏

+41 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 17 शेयर

+95 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 109 शेयर

+90 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 80 शेयर

+41 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 42 शेयर