Nagesh bhanopiya Aug 6, 2017

हसरतों की निगाहों पे सख्त पहरा है
ना जाने किस उम्मीद पे दिल ठहरा है
तेरी चाहत की कसम ऐ दोस्त
अपनी दोस्ती का रिश्ता प्यास से भी गहरा है

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Nagesh bhanopiya Jul 15, 2017

श्री साई कृपा

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Nagesh bhanopiya Jul 13, 2017

Jay shree raam

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Nagesh bhanopiya Jul 13, 2017

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Nagesh bhanopiya Jul 13, 2017

Jay shree mahakaal

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Nagesh bhanopiya Jul 13, 2017

Jay shree mahakaal

+2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर