Manoj manu Apr 18, 2019

🚩🌸जय बजरंग बली- जय श्री राम जी 🌺🙏 🌿🚩🌸श्री हनुमान चालीसा ,कितना अद्भुत और चमत्कारी है यह पाठ आईये जानते हैं :-- हनुमान जी बुद्धि और बल के ईश्वर हैं। उनका पाठ करने से यह दोनों ही मिलते हैं। हनुमान चालीसा को महान कवि गोस्वामी तुलसीदास जी ने लिखा था। इसमें 40 छंद होते हैं जिसके कारण इसको चालीसा कहा जाता है। बचपन से ही हमें सिखाया गया है कि अगर कभी भी मन अशांत लगे या फिर किसी चीज से डर लगे तो, हनुमान चालीसा पढ़ो। ऐसा करने से मन शांत होता है और डर भी नहीं लगता। हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का बड़ा ही महत्व है। हनुमान चालीसा पढ़ने से शनि ग्रह और साढे़ साती का प्रभाव कम होता है। हनुमान जी प्रभु श्री राम जी के परम भक्त हैं।और प्रभु श्री राम जी को हनुमान जी बहुत प्रिय हैं, प्रत्येक व्यक्ति के अंदर हनुमान जी जैसी सेवा-भक्ति विद्यमान है। हनुमान-चालीसा एक ऐसी कृति है, जो हनुमान जी के माध्यम से व्यक्ति को उसके अंदर विद्यमान गुणों का बोध कराती है। इसके पाठ और मनन करने से बल बुद्धि जागृत होती है। हनुमान-चालीसा का पाठ करने से व्यक्ति खुद अपनी शक्ति, भक्ति और कर्तव्यों का आंकलन कर सकता है। हनुमान चालीसा में भगवान हनुमान जी के जीवन का सार छुपा है जिसे पढ़ने से जीवन में प्रेरणा मिलती है। हनुमान चालीसा को डर, भय, संकट या विपत्ति आने पर पढ़ने से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। अगर किसी व्यक्ति पर शनि का संकट छाया है तो उस व्यक्ति का हनुमान चालीसा पढ़ना चाहिए। इससे उसके जीवन में शांति आती है। अगर किसी व्यक्ति को बुरी शक्तियां परेशान करती हैं तो उसे चालीसा पढ़ने से मुक्ति मिल जाती है। हनुमान चालीसा का पाठ करने से कुटिल से कुटिल व्यक्ति का मन भी अच्छा हो जाता है। हनुमान चालीसा का पाठ करने से एकता की भावना में विकास होता है। हनुमान चालीसा का पाठ करने से नकरात्मक भावनाएं दूर हो जाती है और मन में सकारात्मकता आती है। जाने अनजाने कोई भी अपराध करने पर अगर आप ग्लानि महसूस करते हैं और क्षमा मांगना चाहते है तो चालीसा का पाठ करें। भगवान गणेश की तरह हनुमान जी भी कष्ट हरते हैं। ऐसे में हनुमान चालीसा पढ़ने से मन शांत होता है तनाव मुक्त हो जाता है। सुरक्षित यात्रा के लिए हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ें। इससे लाभ मिलता है और भय नहीं लगता है। किसी भी प्रकार की इच्छा होने पर भगवन हनुमान के चालीसा का पाठ पढ़ने से लाभ मिलता है। हनुमान चालीसा के पाठ से दैवीय शक्ति मिलती है। हनुमान जी महाराज अत्यंत बलशाली हैं और वे हर बुरी आत्माओं का नाश कर के लोगों को उससे मुक्ती दिलाते हैं। जिन लोगों को रात मे डर लगता है या फिर डरावने विचार मन में आते रहते हैं, उन्हें रोज हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिये। ऐसा माना जाता है कि किसी प्रकार डर, भय, संकट या विपत्ति आये तो हनुमान चालीसा का पाठ करने से समस्त बाधायें अविलंब ही दूर हो जाती हैं और मन को असीम शाँति प्राप्त होती है, 🌸सबसे महत्व की बात ये है कि जब भी श्री रामचरित मानस का पाठ हो तो श्री गणेश महाराज की वंदना के साथ ही हनुमान जी महाराज का आवाहन भी होना चाहिए, क्योंकि हनुमान जी को प्रभु श्री राम की कथा के श्रवण से बहुत आन्नंद प्राप्त होता है और वे संपूर्ण कथा के समय वहाँ पर अवश्य ही उपस्थित रहते हैं, पाठ करते समय हमेसा ही अपनी सात्विकता को बनाये रखें 🌸 🙏🌺जय बजरंग बली -जय श्री राम जी 🌺🙏

+332 प्रतिक्रिया 69 कॉमेंट्स • 70 शेयर
Manoj manu Apr 12, 2019

🚩🌿🙏जय माता दी 🌼🌿🙏 🌼माँ तोआखिर माँ होती है 🌼🌿- - - ममता की मूरत होती है, माँ तो आखिर माँ होती है। क्यों किसी के जीवन की खातिर , नौ माह की पीड़ा सहती है क्यों खुद गीले कपड़े पर सो, शीत से हमें बचाती है वो जन्म का दिन ही होता है, जो ऐसा दुर्लभ होता है- जब माँ का बच्चा रोता है- माँ मंद -मंद मुस्काती है। माँ तो आखिर माँ होती है। क्यों रात -रात भर जाग जाग कर थपकी दे हमे सुलाती है क्यों हाड़ कंपाती ठंड में, उठउठ कर कंबल ओढ़ाती है क्यों इम्तिहान की रातों में, संग जाग हौसला बढ़ाती है खुद की निद्रा को त्याग सदा, सबके दुःख को हर जाती है माँ तो आखिर माँ होती है। क्यों अपने संतानो के सुख में, खुद भी खुश हो लेती है क्यों सदा मुसीबत आने पर, वो ढाल स्वरूप ले लेती है क्यों दोष हमारा होने पर भी, जग से हरदम लड़ जाती है माँ तो आखिर माँ होती है। माँ की गोद ही ऐसा कोना , जो दिव्य स्वर्ग सा होता है, जिस में हर दम सिर रखते ही मन अनंत शाँत हो जाता है, माँ तो आखिर माँ होती है माँ तो आखिर माँ होती है माँ तो आखिर माँ होती है - - - 🙏🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺🙏

+219 प्रतिक्रिया 35 कॉमेंट्स • 10 शेयर