Haresh Sajvani May 17, 2017

विष्णु पुराण

विष्णु पूरण भाग ३


सूतमहर्षि ने नारदमुनि की कहानी सुनाना प्रारंभ किया - पिछले जन्म में नारद ने एक दासी-पुत्र के रूप में जन्म लिया था। वह दासी एक भक्त के घर में काम किया करती थी। उस भक्त के घर में सदा ऋषि-मुनि, साधु-संत अतिथि-सत्कार ...

(पूरा पढ़ें)
+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Haresh Sajvani May 17, 2017

विष्णु पुराण

विष्णु पूरण भाग २


सत्यव्रत की बातें सुनकर मछली समुद्र के बीच पहुँची, एक महा पर्वत की भांति समुद्र की लंबाई तक फैलकर बोली, ‘‘सत्यव्रत, देखा, तुम्हारी वाणी अचूक निकली और अचूक रहेगी। न मालूम मैं यों बढ़ते-बढ़ते क्या से क्या हो जाऊँगी?
...

(पूरा पढ़ें)
+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Haresh Sajvani May 17, 2017

विष्णु पुराण

विष्णु पूरण भाग १


क्षीर सागर में स्थित त्रिकूट पर्वत पर लोहे, चांदी और सोने की तीन चोटियाँ थीं। उन चोटियों के बीच एक विशाल जंगल था जिसमें फलों से लदे पेड़ भरे थे। उस जंगल में गजेंद्र नामक मत्त हाथी अपनी असंख्य पत्नियों के साथ विहार ...

(पूरा पढ़ें)
+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Haresh Sajvani May 16, 2017

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Haresh Sajvani May 16, 2017

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Haresh Sajvani May 16, 2017

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Haresh Sajvani May 16, 2017

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Haresh Sajvani May 16, 2017

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर