geeta rathi Nov 18, 2018

प्रदोष व्रत में विशेष रूप से भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है। प्रदोष व्रत प्रदोष काल में हर महीने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को किया जाता है। सूर्यास्त के बाद सांयकाल या जिसे तीसरा पहर भी कहते है, प्रदोष काल कहलाता है।

पूरा पढ़...

(पूरा पढ़ें)
Belpatra Pranam Like +144 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 58 शेयर
geeta rathi Nov 17, 2018

शिवयजुर्मन्त्र, कर्पूरगौरं करुणावतारं के नाम से भी प्रसिद्ध है यह मन्त्र सबसे प्रसिद्ध मंत्रों में से एक है जिससे सभी हिन्दुओ ने कभी न कभी जरूर सुना ही होगा। यह भगवान शिव से संबंधित एक प्राचीन संस्कृत श्लोक और लोकप्रिय आरती है।

पूरा पढ़ें
https:/...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Belpatra Bell +119 प्रतिक्रिया 34 कॉमेंट्स • 29 शेयर
geeta rathi Nov 16, 2018

संक्रांति को हिन्दू धर्म में बहुत ही पवित्र दिनों में से एक माना जाता है। जब सूर्य एक राशि से दूसरी राशि में जाता है तो उसे संक्रांति काहा जाता हैं और जब सूर्य तुला राशि से वृश्चिक राशि में प्रवेश करते है तो उसे वृश्चिक संक्रांति कहा जाता है।

पूर...

(पूरा पढ़ें)
Flower Pranam Bell +69 प्रतिक्रिया 26 कॉमेंट्स • 23 शेयर
geeta rathi Nov 15, 2018

देवउठनी या देवोत्थान एकादशी को तुलसी विवाह और भीष्म पंचक एकादशी के रूप में भी मनाया जाता है। इस दिन अधिकतर लोग तुलसी और शालिग्राम का विवाह कराते हैं और अपने घरों के मांगलिक कार्यों की शुरुआत करते हैं।

पूरा पढ़ें
https://www.adhyatam.com/dev-uthan...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Like Bell +108 प्रतिक्रिया 35 कॉमेंट्स • 75 शेयर
geeta rathi Nov 14, 2018

यह संक्रांति गुरुवार पर पड़ने के कारण देव संक्रांति कहलाएगी। यह संक्रांति धार्मिक व्यक्तियों, वित्तीय कर्मचारियों, छात्रों व शिक्षकों के लिए बहुत शुभ मानी जाती है। वृश्चिक संक्रांति के विशिष्ट पूजन व उपाय से धन से जुडी समस्याओं का निदान होता है

पू...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Jyot Like +72 प्रतिक्रिया 27 कॉमेंट्स • 27 शेयर