Dhananjay Khanna Apr 14, 2021

🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 14-04-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री हेमंत ब्रजवासी जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* झूम कर गाओ माँ का दर आया झूम कर गाओ माँ का दर आया जय कारे लगाओ माँ का दर आया झूम कर गाओ माँ का दर आया... रहमतो का खजाना ये दर है-2 तुम भी कुछ पाओ माँ का दर आया झूम कर गाओ माँ का दर आया.... माँ के दर पे झुका आलम सारा-2 तुम भी झुक झाओ माँ का दर आया झूम कर गाओ माँ का दर आया.... मन से श्रद्धा से माँ ध्याम धरो-2 भूल न जाओ माँ कर दर आया झूम कर गाओ माँ का दर आया....ⓃⓈ झूम कर गाओ माँ का दर आया झूम कर गाओ माँ का दर आया जय कारे लगाओ माँ का दर आया जय जय अम्बे🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 14-04-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री हेमंत ब्रजवासी जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* रज के रजाया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने रज के रजाया सानु माता ने.... खोल देवे जदो मैया दया वाले द्वार जी सुध भूध भूल जावे माँ ऐसा देवे प्यार जी नही ठुकराया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने रज के रजाया सानु माता ने.... दुनिया दा प्यार दिता नाले दिता मान जी चाउंदे ने लोकी किता माँ ने एहसान जी रस्ता दिखाया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने रज के रजाया सानु माता ने.... पूरण प्रेम माँ दा नाम जप के हर साल जावे मैया दर भज के गायक बनाया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने रज के रजाया सानु माता ने....ⓃⓈ रज के रजाया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने चरनी लगाया सानु माता ने जय जय अम्बे🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 14-04-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री हेमंत ब्रजवासी जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* मस्ती में रंग मस्ताने हो गये मस्ती में रंग मस्ताने हो गये मईया तेरे नाम के दीवाने हो गये मस्ती में रंग मस्ताने हो गये..... तेरे बिन दिल कही लगता नहीं मन का चिराग मेरा जग ता नहीं सारी दुनिया से बेगाने हो गये मईया तेरे नाम के दीवाने हो गये मस्ती में रंग मस्ताने हो गये..... तेरे बिना मैया मुझे कुछ भाता नहीं चैन मेरे दिल को भी आता नहीं लबो पे तेरे ही तराने हो गये मईया तेरे नाम के दीवाने हो गये मस्ती में रंग मस्ताने हो गये..... हम सब तेरे बच्चे है माईए अक्लो के थोड़े थोड़े कच्चे है मईया पुरण ये मन के अफ़साने हो गये मईया तेरे नाम के दीवाने हो गये मस्ती में रंग मस्ताने हो गये.....ⓃⓈ मस्ती में रंग मस्ताने हो गये मस्ती में रंग मस्ताने हो गये मईया तेरे नाम के दीवाने हो गये जय जय अम्बे🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 14-04-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री हेमंत ब्रजवासी जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* मेरी माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को तार दे तू मैया इस गरीब को माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को..... तेरे दर आके दुख दिल के मैं रोता हूँ अश्कों से तेरे मैया चरणों को धोता हूँ तेरे होते दाती क्यूँ, दुखियाँ मैं होता हूँ चैन से ना जीऊँ मैया चैन से ना सोता हूँ गले से लगा लो बदनसीब को माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को..... ज्योत मैं जगाऊँ तेरी सांझ सवेरे दूर करो मैया मेरे गम के अंधेरे कष्ट निवारो मैया अब तू मेरे आके गिरा हूँ मैया शरण में तेरे भूलों ना माँ अपने अजीज को माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को..... अपने भक्तों को मैया दे दो दिलासा माँ ममता से भर दो मैया मेरी भी कासा माँ दूर ना जाये मेरे मुखड़े से हासा माँ जाए ना दर से तेरा भक्त नीरासा माँ तोड़ो ना माँ मेरी भी इस उम्मीद को माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को.....ⓃⓈ माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को मेरी माँ खोल दे तू मेरे भी नसीब को तार दे तू मैया इस गरीब को जय जय अम्बे🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 14-04-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री हेमंत ब्रजवासी जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* मैं तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तू दर्श दिखादे दातिये तू दर्श दिखादे दातिये में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई आजा हूँन अम्बिके तू आजा माँ मैं रो रो कहनी हा इक वारी आ माँ, चरणी लगा माँ चरणी लगा माँ में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तू दर्श दिखादे दातिये तू दर्श दिखादे दातिये में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तेरिया उड़ीका विच मैं ते हर वेले रहनी हा बच्चेया तो बोल माँ, आजा मेरे कोल माँ आजा मेरे कोल माँ में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तू दर्श दिखादे दातिये तू दर्श दिखादे दातिये में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तेरे लिए दुनिया ते आईया माँ मेरी शेरावालिये करदे ख्याल माँ, बचडा निहाल माँ बचडा निहाल माँ में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तू दर्श दिखा दे दातिये तू दर्श दिखा दे दातिये में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई....ⓃⓈ में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई तू दर्श दिखा दे दातिये तू दर्श दिखा दे दातिये में तेरे बिना कमली होई में तेरे बिना कमली होई जय जय अम्बे

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Dhananjay Khanna Apr 13, 2021

+16 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Dhananjay Khanna Mar 30, 2021

+35 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 14 शेयर
Dhananjay Khanna Mar 30, 2021

🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 29-03-2021 सांयकालीन(शाम) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री जयपाल जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* तेरा विछोड़ा दातीऐ हुण मेरे तो सहा ना जाऐ आप ते बैठी भवन ते मैनु राती नींद ना आवे तेरा विछोड़ा दातीऐ.... बिना तेरे बिना तेरे कोई वी थां नही कोई वी थां नही या कह दे तू या कह दे के तू मेरी माँ नही के तू मेरी माँ नही दुनिया दे अगे जोर नही माँ तेरे सिवा कोई होर नही-2 दस केड़ा लाड लडावे आप ते बैठी भवन ते मैनु राती नींद ना आवे तेरा विछोड़ा दातीऐ.... मै उठ ऊठ के माँ वेखा बारियां, माँ वेखा बारियां मै रो रो के अँखां हारिया, माँ अँखां हारिया मै बेबस इनां हो गया तेरी याद दे विच खो गया-2 पर तू ना दर्श दिखाये आप ते बैठी भवन ते मैनु राती नींद ना आवे तेरा विछोड़ा दातीऐ.... मै पाईया ने मै पाईया ने तैनु कई तेनु चिट्ठियां तैनु कई तेनु चिट्ठियां मै लिखिया ने मै लिखिया ने गल्लां कई मिट्ठियां गल्लां कई मिट्ठियां तू ते सब दे दिला दीयां जाने हुण आजा किसे बहाने-2 मैंनु तेरी याद सतावे आप ते बैठी भवन ते मैनु राती नींद ना आवे तेरा विछोड़ा दातीऐ.... तू आ जांवे तू आ जांवे मेरी है आस माँ मेरी है आस माँ मिट जाये मिट जावे जन्मा दी प्यास माँ जन्मा दी प्यास माँ दुनिया दी तू रखवाली ऐ तूहीओ वैष्णो तूहीओ काली ऐ-2 तेरा भेद कोई ना पावे आप ते बैठी भवन ते मैनु राती नींद ना आवे तेरा विछोड़ा दातीऐ....ⓃⓈ तेरा विछोड़ा दातीऐ हुण मेरे तो सहा ना जाऐ आप ते बैठी भवन ते मैनु राती नींद ना आवे जय जय माँ

+33 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Dhananjay Khanna Mar 28, 2021

🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 28-03-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री सुरेश जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु दिल भी कुर्बान कंरु जान भी कुर्बान कंरु तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या सम्मान कंरु... प्रेम भी मुझ में नही मुझमे भक्ति भी नही तेरी महिमा जो कंहु ऐसी भी शक्ति भी नही कोई गुण मुझ में नही काहे का मै अभिमान कंरु तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु... खुशी जो मैया मिली ये है सौभाग्य मेरा तेरी कृपा से ही माँ ऐसा ये सयोंग बना फिर काहे तेरा क्यो ना मान कंरु तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु... सुख की ख्वाइश भी नही मुक्ति की भी चाह नही चाहिए प्यार तेरा ओर की परवाह नही सारी दुनिया की खुशी तुझ पे बलिदान कंरु तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु...ⓃⓈ तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु तेरी खुशीयो का मैया क्या क्या मै सम्मान कंरु दिल भी कुर्बान कंरु जान भी कुर्बान कंरु जय जय माँ🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 28-03-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री विजय जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* तू सोने के छतरो वाली है तेरे द्वार का मैया क्या कहना जो गोद बिठा कर दिया हमें, जो गोद बिठा कर दिया हमें उस प्यार का मैया क्या कहना तू सोने के छतरो वाली है... तू मालिक हैं कुल दुनिया की-2 तेरे देखे खजाने भरे हुए-2 तुने जिसपे दया का हाथ धरा-2 वो सुखे वृक्ष भी हरे हुए-2 तेरे हुऐ कभी जो खाली ना तेरे हुऐ कभी जो खाली ना भण्डार का मैया क्या कहना तू सोने के छतरो वाली है... तेरे शाही लंगरो के दम से-2 माँ सारी सृष्टि पलती है-2 ना बाती है ना तेल मगर-2 तेरी गुफा की ज्योति जगती है-2 तुने रोज किये जो हम सब पर तुने रोज किये जो हम सब पर उपकार का मैया क्या कहना तू सोने के छतरो वाली है... हर छाया में है छवी तेरी-2 तेरा जलवा खिलती धूप में है-2 हम मंदमति माँ क्या जाने-2 तू कहाँ पे है किस रूप में है-2 दुष्टों के लिए जो पकड़ी है दुष्टों के लिए जो पकड़ी है उस तलवार का मैया क्या कहना तू सोने के छतरो वाली है...ⓃⓈ तू सोने के छतरो वाली है तेरे द्वार का मैया क्या कहना जो गोद बिठा कर दिया हमें, जो गोद बिठा कर दिया हमें उस प्यार का मैया क्या कहना जय जय अम्बे🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 28-03-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री सुरेश जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* भक्ति का रस तू पिला दे हमको मस्ती का रंग चढ़ा दे श्री चरणों में नमन करें माँ, आ कर तेरे आंगन में डूब जाएं भक्ति के रंग में, झूमें तेरे आंगन में भक्ति का रस तू पिला दे हमको.... रंग हो गुलाब और अबीर उसमें डाला चुनरी जैसा लाल और किनारी गोटे वाला मईया भक्तों को रंग दे ऐसे रंग में भक्ति का, भक्ति का, भक्ति का रस तू पिला दे हमको मस्ती का रंग चढ़ा दे भक्ति का रस तू पिला दे हमको.... ऐसा रंग चढ़े मैया जो रंग कभी ना छूटे खुशियों के रंगों की मैया तार कभी ना टूटे मैया भक्तों को रंग दे ऐसे रंग में भक्ति का रस तू पिला दे हमको मस्ती का रंग चढ़ा दे माँ भक्ति का रस तू पिला दे हमको.... माँ तेरे दरबार की किरपा सारे जग पर बरसे होली के पावन रंगों से सबका जीवन चमके मैया भक्तों को रंग दे ऐसे रंग में भक्ति का रस तू पिला दे हमको मस्ती का रंग चढ़ा दे माँ भक्ति का रस तू पिला दे हमको.... ऐसी होरी रचे तेरे दरबार में ओ मईया वृंदावन से दौड़े दौड़े आयें कृष्ण कन्हैया मईया खेलें रास कन्हैया माँ तेरे आंगन में मईया नाचें ता ता थइया माँ तेरे आंगन में मईया नाचे बंसी बजईया माँ तेरे आंगन में सभी झूमें नाचें गायें माँ तेरे आंगन में हो बाजे ढोलक झांज मजीरा माँ तेरे आंगन में भक्ति का रस तू पिला दे हमको....ⓃⓈ भक्ति का रस तू पिला दे हमको मस्ती का रंग चढ़ा दे श्री चरणों में नमन करें माँ, आ कर तेरे आंगन में डूब जाएं भक्ति के रंग में, झूमें तेरे आंगन में ।। जय माता दी ।।

+117 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Dhananjay Khanna Mar 26, 2021

🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🌴💦आज 26-03-2021 प्रातःकाल(सुबह) *🍁♦️ माँ वैष्णों देवी दरबार से* ♦️🍁 🏮🙏भेंट श्री जयपाल जी द्वारा🌴🙏🏮 ▬▬▬🛑🔔ஜ۩۞۩ஜ🔔🛑▬▬▬ 🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️🍁🔮♦️ *🚩🔱माँ वैष्णों दरबार आरती भेंटे🔱🚩* *🔆मेरी प्यारी-प्यारी माँ🔆* माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल पैरी पवा के छाले मै ताँ आ गया तेरे कोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल... दर्द तो खाली तेरे जेहा ना प्यार किथे ना लभे जिस पासे वी नजर घुमावां जान दे वैरी सबे मै निर्बल कमजोर बङा माँ हो गया डावांडोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल... मै सुनया सब खैरा ले गये तेरे पावन दर तो हे दुनिया दीऐ दातीऐ मैनु ऐंवे ना मोङी दर तो कोई बहाना कर के वेखी करी ना टाल मटोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल... दुखहरनी दुख दर्द मुसीबत तेरे ही हरेया हरदे निगाह सवल्ली होवे जे तेरी तां पत्थर वी तरदे वडंदे खजाना मेहर दा हुण वी द्वार दया दा खोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल... तू मेरी मै तेरा भवानी फर्क भला है किथे असीं वी ओस थाँ क्यो ना रहीऐ तू माँ वसदी जिथे जी करदा निर्दोश बै के दुख सुख लईऐ खोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल...ⓃⓈ माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल माँ दी मुरतीऐ हँस के मेरे नाल बोल पैरी पवा के छाले मै ताँ आ गया तेरे कोल *जय जय माँ*

+137 प्रतिक्रिया 30 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Dhananjay Khanna Mar 23, 2021

+26 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Dhananjay Khanna Mar 22, 2021

+13 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर