Aneela Lath Apr 23, 2021

🌷🙏🇮🇳 *#daduji* 🇮🇳🙏🌷 🕉🇮🇳 *卐 सत्यराम सा 卐* 🕉🇮🇳 🌹🙏 *ॐ नमो नारायण* 🙏🌹 🌿🌷🌻 *शुभ~दिवस* 🌻🌷🌿 🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳 *साभार ऑडियो ~ @⁨Kamini Agarwal⁩* *भौजल में बही जात हुते जिनि,* *काढि लिये अपने करि आदू ।* *और संदेह मिटाइ दिये सब,* *काननि टेर सुनाइ कै नादू ॥* *पूरण ब्रह्म प्रकास कियौ पुनि,* *छुटि गयौ यह बाद बिबादू ।* *ऐसी कृपा जु करी हम ऊपरि,* *सुन्दर के उर हैं गुरु दादू ॥४॥* जो जिज्ञासु साधक शिष्य इस संसार सागर में बहे जा रहे थे, उनको गुरुदेव ने अपना मानकर, उन पर करुणा करते हुए पहले वहाँ से बाहर निकाला । तदनन्तर उनके हृदय में अनादि काल से स्थित सांसारिक भ्रमजाल को, शंका - संदेह को, उनके कानों में रांम ध्वनि सुना कर दूर कर दिया । इस प्रकार उनके हृदय में पूर्ण ब्रह्म ज्ञान की ज्योति जला दी, जिस से उन शिष्यों के हृदय से सभी प्रकार के सांसारिक पक्षपात विनष्ट हो गये । हम शिष्यों पर जिन गुरुदेव की ऐसी अहेतुकी कृपा है, उस सुन्दरदास के हृदय में, वे श्रीदादूदयाल जी महाराज गुरु रूप से विराजमान हैं ॥४॥ *(सवैया ग्रंथ ~ गुरुदेव का अंग)* https://youtu.be/27reGjKuNrc https://youtu.be/27reGjKuNrc

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aneela Lath Apr 23, 2021

🌷🙏🇮🇳 *#daduji* 🇮🇳🙏🌷 🕉🇮🇳 *卐 सत्यराम सा 卐* 🕉🇮🇳 🌹🙏 *ॐ नमो नारायण* 🙏🌹 🌿🌷🌻 *शुभ~दिवस* 🌻🌷🌿 🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳 *साभार ऑडियो ~ @⁨Kamini Agarwal⁩* *धीरजवंत अडिग्ग जितेन्द्रिय,* *निर्मल ग्याँन गह्यो दृढ़ आदू ।* *शील संतोष क्षमा जिनके घट,* *लागि रह्यो सु अनाहद नादू ॥* *भेष न पक्ष निरंतर लक्ष जु,* *और नहीं कछु वाद विवादु ।* *ये अब लक्षन हैं जिन माँहि सु,* *सुन्दर के उर हैं गुरु दादू ॥३॥* *हृदय में श्रीगुरुदेव का ध्यान* : जो धैर्यवान, दृढ़प्रतिज्ञ एवं कठोर इन्द्रियनिग्रह वाले हैं; जो निर्दोष, भ्रम - संशयादि रहित आदि निरंजन ज्ञान प्राप्त कर चुके हैं; जिनके हृदय में शील, सन्तोष, क्षमा आदि सद्गुण निरन्तर विद्यमान रहते हैं, तथा जो निरन्तर अनाहत सोऽहं नाद ध्वनि सुनने में ही मग्न रहते हैं; जिनका न किसी भेष - सम्प्रदाय में पक्षपात है, न किसी मतविशेष पर कोई आग्रह है, न इन विषयों पर किसी से वादविवाद है; ये सब सद्गुण जिनमें विद्यमान हैं ऐसे सन्तप्रवर श्री दादूदयाल जी महाराज ही मुझ सुन्दरदास के हृदय में गुरु रूप से विराजमान हैं ॥३॥ *(सवैया ग्रंथ ~ गुरुदेव का अंग)* https://youtu.be/m09Y3RcIFjg https://youtu.be/m09Y3RcIFjg

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aneela Lath Apr 22, 2021

🌷🙏🇮🇳 *#daduji* 🇮🇳🙏🌷 🇮🇳🕉 *卐 सत्यराम सा 卐* 🕉🇮🇳 🌹🙏 *ॐ नमो नारायण* 🙏🌹 🌿🌷🌻 *शुभ~दिवस* 🌻🌷🌿 🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳 *साभार ऑडियो ~ @⁨Kamini Agarwal⁩* *मौज करी गुरुदेव दया करि,* *शब्द सुनाइ कह्यो हरि नेरो ।* *ज्यौं रवि के प्रगटैं निशि जात सु,* *दूरि कियौ भ्रम भांनि अंधेरो ॥* *काइक वाइक मानस हूं करि,* *है गुरुदेव हि वंदन मेरो ।* *सुन्दरदास कहै कर जोरि जु,* *दादूदयाल कौ हूं नित चेरो ॥१॥* *दादूदयाल कौ हूं नित चेरो* : मेरे गुरुदेव(श्री दादूदयाल जी महाराज) ने मुझ पर अतिशय कृपा कर, ज्ञानोपदेश द्वारा प्रभु के समीप पहुँचने का मारग बताते हुए, मुझ को आल्हादित कर दिया । उस उपदेश के सुनते ही मेरा अज्ञानावरण उसी प्रकार नष्ट हो गया, जैसे सूर्य के उदित होते ही रात्रि का अन्धकार दूर हो जाया करता है । अतः तन मन एवं वचन से उन गुरुदेव को मेरा प्रणाम है । अब मैं सुन्दरदास हाथ जोड़ कर दृढ़ प्रतिज्ञा करता हूँ कि मैं उन श्री दादूदयाल जी महाराज का ही आज्ञाकारी शिष्य रहूँगा ॥१॥ *(सवैया ग्रंथ ~ गुरुदेव को अंग)* https://youtu.be/-v5MUdEotfk https://youtu.be/-v5MUdEotfk

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aneela Lath Apr 22, 2021

🌷🙏🇮🇳 *#daduji* 🇮🇳🙏🌷 🇮🇳🕉 *卐 सत्यराम सा 卐* 🕉🇮🇳 🌹🙏 *ॐ नमो नारायण* 🙏🌹 🦚🌹 *हार्दिक शुभकामनाएँ* 🌹🦚 🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳 . *साभार ऑडियो ~ @⁨Kamini Agarwal⁩* *पूरण ब्रह्म बिचार निरंतर,* *काम न क्रोध न लोभ न मोहै ।** *श्रोत्र त्वचा रसना अरु घ्राण सु,* *देखि कछू कहुँ नैंन न मोहै ॥* *ज्ञान स्वरूप अनूप निरूपण,* *जास गिरा सुनी मोह न मोहै ।* *सुन्दरदास कहै कर जोरि जु,* *दादूदयाल हि मोर नमो है ॥२॥* *श्री गुरुदेव को प्रणाम* : श्री गुरुदेव द्वारा उपदिष्ट ज्ञान से प्राप्य उस सर्वव्यापक पूर्ण ब्रह्म परमात्मा का सतत चिन्तन मनन करने के कारण मेरे हृदय में अब काम क्रोध लोभ आदि विकार लेशमात्र भी नहीं रह गये हैं । मैं अपनी श्रोत्र, त्वचा, रसना(जिव्हा), नासिका एवं नेत्र - इन पाँचों इन्द्रियों से सांसारिक विषयों का स्पर्श करता हुआ भी उनमें किसी भी प्रकार से आसक्त नहीं होता; क्योंकि उस ज्ञानमय नीरूप ब्रह्म का निरूपण करने वाले गुरुवचन सुनने के बाद, अब मुझे किसी सांसारिक विषय की आसक्ति मुग्ध ही नहीं कर सकती । अतः मैं सुन्दरदास हाथ जोड़कर अपने गुरुदेव श्री दादूदयाल जी महाराज को प्रणाम करता हूँ ॥२॥ *(सवैया ग्रंथ ~ गुरुदेव को अंग)* https://youtu.be/bHFG9EcLVc0 https://youtu.be/bHFG9EcLVc0

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aneela Lath Apr 22, 2021

🌷🙏🇮🇳 *#daduji* 🇮🇳🙏🌷 🇮🇳🕉 *卐 सत्यराम सा 卐* 🕉🇮🇳 🌹🙏 *ॐ नमो नारायण* 🙏🌹 🦚🌹 *हार्दिक शुभकामनाएँ* 🌹🦚 🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳.🇮🇳🦚🇮🇳 . *साभार ऑडियो ~ @⁨Kamini Agarwal⁩* *पूरण ब्रह्म बिचार निरंतर,* *काम न क्रोध न लोभ न मोहै ।** *श्रोत्र त्वचा रसना अरु घ्राण सु,* *देखि कछू कहुँ नैंन न मोहै ॥* *ज्ञान स्वरूप अनूप निरूपण,* *जास गिरा सुनी मोह न मोहै ।* *सुन्दरदास कहै कर जोरि जु,* *दादूदयाल हि मोर नमो है ॥२॥* *श्री गुरुदेव को प्रणाम* : श्री गुरुदेव द्वारा उपदिष्ट ज्ञान से प्राप्य उस सर्वव्यापक पूर्ण ब्रह्म परमात्मा का सतत चिन्तन मनन करने के कारण मेरे हृदय में अब काम क्रोध लोभ आदि विकार लेशमात्र भी नहीं रह गये हैं । मैं अपनी श्रोत्र, त्वचा, रसना(जिव्हा), नासिका एवं नेत्र - इन पाँचों इन्द्रियों से सांसारिक विषयों का स्पर्श करता हुआ भी उनमें किसी भी प्रकार से आसक्त नहीं होता; क्योंकि उस ज्ञानमय नीरूप ब्रह्म का निरूपण करने वाले गुरुवचन सुनने के बाद, अब मुझे किसी सांसारिक विषय की आसक्ति मुग्ध ही नहीं कर सकती । अतः मैं सुन्दरदास हाथ जोड़कर अपने गुरुदेव श्री दादूदयाल जी महाराज को प्रणाम करता हूँ ॥२॥ *(सवैया ग्रंथ ~ गुरुदेव को अंग)* https://youtu.be/bHFG9EcLVc0 https://youtu.be/bHFG9EcLVc0

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aneela Lath Apr 21, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aneela Lath Apr 21, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर