JAI SHRI KRISHNA Dec 18, 2018

हनुमान जी जब पर्वत लेकर लौटते हैं तो भगवान से कहते हैं.

प्रभु आपने मुझे संजीवनी बूटी लेने नहीं भेजा था । आपने तो मुझे मेरी मूर्छा दूर करने के लिए भेजा था ।

*"सुमिरि पवनसुत पावन नामू ।*
*अपने बस करि राखे रामू"*

हनुमान्‌जी ने पवित्र नाम का स्मरण ...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Like Fruits +103 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 74 शेयर
JAI SHRI KRISHNA Dec 18, 2018

मोह से बचने का सबसे उत्तम साधन है ईश्वर की भक्ति ।।
जब मनुष्य ईश्वर शरण में आता है तों उसका मन पवित्र होने लगता है, मन के पवित्र होने से उसके कर्म पवित्र होते हैं ।।

कर्म के पवित्र होने से उसकी ईश्वर में भक्ति और दृढ होती है।।इस प्रकार सतत प्रयास...

(पूरा पढ़ें)
Tulsi Pranam Jyot +96 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 60 शेयर
JAI SHRI KRISHNA Dec 18, 2018

🌲

🙏🌹एक बार प्रेम से बोलो -"हर! हर! महादेव!🌹🙏 भोले नाथ की👉प्रेम व श्रृध्दापूर्वक आराधना करने पर शिव सब की झोलियाँ खुशियों से भर देंते हैं।भोलेनाथ कम भक्ति से भी शिघ्र प्रसन्न होकर भक्तजनों को वरदान देने वाले ईश्वर हैं। ऐसा शास्त्रों में उल्ल...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Belpatra Dhoop +43 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 12 शेयर
JAI SHRI KRISHNA Dec 18, 2018

╭•┄┅═══❁✿✿✿❁═══┅┄
🌷 शुभ संध्या वंदनीय भक्तो 🌷
╰•┄┅═══❁✿✿✿❁═══┅┄
🙏🏻•*""*•.¸ 🌷¸.•*""*•.¸ 🙏🏻
🙏🏻🏵 Զเम Զเम जी 🙏🏻🏵
🌺 🕉 श्री हनुमते नमः 🌺
✳🌾✳🌾✳🌾✳🌾✳
🏵लाल देह लाली लसे, अरु धरि लाल लंगूर ।
🏵बज्र देह दानव दलन, जय जय जय कपि सूर ।।

�...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Tulsi Jyot +82 प्रतिक्रिया 27 कॉमेंट्स • 69 शेयर