....... Nov 16, 2020

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 11 शेयर
....... Nov 16, 2020

+17 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 29 शेयर
....... Nov 10, 2020

+16 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर
....... Nov 10, 2020

+17 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर
....... Nov 9, 2020

+14 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
....... Nov 9, 2020

+16 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
....... Nov 8, 2020

तेरी याद में मेरा दिल बेकरार हो रहा है, कहां जा छिपे हो मोहन मेरा प्यार रो रहा है जब से मैंने आपके संग प्रीत लगाई, तब से मुझे एक पल का भी जैन नहीं, मुझे इस प्रकार ना सताओ ये बांके बिहारी आप मेरे पास आ जाओ। कहां जा छिपे हो मोहन मेरा प्यार रो रहा है, निर्मोही मेरे साजन तुम को तरस ना आया क्यों करके झुठा वादा ईमान खो राहा है, कहां जा छुपे हो मोहन मेरा दिल रो रहा है, मेरा प्यार रो रहा है तेरी याद में मेरा दिल बेकरार हो रहा है, तेरे बिन गुजारी मेंने जीवन की सुनी रातें तेरे बिन गुजारी मोहन जीवन की सुनी रातें चाहते हुए भी मोहन क्यों कर ना पाया बातें किस्मत पर मेरी मूझको ये मलाल हो रहा है, कहां जा छिपे हो मोहन मेरा प्यार रो रहा है, तेरी याद में मेरा दिल बेकरार हो रहा है, हे अरज मेरी ओ कान्हा बस एक झलक दिखा दो दर्शन की प्यासी मेरी आंखें मेरी प्यास को बुझा दो रो रो कर मेरा दिल बेजार हो रहा है रो रो कर मेरा दिल बेजार हो रहा है कहां जा छिपे हो मोहन मेरा प्यार रो रहा है, तेरी याद में मेरा दिल बेकरार हो रहा है तेरी याद में मेरा दिल बेकरार हो रहा है 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे 🌼🌼🙏🌼🌼🙏🌼🌼🙏🌼🌼🙏

+24 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 2 शेयर