+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

💐धन प्राप्ति के लिए ऐसे करें महाशिवरात्रि में शिव आराधना💐 प्रिय मित्रों, नमो नारायण, मैं अजय प्रताप (एडिटर इन चीफ) 4 *मानव कल्याण सबका हित* इस महाशिवरात्रि पर्व के अवसर पर मैं लाया हूँ भगवान शिव की कृपा प्राप्त करके *आर्थिक विकास* का सहज और सरल उपाय। मित्रों यह उपाय मुझे एक बहुत ही तपस्वी और विद्वान सन्त की कृपा से प्राप्त हुआ है, इसलिए आप इसे Fake न समझकर अपने भले के लिएअवश्य ही प्रयोग करें। महाशिवरात्रि के दिन में 11:24 am से 12:36 pm तक,आप साफ-सुथरे औऱ स्वच्छ चावलों से भगवान शिव का अर्चन करें। इसकी विधि इस प्रकार से है:-* सबसे पहले दाहिने हाथ में जल, अक्षत, पुष्प, दूर्वा घास, 1सुपारी, 2 लौंग, 2 इलायची और 108₹ दक्षिणा रखकर इस प्रकार से संकल्प बोलें:- हे भगवान शिव हे महादेव आपकी कृपा से मैं अपना दुर्भाग्य नष्ट करने के लिए एवं आर्थिक रूप से मजबूत होने के लिए अक्षत(चावलों)के द्वारा आपका सहस्त्रार्चन करना चाहता हूँ, आप मुझे आज्ञा प्रदान करें और मेरे द्वारा की जाने वाली यह सेवा पूजा अर्चना आप स्वीकार करें, आपकी कृपा से मेरा मनोरथ पूर्ण हो*। "इस प्रकार से ऐसा संकल्प लेकर 💐ॐ धनप्रदायकाय नमः शिवाय स्वाहा💐 इस मन्त्र से 1008 बार अक्षत(चावल)भगवान शिव के ऊपर समर्पित करें। ध्यान रखें कि प्रारम्भ में ही एक दीपक जलाएं और धूपबत्ती भी जलाएं और सम्पूर्ण पूजन करते समय दीपक व धूपबत्ती जलती रहनी चाहिए। 1008 आवृत्ति पूर्ण हो जाने पर भगवान शिव की भक्ति पूर्वक आरती करें,क्षमा प्रार्थना करें और लेटकर प्रणाम करें। अन्त में दाहिने हाथ में केवल जल लेकर बोलें:-हे भगवान शिव जी महादेव, यह सहस्त्रार्चन पूजन कर्म मैं आपको सादर व सप्रेम समर्पित करता हूँ, आपकी कृपा से मेरे द्वारा किया गया आपका यह सहस्त्रार्चन पूजन कर्म सफ़ल हो, सार्थक हो, सिद्ध हो। ॐ नमः शिवाय(11)बार बोलें। बस मित्रों। अब आप ध्यान रखना कि इस महाशिवरात्रि के बाद अगली महाशिवरात्रि के बीच आपकी आर्थिक स्थिति किस तरह से विकसित होती है। विश्वास पूर्वक आप यह अनुष्ठान अवश्य करें। ॐ नमः शिवाय।

0 कॉमेंट्स • 7 शेयर