@🍃🍁जयजयश्रीराधे🍁🍃

छोटा सा गाँव मेरा,
पूरा बिग बाजार था!

एक नाई, एक मोची, एक सुनार,
एक कल्लू लुहार था.

छोटे छोटे घर थे,
हर आदमी बङा दिलदार था.

कही भी रोटी खा लेते,
हर घर मे भोजऩ तैयार था.

बड़ी, गट्टे की सब्जी मजे से खाते थे,
जिसके आगे श...

(पूरा पढ़ें)
+13 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 0 शेयर

@🍂जयजयश्रीराधे🍂*

🍃सुगन्ध के बिना पुष्प ,
तृप्ति के बिना प्राप्ति ,
ध्येय के बिना कर्म ...

(पूरा पढ़ें)
+27 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 17 शेयर

@🌷🍂जयजयश्रीराधे🍂🌷

🌿प्रशंसा की भूख....
अयोग्यता की परिचायक है ।

काबिलियत की तारीफ तो
विरोधियों के भी दिल से निकलती है ।।

दो अक्षर का होता है लक, ढाई अक्षर का होता है भाग्य, तीन अक्षर का होता है नसीब, साढ़े तीन अक्षर का होता है किस्मत, पर ये ...

(पूरा पढ़ें)
+12 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 2 शेयर

🍂हरेराम हरेरामा राम राम हरे हरे
हरेकृष्ण हरेकृष्णा कृष्णकृष्ण हरेहरे🍂

🍃बिता कल श्री उच्छिष्ट महागणपति मन्दिर सनावद में संकष्टीचतुर्थी के साथ हरेरामा हरेकृष्ण संकीर्तन का आनंद।🍃
@🍃🌷जयश्रीकृष्णजी🌷🍃

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 4 शेयर

जयजयश्री राधे आपको संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत की हार्दिक शुभकामनाएं जी।
श्री रिद्धिऋद्धि के दाता आपका कल्याण करें।आपकी हर मनोकामना पूरी हो।
@🐚🌹जयश्रीगणेश🌹🐚
@🌿🍁जयश्रीकृष्णजी🍁🌿

+13 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 0 शेयर

@🍃🍂जयजयश्रीराधे🍂🍃

तपस्या अगर पार्वती की थी
तो प्रतीक्षा शिव की भी रही होगी
आँखों में आँसू सीता के थे
तो तङप राम की भी रही होगी
राधा कृष्ण को न पा सकीं
तो अधूरे कृष्ण भी रहे होगें

जीवन जब ईश्वर के लिए सरल न था
तो हम मनुष्यों की औकात ही क्या ह...

(पूरा पढ़ें)
+16 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 1 शेयर

@🍃🍂जयजयश्रीराधे🍂🍃

तपस्या अगर पार्वती की थी
तो प्रतीक्षा शिव की भी रही होगी
आँखों में आँसू सीता के थे
तो तङप राम की भी रही होगी
राधा कृष्ण को न पा सकीं
तो अधूरे कृष्ण भी रहे होगें

जीवन जब ईश्वर के लिए सरल न था
तो हम मनुष्यों की औकात ही क्या ह...

(पूरा पढ़ें)
+3 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 2 शेयर

🌹है मेरे प्रभु🌹
भाग्य और झूठ के साथ
जितनी ज्यादा उम्मीद करोगे,
वो उतना ही ज्यादा निराश करेगा,
और
कर्म और सच पर जितना जोर दोगे,
वो उम्मीद से सदैव ही ज्यादा देगा।. @🐚🍁जयश्रीकृष्णजी🍁🐚

+21 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 10 शेयर