शुभ_सोमवार🌿

🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞 ⛅ *दिनांक 10 मई 2021* ⛅ *दिन - सोमवार* ⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)* ⛅ *शक संवत - 1943* ⛅ *अयन - उत्तरायण* ⛅ *ऋतु - ग्रीष्म* ⛅ *मास - वैशाख (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - चैत्र)* ⛅ *पक्ष - कृष्ण* ⛅ *तिथि - चतुर्दशी रात्रि 09:55 तक तत्पश्चात अमावस्या* ⛅ *नक्षत्र - अश्विनी रात्रि 08:26 तक तत्पश्चात भरणी* ⛅ *योग - आयुष्मान् रात्रि 09:40 तक तत्पश्चात सौभाग्य* ⛅ *राहुकाल - सुबह 07:41 से सुबह 09:19 तक* ⛅ *सूर्योदय - 06:04* ⛅ *सूर्यास्त - 19:06* ⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में* ⛅ *व्रत पर्व विवरण -* 💥 *विशेष - चतुर्दशी और अमावस्या के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए* 🌷 ➡ *11 मई 2021 मंगलवार को अमावस्या है ।* 🏡 *घर में हर अमावस अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें । इससे नेगेटिव एनेर्जी चली जाएगी । अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं ।* 🙏🏻 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *अमावस्या* 🌷 🙏🏻 *अमावस्या के दिन जो वृक्ष, लता आदि को काटता है अथवा उनका एक पत्ता भी तोड़ता है, उसे ब्रह्महत्या का पाप लगता है (विष्णु पुराण)* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए* 🌷 🔥 *हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें।* 🍛 *सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा।* 🔥 *विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें।* 🔥 *आहुति मंत्र* 🔥 🌷 *१. ॐ कुल देवताभ्यो नमः* 🌷 *२. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः* 🌷 *३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः* 🌷 *४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः* 🌷 *५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 जय श्री राधे राधे🙏🙏🚩🚩🚩

+39 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 136 शेयर

+71 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+205 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 109 शेयर

+133 प्रतिक्रिया 16 कॉमेंट्स • 82 शेयर