राधे_राधे_जी👐

आशुतोष Aug 27, 2020

तुलसी जी को तोड़ने से पहले वंदन करो। 1. तुलसी जी को नाखूनों से कभी नहीं तोड़ना चाहिए, नाखूनों के तोड़ने से पाप लगता है। 2.सायंकाल के बाद तुलसी जी को स्पर्श भी नहीं करना चाहिए । 3. रविवार को तुलसी पत्र नहीं तोड़ने चाहिए । 4. जो स्त्री तुलसी जी की पूजा करती है। उनका सौभाग्य अखण्ड रहता है । उनके घर सत्पुत्र का जन्म होता है । 5. द्वादशी के दिन तुलसी को नहीं तोड़ना चाहिए । 6. सायंकाल के बाद तुलसी जी लीला करने जाती हैं। 7. तुलसी जी वृक्ष नहीं हैं! साक्षात् राधा जी का अवतार हैं । 8. तुलसी के पत्तों को चबाना नहीं चाहिए। "तुलसी वृक्ष ना जानिये। गाय न जानिये ढोर।। गुरु मनुज ना जानिये। ये तीनों नन्दकिशोर।। अर्थात- तुलसी को कभी पेड़ ना समझें गाय को पशु समझने की गलती ना करें और गुरु को कोई साधारण मनुष्य समझने की भूल ना करें, क्योंकि ये तीनों ही साक्षात भगवान रूप हैं। राधे राधे जी

+29 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 57 शेयर
आशुतोष Aug 29, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर