माहात्म्य

murlidhargoyal39 Dec 26, 2017

#श्रीमद्भागवतमहापुराण

#प्रथम #स्कन्धः

#द्वितीय #अध्यायः

#भगवत्कथा #और #भगवद्भक्ति #का #माहात्म्य

श्रीव्यासजी कहते हैं—

शौनकादि ब्रह्मवादी ऋषियों के ये प्रश्न सुनकर रोमहर्षण के पुत्र उग्रश्रवा को बड़ा ही आनन्द हुआ। उन्होंने ऋषियों के इस मंगल...

(पूरा पढ़ें)
+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर