मंदिर-दर्शन

Anuradha Tiwari Nov 20, 2019

एशिया का सबसे ऊंचा शिव मंदिर, सोलन, हिमाचल प्रदेश। 39 साल में बना यह अद्भुत शिव मंदिर, यहां पत्थर को थपथपाने पर आती है डमरू जैसी ध्वनि 🚩🕉️⛺🔔 . . कला का बेजोड़ नमूना है हिमाचल प्रदेश के सोलन में स्थित जटोली शिव मंदिर। इसे एशिया का सबसे ऊंचा शिव मंदिर माना जाता है। मंदिर की ऊंचाई 111 फुट है । मंदिर दक्षिण-द्रविड़ शैली से बना है। मंदिर को बनने में ही करीब 39 साल का समय लगा। जटोली मंदिर के पीछे मान्यता है कि पौराणिक समय में भगवान शिव यहां आए और कुछ समय यहां रहे थे। बाद में एक सिद्ध बाबा स्वामी कृष्णानंद परमहंस ने यहां आकर तपस्या की। उनके मार्गदर्शन और दिशा-निर्देश पर ही जटोली शिव मंदिर का निर्माण हुआ। . . मंदिर में कला और संस्कृति का अनूठा संगम देखने को मिलता है। -मंदिर की ऊंचाई 111 फुट है और भौगोलिक परिस्थितियों के अनुसार यह मंदिर एशिया के सबसे ऊंचे मंदिरों में शामिल है।

+48 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 22 शेयर
Anju Mishra Nov 19, 2019

काल भैरव अष्टमी की सभी भाई-बहनों को सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएं भैरव बाबा सबका कल्याण करें। काल भैरव मंदिर जबलपुर 👉ग्वारीघाट रोड स्थित टैगोर नगर में श्रीकाली भैरोमठ नामक प्राचीन मंदिर है। कभी यह घने जंगलों के बीच हुआ करता था। उस समय खुली पहाड़ी पर ही भैरव व मां काली विराजमान थीं। अष्टमी को यहां विशेष तंत्र साधना भी की जाती है। इस मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता इसके चढ़ावे में छिपी है। किसी भी प्रकार की शारीरिक या मानसिक परेशानी हो, बस एक सिगरेट के चढ़ावे से भक्तों के सारे दूख दूर हो जाते हैं। यदि कोर्ट केस आदि में परेशान हो तो अपने ऊपर से नींबुओं की माला फेरकर यहां चढ़ाया जाता है।

+172 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 10 शेयर