भैया दूज

🙌🏻 आज भैया दूज व यम द्वितीया के इस पावन पर्व पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं !! कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को भाई दूज का पर्व मनाया जाता है जिसे यम द्वितीया भी कहते हैं। एक प्राचीन कथा के अनुसार यमी ( यमुना जी ) जो कि यमराज की बहन हैं, कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को एक बार जब यमराज यमी ( यमुना जी ) के पास पहुंचे तो यमी ने अपने भाई यमराज की खूब सेवा सत्कार की । बहन के सत्कार से यमराज बहुत प्रसन्न हुए और यम ने प्रसन्न होकर उन्हें वरदान दिया कि इस दिन यदि भाई-बहन दोनों एक साथ यमुना जी में स्नान करेंगे तो उन्हें यमपुरी नही जाना पड़ेगा। इसी कारण इस दिन यमुना नदी में भाई-बहन के एक साथ स्नान करने का बड़ा महत्व है। इसके अलावा यमुना जी ने अपने भाई से यह भी वचन लिया कि जिस प्रकार आज के दिन उनका भाई यम उनके घर आया है, हर भाई अपनी बहन के घर जाए। तभी से भाईदूज मनाने की प्रथा चली आ रही है। आज के दिन श्री यमुना जी विश्राम घाट (मथुरा) में भारी मेला लगता है और यम व यमुना जी के मंदिर में श्रद्धालुओं की बहुत भीड़ होती है। 🙌🏻 श्रीराधारमण दासी परिकर 🙌🏻

+35 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 42 शेयर
Sunil Sharma Nov 15, 2020

+5 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 16 शेयर