गुरु_पूर्णिमा_की_हार्दिक_शुभकामनाएं

ॐ नमः शिवाय 🔯 🔯जय सिया राम सभी भाई-बहनों को सुप्रभात का सादर प्रणाम शुभ मंगलवार तथा गुरु पूर्णिमा के पावन प्रातःकाल की हार्दिक शुभकामनाएं 🗼🗼🗼🗼🗼🗼🗼🗼🗼🗼🗼 गुरु आपके उपकार का कैसे चुकाऊं मैं मोल लाख कीमती धन भला गुरु हैं मेरा अनमोल हैप्पी गुरु पूर्णिमा 2019गुरुर ब्रह्मा गुरुर विष्णु गुरुर देवो महेश्वरः गुरुः साक्षात्परब्रह्मा तस्मै श्री गुरुवे नमः 'ॐ वेदादि गुरुदेवाय विद्महे, परम गुरुवे धीमहि, तन्नौ: गुरु: प्रचोदयात्।।' क्‍यों मनाई जाती है गुरु पूर्णिमा इस दिन ऋषि पराशार और सत्यवती के घर महाभारत के रचयिता कृष्णा-द्विपयण व्यास का जन्म हुआ था. इसलिए इसे व्यास पूर्णिमा भी कहते हैं. ऋषि व्यास सभी वैदिक स्तोत्र को इकट्ठा कर वैदिक अध्ययन करते थे और बाद में उन्हें संस्कार व अभिलक्षण के आधार पर चार हिस्सों में बांट दिया. इसे ही ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद और अथर्ववेद का नाम दिया गया. परंपरागत तौर पर बुद्ध को मानने वाले इस पर्व को भगवान बुद्ध की याद में मनाते हैं. माना जाता है कि वाराणसी के सारनाथ में उन्होंने अपने शिष्यों को पहला उपदेश दिया था. वहीं, भगवान शिव को दुनिया का पहला गुरु माना जाता है. ऐसी मान्यता है कि भगवान शंकर ने सप्तऋषि को योग सिखाया था.

+1412 प्रतिक्रिया 130 कॉमेंट्स • 610 शेयर