कथा

Suchitra Singh Aug 21, 2018

Pranam Dhoop Like +106 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 80 शेयर

अध्याय – ३१

क्षुधातीर्थ और अहल्या-संगम-तीर्थ का माहात्म्य

ब्रह्माजी कहते हैं –
नारद ! अब क्षुधातीर्थ का वर्णन करता हूँ, एकाग्रचित्त होकर सुनो | वह परम पुण्यमय तीर्थ मनुष्यों की समस्त कामनाओं को पूर्ण करनेवाला हैं | पूर्वकाल में कण्व नामसे प्...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Belpatra Flower +12 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 17 शेयर

|| मानवीय मूल्य ||

गुरुनानक साहेब के पास एक आदमी गया और उसने कहा बताईये गुरूजी जीवन का मूल्य क्या है ?

गुरूनानक ने उसे एक पत्थर दिया और कहा , जा और इस पत्थर का मूल्य पता करके आ , लेकिन ध्यान रखना पत्थर को बेचना नही है I वह आदमी पत्थर को बाजार मे...

(पूरा पढ़ें)
Like Bell Pranam +75 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 157 शेयर

जिसे प्रार्थना करनी हो तो वह कहीं भी कर लेगा। जिसे प्रार्थना करने का ढंग आ गया, सलीका आ गया, वह जहां है वहीं कर लेगा। यह सारा ही संसार उसका है, उसका ही मंदिर है, उसकी ही मस्जिद है।हर चट्टान में उसी का द्वार है! और हर वृक्ष में उसी की खबर है! कहां ...

(पूरा पढ़ें)
Like Pranam Flower +19 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 51 शेयर
Raj Bansal Aug 21, 2018

https://youtu.be/6bzgdbQG8L8

Like +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर