+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर

JAI MATA DI
कभी फुरसत हो तो जगदम्बे, निर्धन के घर भी आ जाना
जो रूखा सूखा दिया हमें उसका तुम भोग लगा जाना
कभी फुरसत.....

१) न छत्र बना सकी सोने का, न चुनरी घर मेरे तारों जड़ी
न लड्डू बर्फी मेवा है, माँ बस श्रद्धा है नैन बिछाए खड़ी
इस श्रद्धा की र...

(पूरा पढ़ें)
+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

जय मंगलनाथ
🚩 श्री मंगलनाथ मंदिर उज्जैन 🚩
नवग्रह मे से मंगल गृह का जन्म स्थान मेष और वृश्चिक राशि के स्वामी, शिवजी एवं भूमि माता के पुत्र भगवान मंगलनाथ जी का आज का प्रातः काल आरती श्रृंगार दर्शन रविवार 17 सितम्बर 2017...

(पूरा पढ़ें)
+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर