Siddhpith mumuksh aashram ingohta

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर

Chapter - 01,  Serial No  421 –425

प्रभु को रोजाना साष्टांग दंडवत प्रणाम करना चाहिए । यह एकोपचार पूजा है ।

पूजा कितनी लंबी चौड़ी करते हैं उससे मतलब नहीं, मतलब है पूजा में प्रभु के लिए प्रेम, आस्था और अनुराग कितना है ।

प्रभु के लिए उत्सव करने मे...

(पूरा पढ़ें)
+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

Chapter - 01,  Serial No  416 –420

वाणी का कम से कम प्रयोग भक्त के लिए उत्तम है ।

भक्ति हमारे चित्त को सदैव प्रसन्न रखती है ।

नित्य प्रभु की पूजा करने में खूब रस आना चाहिए । प्रभु की पूजा में अत्यंत आस्था होनी चाहिए और पूजा का कर्म हमारे द्वारा...

(पूरा पढ़ें)
+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर

Website www.devotionalthoughts.in
Thoughts that will lead you closer to ALMIGHTY GOD. 
Website www.devotionalthoughts.in  needs to be opened in Desktop or Laptop only.
Request you to please SHARE THIS POST to spread the message related to ALMIGHTY...

(पूरा पढ़ें)
+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर

Website www.devotionalthoughts.in
Thoughts that will lead you closer to ALMIGHTY GOD. 
Website www.devotionalthoughts.in  needs to be opened in Desktop or Laptop only.
Request you to please SHARE THIS POST to spread the message related to ALMIGHTY...

(पूरा पढ़ें)
+3 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 10 शेयर

🥀🕉️🥀Om Sai Ram 🥀🕉️🥀

+25 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 125 शेयर

रास्ता,कोइ,भी,हो,मजिल,राधे,राधे
दुःख,कितना,भी,हो,खुशी,राधे,राधे
अरमान,कितने,भी,हो,आरजु,राधे,राधे
गुस्सा,कीतना,भी,हो,स्नेह,राधे,राधे
ॐनमःशिवाय
ॐशाईनाथ
जय,श्री,कृष्णा
जय,श्री,राधे
Radhee Radhee ji
Shubh,Sandhya...

(पूरा पढ़ें)
+43 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 14 शेयर