आनंद भवन मंदिर

Muzaffarnagar, Uttar Pradesh, India

मित्रो आज श्रावण मास का तीसरा सोमवार है, आज हम आपको बतायेंगे कि क्यों है शिव जी को सावन मास प्रिय ??????

सावन मास में सबसे अधिक वर्षा होती है जो शिव जी के गर्म शरीर को ठंडक प्रदान करती है। महादेव ने सावन मास की महिमा बताते हुए कहते है कि मेरे तीन...

(पूरा पढ़ें)
Like Agarbatti Flower +17 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 8 शेयर

शिव पुराण संहिता में कहा है कि सर्वज्ञ शिव ने संपूर्ण देहधारियों के सारे मनोरथों की सिद्धि के लिए इस 'ॐ नमः शिवाय' मंत्र का प्रतिपादन किया है। यह आदि षड़क्षर मंत्र संपूर्ण विद्याओं का बीज है। जैसे वट बीज में महान वृक्ष छिपा हुआ है, उसी प्रकार अत्यं...

(पूरा पढ़ें)
Belpatra Pranam +2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर

🕉 नमः शिवाय महाकालेश्वराय उमाशंकराय नमः नमः नमोस्तुते

🕉महाकालेश्वर की कथा🕉

उज्जयिनी में राजा चंद्रसेन का राज था। वह भगवान शिव का परम भक्त था। शिवगणों में मुख्य मणिभद्र नामक गण उसका मित्र था। एक बार मणिभद्र ने राजा चंद्रसेन को एक अत्यंत ते...

(पूरा पढ़ें)
Milk Dhoop Like +3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 7 शेयर

ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ ऊँ
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹
पूर्वाह्ण व्यापिनी जेष्ठ शुक्ल दशमी के दिन यह पर्व मनाया जाता है ।इस वर्ष यह 24 मई 18 को ही पुर्वाह्णव्यापनि है। इस दिन चंद्र कन्यास्थ और सूर्य वषस्थ भी है जो इसे महत्वम् प्रद...

(पूरा पढ़ें)
Jyot Fruits Flower +33 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 36 शेयर

🙏प्रणाम
जय श्री शनि
देवाय नमः
आज का दिन शुभ
और मंगलकारी हो
आदरणीय प्रिय मित्र..
⊱✿ ✣ ✿⊰
👏हरिॐ शांत मन ही
आत्मा की ताकत है,
शांत मन में ही ईश्वर
...

(पूरा पढ़ें)
Flower Agarbatti Water +11 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

#शनि_देव_से_क्षमा_मांग_सकते_हैं
शनि का हृदय पापियों के लिए कठोर तो अच्छे व्यक्तियों के लिए उदार है
आपराधसहस्त्राणि क्रियन्तेहर्निशं मया। दासोयमिति मां मत्वा क्षमस्व परमेश्वर।। गतं पापं गतं दुःखं गतं दारिद्र्य मेव च आगता: सुख संपत्ति पुण्योहम तव दर...

(पूरा पढ़ें)
Flower Agarbatti Jyot +5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

🕉🕉🕉नमः शिवाय महादेवाय नमः नमःनमोस्तुते 🕉🕉🕉 भगवान शिव का रूप वाकई अद्भुत है। पौराणिक कथाओं एवं कहानियों में भगवान शिव के जिस प्रकार के रूप का वर्णन हमें मिलता है, वह सच में आश्चर्यजनक है। एक हाथ में डमरू तो एक में त्रिशूल है, गले में सर्प औ...

(पूरा पढ़ें)
Dhoop Sindoor Like +3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर