Ravi Kumar Taneja
Ravi Kumar Taneja Apr 12, 2021

🌹🌹🌹विदा ले रहे वर्ष ( विक्रम सम्वत 2077 ) के अंतिम दिन ( चेत्र कृष्णा अमावस्या) को मेरा नमन स्वीकार हो...🙏🏼🌷🙏 🌴क्षमा करना अगर🌴 आपके सम्मान मे मुझसे कभी जाने अनजाने में कोई भूल हुई हो... 🙏💐🙏 अपनी नाराजगी, गिला शिकवा, सब आज छोड़कर मेरी और मेरे परिवार की ओर से आप और आपके परिवार को 🌲नूतन वर्ष🌲 की हार्दिक शुभकामनाएं !!!🌹🌹🌹 🕉हिन्दू नववर्ष पर हार्दिक शुभकामनाएँ 🕉 🌷 " माता रिद्धि दे, सिद्धि दे, वंश में वृद्धि दे, ह्रदय में ज्ञान दे, चित्त में ध्यान दे, अभय वरदान दे, दुःख को दूर कर, सुख भरपूर कर, आशा को संपूर्ण कर, सज्जन जो हित दे, कुटुंब में प्रीत दे, जग में जीत दे, माया दे, साया दे, और निरोगी काया दे, मान-सम्मान दे, सुख समृद्धि और ज्ञान दे, शान्ति दे, शक्ति दे, भक्ति भरपूर दें..."🌷 🙏🌻🙏आपको 13 अप्रैल आज से शुरू होने वाले नव वर्ष विक्रम संवत 2078 के लिए हार्दिक शुभकामनाएँ।🙏🌻🙏 🦚 सुप्रभात वंदन🦚 जय माता दी🙏🥀🙏 श्री नाथ जी सदा सहाय 🙏🌷🙏 जय श्री कृष्णा 🙏🌹🙏 🕉 *सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः।* 🕉 आप सभी का नववर्ष मंगलमय हो ऐसी प्रभु से प्रार्थना🕉🦚🦢🙏🌹🙏🌹🙏🦢🦚🕉

+325 प्रतिक्रिया 74 कॉमेंट्स • 912 शेयर

कामेंट्स

Jai Mata Di Apr 12, 2021
Happy Navratri. Good Morning Dear Brother. God Bless You And Your Family

Madhuben patel Apr 13, 2021
जय माता दी सस्नेह नमस्कार भाईजी आजसे शुरू हो रही नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं

Mavjibhai patel Apr 13, 2021
जय माता दी जय श्रीराम श्रीराम जय वीर हनुमान शुभ प्रभात

sanjay Sharma Apr 13, 2021
जय श्री राधे कृष्णा जय श्री सीताराम जय माता दी या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम शुभ प्रभात जी भाई आप कैसे हैं भाई आप सदा खुश रहिए आप सभी को विक्रम संवत २०७८ हिन्दू नव वर्ष पर हार्दिक शुभकामनाएं

Ratna Nankani Apr 13, 2021
🌹🙏 JAY JoTOWALI maa ki kirpa sada bani rhe Sabake upar 🙏 Supabhat 🙏 bajrangbali ki Jay 🙏 Navratri ki hardik shubh kamnaye 🙏 Good Morning 🌹🙏😊

Govind Singh Chauhan Apr 13, 2021
जय माता दी माता रानी की कृपा आप पर सदैव बनी रहे 🙏🌺💐🌹🌷🥀🙏

Ragni Dhiwar Apr 13, 2021
🥀 " सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।🥀 🌼शरणये त्र्यंबके गौरी नारायणी नमोस्तुते।।" शुभ नवरात्री देवी के कदम आपके घर में आएं, आप खुशहाली से नहाएं.....🌼 🥀परेशानीया आपसे आंख चुराए, नवरात्रि की आपको हार्दिक शुभकामनाएं🥀

rajawat sanjay singh Apr 13, 2021
jai mata di 🙏🌹🙏🌹🙏🌹 happy navratri 💐🌷💐🙏🌹🙏🌹 ki hardik shubh kamnaye

kailash pandey Apr 13, 2021
जय श्री राम सुप्रभात वंदन भाई जी

🌼🇮🇳हरि प्रिय पाठक🇮🇳🌼 Apr 13, 2021
꧁༺जय माता जी༻꧂ ⚛️°⨳°शुभ दिन°⨳°⚛️ आप केसुख,स्वास्थ्य, समृद्धि, संपत्ति, संयम,स्वरूप,सादगी, सफलता, साधना,संस्कार, सम्मान एवं शांति की मंगलकामनाओं के साथ आपको एवं आपके पूरे परिवार को, हिन्दू नव वर्ष "चैत्र शुक्ल प्रतिपदा विक्रम संवत २०७८" और "चैत्र नवरात्र पर्व" की हार्दिक बधाई व ढेर सारी मंगलमय शुभकामनाएं।। ▓▒­░⡷स्प्रेम नमस्कार जी⢾░▒▓ 😊\(🙏)/😊 🌹〰️〰️❣️〰️〰️🌹

Manoj Gupta AGRA Apr 13, 2021
jai shree radhe krishna ji 🙏🙏🌷🌸💐🌀 shubh prabhat vandan ji 🙏🙏🌷 jai mata di 🙏🌺☘🌀

Babita Sharma Apr 13, 2021
भारतीय *नववर्ष विक्रमी संवत् 2078* पर आपको व आपके अपनों को हार्दिक शुभकामनाएं भाई🙏🙏 प्रार्थना है कि इन नवरात्रों से मां जगदम्बे हम सभी पर उत्तम स्वास्थ्य सहित असीम अनुकंपा बनाये रखें। 🙏🙏जय माता दी 🚩

BK WhatsApp STATUS Apr 13, 2021
जय श्री राम राम जी शुभ प्रभात स्नेह वंदन धन्यवाद 🌹🙏🙏🙏

Brajesh Sharma Apr 13, 2021
प्रेम से बोलो जय माता दी जय माता दी श्री राम जय राम जय जय राम ॐ नमः शिवाय.. हर हर महादेव चैत्र नवरात्रि एवं नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं आप हर पल खुश रहें मस्त रहें स्वस्थ रहें..

🙋🅰NJALI😊ⓂISH®🅰🙏 Apr 13, 2021
!!*श्री शिवाय नमस्तुभ्यं*!!जय श्री राम🙏जय माता दी🌷भाई जी 🙏सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।। शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते।।🙏 सुख, शान्ति एवम समृध्दि की मंगलमय कामनाओं के साथ आप एवं आपके पूरे परिवार को 🙏चैत्र नवरात्रि, भारतीय नव वर्ष (हिन्दू नववर्ष) तथा गुड़ी पड़वा की हार्दिक शुभकामनाएँ... 💐माता रानी आप सभी की रक्षा करें....!!! आदरणीय भाई जी 🙏मांँ जगदंबा जी एवं बजरंगबली श्री हनुमान जी सदा आपके सहाय हो आपका सदा मंगल करें 🙌💐🙏🌹जय माता दी🌹🙏🚩🔱🚩🔱🚩🚩🔱🚩🔱🚩

🌹🌹Mamta Kapoor🌹🌹🙏🙏🌷🌷 Apr 15, 2021
**भक्त के जीवन में दो ही शब्द हैं* और सारा जीवन उन्हे इन दो शब्दों के बीच में बिताना चाहिए। एक है *"हरि कृपा"*। और दूसरा है *"हरि इच्छा"*। यदि अपने मन के अनुकूल है तो समझ लीजिए कि *"हरि-कृपा"* और जब मन के अनुकूल न हो तो *"हरि-इच्छा"* *कितनी बढ़िया बात है ना मित्रों* *हरि - कृपा* माने... ? हमारी जो इच्छा है उसे उन्होने पूरा कर दिया। और *हरि - इच्छा*...? माने उनकी जो इच्छा हुई वह उन्होंने किया। तो चाहे हमारी *इच्छा* वे पूरी करें या चाहे अपनी *इच्छा* हमसे पूरी करावें , चाहे *"आत्मा"* की इच्छा पूरी हो, चाहे *"परमात्मा"* की इच्छा पूरी हो । हमारे जीवन में कोई *"द्धन्द"* नही होना चाहिए क्योकि हमारे , *"परमात्मा"* तो सदैव ही हमारा भला ही चाहते हैं। 🙏🏼💐😔🙏🌹🕉️*

🌹🌹Mamta Kapoor🌹🌹🙏🙏🌷🌷 Apr 15, 2021
**भक्त के जीवन में दो ही शब्द हैं* और सारा जीवन उन्हे इन दो शब्दों के बीच में बिताना चाहिए। एक है *"हरि कृपा"*। और दूसरा है *"हरि इच्छा"*। यदि अपने मन के अनुकूल है तो समझ लीजिए कि *"हरि-कृपा"* और जब मन के अनुकूल न हो तो *"हरि-इच्छा"* *कितनी बढ़िया बात है ना मित्रों* *हरि - कृपा* माने... ? हमारी जो इच्छा है उसे उन्होने पूरा कर दिया। और *हरि - इच्छा*...? माने उनकी जो इच्छा हुई वह उन्होंने किया। तो चाहे हमारी *इच्छा* वे पूरी करें या चाहे अपनी *इच्छा* हमसे पूरी करावें , चाहे *"आत्मा"* की इच्छा पूरी हो, चाहे *"परमात्मा"* की इच्छा पूरी हो । हमारे जीवन में कोई *"द्धन्द"* नही होना चाहिए क्योकि हमारे , *"परमात्मा"* तो सदैव ही हमारा भला ही चाहते हैं। 🙏🏼💐😔🙏🌹🕉️*

JAGDISH BIJARNIA May 11, 2021

+140 प्रतिक्रिया 54 कॉमेंट्स • 119 शेयर
sanjay Awasthi May 10, 2021

+196 प्रतिक्रिया 29 कॉमेंट्स • 85 शेयर
sanjay Awasthi May 9, 2021

+137 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 100 शेयर
sanjay Awasthi May 11, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
JAGDISH BIJARNIA May 10, 2021

+231 प्रतिक्रिया 92 कॉमेंट्स • 154 शेयर

+108 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 74 शेयर
Arun Kumar Sharma May 11, 2021

*हम निकृष्ट स्तर का जीवन न जिएँ...* *👉 बहुधा लोग सुखोपभोग के लिए धन की तृष्णा से प्रताड़ित रहा करते हैं । वे सोचा करते हैं कि *"अधिक से अधिक धन की सिद्धि होनी चाहिए, उसके लिए भले ही कितने निकृष्ट साधन प्रयोग क्यों न करने पड़ें, चिंता नहीं ।"* आज के समय में बहुत से लोग ऐसा कर भी रहे हैं, किंतु यदि गहरी और पैनी दृष्टि से देखा जाए तो पता चलेगा कि उस निकृष्ट धन से वे जिस सुख का उपभोग करते दिखाई देते हैं, *"वह वास्तव में उनके दुःख का कारण बना होता है ।"* 👉 उस वैभव और विभूति के बीच भी वे बड़े ही अशांत, भीत और असंतुष्ट रहा करते हैं । धन के साथ वे जिन महापापों का संचय अपने अंतःकरण में कर लिया करते हैं, *"वे शोक-संतापों के रूप में प्रकट होकर उनका सुख-चैन छीनते रहते हैं ।"* 👉 *"वैभव के बीच अशांत, असंतुष्ट और दुःखी रहने की अपेक्षा कहीं अच्छा है कि उत्कृष्टता की रक्षा करते हुए कठिन और अभावपूर्ण जीवन अंगीकार कर लिया जाए ।"* मनुष्य की भलाई इसी में है कि वह *"उत्कृष्टता"* में अपना गौरव समझे और अल्प साधनों में भी संतोषपूर्वक अपनी आवश्यकताएँ पूरी करता चले, *"किंतु भूलकर भी "निकृष्टता" की ओर न जाए ।"* उस अभावपूर्ण *"उत्कृष्ट"* जीवन में जो आत्मिक सुख, स्वर्गीय शांति और आत्म-गौरव प्राप्त होगा *"वह वैभवपूर्ण "निकृष्ट" जीवन की झूठी सुविधा से लाखों गुना महत्वपूर्ण है ।"*

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB