Keshav G. Suthar
Keshav G. Suthar Jan 5, 2017

श्री ठाकुरजी मंदिर

श्री ठाकुरजी मंदिर

श्री ठाकुरजी मंदिर

+36 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
S S ✍️🙏🙏 Aug 12, 2020

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Praveen sharma Aug 12, 2020

+29 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Vijay Yadav Aug 12, 2020

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Komal dagar Aug 12, 2020

+140 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 153 शेयर
Ammbika Aug 12, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

. "मानसी गंगा लीला" (सन्तभाव लीला) एक बार राधा रानी जी अपनी सखियों के साथ माखन लेकर मानसी गंगा के तट पर आईं। मानसी गंगा में बहुत पानी है। सोचने लगीं कैसे पार करेंगी मानसी गंगा को। तभी कृष्ण नाविक का भेष बदलकर आ गए और बोले नाव से पार करा देता हूँ। गोपियो ने कहा, बहुत भला नाविक है सभी सखियाँ और राधा रानी नाव में बैठ गये। कृष्ण मन ही मन सोचने लगे आज आनन्द आएगा। कृष्ण ने नाव चलना आरम्भ किया। थोड़ी देर बाद कृष्ण बोले मुझ भूख लग रही कुछ खिलाओ नहीं तो मैं नाव नहीं चला पाऊँगा, सब डूब जाओगी। सखियों ने अपना सब माखन कृष्ण को दे दिया, कृष्ण सब खा गये। फिर नाव चलना शुरु किया, थोड़ी देर बाद बोले मैं थक गया हूँ, मेरे पैर दबाओ तभी नाव चला पाऊँगा। सखियाँ पैर दबाने लगीं बहुत सेवा की, जब नाव बीच में पहुँची, तो कृष्ण ने नाव जोर से हिला दी। सब डर गयीं, कृष्ण बोले मेरी नाव पुरानी है बजन ज्यादा है, डूब जायेगी, अपनी मटकी मानसी गंगा में फेंक दो जल्दी-जल्दी, गोपियों ने अपनी मटकियाँ मानसी गंगा में डाल दीं। कृष्ण फिर बोले अभी भी नाव हिल रही है, डूब जायेगी, अपने गहने भी फेंक दो,नहीं तो डूब जाओगी। सबने अपने बहुमूल्य गहने भी मानसी गंगा में फेंक दिए। फिर ठाकुर जी ने नाव चलायी। ललिता जी को उनके वस्त्रों में मुरली दिख गयी, ललिता जी बोलीं अच्छा श्यामसुन्दर है ये नाविक ! अभी बताते हैं इस नाविक को। जैसे ही किनारा आया सभी सखियाँ उतार गयीं। सब ने बोला अपनी उतराई तो लेते जाओ नाविक। सबने पकड़ कर श्याम सुंदर को मानसी गंगा में फेक दिया। बहुत हमारे गहने, माखन मटकी,मानसी गंगा में डलवा कर खुश हो रहे थे। अब ये लो उसका प्रसाद। ----------:::×:::---------- "जय जय श्री राधे" *******************************************

+33 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Ajit Kumar Sharma Aug 12, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Radheshyam yadav Aug 12, 2020

+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB