जय हो माधव

जय हो माधव

आज का गुडलक: गोवर्धन जी करेंगे सारी मैंटल टैंशन दूर

आज शुक्रवार दी॰ 20.10.17 कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा के उपलक्ष्य में गोवर्धन पूजा व अन्नकूट पर्व मनाया जाएगा। दीपावली के दूसरे दिन सायंकाल में ब्रज तीर्थ क्षेत्र में गोवर्धन पूजा विशेष रूप से मानई जाती है।

द्वापर तक लोग इंद्रदेव का पूजन कर उन्हें विशाल छप्पन भोग लगाया करते थे। ये पकवान तथा मिठाइयां इतनी मात्रा में होती थी कि उनका पूरा पहाड़ ही बन जाता था।

श्रीकृष्ण ने इंद्र का पूजन बंद करवाकर इस दिन गौ पूजन प्रारंभ करवाया। इसी दिन श्रीकृष्ण ने इंद्रदेव का मानमर्दन कर गिरिराज पूजन किया था।

वेदों के अनुसार इस दिन वरुण, इंद्र एवं अग्नि देव के पूजन का विधान है। इस दिन गाय-बैलों को स्नान करवाकर, फूल माला, धूप, चंदन आदि से पूजन किया जाता है।

इस दिन मंदिरों में अन्नकूट किया जाता है। सायंकाल गाय के गोबर से गोवर्धन बनाकर उसकी पूजा की जाती है।

इसमें अपामार्ग अनिवार्य रूप से रखा जाता है। जल का लोटा व जौ लेकर गोवर्धन की सात परिक्रमाएं लगाई जाती हैं।

गोवर्धन व अन्नकूट के विशेष पूजन व उपाय से व्यक्ति का तन स्वस्थ होता है। मनोविकार दूर होते हैं तथा धन की किल्लत खत्म होती है।

विशेष पूजन विधि: शाम के समय गोवर्धन, गाय और श्रीकृष्ण का पूजन करें।

गौघृत का दीप करें, सुगंधित धूप करें, गुलाबी फूल चढ़ाएं, गुलाल चढ़ाएं, दूध, दही, गंगाजल चढ़ाएं, तथा शहद व बताशे का भोग लगाएं तथा इस विशेष मंत्र से 1 माला जाप करें। पूजन के बाद शहद व बताशे ब्राह्मण को दान दे दें।

पूजन मुहूर्त: शाम 15:27 से शाम 17:42 तक।

पूजन मंत्र: ॐ गोवर्धन-अंचलो-द्धर्त्रे नमः॥

आज का शुभाशुभ

आज का अभिजीत मुहूर्त: दिन 11:43 से दिन 12:28 तक।

आज का अमृत काल: रात 00:54 से रात 02:36 तक।

आज का राहु काल: प्रातः 10:41 दिन 12:05 तक।

आज का गुलिक काल: प्रातः 07:52 से प्रातः 09:17 तक।

आज का यमगंड काल: शाम 14:54 से शाम 16:18 तक।

यात्रा मुहूर्त: आज दिशाशूल पश्चिम व राहुकाल वास दक्षिण में है। अतः दक्षिण-पूर्व दिशा की यात्रा टालें।

आज का गुडलक ज्ञान

आज का गुडलक कलर: गुलाबी।

आज का गुडलक दिशा: वायव्य।

आज का गुडलक मंत्र: ॐ गोपगोपीश्वराय नमः॥

आज का गुडलक टाइम: शाम 18:00 से शाम 19:00 तक।

आज का बर्थडे गुडलक: अच्छी हैल्थ के लिए जौ सिर से वारकर कर्पूर से जला दें।

आज का एनिवर्सरी गुडलक: पारिवारिक समृद्धि हेतु गोवर्धन पर अबीर चढ़ाकर तिजोरी में रखें।

गुडलक महागुरु का महा टोटका: मैंटल टैंशन से मुक्ति के लिए शक्कर मिले दूध में अपनी छाया देखकर जल प्रवाह करें।

+199 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 181 शेयर

कामेंट्स

S.B. Yadav Oct 20, 2017
जय श्री कृष्ण जय माधव जय गोपाल जय जय श्री गिरधर गोपाल जय श्री राधे

Amit Kumar Oct 20, 2017
द्रौपदी ने सत्यभामा को बताई थी यह गुप्त बातें जो हर स्त्री को जाननी चाहिए 18 Oct. 2017 Bloghelp0 Followers 80282 Follow Bloghelp0: महाभारत के समय में जो लोग हुए वे सभी बलवान और ज्ञानी थे परन्तु उनके ऊपर पूर्वजन्मों के श्राप हावी हो चुके थे पांडवों की पत्नी द्रौपदी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ जिसके कारण उसे पांच पति का वरदान मिला था। दरअसल में द्रौपदी अपने पूर्वजन्म में भगवान की शिव की आराधना की थी क्योंकि उसका कई विवाह नहीं हो पा रहा था। जब भगवान शंकर ने द्रौपदी को दर्शन दिए तो वह जल्दी बाज़ी में पति चाहिए ऐसा पांच बार बोल गयी और भगवान शिव ने उन्हें तथास्तु कह दिया। द्रौपदी ने सत्यभामा को बताई थी यह गुप्त बातें - Third party image reference 1) पहली बात - श्री कृष्ण की पत्नी सत्यभामा के पूछने पर द्रौपदी कहने लगी कि पत्नी को कभी अपने पति को काबू में करने का प्रयत्न नहीं करना चाहिए और नाही उनके ऊपर आवश्यकता से अधिक हक जताना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से व्यक्ति आपसे दूरियाँ बना लेता है मनुष्य को आज़ाद रहना अधिक पसंद है इसलिए उन्हें अधिक परेशान नहीं करना चाहिए। 2) दूसरी बात - द्रौपदी के अनुसार पत्नी को अपने ससुराल में सभी से अच्छे संबंध बना कर रखने चाहिए क्योंकि उन सभी का रिश्ता उसके पति से जुड़ा हुआ होता है यदि ऐसा नहीं हुआ तो पति-पत्नी के बीच झगड़े बढ़ सकते है और संबंध खराब हो सकते है इसलिए समझदार पत्नी हमेशा अपने पति की बातों का आदर करती है। 3) तीसरी बात - व्यक्ति को सुखी जीवन निर्वाह करने के लिए धन से भी अधिक कुसंगती वालों लोगो से दूर रहना चाहिए क्योंकि ऐसे लोग कभी आपके बारे में अच्छा नहीं सोच सकते है और आपको भी उनके जैसा पात्र बना देते है। दोस्तों, यदि आपको यह जानकारी उत्तम लगे तो नीचे दिया फॉलो का बटन अवश्य दबाए और अगर आपको भी पौराणिक बातें जानने में रूचि है तो कमेंट करके जरूर बताए। यह लेख पत्रकारिता सामग्री नहीं है। इसे वीमीडिया लेखक द्वारा कॉपीराइट किया गया है और किसी भी तरह से यह UC News के विचारों को नहीं दर्शाता है। 1062 डिसलाइक AD धार्मिक कथा, भजन और आरती का सबसे बड़ा संग्रह अब एक ऍप पर । सुनने के लिए अभी डाउनलोड कीजिये। Install Now Bloghelp0 Followers 80282 भारत के इतिहास से जुडी अनसुनी जानकारी का भंडार आपको यहाँ मिलेगा इसलिए फॉलो का बटन जरूर दबाए। Follow

Sanjay Singh Feb 19, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Radha soni Feb 19, 2020

+18 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 4 शेयर
D N SINGH RATHORE Feb 19, 2020

+12 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 26 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sanjay Singh Feb 19, 2020

+37 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 68 शेयर
Mukesh Kumar Talwar Feb 19, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
sandeep sharma Feb 19, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Mukesh chechani Feb 19, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
sanjiv gupta Feb 19, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB