बाबा केदारनाथ के कपाट बंद आज 8.30 पर हुए है कपाट बंद

बाबा केदारनाथ के कपाट बंद आज 8.30 पर हुए  है कपाट बंद
बाबा केदारनाथ के कपाट बंद आज 8.30 पर हुए  है कपाट बंद

बाबा केदारनाथ की डोली अपने धाम केदारनाथ से बाबा की शीतकालीन पूजा स्थली उखीमठ के लिए निकली

+45 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 12 शेयर
Shikhaashu singh Oct 29, 2020

+7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 5 शेयर
Aparna saini Oct 28, 2020

+61 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 28 शेयर
Kumarpal Shah Oct 28, 2020

🕉️ namah shivay 🙏 @राधे-राधे ॥आज का भगवद् चिंतन॥ 28-10-2020 🕉️ चिंता संत के जीवन में भी होती है और चिंता संसारी के जीवन में भी होती है मगर दोनों में एक बहुत बड़ा फर्क भी होता है और वो ये कि संत परमार्थ के लिए चिंतित रहता है और संसारी स्वार्थ के लिए।संसारी स्वयं के लिए चिंतित रहता है तो संत समष्टि के लिए चिंतित रहता है। 🕉️ संत और संसारी के बीच का जो भेद होता है, वह कर्मगत नहीं अपितु भावगत होता है। दोनों में वाह्य स्थिति का नहीं अपितु अंतःस्थिति का भेद होता है। 🕉️ संसारी भी क्रोध करता है और संत भी क्रोध करता है। संसारी लोभ करता है और संत में भी लोभ देखने को मिल जाता है। संसारी भी अर्जन करता है और संत भी अर्जन करता है। और तो और संसारी अगर संग्रह करता है तो संत भी संग्रह करता है। मगर दोनों में क्रिया भेद शून्य होने के बावजूद भी भावों में जमीन और आसमान जैसा अंतर निहित होता है। 🕉️ संत का जीवन उस बादल के समान होता है जो समुद्र से अपने में अथाह जल का भंडारण और संग्रह करता हुआ प्रतीत होता है मगर वह अपने पास न रखकर उस जल को जग कल्याण हेतु वर्षा के माध्यम से सर्वत्र वितरित कर देता है। संत का जीवन तो उस पुष्प के समान होता है, जिसकी खुशबु और सौंदर्य दोनों दूसरों के लिए होता है। जो खिलता भी दूसरों के लिए है और टूटता भी दूसरों के लिए। 🕉️ यदि आपके जीवन में अर्जन है, संग्रह है, लोभ है मगर आप अपने लिए नहीं अपितु दूसरों के लिए जीते हैं। आप उन सभी वस्तुओं का उपयोग स्वार्थ में नहीं अपितु परमार्थ में करते हैं और आप दूसरों की खुशी में ही अपनी खुशी मानते हैं तो सच समझना फिर आप संसार में रहते हुए और संसारी दिखते हुए भी संत ही हैं। 🇮🇳🙏🏻🌺🕉️ *जय श्री कृष्ण*🙏🏻🌷🇮🇳

+6 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB