मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
Ramesh kumear
Ramesh kumear Jun 16, 2019

+15 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 20 शेयर

कामेंट्स

seema bhardwaj Jul 17, 2019

+155 प्रतिक्रिया 27 कॉमेंट्स • 90 शेयर
Mamta Chauhan Jul 17, 2019

+95 प्रतिक्रिया 25 कॉमेंट्स • 56 शेयर

+80 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 230 शेयर

+18 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 15 शेयर

+18 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 15 शेयर
Babita Sharma Jul 17, 2019

भगवान भोलेनाथ ,माँ पार्वती सहित समस्त देवी देवताओं की कृपा आप पर बरसे🙏🙏सावन मास की शुभकामनाये ! ॐ नमः शिवाय 🔱 हर हर महादेव 🌿🌿 श्रावण या सरल शब्दों में सावन मास भगवान शिव का अत्यंत प्रिय महीना है। शिव शंकर का द्रव्य से पूजन करना चाहिए। सभी अभिषेक द्रव्य का फल अलग-अलग है। 1. गंगाजल या शुद्ध जल- सौभाग्य वृद्धि। 2. दुग्ध गाय का- गृह शांति तथा लक्ष्मी प्राप्ति। 3. सुगंधित तेल- भोग प्राप्ति। 4. सरसों का तेल- शत्रु नाश। 5. मीठा जल या दुग्ध- बुद्धि प्राप्ति। 6. घी- वंश वृद्धि। 7. पंचामृत- मनोवांछित प्राप्ति के लिए। 8. गन्ने का रस या फलों का रस- लक्ष्मी तथा ऐश्वर्य प्राप्ति। 9. छाछ - ज्वर से छुटकारा। 10. शहद- ऐश्वर्य प्राप्ति। शिव पूजन में कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखें जैसे - 🔱शिवजी की आराधना सुबह के समय पूर्व दिशा की ओर मुंह करके करनी चाहिए। 🔱 संध्या समय शिव साधना करते वक्त पश्चिम दिशा की ओर मुंह रखें। 🔱 अगर शिव उपासक रात्रि में शिव आराधना करता है तो उसके लिए उत्तर दिशा की ओर मुंह रखें। 🔱शिव उपासना के विशेष दिन सोमवार को बहुत ही शुभ फल मिलता है। 🔱चंपा और केवड़ा के पुष्प शिव पूजन में निषेध है। 🔱 श्रावण मास में शिव महापुराण का पाठ अत्यंत मंगलकारी होता है। ॐ नमः शिवाय 🔱 हर हर महादेव 🌿🌿

+290 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 57 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB