*वज़न तो सिर्फ हमारी इच्छाओं का है.......* *वर्ना जिंदगी तो बिल्कुल हल्की फुल्की है.....* *उम्र की दहलीज पर जब सांझ की आहट होती है......* *तब ख्वाहिशें थम जाती हैं और सुकून की तलाश बढ़ जाती है......* *जब परिस्थितिया बदल जाती है उससे पहले जिस काम के लिए जन्म लिया उस काम को पूरा कर लो मानव जन्म अनमोल रे मिट्टी में न रोल रे अब तो मिला है फिर न मिलेगा कभी नहीं कभी नहीं कभी नहीं जी 🙏🌹🌹🙏

*वज़न तो सिर्फ हमारी इच्छाओं का है.......*
*वर्ना जिंदगी तो बिल्कुल हल्की फुल्की है.....*
*उम्र की दहलीज पर जब सांझ की आहट होती है......*
*तब ख्वाहिशें थम जाती हैं और सुकून की तलाश बढ़ जाती है......*
*जब परिस्थितिया बदल जाती है उससे पहले जिस काम के लिए जन्म  लिया उस काम को पूरा कर लो 
मानव जन्म अनमोल रे मिट्टी में न रोल रे अब तो मिला  है फिर न मिलेगा कभी नहीं कभी नहीं कभी नहीं जी
      🙏🌹🌹🙏

+305 प्रतिक्रिया 74 कॉमेंट्स • 295 शेयर

कामेंट्स

arvind sharma May 4, 2021
*🔅┅🌿🐚☆"ॐ"☆🐚🌿┅🔅* जय,महावीर बजरंग बली 🪶🪶 कबीर सब जग निरधना,धनवंता नाहि कोय!! धनवंता सो जनिये, जाके रामनाम धन होय!! --; महावीर--,देवनारायण भगवान कि आसीम स्नेह सम्मान, प्यार ,आनंद ,मुस्कान , आप सदैव बनी रहे मंगल नाथ आपका मंगल करे खुश रहो स्वस्थ रहो मुस्कारते रहो आपका दिन मंगलम सुखद सुरक्षित ही🌾🌾 ॐ नमःशिवाय 🌾🌾 *❤️❤️हे मेरे महाकाल राजा जी ❤️❤️* ❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️ *꧁_ ॐ नमः पार्वती पतये* *हर हर महादेव।_꧂* ❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️ *हे प्रभू महाकाल जी मोहब्बत के सभी रंग बहुत खूबसूरत हैं,* *लेकिन* *सबसे खूबसूरत रंग वह हैं जिसमें हे महाकाल प्रभू तुम हो।* *🚩🚩जय श्री महाकाल🚩🚩* 🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️ *🕉️🕉️ ॐ नमः शिवाय::🕉️🕉️* 🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️

Raj bhadauria May 4, 2021
Radhey Radhey jii 🌹🌷🌺 suprbhat jii 🌹🌹🌷

bhagwan gupta May 4, 2021
ramram saa ji shubh prabhat vandan ji radhey radhey ji excellent post ji ye kuchh varsh meel ke pathar honge ji present m jo dekhne ko mil raha hai apne samay m prabhu ram b prabhu krishna ka is sanatani sanskrati ka punarjanm sakar hote dekh sake vandan ji

Nitin Sharma May 4, 2021
*. 🌺ॐ🌺 🌹जय सिया राम 👏 🌴☀️ सुप्रभात ☀️🌴 आप का दिन शुभ हो

kUmaR Avi May 4, 2021
राधे राधे कृष्णा जी। 🙏🏻🙏🏻🙏🏻 good morning🌞🌞🌞 ma'am j I. aap thik hai

Rajesh Kumar May 4, 2021
jai shri Ram Preeti ji Ram ji ke kirpa aap aur aap ka parivar par sada bani rahe Gbu 🌺🌺🌺🙏🌹🌹🌹

Himmat Garg May 4, 2021
🙏🌹जय श्री बजरंगबली की सुप्रभात वंदन आपका दिन मंगलमय हो 🌹🙏

Ansouya M 🍁 May 4, 2021
जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम 🙏🙏 जय बजरंगबली हनुमान 🙏 सप्रेम शुभ प्रभात प्यारी बहना जी 🌷🙏 आप का दिन शुभ और मंगलमय हो प्रभु श्री राम जी और हनुमान जी की कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बना रहे बहना जी 🌷🙏🌷🙏 जय श्री राधे कृष्ण 🙏🙏🕉

kamlesh Goyal🌹🙏🙏🌹 May 4, 2021
राधे राधे जय श्री कृष्णा बहन भगवान रामचंद्र की कृपा हनुमान जी महाराज का आशीर्वाद सदा आपके परिवार पर बना रहे आप सदा खुश रहे आपका दिन मंगलमय हो सुप्रभात वंदन मेरी प्यारी बहन ठाकुर जी आपको सदा खुश रखे🌹🌹🙏🙏🌹🌹

Madhuben patel May 4, 2021
Very Good Morning Have A Beautiful Day Aap Aur Aapke Parivar Pat Sankatmochan Ji ka Aashirwaad Bani Rahe

EXICOM May 4, 2021
🌹🙏ऊँ🙏🌹 🌹🙏शाँतिं🙏🌹 🌹🙏दीदी🙏🌹 🌹🙏जी🙏🌹

Naresh Rawat May 4, 2021
🙏🔔🌷जय सिया राम जय वीर हनुमान🙏🚩जय राधे श्याम जय श्रीकृष्ण 🙏🌹 शुभ मंगलवार शुभ प्रभात स्नेह वंदन सिस्टर जी🙏🌞आप सदा स्वस्थ💪 और खुश रहो🙂 श्री बजरंगबली महाराज जी की असीम कृपा आशीर्वाद आप और आपके परिवार पर सदैव बना रहे जी🙏 जय श्रीराम जय हनुमान 🙏🚩

rajawat sanjay singh May 4, 2021
jai shree ram 🌹🙏🌹🙏 jai jai shree ram 🌹🙏🌹🙏 jai jai bajrangbali ki jai 🌹🙏🌹🙏🌹🙏

Surender Verma May 4, 2021
🙏राधे राधे राधे राधे🙏जय श्री श्याम🙏

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 May 4, 2021
Good Morning My Sweet Sister ji 🙏🙏 Jay Shree Ram 🙏🙏🌹🌹 Jay Veer Hanuman 🙏🙏🌹🌹 Jay Bhajanvali 🙏🙏🌹🌹 Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹.

r h Bhatt May 4, 2021
Jai Ram ji ki Ram ram ji aapka Den magalmay our Shubh Ho ji Vandana ji

kUmaR Avi May 4, 2021
@preetijain2 good evening ji. राधे राधे कृष्णा जी 🙏🏻🙏🏻🙏🏻

🙏 जय श्री कृष्ण मित्रों *सदैव सकारात्मक रहें* महाराज दशरथ को जब संतान प्राप्ति नहीं हो रही थी तब वो बड़े दुःखी रहते थे...पर ऐसे समय में उनको एक ही बात से हौंसला मिलता था जो कभी उन्हें आशाहीन नहीं होने देता था... और वह था श्रवण के पिता का श्राप.... दशरथ जब-जब दुःखी होते थे तो उन्हें श्रवण के पिता का दिया श्राप याद आ जाता था... (कालिदास ने रघुवंशम में इसका वर्णन किया है) श्रवण के पिता ने ये श्राप दिया था कि ''जैसे मैं पुत्र वियोग में तड़प-तड़प के मर रहा हूँ वैसे ही तू भी तड़प-तड़प कर मरेगा.....'' दशरथ को पता था कि ये श्राप अवश्य फलीभूत होगा और इसका मतलब है कि मुझे इस जन्म में तो जरूर पुत्र प्राप्त होगा.... (तभी तो उसके शोक में मैं तड़प के मरूँगा) यानि यह श्राप दशरथ के लिए संतान प्राप्ति का सौभाग्य लेकर आया.... ऐसी ही एक घटना सुग्रीव के साथ भी हुई.... वाल्मीकि रामायण में वर्णन है कि सुग्रीव जब माता सीता की खोज में वानर वीरों को पृथ्वी की अलग - अलग दिशाओं में भेज रहे थे.... तो उसके साथ-साथ उन्हें ये भी बता रहे थे कि किस दिशा में तुम्हें कौन सा स्थान या देश मिलेगा और किस दिशा में तुम्हें जाना चाहिए या नहीं जाना चाहिये.... प्रभु श्रीराम सुग्रीव का ये भगौलिक ज्ञान देखकर हतप्रभ थे... उन्होंने सुग्रीव से पूछा कि सुग्रीव तुमको ये सब कैसे पता...? तो सुग्रीव ने उनसे कहा कि... ''मैं बाली के भय से जब मारा-मारा फिर रहा था तब पूरी पृथ्वी पर कहीं शरण न मिली... और इस चक्कर में मैंने पूरी पृथ्वी छान मारी और इसी दौरान मुझे सारे भूगोल का ज्ञान हो गया....'' अब अगर सुग्रीव पर ये संकट न आया होता तो उन्हें भूगोल का ज्ञान नहीं होता और माता जानकी को खोजना कितना कठिन हो जाता... इसीलिए किसी ने बड़ा सुंदर कहा है :- "अनुकूलता भोजन है, प्रतिकूलता विटामिन है और चुनौतियाँ वरदान है और जो उनके अनुसार व्यवहार करें.... वही पुरुषार्थी है...." ईश्वर की तरफ से मिलने वाला हर एक पुष्प अगर वरदान है.......तो हर एक काँटा भी वरदान ही समझें.... मतलब.....अगर आज मिले सुख से आप खुश हो...तो कभी अगर कोई दुख,विपदा,अड़चन आजाये.....तो घबरायें नहीं.... क्या पता वो अगले किसी सुख की तैयारी हो.... *इसलिए हर परिस्थिति में सदैव सकारात्मक रहें !* हमेशा याद रहे -- *दुनिया बनाने वाला ईश्वर सदैव आपके साथ हैं..!!

+345 प्रतिक्रिया 62 कॉमेंट्स • 307 शेयर

*भाग्य* यात्रियों से भरी बस चली जा रहा थी, जब अचानक मौसम बदला और भारी बारिश चालू हो गयी और बिजली भी चारों तरफ चमकने लगी सभी देख रहे थे कि बिजली कभी भी बस को चपेट में ले सकती है । रोशनी से बचने के 2 या 3 कठिन प्रयास के बाद, चालक ने पेड़ से पचास फुट की दूरी पर बस बंद कर कहा - "हमारे पास बस में कोई है जिसकी मृत्यु आज निश्चित है।" उस व्यक्ति की वजह से बाकी सब लोग भी मारे जाएंगे। अब ध्यान से सुनिये जो मैं कह रहा हूं ..मैं चाहता हूं कि प्रत्येक व्यक्ति बस से उतर एक एक कर बाहर जाकर पेड़ के तने को स्पर्श करे और वापस आ जाए। "जिसकी मौत निश्चित है वह बिजली से पकड़ा जाएगा और मर जाएगा और बाकी सभी को बचा लिया जाएगा "। उसने पहले व्यक्ति को जाने और पेड़ को छूने और वापस आने के लिये कहा वह अनिच्छा से बस से उतर गया और पेड़ को छुआ। उसका दिल प्रसन्न हो गया जब कुछ भी नहीं हुआ और वह अभी भी जीवित था। यही क्रम बाकी यात्रियों के लिए जारी रहा और उन सभी को राहत मिली जब वे पेड़ को छु कर लौटे और कुछ भी नहीं हुआ। लेकिन जब आखिरी यात्री की बारी आई, तो सभी उसे आँखों से घूरने लगे। वह यात्री बहुत डर गया और अनिच्छुक था क्योंकि वही केवल अकेला बचा था।सभी ने उसे नीचे उतरने और जाने और पेड़ को छूने के लिए मजबूर किया। मृत्यु के 100% भय के साथ, अंतिम यात्री पेड़ के पास गया और उसे छुआ। उसी समय वहाँ गड़गड़ाहट की एक बड़ी आवाज़ गूँजी और बिजली ने बस को चपेट में ले लिया - हां, बिजली के चपेट में आने से बस के अंदर सभी मारे गये। इस घटना से यह स्पष्ट हो गया (मानना पडेगा) कि पूरी बस इस आखिरी यात्री की उपस्थिति के कारण सुरक्षित थी। कई बार, हम अपनी वर्तमान उपलब्धियों के लिए स्वयं श्रेय लेने की कोशिश करते हैं, लेकिन यह भूल जाते हैं कि यह हमारे साथ जूडे एक व्यक्ति के कारण है। शायद उस व्यक्ति की वजह से हम अपनी वर्तमान खुशी, सम्मान, प्रेम, नाम, प्रसिद्धि, वित्तीय सहायता, शक्ति, स्थिति और क्या नहीं आनंद ले रहे हैं अपने चारों ओर देखिए - शायद आपके माता-पिता, आपके पति या पत्नी, आपके बच्चे, आपके भाई-बहन, आपके मित्र आदि के रूप में आपके आस-पास कोई है, जो आपको नुकसान से बचा रहे हैं ..! इसके बारे में सोचिये .. और उस आत्मा को धन्यवाद दें..। *🌹

+406 प्रतिक्रिया 138 कॉमेंट्स • 819 शेयर
Mamta Chauhan May 5, 2021

+369 प्रतिक्रिया 87 कॉमेंट्स • 352 शेयर
Neeta Trivedi May 5, 2021

+229 प्रतिक्रिया 36 कॉमेंट्स • 273 शेयर

+42 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 132 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB