मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
Neelu Odeliya
Neelu Odeliya Jun 12, 2019

+92 प्रतिक्रिया 22 कॉमेंट्स • 0 शेयर

कामेंट्स

Malkhan Singh UP Jun 14, 2019
* *🌲🙏🏼जय माता दी🙏🏼🌲* *जगतजननी श्री माँ आदिशक्ति की अद्भुत कृपा आप एवं आपके परिवार पर सदैव बनी रहे आपका हर पल शुभ हो* *🌼🙏राम राम जी🙏🌼*

Renu Singh Jun 14, 2019
Jai Mata Di Dear Sister ji 🙏 Mata Rani Aapko aur Aapki family ko Hamesha Khush rakhein Aapka Har pal Shubh V mangalmay ho my dear Sister ji 🙏🌹🙏🌹👌👌👌

Malkhan Singh UP Jun 14, 2019
***************************** * *॥हरि ॐ॥*जय माता दी II* *सर्वमङ्गलमङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके। शरण्ये त्र्यंबके गौरि नारायणी नमोस्तुते।। *आपकी रात्रि शुभ एवं सुंदर हो* *II सादर नमन सा II* *****************************

Malkhan Singh UP Jun 15, 2019
ऊँ शनिदेवाय नमः🙏ऊँ हनुमतये नमः *शनिवार प्रातःकाल की आप को सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएं। श्री हनुमान जी एवं शनिदेव जी आपकी सभी मनोकामनाएं पुरी करें।आपको सदैव खुशहाल रखें। *🌹🙏जय श्री राम जी🙏🌹*

🌷🌷🌷mukseh nagar🌷🌷🌷 Jun 17, 2019
🌹ओ बांके बिहारी पिया🌹 यूँ दूरियाँ बढ़ाने से क्या हम दूर हो जायेंगे? वृन्दावन ना बुलाओगे तो क्या हम ग़ैर हो जायेंगे? तेरी नही मैं तेरी विरह की अज़ीज़ हूँ । तुझसे दूर हूँ पर तेरी दूरियों के करीब हूँ । यूँ ऐसे ठुकरा दोगे तो क्या हम ग़ैर के दर पर जायेंगे? तेरे हैं... तेरे थे... तेरे ही हो कर मर जायेंगे। तेरे प्रेम की नही पर तेरी बांकी अदाओं की अज़ीज़ हूँ। तुझसे दूर हूँ चाहे फिर भी तेरी‌ दूरियों के करीब हूँ । 🌹श्री राधा🌹

Renu Singh Jun 17, 2019
Om Namah Shivay Dear Sister ji Bhole Nath ki kripa Aap aur Aapki family pr hamesha BNI rhe Aapka Har pal Shubh V mangalmay ho Sister ji 🙏🌹🙏

sumitra Jun 22, 2019
Ram Ram dear sister Aapka din shubh v mnglmay ho sister shnidev ji ki kripya Aap or aapke priwar pr hmesha BNI rhe sister🌹🙏

R.K.Soni(गणेश मंदिर) Jun 22, 2019
सु५भातम जी🌹🌹🌹 🙏जय गणेश देवा जी🙏 🙏जय हनुमान जी ,शनिदेव जी🙏आप व आपके परिवार की हनुमान व शनिदेव जी हर संकट मे २क्षा करे।व जीवन मे कभी दुख ना आने दे इसी कामना के साथ राम राम जी🌹🙏🌹🙏🌹🙏🌹

Dr. Ratan Singh Jun 22, 2019
🌻🙏जय श्री राम वन्दन जी🙏🌻 🎎आप सभी पर सुर्यपुत्र भगवान शनिदेव श्री राम भक्त हनुमान जी की कृपादृष्टि सदा बनी रहे और आपका शनिवार का दिन अतिसुन्दर शुभ शांतिमय और मंगलमय हो🙏 ^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^ 🌹🌿जय श्री राम🌿🌹 🎡🚩जय श्री शनिदेव🚩🎡 🚩🌋जय श्री हनुमान🌋🚩 🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍

Sandhya Nagar Jun 22, 2019
मयूरी नाम की लड़की जो कि हर साल अपने मामा मामी के पास रहने के लिए जाती है मामा मामी और नानी उसको बहुत प्यार करते हैं मयूरी 17- 18 साल की एक सुन्दर और सुशील लड़की है! इस बार वह जब मामा मामी के यहां जाती है तो दो-तीन दिन बाद मामा मामी कहीं जाने के लिए अपना सामान बांध रहे होते हैं मयूरी मामी को पूछती है कि आप कहां जा रहे हो तो उसके मामा मामी कहते हैं कि हम वृंदावन धाम को जा रहे हैं क्या तुम साथ चलोगी वृंदावन का नाम उसने पहले कभी नहीं सुना था लेकिन नाम सुनते ही मयूरी का मन अंदर से मोर की तरह नाचने लगता है वह मामा मामी से पूछती है की वृंदावन धाम कहां है मैं पहले कभी नहीं गई वह कहते अगर तू जाना चाहती है तो हमारे साथ चलो नहीं तो नानी के साथ रहो मयूरी झट से हां कर देती है कि मैं तो चलूंगी। मामा मामी कहते हैं सुबह तैयार रहना उसको तो जाने की खुशी से रात भर नींद नहीं आती उसको बार-बार यही लगता है कि बाहर सवेरा हो गया है और मामी उठ नहीं रहे और साथ में यह भी डर लगा रहता है कि कहीं मामी मुझे छोड़ ना जाए वह सारी रात जागकर गुजारती है और बार बार जाकर मामी के दरवाजे में बने छेद से जाकर देखती है की मामी उठ क्यों नहीं रही बहुत ज्यादा बेचैन होने पर वो सुबह 4:00 बजे जाकर मामी का दरवाजा ठक ठकाती है और कहती मामी उठो बाहर सवेरा हो गया है। मामी एकदम से उठकर बाहर आकर देखती है कि अभी तो 4:00 ही बजे हैं तू बावरी हो गई है अभी बाहर कहां सवेरा हुआ है अभी तू सो जा मैं तुझे उठा लूंगी जब जाना होगा। मयूरी शर्मिंदा से होती हुई अपने कमरे में चली जाती है अब सुबह मयूरी मामा मामी के साथ वृंदावन धाम को चल पड़ती है । वृंदावन धाम में पैर रखते ही मयूरी को एक अजीब सी खुशी मिलती है मामा मामी उसको सभी मंदिरों के दर्शन करवाते हैं पहले वह श्री बिहारी जी के मंदिर जाते हैं बिहारी जी को देखकर मयूरी निहाल हो जाती है फिर वह श्री राधा रमन जी के मंदिर जाते हैं राधा रमन जी की छवि को देख कर मयूरी मंत्रमुग्ध सी हो जाती है अंत में जब वह श्री निधिवन धाम में पहुंचते हैं तो मयूरी वहां के वातावरण को देख कर बहुत आनंदित होती है और मामी से पूछती हैं कि मामी यह कौन सा मंदिर है तो मामी उसको बताती है कि यह निधि वन धाम है यहां पर हर रोज किशोरी जी और ठाकुर जी अपनी सखियों के साथ रासलीला करते हैं यह जो तुलसी के पेड़ हैं यह रात को सखियां बन जाती हैं मयूरी यह सुनकर एकदम से हैरान हो जाती है उसको मामी की बातों पर विश्वास नहीं होता कि ऐसा भी हो सकता है वह मामी को बार-बार इस बात को बताने के लिए कहती है मामी कहती है बावरी यह बात सत्य है यहां हर रोज रात को रासलीला होती है और यह जो तुलसी के पेड़ है रात को सखियां बन कर किशोरी जी के साथ और ठाकुर जी के साथ रासलीला करते हैं अब तो मयूरी मन में सोचती है कि काश ऐसा हो जाए कि मैं देख सकूं अपने मन की बात मामी को बताती हैं ।मामी कहती है कि यहां रात को कोई नहीं रुकता अब मयूरी धर्मशाला में आ जाती है पर उसका ध्यान निधिवन धाम में ही लगा रहता है कि कैसे ठाकुर जी और किशोरी जू रासलीला करते होंगे अगले दिन जब वह फिर निधि वन धाम में जाने लगती है तो रास्ते में उसकी मामी उसको एक बहुत ही सुंदर कंगन की जोड़ी लेकर देती है मयूरी कंगन को देखकर बहुत खुश होती है जब निधिवन धाम में जाती है रंग महल के सामने तुलसी वृक्ष के नीचे वह अपने कंगन रख देती है कि बाद में उठा लूंगी लेकिन वह कंगन लेना भूल जाती है और बाहर जाकर उसको याद आता है कि कंगन तो अंदर ही रह गए तो वह मामी को कहती है कि मैं कंगन लेकर आती हूं मामी कहती है कि अब मंदिर बंद हो गया होगा तुम कल ले लेना कोई नहीं उठाएगा तुम्हारे कंगन जब अगले दिन मयूरी वहां जाती है तो कंगन वहां नहीं होती वह इधर-उधर देखती है लेकिन कंगन नहीं थी तभी उसका ध्यान तुलसी वृक्ष रुपी सखियों की शाखाओं पर पड़ता है तो वह कंगन वहां पर पड़े होते हैं मयूरी यह देखकर हैरान हो जाती है और सोचती है कि यह कंगन तो नीचे थे शाखाओं पर कैसे आ गए अब वह कंगन वहां से उतारती है तो हाथ लगाते ही कंगन को उसके शरीर में एक अजीब सी हलचल होती है और कंगन में से बहुत ही रूहानी खुशबू आ रही होती है मयूरी कंगन को जब डालती है तो उसका शरीर एकदम से हल्का होने लगता है शरीर में एक अजीब तरह से खुशबू फैल जाती है उसको हर चीज चमकने वाली नजर आने लगती है और उसके चारों तरफ का वातावरण अजीब सा हो जाता है उसका दिमाग काम करना बंद कर देता है उसे कुछ नहीं सुझता ।वह हैरान-परेशान बुत सी बनी एकटक रंग महल में बने किशोरी जी और ठाकुर जी के दर्शनों को करती रहती है। उसकी मामी उसको हिला कर पूछती है मयूरी ठीक तो हो ।लेकिन वह कुछ जवाब नहीं देती उसकी तो सुध बुध जैसे खो जाती है मामी उसको बहुत बार बुलाती है लेकिन वह कोई जवाब नहीं देती अब मामी उसको घर चलने के लिए कहती है तो मयूरी उसको जाने के लिए बिल्कुल मना कर देती है कि अब मैं ना जाऊंगी घर मैं तो यही रहूंगी अब यही मेरा घर है ना जाने उसको कंगन पहनने के बाद क्या हो गया था।मामी उसको साथ चलने के लिए बहुत मिन्नतें करती है लेकिन मयूरी टस से मस नहीं होती थक हारकर मामा मामी उसको कोसते हुए वापस अपने घर को चले जाते हैं अब तो मयूरी निधिवन धाम की ही हो जाती है वह हर रोज सुबह आकर सारे धाम में सोहनी सेवा करती है और फिर एक जगह पर तुलसी वृक्ष रुपी सखियों के साथ बातें करने लग पड़ती है कभी वह बातें करते करते हैरान हो जाती है कभी हंसने लग पड़ती है कभी जोर जोर से रोने लग पड़ती है और कभी मोर के पंखों की तरह हाथ को फैलाकर गोल गोल घूम कर नाचने लगती है सभी उसको कहते हैं कि मयूरी तो बावरी हो गई है लेकिन वह तो लताओ से ऐसे बातें करती है जैसे कि वह रात की रासलीला का वर्णन मयूरी को बता रही हो ।मयूरी की अब यही दिन दिनचर्या होती है कि सुबह सोहनी सेवा करना लताओं से बातें करना बातें करते-करते रोना हंसना हैरान होना सब लोग उसको पागल समझते हैं लेकिन असल में मयूरी के कंगन के कारण ही मयूरी की ऐसी दशा थी क्योंकि रात को रासलीला करते करते वह कंगन ठाकुर जी की सखियों ने डाल लिए होंगे और उसी कंगनो के प्रभाव से मयूरी जैसे उन सखियों से वार्तालाप करती हो सब लोग उसको बाबरी मयूरी के नाम से बुलाने लगे लेकिन आज भी वह सोहनी सेवा करने के बाद सखियों से पूरी रासलीला सुनती है ।मयूरी पर तो पूरी किशोरी जी की कृपा है ऐसी कृपा किसी किसी पर होती है । किशोरी जी काश ऐसी कृपा हम पर भी हो जाए तो हम भी धन्य धन्य हो जाए निधिवन धाम की जय ।श्यामा श्याम की जय हो । 🌴!!..मत सिखाओ तुम हमें मोहब्बत का बही खाता...!..💞 हिसाब-ए-इश्क़ रखना हम दीवानों को नहीं आता... 💞जय श्री राधेश्याम 💞

Preeti jain Jun 25, 2019
ram ram ji jai veer Hanuman g ka Kripa 🚩 🙏🏻 sada aap aur aapki family pe bana rahe aap ka har pal shubh aur maglamye ho shubh prabhat ji didi ji🌿🌿🙏🙏🙏🌹🌹

Dr. Ratan Singh Jun 26, 2019
🕉🚩💐ॐ गणपतये नमः💐🚩🕉 🍑🌿🌷जय श्री कृष्ण🌷🌿🍑 🌻🐚💠शुभ दोपहर💠🐚🌻 🎎॥ सिद्धि विनायक मंत्र ॥ 🎎 🌹ॐ नमो सिद्धि विनायकाय सर्व कार्य कर्त्रे सर्व विघ्न प्रशमनाय सर्व राज्य वश्यकरणाय सर्वजन सर्वस्त्री पुरुष आकर्षणाय श्रीं ॐ स्वाहा ।।🌹 👏हे भगवान गणेश आप हमारे हर क्षेत्र में सफलता ले आएं , यही मै कामना करता हूँ । आप को मेरा बारम्बार प्रणाम 🙏 🎭आप और आपके पूरे परिवार पर सिद्धि विनायक,दुखहर्ता गणपति महाराज और ठाकुर जी की कृपा दृष्टि सदा बनी रहे और सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जी🌸 🌹आपका बुधवार के दिन शुभ अतिसुन्दर और मंगलमय हो🙏 🕉🚩💐ॐ वक्रतुण्डाय नमः💐🚩🕉

Rajesh Kashyap Jun 26, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Rajesh Kashyap Jun 26, 2019

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
simmi rana Jun 26, 2019

+20 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 15 शेयर
राकेश Jun 26, 2019

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
ramashankar Jun 26, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
sitaram sharma Jun 26, 2019

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
sitaram sharma Jun 26, 2019

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB