Ashok verma(ashoka)
Ashok verma(ashoka) Nov 12, 2017

jai shri krishan

https://youtu.be/VgXKsayaR3c

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Shashi Bhushan Singh Oct 28, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Jai Mata Di Oct 28, 2020

+8 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Vandana Singh Oct 28, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
SOM DUTT SHARMA Oct 28, 2020

+59 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Vandana Singh Oct 28, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

हमारी हिंदूओ की सनातन संस्कृति की बराबरी कोई नहीं कर सकता। हजारों सालों के बाद भी पौराणिक प्रमाण मिलते हैं। जिसका मुकाबला आज का विज्ञान भी नहीं कर सकता। हमारा भारत सोने की चिड़िया था लुटेरे लूटकर ले गए फिर भी सोने की चिड़िया ही हैं।👌🏼👌🏼🙏🏻🙏🏻🪔🪔🪔🪔🪔🙏🏻🙏🏻👌🏼👌🏼: 🕉👆🏻🔔👆🏻🌹🔔👆🏻🏆🕉 *🔱१५०००, किलो शुद्ध सोने से बना है यह मंदिर, १०० एकड़ जमीन पर फैले इस मंदिर को बनाने में लगा इतने सालों का वक्त !!* *🔔संसार में किसी भी मंदिर का बनाने में इतना अधिक सोना नहीं लगा जितना की इस मंदिर को बनाने में लगा । देश में मंदिरों की कोई कमी नहीं है । भव्य मंदिरों को देखने के लिए दूर-दराज से लोग आते हैं, लेकिन चेन्नई से लगभग १४५ किलोमीटर की दूरी पर बसे वैल्लोर शहर में बने श्री लक्ष्मी नारायणी मंदिर की बात ही कुछ और है । वैल्लोर सात किलोमीटर दूर थिरूमलाई कोडी में इस मंदिर को बनाया गया है । दक्षिण भारत के इस मंदिर की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसे सोने से बनाया गया है।।* *🏆लगभग १०० एकड़ जमीन पर करीबन १५,००० किलो शुद्ध सोने से इस मंदिर को बनाया गया है जिसमें ७ साल का समय लगा है । संसार में किसी भी मंदिर का बनाने में इतना अधिक सोना नहीं लगा जितना की इस मंदिर को बनाने में लगा। इसे बनाने में ३०० करोड़ का खर्च आया है ।।* *🌒दिन ढ़लते ही जब मंदिर में लाइट जलती है तो सोने की चमक और भी बढ़ जाती है । मंदिर परिसर में २७ फीट ऊंची एक दीपमाला भी है । इसे शाम के समय जला दिया जाता है । यहां का नजारा बेहद ही अद्भूत होता है ।।* *🌟 जगमगाते हुए इस मंदिर में लोग दक्षिण दिशा से प्रवेश करते हैं और क्लाक वाईज घुमते हुए पूर्व दिशा की ओर जाते हैं ।।* *🕉अंदर भगवान श्री लक्ष्मी नारायण के दर्शन के बाद फिर पूर्व में आकर दक्षिण से ही बाहर की ओर प्रस्थान करते हैं ।।* *🚣🏻‍♂️मंदिर परिसर में उत्तर दिशा की ओर में एक छोटा सा सरोवर भी है ।।* *🔱सात साल की कड़ी मेहनत और लगन के बाद २४ अगस्त २००७ को यह मंदिर दर्शन के लिए खोला दिया गया था ।।* *🕉 निज अनुभव अब कहहु :-* *🔱 इस भव्य मंदिर का दर्शन मेरे सोभाग्य से मैंने अपने गुरुदेव और करीब १४५ मानस पाठी के साथ किया है और यह मेसेज जिसके पास है उनमें से कई सदभागीने इसका दर्शन करने का मौका पाकर अपने आपको धन्य समझा है, एक बहनजी जो मेरे पास खड़ी खड़ी दर्शन कर रही थी जो इतनी भावबस हो गई कि उसने वहीं से ही अपने सुपुत्र को मोबाइल से बताया कि "मैं अभी स्वर्ग में पहुंच गई हूं और वहां भगवान के दर्शन कर रही हूं"* *🔱 धन्य है यह तिर्थ स्थान हम अभिलाषा करते हैं, मंगल कामना करते हैं कि जो सौभाग्य हमें प्राप्त हुआ है वह यह मेसेज जिसके पास है उसे भी प्राप्त हो ।।* *🕉🔱 जय सियाराम 🙏🙏*

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Asha Bakshi Oct 28, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
sushil kumar garg Oct 28, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB