🙏💓प्रेरणादायक सुविचार💓🙏

+146 प्रतिक्रिया 16 कॉमेंट्स • 261 शेयर

कामेंट्स

n Singh Mar 24, 2019
Om Namah shivaay Har Har Mahadev ji 🙏🚩🌹🕉️🙏🚩🌹🕉️🙏🚩🌹🕉️🙏🚩🌹🕉️🙏🚩🌹🕉️☘️ shubh dophar🌹🕉️🙏🚩🌹🕉️

Shivsanker Shukala Mar 24, 2019
जय श्री राधे कृष्णा शुभ दोपहर

Shivsanker Shukala Mar 24, 2019
बहुत सुंदर आपको बहुत बहुत धन्यवाद आप का हर पल मंगलमय हो शुभ दोपहर

Deepak Mar 24, 2019
दिल से बहुत सुन्दर

Queen Mar 24, 2019
🌺 Jai shree radhe radhe krishna bhai Ji Good afternoon Ji 🌺

Queen Mar 24, 2019
🌺 Very nice post Ji 🌺

🌲💜राजकुमार राठोड💜🌲 Mar 24, 2019
°•~━━✥❖✥━━~•° 🌹GOOD NOON JI 🌹 🙏शुभ दोपहर जी🙏 °•~━━✥❖✥━━~•° 💛🌹राधे राधे 🌹💛 💠आपका हर पल शुभ एवं 💠 💓💚मंगलमय रहे💚💓,

Malkhan Singh Mar 24, 2019
सुन्दर प्रेणादायक जी जय हो बिटिया रानी की

Har Har Mahadev Apr 17, 2019

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 29 शेयर
Vijay Yadav Apr 16, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 39 शेयर

+16 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 84 शेयर
Swami Lokeshanand Apr 17, 2019

आज यहाँ भगवान की विलक्षण कृपा बरस रही है, सब ओर धन्यता छा रही है, क्योंकि प्रिय भरतलालजी महाराज का प्रसंग प्रारम्भ हो रहा है। अयोध्याकांड मुख्य रूप से भगवान के हृदय भरतजी का ही चरित्र है। भरतजी कौन हैं? "भावेन् रत: स भरत" जो परमात्म् प्रेम में रत है वो भरत। भरत माने संत, भरत माने सद्गुरु। और अयोध्याकांड में गुरुओं की ही महिमा है। पहले भारद्वाज जी, फिर वाल्मीकि जी और अब भरतजी। नाम ही भिन्न भिन्न हैं, तत्व, अनुभूति, प्रेमभाव तो एक ही है। यहाँ जो है, जैसा है, जिस स्थिति में है, बस भरतलाल जी के साथ हो ले, संत का संग कर ले, गुरुजी के बताए साधन और उपदेश को पकड़ ले, उसे भगवान मिलते ही हैं। कोई लाख पापी हो, उसके माथे पर कितना ही कलंक क्यों न लगा हो, पतित हो, योगभ्रष्ट हो, पात्र न हो, सामर्थ्य न हो, भरतजी के यहाँ सबका स्वागत है। उन्हें किसी से कोई अपेक्षा नहीं, किसी से कुछ चाहिए नहीं, बस उसमें भगवान को पाने की तड़प होनी चाहिए। देखो, भगवंत की कृपा के बिना संत नहीं मिलते, और संत की कृपा के बिना भगवंत नहीं मिलते। वास्तव में ये दिखते ही दो हैं, दो हैं नहीं, भगवान ही भक्त की तड़प को देखकर, संत बन आते हैं। ध्यान दो, आज अयोध्या की क्या स्थिति है। भगवान चले गए, सब रोते बिलखते पीछे छूट गए। अब न मालूम कब भगवान से मिलना होगा? एक ओर भगवान हैं, दूसरी ओर मृत्यु है, न मालूम पहले कौन आए, कहीं उनके आने से पहले मौत तो नहीं आ खड़ी होगी? हाय! हाय! बड़ी भूल लग गई, अब कैसे उनको पाएँ? और सब पाएँगे, कैसे? भरतजी मिलवाने ले जाएँगे। भरतजी हमें भी ले जाएँगे, तैयार हो रहो॥

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 12 शेयर
Neeru Miglani Apr 17, 2019

मैं पैदल घर आ रहा था । रास्ते में एक बिजली के खंभे पर एक कागज लगा हुआ था । पास जाकर देखा, लिखा था: कृपया पढ़ें "इस रास्ते पर मैंने कल एक 50 का नोट गंवा दिया है । मुझे ठीक से दिखाई नहीं देता । जिसे भी मिले कृपया इस पते पर दे सकते हैं ।" ... यह पढ़कर पता नहीं क्यों उस पते पर जाने की इच्छा हुई । पता याद रखा । यह उस गली के आखिरी में एक घऱ था । वहाँ जाकर आवाज लगाया तो एक वृद्धा लाठी के सहारे धीरे-धीरे बाहर आई । मुझे मालूम हुआ कि वह अकेली रहती है । उसे ठीक से दिखाई नहीं देता । "माँ जी", मैंने कहा - "आपका खोया हुआ 50 मुझे मिला है उसे देने आया हूँ ।" यह सुन वह वृद्धा रोने लगी । "बेटा, अभी तक करीब 50-60 व्यक्ति मुझे 50-50 दे चुके हैं । मै पढ़ी-लिखी नहीं हूँ, । ठीक से दिखाई नहीं देता । पता नहीं कौन मेरी इस हालत को देख मेरी मदद करने के उद्देश्य से लिख गया है ।" बहुत ही कहने पर माँ जी ने पैसे तो रख लिए । पर एक विनती की - ' बेटा, वह मैंने नहीं लिखा है । किसी ने मुझ पर तरस खाकर लिखा होगा । जाते-जाते उसे फाड़कर फेंक देना बेटा ।'मैनें हाँ कहकर टाल तो दिया पर मेरी अंतरात्मा ने मुझे सोचने पर मजबूर कर दिया कि उन 50-60 लोगों से भी "माँ" ने यही कहा होगा । किसी ने भी नहीं फाड़ा ।जिंदगी मे हम कितने सही और कितने गलत है, ये सिर्फ दो ही शक्स जानते है.. परमात्मा और अपनी अंतरआत्मा..!! मेरा हृदय उस व्यक्ति के प्रति कृतज्ञता से भर गया । जिसने इस वृद्धा की सेवा का उपाय ढूँढा । सहायता के तो बहुत से मार्ग हैं , पर इस तरह की सेवा मेरे हृदय को छू गई । और मैंने भी उस कागज को फाड़ा नहीं ।मदद के तरीके कई हैं सिर्फ कर्म करने की तीव्र इच्छा मन मॆ होनी चाहिए 🌿 *कुछ नेकियाँ* *और* *कुछ अच्छाइयां..* *अपने जीवन में ऐसी भी करनी चाहिए,* *जिनका ईश्वर के सिवाय..* *कोई और गवाह् ना हो...!!*❤❤🙏😊

+285 प्रतिक्रिया 104 कॉमेंट्स • 153 शेयर
Har Har Mahadev Apr 15, 2019

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 20 शेयर

+271 प्रतिक्रिया 25 कॉमेंट्स • 416 शेयर
Vijay Yadav Apr 17, 2019

+28 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 105 शेयर

+257 प्रतिक्रिया 31 कॉमेंट्स • 1059 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB