arvindsharma.reporter
arvindsharma.reporter Sep 11, 2017

तैयारी नवरात्रि की..!

तैयारी नवरात्रि की..!

इस बार 21 सितंबर से शारदीय नवरात्र की शुरुआत हो रही है। नवरात्र में मा दुर्गा के भक्त उन्हें प्रसन्न करने और अपने बिगड़े काम सही करने के लिए व्रत रखते हैं और मां की पूजा अर्चना करते हैं।
नौ दिनों तक चलने वाली नवरात्र में मां के नौ रूपों की पूजा-अर्चना की जाती है। मां भी खुश होकर अपने भक्तों को दिलखोलकर आशीर्वाद देती हैं। 21 सितंबर से प्रारंभ हो रहे नवरात्र के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 6: 03 से 8:22 बजे तक है। इसी समय भक्तों को पूजा भी करनी चाहिए। भक्तों को 21 सितंबर की सुबह मां के शैलपुत्री रूप की पूजा करनी होगी।

कलश स्थापना करते समय करें ये

नवरात्र के समय कलश स्थापना करने जा रहे हैं तो भक्तों को कुछ बातों का विशेष ख्याल रखना होगा। कलश स्थापित करते समय उसपर स्वास्तिक बनाएं और इसके बाद कलश पर मौली बांधें। कलश में मौली बंधने के बाद उसमें जल भर दें। वहीं, उसमें साबुत सुपारी, इत्र, फूल व पंचरत्न डालने से फायदा होता है। इसमें भक्त अक्षत भी डाल सकते हैं।

+385 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 206 शेयर

कामेंट्स

Kamal Tiwari Sep 11, 2017
जय माता दी....नमस्ते जी

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB