जय श्री राम

जय श्री राम

आज के श्रृंगार दर्शन श्री कार्यसिद्धि हनुमान जी के सचिदानंद आश्रम मैसूर से

+232 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 69 शेयर

कामेंट्स

ShubhAm SaiNi Aug 10, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Anchal Devi Aug 10, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
arunkumarsingh Aug 10, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sneha Kumari Aug 10, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
ambrish agarwal Aug 10, 2020

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 15 शेयर

इन सड़कों पर सिसकता बचपन देखा मैंने, फटे कपड़ों से झांकता तन बदन देखा मैंने। अपनी छोटी सी इच्छाओं को मन में दबाकर, झूठी मुस्कान बिखेरता मायूस मन देखा मैंने। जिसे बचपन में खेलना चाहिए खिलोनों से, उसे कागज़ बीन कर कमाते धन देखा मैंने। विद्यालय, मदरसे में जा कर पढ़ने की जगह, दुकानों में गंवाता अपना बालपन देखा मैंने। साहब! ये किस्मत की नहीं गरीबी की मार है, करके मजदूरी करता जीवन यापन देखा मैंने। किताबों के झोले की जगह जिम्मेदारी उठाए, गरीबी की मार से तड़पता जीवन देखा मैंने। सुलक्षणा पता नहीं कब बदलेंगे हालात यहाँ, गरीबी की आग में झुलसता वतन देखा मैंने 👏👏👏🌹🌹🌹🔢🔢🔢🍅✴☀❣जय मां अंबे भवानी ❣☀✴🍅❣ 🍂🐚 गंगा गीता गायत्री 🍂🐚 (¯`•.•´¯) *`•.¸(¯`•.•´¯)¸.•´ `•.¸.•´ ჱܓ*“ 🍅✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴🍅 ☆*´¨`☽  ¸.★* ´¸.★*´¸.★*´☽ (  ☆** Ψ त्रिवेणी घाट हरिद्वार .Ψ `★.¸¸¸. ★• ° 🙏सेवक भरत व्यास बांगा हिसार त्रिवेणी घाट हरिद्वार

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Meena dhiman Aug 10, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Harcharan Pahwa Aug 10, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

बारिश पड़े तो भागिए नहीं...👍 छत नहीं खोजिये...👍 छाते कभी-कभार बंद रखिये किस बात का डर है.? भीग ही जायेंगे न.. तो क्या हुआ.. पिघलेंगे नहीं.. फिर से सूख जायेंगे.. तेजाब नहीं बरस रहा है. आपकी 799 वाली टी-शर्ट भी सूख जायेगी.. ब्रांड भी उसका Levis से Lebis नहीं हो जायेगा.. मोबाइल पालीथिन में कस के रख लीजिये.. सड़क साफ़ है.. कोई नहीं आएगा.. उस स्ट्रीट लैम्प की पीली रौशनी में डिस्को करती बूंदों को देखिये.. थोड़ा धीरे चलिए.. जल्दी पहुंच के भी क्या बदल जाना है. बारिश बदलाव है.. मौसम का.. मन का.. कल्पनाओं का.. और लाइफ के गियर का.. दिमाग से दिल की तरफ.. सब धुल रहा है.. प्रकृति सब कुछ धो रही है.. आप क्यूँ उसी मनहूसियत की चीकट लपेटे घूम रहे हैं.. याद कीजिये. वो कागज़ की नाव, कॅालेज/कोचिंग में भीगे सिर आए वो लड़की, लड़के, बारिश में जबरदस्ती नाचने को खींच कर ले गये दोस्त.. सब चलते-चलते याद कीजिये.. दुहराना आसान नहीं होता. दुहराना चाहिए भी नहीं.. लेकिन सहेजा तो जा ही सकता है.. ताकि ऐसी किसी बारिश में चलते-चलते सोच के मुस्कुराया भी जा सके.. ज़ुकाम से मत डरिये.. दवा से सही हो जायेगा.. बारिश से डरेंगे तो फिर ज़ुकाम आपका महंगा वाला शावर भी ठीक नहीं कर पायेगा... और वैसे भी.. मैंने शावर में सिर्फ लोगों को रोते सुना है.. मुस्कुराते नहीं.. क्योंकि उनका गाना भी रोने से कम नहीं होता है.. बारिश आई है.. थोड़ा चल लीजिये.. थोड़ा भीग लीजिये.. खुद से मिल लीजिये.. थोड़ा मुस्कुरा भी लीजिये.. क्योंकि बारिश चन्द दिनों के लिये आई है.. जैसे सावन में बिटिया घर आई हो.. चली जायेगी वापस.. फिर न रोइयेगा कि अब कब आयेगी.. बारिश हो रही है. उसके सहारे कुछ पल अपने लिये भी जी लेने की कोशिश कर लीजिये......🙏👍👍👌👌दुनिया का कोई भी अमीर... यह संस्कार नहीं खरीद सकता जो दिखता नहीं,वही बुनियाद होता है, वह चाहे ईश्वर हो, संस्कार हो अथवा विचार...🙏🍅✴☀❣जय मां अंबे भवानी ❣☀✴🍅❣ 🍂🐚 गंगा गीता गायत्री 🍂🐚 (¯`•.•´¯) *`•.¸(¯`•.•´¯)¸.•´ `•.¸.•´ ჱܓ*“ 🍅✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴🍅 ☆*´¨`☽  ¸.★* ´¸.★*´¸.★*´☽ (  ☆** Ψ त्रिवेणी घाट हरिद्वार .Ψ `★.¸¸¸. ★• ° 🙏 सेवक भरत व्यास बांगा हिसार चंडी घाट हरिद्वार

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
ratnesh kumar Aug 10, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB