parmila
parmila May 5, 2021

+24 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 4 शेयर

कामेंट्स

Gajendrasingh kaviya May 5, 2021
Radhe Radhe good morning have a nice day my sweet sis 🌷🌹🌹🌹 aap ki har manokamna puri ho 🌹🌹🌹🌹

Arvid bhai May 5, 2021
om shri ganesay nmh subh prbhat vandan radhe radhe nmskar ji ram ram ji jay hnuman ji

Ravi Kumar Taneja May 6, 2021

🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉 🌹श्रीमन नारायण नारायण हरि हरि🌹 🔯 *हमें ऐसा क्यों लगता है कि आज के समय मंत्र असरकारक नही है*🔯 🏹🔥🏹🔥🏹🔥🏹🔥🏹 🕉हम सभी किसी न किसी मन्त्र का जप करते हैं, पुराणों से लेकर ग्रन्थ तक मे लिखा है कि मन्त्र जप से हर समस्या दूर होती है लेकिन क्या कारण है कि हमारी समस्या अनवरत बनी हुई है ,आइये इस कथा के माध्य्म से समझे।🕉 🌴 *माधवाचार्य जी गायत्री के घोर उपासक थे वृंदावन मे उन्होंने तेरह वर्ष तक गायत्री के समस्त अनुष्ठान विधिपूर्वक किये।*🌴 🌲लेकिन उन्हे इससे न भौतिक न आध्यायत्मिकता लाभ दिखा।🌲 🌲वो निराश हो कर काशी गये वहां उन्हें एक आवधूत मिला जिसने उन्हें एक वर्ष तक काल भैरव की उपासना करने को कहा।🌲 🌲उन्होंने एक वर्ष से अधिक ही कालभैरव की आराधना की एक दिन उन्होंने आवाज सुनी🌲 🏹 *मै प्रस्ंन्न हूं वरदान मांगो*🏹 🌲उन्हें लगा कि ये उनका भ्रम हे क्योंकि सिर्फ आवाज सुनायी दे रही थी कोइ दिखाई नहीं दे रहा था। उन्होंने सुना अनसुना कर दिया लेकिन वही आवाज फिर से उन्हें तीन बार सुनायी दी।🌲 🏹 *तब माधवाचार्य जी ने कहा आप सामने आ कर अपना परिचय दे मै अभी काल भैरव की उपासना मे व्यस्त हूं।*🏹 🌲सामने से आवाज आयी तूं जिसकी उपासना कर रहा है वो मै ही काल भैरव हूँ🌲 *माधवाचार्य जी ने कहा तो फिर सामने क्यो नहीं आते?* काल भैरव जी ने कहा* 🕉 *"माधवा तुमने तेरह साल तक जिन गायत्री मंत्रों का अखंड जाप किया है* *उसका तेज तुम्हारे सर्वत्र चारो ओर व्याप्त है।*🕉 🌲मनुष्य रूप मै उसे मै सहन नहीं कर सकता, इसीलिए सामने नहीं आ सकता हूँ।🌲 🏹 *माध्वाचार्य ने कहा जब आप उस तेज का सामना नहीं कर सकते है तब आप मेरे किसी काम के नहीं आप वापस जा सकते है।*🏹 🌴 *लेकिन मै तुम्हारा समाधान किये बिना नहीं जा सकता हूं।*🌴 *🌴तब फिर ये बताइये कि मेने पिछले तेरह वर्षों से किया गायत्री अनुष्ठान मुझे क्यों नहीं फला?*🌴 *🕉काल भैरव ने कहा* *वो अनुष्ठान निष्फल नहीं हुए है उससे तुम्हारे जन्म जन्मांतरो के पाप नष्ट हुए है।*🕉 *🌲तो अब मै क्या करू?* 🕉"फिर से वृंदावन जा कर ओर एक वर्ष गायत्री का अनुष्ठान कर इस से तेरे इस जन्म के भी पाप नष्ट हो जायेंगे फिर गायत्री मां प्रसन्न होगी।"🕉 *आप या गायत्री कहां होते है हम यहीं रहते है पर अलग रुपों मे ये मंत्र जप जाप और कर्म कांड तुम्हें हमे देखने की शक्ति, सिध्दि देते है जिन्हें तुम साक्षात्कार कहते हो।* 🌲 *माधवाचार्य वृंदावन लौट आये अनुष्ठान शुरु किया* *एक दिन बृह्म मूहुर्त मे अनुष्ठान मे बैठने ही वाले थे कि उन्होंने आवाज सुनी*🌲 🕉 *"मै आ गयी हूँ माधव वरदान मांगो"*🕉 *🕉मां !!!!! 🕉माधवाचार्य फूटफूट कर रोने लगे।* 🌴*मां !!!!पहले बहुत लालसा थी कि वरदान मांगू लेकिन अब् कुछ मांगने की इच्छा रही नही, मां!!! *आप जो मिल गयी हो*🌴 🌹 *माधव!तुम्हें मांगना तो पडेगा ही*🌹 🙏 *मां ये देह,शरीर भले ही नष्ट हो जाये लेकिन इस शरीर से की गयी भक्ति अमर रहे।*🙏 🙏इस भक्ति की आप सदैव साक्षी रहो। यही वरदान दो!!!🙏 🕉तथास्तु🕉 आगे तीन वर्षों मै माधवाचार्य जी नै माधवनियम नाम का आलौकिक ग्रंथ लिखा। 🌹 *याद रखिये*🌹 आपके द्वारा शुरू किये गये मंत्र जाप पहले दिन से ही काम करना शुरू कर देतै है। *लेकिन सबसे पहले प्रारब्ध के पापों को नष्ट करते है।* *देवताओं की शक्ति इन्हीं पापों को नष्ट करने मे खर्च हो जाती है।* *और जैसे ही ये पाप नष्ट होते है आपको एक आलौकिक तेज एक आध्यायात्मिक शक्ति और सिध्दि प्राप्त होने लगती है।*🙏🌴🙏 🎻🎷🎻🎷🎻🎷🎻🎷🎻 श्री लक्ष्मी नारायण भगवान जी की कृपा दृष्टि आप सभी पर बनी रहे 👏🌹👏 जय श्री लक्ष्मी नारायण हरि हरि 🙏🌷🙏 ओम नमो भगवते वासुदेवाय नमो नमः🙏🌷🙏 🌟 *सदैव प्रसन्न रहिये।* *जो प्राप्त है, पर्याप्त है।।*🌟 शुभ संध्या वंदना🙏🌸🙏 🕉🦚🦢🙏🌹🙏🌹🙏🦢🦚🕉

+52 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 47 शेयर

+103 प्रतिक्रिया 26 कॉमेंट्स • 40 शेयर

+8 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर
hemlata May 6, 2021

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+12 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
SunitaSharma May 6, 2021

+20 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Nitin Sharma May 6, 2021

+25 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Dinesh Mishra May 6, 2021

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB