Ajit sinh Parmar
Ajit sinh Parmar Feb 28, 2021

🌹🎋शुभ र।त्रि र।धेकृषण🎋🌹

+107 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 57 शेयर

कामेंट्स

RAJ RATHOD Feb 28, 2021
🙏Jai shri Krishna 🙏 🙏🌹🌹Good Night 🌹🌹🙏 Sweet dreams....

🌹bk preeti 🌹 Feb 28, 2021
प्रभु का रास्ता बड़ा🌹✍️ सीधा है✍️🙏🙋‍♀️ और बड़ा उलझा भी बुद्धि से चलो तो बहुत उलझा भक्ति से चलो तो बड़ा सीधा विचार से चलो तो बहुत दूर भाव से चलो तो बहुत पास नज़रों से देखोगे तो कण कण में अंतर्मन से देखो तो जन जन में 🙏जय श्री कृष्णा 🙏 राधे राधे जय श्री कृष्णा शुभ रात्रि वंदन जय जिनेंद्र 🙏🙋‍♀️🌹🌹✍️🙏🙏🍨

Mamta Chauhan Feb 28, 2021
Radhe radhe ji🌷🙏Shubh ratri vandan bhai ji aapka har pal khushion bhra ho aapki sbhi manokamna puri ho 🌷🌷🙏🙏

Renu Singh Feb 28, 2021
Good Night Bha Ji 🙏🌹 Radhe Krishna Ji ki kripa Aap pr Sadaiv Bni rhe Aàpka Har Din Har Pal Shubh V Mangalmay ho Bhai Ji 🙏🌹

Bhagat ram Feb 28, 2021
🌹🌹 जय श्री कृष्णा राधे राधे जी 🙏🙏💐🌺🌿🌹 शुभ रात्रि वंदन 🙏🙏💐🌺🌿🌹

Ragni Dhiwar Feb 28, 2021
🥀जय श्री कृष्ण 🙏शुभ रात्रि वंदन जी🥀 आपका हरपल मंगलमय हो 🌼 राधे राधे 🥀

Brajesh Sharma Feb 28, 2021
जय जय श्री राधे जी.. जय श्री राधे कृष्णा जी. ॐ नमः शिवाय.. हर हर महादेव

Sonu Pathak (Jai Mata Di) Mar 1, 2021
ऊँ नमः शिवाय 🔱🌺 🙏🌺 जय माँ आदी शक्ति बाबा भोलेनाथ की असीम कृपा दृष्टि आप व आपके परिवार पर सदैव बनी रहे 🌹आपका हर पल सुखद मंगलमय हो 🌹🙏 नमस्कार सुप्रभात वंदन जी 🌻🌿🙏🌿🌻

Bhavana Gupta Apr 17, 2021

+58 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 31 शेयर

+10 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Harpal Bhanot Apr 17, 2021

+13 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Mahaveer Vaishnav Apr 17, 2021

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+20 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर
sarla rana Apr 17, 2021

. "जीवन दर्शन" एक आदमी प्रातःकाल तडके नदी की ओर जल लेकर जा रहा था। नदी के पास पहुँचने पर उसे आभास हुआ कि सूर्योदय अभी पूरी तरह नहीं निकला है और चारों ओर कुछ ज्यादा ही अंधकार फैला हुआ है। घने अंधेरे में वह मस्ती से टहलने लगा। तभी उसका पैर एक झोले से टकराया। उत्सुकतावश उसने झोले मे हाथ डाला तो पाया कि उसमें बहुत सारे पत्थर रखें है। समय बिताने के लिए वह झोले में से एक-एक पत्थर निकालकर नदी में फेंकता गया। धीरे-धीरे उसने पत्थर पानी में फेंक दिए। जब अंतिम पत्थर उसके हाथ में था तभी सूर्य की रोशनी धरती पर फैल गयी। रोशनी में देखा कि वह पत्थर बहुत तेज चमक रहा था। वह दंग रह गया। उसकी धडकने बंद होने लगीं क्योंकि जिसे वह साधारण पत्थर समझ रहा था, वह अनमोल हीरा था। वह फूट-फूटकर रोने लगा। अपने हाथों में अंतिम बचे कीमती पत्थर को देखकर अंधेरे को कोस रहा था। वह नदी किनारे शोकमग्न बैठा था तभी एक महात्मा वहाँ से गुजर रहे थे, उसका दुःख जानकर वे बोले- "बेटा ! तुम दुःखी मत हो। तुम अब भी भाग्यशाली हो कि अंतिम पत्थर फेंकने से पहले ही सूर्य की रोशनी फूट पड़ी, वरना यह कीमती पत्थर भी तुम्हारे हाथ से निकल जाता। यह कीमती हीरा अभी भी तुम्हारी जिन्दगी को संवार सकता है। जो चीज हाथ से निकल गई, उसे लेकर रोने के बजाय जो तुम्हारे हाथ में है, तुम्हें उसी में खुश होना चाहिए, आनन्द मनाना चाहिए और उज्जवल भविष्य के लिए प्रयास करना चाहिए, और ईश्वर का शुक्रिया अदा करना चाहिए।" महात्मा की बात सुनकर उसकी आँखें खुल गईं, और खुशी-खुशी घर आ गया। अर्थात जो बीत गया(चला गया), उसे भुलाकर आगे बढ़ना ही श्रेयस्कर है। ----------:::×:::---------- "जय जय श्री राधे" ******************************************* "श्रीजी की चरण सेवा" की सभी धार्मिक, आध्यात्मिक एवं धारावाहिक पोस्टों के लिये हमारे पेज से जुड़े रहें👇 https://www.facebook.com/%E0%A4%B6%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A5%80%E0%A4%9C%E0%A5%80-%E0%A4%95%E0%A5%80-%E0%A4%9A%E0%A4%B0%E0%A4%A3-%E0%A4%B8%E0%A5%87%E0%A4%B5%E0%A4%BE-724535391217853/

+34 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 62 शेयर
J Lodhi #@Lodhi jii Apr 17, 2021

+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
ranu Ankur Mishra Apr 17, 2021

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Vandana Singh Apr 17, 2021

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB