राशिफल: 19 सितंबर 2017 मंगलवार

आज सितारों की चाल का आपकी राशि पर क्या असर होगा क्या सिंह राशि से जाते हुए चन्द्रमा आपको लाभ दिलाएंगे, जानिए क्या कहते हैं आज आपके सितारे।


मेष (Aries): आज आपका मन वैचारिक धरातल पर मानसिक व्यग्रता का अनुभव करेगा । अपेक्षाकृत अधिक संवेदशीलता और भावना से आपका मन आर्द्रता का अनुभव करेगा। आज किसी के साथ वाद-विवाद में न उतरिएगा। स्वजनों, स्नेहीजनों के साथ मन दुःखी होगा। आपका मानभंग होने का प्रसंग न बने इसका ध्यान रखिएगा। नए कार्य के प्रारंभ में निष्फलता मिलेगी। जीवनसाथी के स्वास्थ्य के विषय में चिंता रहेगी। स्त्री मित्रों से हानि हो सकती है।

वृषभ (Taurus): आर्थिक आयोजन प्रारंभ में कुछ अड़चन के साथ पूर्ण होते हुए लगेंगे। मित्रों-शुभेच्छकों के मिलन से आपको आनंद होगा। व्यावसायिक क्षेत्र में सहकारपूर्ण वातावरण रहेगा। शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। पूंजी निवेश करनेवालों को चाहिए कि वे सावधानीपूर्वक पूंजी निवेश करें। नए कार्यों का प्रारंभ कर सकेंगे।

मिथुन (Gemini): आपके दिन का प्रारंभ शारीरिक और मानसिक स्वस्थता के साथ होगा । परिवारजन और मित्रों के साथ आनंदपूर्वक समय बिताएँगे। खर्च अधिक न हो इसका ध्यान रखिएगा। आर्थिक लाभ होगा तो अवश्य परंतु मध्याहन के बाद धन का आयोजन प्रारंभ में खोता हुआ और बाद में पूर्ण होता हुआ लगेगा। पूंजी निवेश का कार्य संभालकर करें। सहकर्मचारियों का सहकार प्राप्त कर सकेंगे।

कर्क (Cancer): आज आपके धन की आय आत्य और व्यय अधिक होगा। आंखो के दर्द से व्यग्रता होगी। साथ में मानसिक चिंता भी रहेगी। वाणी और वर्तन में ध्यान रखिएगा। भ्रांति खडी न हो इसका भी ध्यान रखिएगा। मध्याहन के बाद आपकी समस्या से परिवर्तन आएगा। आर्थिक दृष्टि से भी लाभ होगा। शारीरिक और मानसिक परिस्थिति में भी सुधार होता हुआ दिखेगा। परिवार का वातावरण भी आनंदप्रद रहेगा। मन से नकारात्मकता विचारो को दूर करें।

सिंह (Leo): आज आपके मन में क्रोध और आवेश की भावना रहने से आप लोगों के साथ व्यवहार संभलकर करिएगा। आरोग्य के लिए आज का दिन शुभ नहीं है। मन में व्यग्रता रहेगी। परिवारजनों के साथ उग्रतापूर्ण व्यवहार हो सकता है, परंतु मध्याहन के बाद आपका मन स्वस्थता प्राप्त करता हुआ अनुभूत होगा। परिवारजनों के साथ खान-पान का प्रसंग होगा। शारीरिक स्वास्थ्य भी अच्छा होता हुआ दिखेगा। खर्च पर अंकुश रखिएगा।

कन्या (Virgo): आपका आज का प्रातःकाल आनंदप्रद और लाभप्रद रहेगा। व्यवसाय और व्यापार के क्षेत्र में लाभ होगा। सामाजिक क्षेत्र में आपकी प्रशंसा होगी। वसूली के पैसे आएँगे। परिवार में भी आनंद का वातावरण रहेगा, परंतु मध्याहन के बाद परिस्थिति में आपको प्रतिकूलता दिखेगी। आपका प्रफुल्लित मन अस्वस्थ होगा। स्वास्थ्य भी कुछ नरम-गरम रहेगा। वाणी में संयम रखना आवश्यक है, असंयम से किसीसे तकरार, झगडा होने की संभावना है। ईश्वर का ध्यान और आध्यात्मिक विचार मन को शांति दे सकता है।

तुला (Libra): आज आपको शारीरिक और मानसिक सुख अच्छा रहेगा। व्यवसाय या व्यापार में आप उत्साहपूर्वक कार्य करेंगे। पदोन्नति होगी। सरकारी कार्य सरलतापूर्वक संपन्न होंगे। सामाजिक दृष्टिकोण से आपका मान-सन्मान बढे़गा। धन के निवेश के लिए समय अनुकूल है। परिवार में संतान और पत्नी की ओर से लाभ होगा। मित्रों से की गई भेंट से आपको आनंद होगा। आप में वृद्धि होने की संभावना है।

वृश्चिक (Scorpio):  आज विरोधियों और प्रतिस्पर्धियों के साथ वाद-विवाद में आप न पडें। व्यवसाय या व्यापार में परिस्थिति अनुकूल नहीं होगी। संतानों के साथ मतभेद होने की संभावना है। परंतु मध्याहन के बाद घर, कार्यालय या व्यावसायिक स्थल पर उपरी कर्मचारियों का व्यवहार नकारात्मक होगा। संतानों के लिए चिंता उपस्थित होगी। गृहस्थजीवन में आनंद बना रहेगा। सरकारी कार्य पूर्ण होंगे। व्यवसाय में पदोन्नति के योग है।

धनु (Sagittarius):  आज आपको सावधानीपूर्वक बरतने की सलाह देते हैं। क्रोध करने से हानि होने की संभावना है। शारीरिक और मानसिक अस्वस्थता से आप व्यग्र रहेंगे। व्यावसायिक क्षेत्र में ऊपरी कर्मचारीयों का व्यवहार नकारात्मक रहेगा। संतानों के प्रश्नों के विषय में चिंता सताएगी। प्रतिस्पर्धियों और विरोधियों से चेतकर चलिएगा। महत्वपूर्ण कार्यो में निर्णय न लीजिएगा। नए कार्य का प्रारंभ आज न करिएगा ।

मकर (Capricorn): आज रुचिकर स्वजनों के साथ घूमने-फिरने का और खान-पान का प्रसंग उपस्थित होगा। वाहन-सुख मिलेगा तथा मान-सन्मान भी मिलेगा। परंतु मध्याहन के बाद आपको शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य बिगडे़गा। अधिक खर्च हो जाएगा। स्वभाव में क्रोध की मात्रा अधिक रहेगी। परिवारजनो और सहकर्मचारियों के साथ मनदुख के प्रसंग बनेंगे। नकारात्मक विचारो से दूर रहने का गणेशजी का सूचन है।

कुंभ (Aquarius): आज आपको कार्य-सफलता और यश-कीर्ति मिलेंगे । शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। सामाजिकरुप से मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। मध्याहन के बाद आप मनोरंजन का कार्यक्रम बनाएँगे। जिसमे मित्रों, स्वजनों का भी आप समावेश करेंगे।

मीन (Pisces): आजका आपका दिन अच्छी तरह से बीतेगा। कला के क्षेत्र में आपकी अभिरुचि बढेगी। मित्रो से हुई भेट से आनंद होगा। विद्यार्थीयों के लिए अच्छा समय है। प्रियपात्र के साथ हुई भेट आनंददायी होगी। घर में सुख-शांति का वातावरण बना रहेगा। मध्याहन के बाद आर्थिक लाभ की संभावना है। स्वभाव में क्रोध की मात्रा अधिक रहेगी। इसलिए मन तथा वाणी पर संयम बरतना आवश्यक है। विरोधियों के सामने सफलता मिलेगी। अपूर्ण कार्य पूर्ण होंगे।

+32 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 17 शेयर

कामेंट्स

🍁🛕🌺👏🕉️👏🌺🛕🍁 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 ⛅ *दिनांक 02 मार्च 2021* ⛅ *दिन - मंगलवार* ⛅ *विक्रम संवत - 2077* ⛅ *शक संवत - 1942* ⛅ *अयन - उत्तरायण* ⛅ *ऋतु - वसंत* ⛅ *मास - फाल्गुन (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - माघ)* ⛅ *पक्ष - कृष्ण* ⛅ *तिथि - चतुर्थी 03 मार्च प्रातः 03:00 तक तत्पश्चात पंचमी* ⛅ *नक्षत्र - हस्त 03 मार्च प्रातः 03:29 तक तत्पश्चात स्वाती* ⛅ *योग - गण्ड सुबह 09:26 तक तत्पश्चात वृद्धि* ⛅ *राहुकाल - शाम 03:47 से शाम 05:15 तक* ⛅ *सूर्योदय - 06:59* ⛅ *सूर्यास्त - 18:42* ⛅ *दिशाशूल - उत्तर दिशा में* ⛅ *व्रत पर्व विवरण - अंगारकी-मंगलवारी चतुर्थी (सूर्योदय से 03 मार्च प्रातः 03:00 तक), संकष्ट चतुर्थी (चन्द्रोदय रात्रि 09:58)* 💥 *विशेष - चतुर्थी को मूली खाने से धन का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🌷 *मंगलवारी चतुर्थी* 🌷 🙏🏻 *मंत्र जप व शुभ संकल्प की सिद्धि के लिए विशेष योग* 🙏🏻 *मंगलवारी चतुर्थी को किये गए जप-संकल्प, मौन व यज्ञ का फल अक्षय होता है ।* 👉🏻 *मंगलवार चतुर्थी को सब काम छोड़ कर जप-ध्यान करना ... जप, ध्यान, तप सूर्य-ग्रहण जितना फलदायी है...* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🌷 *मंगलवारी चतुर्थी* 🌷 🙏 *अंगार चतुर्थी को सब काम छोड़ कर जप-ध्यान करना …जप, ध्यान, तप सूर्य-ग्रहण जितना फलदायी है…* 🌷 *> बिना नमक का भोजन करें* 🌷 *> मंगल देव का मानसिक आह्वान करो* 🌷 *> चन्द्रमा में गणपति की भावना करके अर्घ्य दें* 💵 *कितना भी कर्ज़दार हो ..काम धंधे से बेरोजगार हो ..रोज़ी रोटी तो मिलेगी और कर्जे से छुटकारा मिलेगा |* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 🌷 *कोई कष्ट हो तो* 🌷 🙏🏻 *हमारे जीवन में बहुत समस्याएँ आती रहती हैं, मिटती नहीं हैं ।, कभी कोई कष्ट, कभी कोई समस्या | ऐसे लोग शिवपुराण में बताया हुआ एक प्रयोग कर सकते हैं कि, कृष्ण पक्ष की चतुर्थी (मतलब पुर्णिमा के बाद की चतुर्थी ) आती है | उस दिन सुबह छः मंत्र बोलते हुये गणपतिजी को प्रणाम करें कि हमारे घर में ये बार-बार कष्ट और समस्याएं आ रही हैं वो नष्ट हों |* 👉🏻 *छः मंत्र इस प्रकार हैं –* 🌷 *ॐ सुमुखाय नम: : सुंदर मुख वाले; हमारे मुख पर भी सच्ची भक्ति प्रदान सुंदरता रहे ।* 🌷 *ॐ दुर्मुखाय नम: : मतलब भक्त को जब कोई आसुरी प्रवृत्ति वाला सताता है तो… भैरव देख दुष्ट घबराये ।* 🌷 *ॐ मोदाय नम: : मुदित रहने वाले, प्रसन्न रहने वाले । उनका सुमिरन करने वाले भी प्रसन्न हो जायें ।* 🌷 *ॐ प्रमोदाय नम: : प्रमोदाय; दूसरों को भी आनंदित करते हैं । भक्त भी प्रमोदी होता है और अभक्त प्रमादी होता है, आलसी । आलसी आदमी को लक्ष्मी छोड़ कर चली जाती है । और जो प्रमादी न हो, लक्ष्मी स्थायी होती है ।* 🌷 *ॐ अविघ्नाय नम:* 🌷 *ॐ विघ्नकरत्र्येय नम:* 🌞~*आज का हिन्दू पंचांग*~🌞 🚩✊जय हिंदुत्व✊🚩 ☀🏯!! श्री हरि: शरणम् !!🏯☀ 🍃🎋🍃🎋🕉️🎋🍃🎋🍃 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

+129 प्रतिक्रिया 16 कॉमेंट्स • 172 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻मंगलवार, २ मार्च २०२१🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:५२ सूर्यास्त: 🌅 ०६:१८ चन्द्रोदय: 🌝 २१:३७ चन्द्रास्त: 🌜०८:४६ अयन 🌕 उत्तराणायने (दक्षिणगोलीय) ऋतु: ❄️ शिशिर शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 फाल्गुन पक्ष 👉 कृष्ण तिथि 👉 चतुर्थी (२६:५९ तक) नक्षत्र 👉 चित्रा (२७:२९ तक) योग 👉 गण्ड (०९:२६ तक) प्रथम करण 👉 बव (१६:२१ तक) द्वितीय करण 👉 बालव (२६:५९ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 कुम्भ चंद्र 🌟 तुला (१६:२९ से) मंगल 🌟 वृषभ (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध 🌟 मकर (उदित, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र 🌟 कुम्भ (अस्त, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त 👉 १२:०६ से १२:५२ अमृत काल 👉 २१:३८ से २३:०६ विजय मुहूर्त 👉 १४:२५ से १५:११ गोधूलि मुहूर्त 👉 १८:०५ से १८:२९ राहुकाल 👉 १५:२३ से १६:५० राहुवास 👉 पश्चिम यमगण्ड 👉 ०९:३५ से ११:०२ होमाहुति 👉 मंगल (२७:२९ तक) दिशाशूल 👉 उत्तर अग्निवास 👉 पृथ्वी चन्द्रवास 👉 दक्षिण (पश्चिम १६:३० से) 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - रोग २ - उद्वेग ३ - चर ४ - लाभ ५ - अमृत ६ - काल ७ - शुभ ८ - रोग ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - काल २ - लाभ ३ - उद्वेग ४ - शुभ ५ - अमृत ६ - चर ७ - रोग ८ - काल नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 पश्चिम-दक्षिण (धनिया अथवा दलिया का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ अंगारकी श्रीगणेश चतुर्थी व्रत आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज २७:२९ तक जन्मे शिशुओ का नाम चित्रा नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (पे, पो, रा, री) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम स्वाति नक्षत्र के प्रथम चरण अनुसार क्रमश (रू) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त कुम्भ २९:५४ से ०७:२० मीन - ०७:२० से ०८:४३ मेष - ०८:४३ से १०:१७ वृषभ - १०:१७ से १२:१२ मिथुन - १२:१२ से १४:२६ कर्क - १४:२६ से १६:४८ सिंह - १६:४८ से १९:०७ कन्या - १९:०७ से २१:२५ तुला - २१:२५ से २३:४६ वृश्चिक - २३:४६ से २६:०५ धनु - २६:०५ से २८:०९ मकर - २८:०९ से २९:५० 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त अग्नि पञ्चक - ०६:४२ से ०७:२० शुभ मुहूर्त - ०७:२० से ०८:४३ मृत्यु पञ्चक - ०८:४३ से १०:१७ अग्नि पञ्चक - १०:१७ से १२:१२ शुभ मुहूर्त - १२:१२ से १४:२६ रज पञ्चक - १४:२६ से १६:४८ शुभ मुहूर्त - १६:४८ से १९:०७ चोर पञ्चक - १९:०७ से २१:२५ शुभ मुहूर्त - २१:२५ से २३:४६ रोग पञ्चक - २३:४६ से २६:०५ शुभ मुहूर्त - २६:०५ से २६:५९ मृत्यु पञ्चक - २६:५९ से २७:२९ अग्नि पञ्चक - २७:२९ से २८:०९ शुभ मुहूर्त - २८:०९ से २९:५० रज पञ्चक - २९:५० से ३०:४१ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आपका आज का दिन मिलाजुला रहेगा। दिन के पहले भाग में सोची हुई योजनाएं बनती नजर आएंगी परन्तु मध्यान आते आते कार्यो में विघ्न आने लगेंगे। महत्त्वपूर्ण कार्य अथवा धन सम्बंधित आयोजन प्रातः काल में करना ठीक रहेगा सफलता अवश्य मिलेगी। मध्यान के बाद धन लाभ के लिए संघर्ष करना पड़ सकता है। सरकार विरुद्ध कार्य सट्टा लाटरी आदि से अकस्मात धन लाभ होने की सम्भवना है।परिजनों की बनायी योजना आपके कारण बिगड़ने से कलह की स्थिति बनेगी भाई बंधुओ में भी मनमुटाव हो सकता है। माता से स्नेह बना रहेगा। सेहत मध्यान तक ठीक रहेगी इसके बाद सर अथवा बदन दर्द की शिकायत हो सकती है। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज आपका स्वभाव रहस्यमय रहेगा लोगो के मन की बात मीठा बोलकर जान लेंगे लेकिन अपने मन का भेद किसी से नही बताएंगे आज आपकी प्रशंशा करने वाले भी पीठ पीछे आलोचना करेंगे। परन्तु इससे उदास ना हों अपने कार्य में निष्ठा से लगे रहे जल्द ही समय आपके अनुकूल बनेगा धन लाभ मेहनत के अनुसार ही होगा। आज अहम् को लेकर किसी से टकराव भी हो सकता है खास कर महिलाए अपनी वाणी और व्यवहार को संतुलित रखें किसी को ठेस ना पहुंचे इसका ध्यान रखें। संध्या के समय घर मे मेहमान आएंगे आज आप आध्यत्म से जुड़ें मानसिक शान्ति मिलेगी। रक्त पित्त विकार से परेशानी होगी। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज के दिन आपका व्यवहार अन्य लोगो को अत्यंत लापरवाह दिखेगा आप परिस्थिति अनुसार ही कार्य करेंगे लेकिन घर के सदस्य किसी न किसी बात को लेकर छींटाकशी करते ही रहेंगे। मध्यान के समय किसी बहुप्रतीक्षित कार्य को लेकर मन मे असमंजस की स्थिति बनेगी हानि के डर से आज जोखिम वाले कार्य करने से कतराएंगे। आज आय-व्यय में संतुलन नहीं बन पाएगा। भविष्य की योजनाओं को लेकर चिंतित रहेंगे। मन की खींज किसी पर उतारने से विवाद हो सकता है। मध्यान के बाद आकस्मिक धन लाभ होने से थोड़ी राहत मिलेगी। संध्या बाद परिजनों का स्नेह भी बुरा लगेगा। अधिक भागदौड़ से कमर दर्द थकान अनुभव होगी। विपरीत लिंगीय संबंधों में सतर्कता बरते धोखा या अपमान हो सकता है। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज का दिन भी आपके लिए शुभ फलदायी रहेगा। आज लक्ष्मी जी की कृपा आप पर रहने से जिस भी कार्य को करेंगे उससे आर्थिक लाभ होगा लेकिन कुछ ना कुछ कमी लिये हुए। कार्य क्षेत्र पर किसी अन्य के अनुबंध भी आपको मिल सकते है। आज का दिन दलाली से जुड़े जातको के लिए भी विशेष लाभदायक रहने वाला है। परिवार-मित्रो के ऊपर खर्च भी अधिक रहेगा लेकिन आवश्यक कार्यो पर ही। घर मे इच्छा पूर्ति होने पर आनंद का वातावरण रहेगा फिर भी बड़े बुजुर्गों को आज प्रसन्न नही रख पाएंगे। मन मे कही लंबी दूरी की यात्रा के लिए उथल पुथल लगी रहेगी लेकिन कोई न कोई अड़चन आने से आज सम्भव नही होगी। सेहत आज सामान्य ही रहेगी। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज का दिन आपके लिए मिश्रित फलदायी रहेगा। दिन के आरंभ से ही किसी जुगाड़ में रहेंगे लेकिन परिस्थिति बार बार सफलता के नजदीक पहुचाकर वापस खींचेगी। मध्यान का समय अधिक बौद्धिक परिश्रम वाला रहेगा लेकिन आपका स्वभाव इसके विपरीत लापरवाह रहने के कारण इसका असर कार्य-व्यवसाय पर पड़ेगा। आज महत्त्वपूर्ण लाभ के अवसर हाथ से निकल भी सकते है इसका ध्यान रखे। आज किसी भी कार्य को जबरदस्ती करने पर ही सफलता मिल सकती है। पीछे मित्र परिवार के साथ किसी समारोह में उपस्थित होंगे। आज मनोरंजन पर विशेष खर्च करेंगे। शरीर की अनदेखी आगे भारी पड़ सकती है। घरेलू सुख में कुछ कमी आएगी। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन हर प्रकार से शुभ फलदायी रहेगा। आज दिन भर स्फूर्ति और स्वस्थता का अनुभव करेंगे। आज आपके पहले से सोचे हुए कार्य सरलता से पूर्ण होंगे। सामाजिक क्षेत्र पर यश वृद्धि होगी। नौकरी अथवा व्यवसाय में सहकर्मियों का सहयोग रहेगा लेकिन गलतफहमी ना पाले अन्यथा मतभेद भी हो सकते है। व्यावसायिकों को नियमित आमदनी के अतिरिक्त आकस्मिक धन लाभ भी हो सकता है।सरकारी कार्य आज ना करें अन्यथा कोई नई उलझन में पड़ सकते है। संध्या का समय मनोरंजन में बिताएंगे। दाम्पत्य सुख उत्तम रहेगा। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आपका आज का दिन विपरीत परिस्थितियों वाला रहेगा। आज प्रातः से ही सेहत में उतार चढ़ाव लगा रहेगा जो मध्यान तक कार्यो के प्रति मन दुविधा में रखेगा उत्साह कम रहने से आज के दिन का कोई लक्ष्य निर्धारित नहीं कर पाएंगे। दोपहर के बाद कार्य क्षेत्र से काम चलाऊ धन की आमद हो जाएगी आज सरकारी कार्यो में लंबे समय से दौड़धूप के बाद भी असफलता से हताशा होगी। पैसे का लेन-देन आज ना करें अन्यथा फंसने की संभावना है।आपकी बात की अनदेखी होने अथवा परिजन की मांग समय पर पूर्ण ना होने पर परिवार में किसी से झगड़ा हो सकता है। दाम्पत्य में शकि स्वभाव खटास ला सकता है। आज कंदीन धैर्य से बिताए कल से स्थिति में सुधार आने लगेगा। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज का दिन आपके लिए मिश्रित फलदायी रहेगा। सेहत प्रातःकाल में कुछ नरम जैसी रहेगी कमर दर्द पेट संबंधित व्याधि कुछ समय के लिये असहज बनायेगीं लेकिन कार्य भार के आगे इनको नजरअंदाज करना पड़ेगा। नौकरी व्यवसाय में मध्यान से पहले लाभ पाने के लिए अधिक परिश्रम करना पड़ेगा लेकिन तुरंत लाभ ना होकर मध्यान पश्चात इसके अनुकूल परिणाम मिलने लगेंगे। आज का दिन निवेश करने के लिए शुभ नहीं खास कर जोखिम वाले कार्य शेयर सट्टे आदि में हानि की संभावना है। पारिवारिक आवश्यकताओ को नजर अंदाज न करें अन्यथा घर मे कोहराम मच सकता है। यात्रा में सावधानी बरतें। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज का दिन आपके लिए पिछले कुछ दिनों से बेहतर रहेगा। दिन के आरम्भ में आलसी रहेंगे लेकिन मध्यान बाद व्यापार में गति आने से आर्थिक समस्या में कमी आएगी। लेकिन लटके हुए सरकारी कार्य आज किसी भी हालत में पूरे नही होंगे जिससे धन के साथ समय भी खराब होगा। व्यवसाय में पूँजी निवेश के लिए भी आज का दिन शुभ है लेकिन तुरंत लाभ की आशा ना रखें भविष्य में अवश्य ही दुगना होकर मिलेगा। नौकरी वालो के बेहतर कार्य से अधिकारी वर्ग प्रसन्न होंगे फिर भी कामनापूर्ति में व्यवधान डालेंगे। गृहस्थ में पारिवारिक सदस्यों से प्रेम बढ़ेगा माता का विशेष सुख सहयोग मिलेगा। किसी बुजुर्ग से आकस्मिक लाभ होगा। भूमि वाहन सुख आज उत्तम रहेंगे इनके रखरखाव पर खर्च भी करना पड़ेगा। आरोग्य बना रहेगा। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आपका आज का दिन मानसिक रूप से शांति वाला रहेगा। दिन का पहला भाग धर्म-कर्म में व्यतीत होगा आपमें दया भाव अधिक रहने के कारण दान पुण्य में रूचि भी दिखाएंगे। अपने कार्यो की अनदेखी कर लोगो की समस्याओं को सुलझाने में व्यस्त रहेंगे। कार्य क्षेत्र पर सामान्य लाभ होगा नौकरी पेशाओ से कोई गलती हो सकती है लेकिन नरम व्यवहार के कारण दंडित होने से बच जाएंगे। कमर अथवा घुटनो की समस्या हो सकती है। पारिवारिक वातावरण धीमी कार्य शैली के चलते कुछ समय के लिए अशांत होगा फिर भी आज सदसयो में आपसी सदभाव अधिक रहेगा। बड़ो से आशीर्वाद मिलेगा। संतान की पढ़ाई को लेकर थोड़े चिंतित दिखेंगे। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आपका आज का दिन सुख शांति से व्यतीत होगा। स्वास्थ्य में सुधार रहने से मानसिक एवं शारीरिक रूप से चुस्त रहेंगे फिर भी ठंडी वस्तुओ से परहेज करें जुखाम खांसी तुरंत हो सकती है। दिन के आरम्भ में परिजनों की आपके हित में कही बाते मन को चुभ सकती है लेकिन आज किसी भी बात की ज्यादा देर परवाह नही करेंगे आप सुनेंगे सबकी करेंगे मन की। दोपहर तक इंतजार करने के बाद व्यापार में लाभ मिलने से उत्साह बढ़ेगा। व्यावसायिक यात्रा भी आज लाभदायक रहेगी। घर में आज शांति का वातावरण रहेगा लेकिन भाई बंधुओ में व्यवसाय अथवा अन्य कारण से आपस में ठन सकती है। रात्रि के समय गैस अथवा कब्ज की शिकायत रह सकती है। संध्या के समय सुखोपभोग के लिये बाहर घूमने का मन बनेगा। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज का दिन भी आपके लिए बीते दिनों से लाभदायक सिद्ध होगा। व्यावसायिक क्षेत्र में आशानुकूल वातावरण ना मिलने पर भी कुछ एक कार्य मे सफलता मिलने से संतोष रहेगा धन की आमद कम लेकिन समय पर होने से महत्त्वपूर्ण रहेगी। नौकरी वाले जातको को थोड़ा अधिक परिश्रम करना पड़ेगा परंतु आज आप से अधिकारी प्रसन्न रहेंगे मन की बात मनवा सकते है। लेखन से जुड़े जातको को नयी रचना की प्रेरणा मिलेगी। घर गृहस्थी में अंदरूनी बात पर आपसी मतभेद हो सकते है फिर भी आज आप पारिवारिक जिम्मेदारियां बेहतर निभाएंगे। शत्रु पक्ष निर्बल रहेगा सरकारी कार्यो आसानी से बन सकते है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️

+45 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 148 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻सोमवार, १ मार्च २०२१🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:५३ सूर्यास्त: 🌅 ०६:१७ चन्द्रोदय: 🌝 २०:३१ चन्द्रास्त: 🌜०८:१० अयन 🌕 उत्तराणायने (दक्षिणगोलीय) ऋतु: ❄️ शिशिर शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 फाल्गुन पक्ष 👉 कृष्ण तिथि 👉 द्वितीया (०८:३५ तक) नक्षत्र 👉 उत्तराफाल्गुनी (०७:३७ तक) योग 👉 शूल (१२:५६ तक) प्रथम करण 👉 गर (०८:३५ तक) द्वितीय करण 👉 वणिज (१९:११ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 कुम्भ चंद्र 🌟 कन्या मंगल 🌟 वृषभ (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध 🌟 मकर (उदित, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र 🌟 कुम्भ (अस्त, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त 👉 १२:०६ से १२:५२ अमृत काल 👉 २४:०३ से २५:३१ विजय मुहूर्त 👉 १४:२५ से १५:११ गोधूलि मुहूर्त 👉 १८:०४ से १८:२८ निशिता मुहूर्त 👉 २४:०४ से २४:५४ राहुकाल 👉 ०८:१० से ०९:३६ राहुवास 👉 उत्तर-पश्चिम यमगण्ड 👉 ११:०३ से १२:२९ होमाहुति 👉 मंगल दिशाशूल 👉 पूर्व नक्षत्र शूल 👉 उत्तर (०७:३७ तक) अग्निवास 👉 पृथ्वी (०८:३५ तक) भद्रावास 👉 पाताल १९:११ से २९:४६ चन्द्रवास 👉 दक्षिण 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - अमृत २ - काल ३ - शुभ ४ - रोग ५ - उद्वेग ६ - चर ७ - लाभ ८ - अमृत ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - चर २ - रोग ३ - काल ४ - लाभ ५ - उद्वेग ६ - शुभ ७ - अमृत ८ - चर नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 दक्षिण-पूर्व (दर्पण देखकर अथवा खीर का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ मार्च माह आरम्भ, चूड़ाकर्म मुहूर्त (अभिजीत मुहूर्त में, शुक्रास्त का दोष नही) आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज ०७:३७ तक जन्मे शिशुओ का नाम उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र के चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (पी) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम हस्त नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमश (पू, ष, ण, ठ) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त कुम्भ २९:५८ से ०७:२४ मीन - ०७:२४ से ०८:४७ मेष - ०८:४७ से १०:२१ वृषभ - १०:२१ से १२:१५ मिथुन - १२:१५ से १४:३० कर्क - १४:३० से १६:५२ सिंह - १६:५२ से १९:११ कन्या - १९:११ से २१:२९ तुला - २१:२९ से २३:५० वृश्चिक - २३:५० से २६:०९ धनु - २६:०९ से २८:१३ मकर - २८:१३ से २९:५४ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त चोर पञ्चक - ०६:४३ से ०७:२४ शुभ मुहूर्त - ०७:२४ से ०७:३७ रोग पञ्चक - ०७:३७ से ०८:३५ शुभ मुहूर्त - ०८:३५ से ०८:४७ शुभ मुहूर्त - ०८:४७ से १०:२१ रोग पञ्चक - १०:२१ से १२:१५ शुभ मुहूर्त - १२:१५ से १४:३० मृत्यु पञ्चक - १४:३० से १६:५२ अग्नि पञ्चक - १६:५२ से १९:११ शुभ मुहूर्त - १९:११ से २१:२९ रज पञ्चक - २१:२९ से २३:५० शुभ मुहूर्त - २३:५० से २६:०९ चोर पञ्चक - २६:०९ से २८:१३ शुभ मुहूर्त - २८:१३ से २९:३२ चोर पञ्चक - २९:३२ से २९:४६ शुभ मुहूर्त - २९:४६ से २९:५४ रोग पञ्चक - २९:५४ से ३०:४२ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज के दिन का आरंभ शांति प्रद रहेगा लेकिन जैसे जैसे दिन चढ़ेगा घरेलू एवं व्यावसायिक उलझने भी बढ़ती जाएंगी। आपका स्वभाव दिन के आरंभ में अत्यंत स्वार्थी रहेगा आपने लाभ के लिये किसी अन्य का नुकसान करने से भी नही चूकेंगे फिर भी जिस भी चीज अथवा कार्य से लाभ पाना चाहेंगे वह किसी अन्य को मिलने की संभावना है आपको मिलने पर भी कुछ कमी रहेगी। दोपहर के बाद किसी भी कार्य को लेकर ज्यादा भागदौड़ करने से बचेंगे। कार्य व्यवसाय में धन लाभ दिन के पहले भाग में होगा इस समय अधिक सतर्कता बरते दोपहर बाद भी धन प्राप्ति के संयोग बनेंगे लेकिन कछ कमी के कारण निरस्त भी हो सकते है। घरेलू जिम्मेदारी बढ़ने पर कुछ समय के लिये असहजता होगी फिर भी निष्ठा से निभायेंगे। यात्रा से आज लाभ की उम्मीद ना रखें। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज के दिन आप मन ही मन किसी बात को लेकर चिंतित रहेंगे लेकिन अन्य लोगो के लिये अच्छे मार्गदर्शक सिद्ध होंगे। सेहत पेट संबंधित छोटी मोटी संमस्या को छोड़ उत्तम रहेगी खाने पीने में संयम रखें अन्यथा बेकार में दवाइयां खानी पड़ेंगी। कार्यक्षेत्र पर आपके धैर्य और नियंत्रण क्षमता की तारीफ होगी। प्रलोभन भी दिए जाएंगे इनसे दूर रहे अन्यथा भविष्य में ठगी का शिकार हो सकते है। दिन के आरंभ में बुद्धि विवेक से काम लेना मध्यान के बाद लाभ के मार्ग खोलेगा। धन की आमद आज आशाजनक नही होगी फिर भी कामचलाऊ आय आसानी से प्राप्त कर लेंगे। नौकरी पेशाओ को सहकर्मी द्वारा धमकी अथवा गलत आचरण का सामना करना पड़ेगा जिससे कुछ समय के लिये मानसिक दबाव अनुभव होगा। पारिवारिक वातावरण में आपसी समझ और तालमेल बना रहेगा। यात्रा की योजना बनते बनते अंत समय मे टल सकती है। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज दिन के आरंभिक भाग में पेट संबंधित समस्या परेशान करेगी पूर्व में बरती अनियमितता के कारण आज मध्यान तक सेहत में उतार चढ़ाव लगा रहेगा इसके बाद भी स्थिति यथावत बनी रहेगी लेकिन व्यवस्तता के चलते अनुभव नही होगी। कार्य क्षेत्र पर अतिमहत्त्वपूर्ण निर्णय दोपहर से पहले ले अधूरे कार्य भी शीघ्र पूर्ण करने का प्रयास करने इसके बाद परिस्थिति हानिकारक बनने वाली है जहाँ से लाभ की उम्मीद रहेगी वहां से खाली हाथ आएंगे। धन लाभ अंत समय मे आगे के लिए निरस्त हो सकता है। सहकर्मियो का सहयोग भी अन्य दिनों की तुलना में कम ही मिलेगा। दाम्पत्य जीवन मे बाहर की तुलना में शांति रहेगी परिजन आज आपसे सुख की कामना करेंगे लेकिन ना मिलने पर परिस्थिति अनुसार स्वयं को ढाल भी लेंगे। यात्रा में चोटादि का भय है सतर्क रहें अथवा निरस्त करें। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज का दिन मिश्रित फलदायक रहेगा। सेहत छोटी मोटी बातो को छोड़ लगभग सामान्य ही रहेगी स्वास्थ्य की चिंता भी आज कम ही करेंगे। आज आपका मन दो तरफा रहने से भ्रम की स्थिति बनेगी। कार्य क्षेत्र पर नए लाभ के अनुबंध मिल सकते है पुराणों से भी आकस्मिक धन की प्राप्ति होने से उत्साह बढेगा। सहकर्मियो के ऊपर खर्च करने पर काम निकलना आसान होगा लेकिन आज दाम्पत्य जीवन मे सुख की कमी अनुभव होगी पति पत्नी में किसी न किसी बात को लेकर नए मतभेद बनेंगे संतान का भी सहयोग केवल इच्छा पूर्ति होने तक ही मिलेगा। घर के अपेक्षा बाहर सुख की तलाश में रहेंगे लेकिन आपका भावुक व्यवहार घर के सदस्यों के साथ बाहरी लोगो को भी बोझ जैसा लगेगा मन की बात किसी को ना बताये अन्यथा अन्य लोग अनुचित लाभ उठा सकते है। कार्य क्षेत्र पर नौकर सहकर्मी की गतिविधि पर नजर रखें। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज दिन आरम्भ में आपके स्वभाव में आलस्य भरा रहेगा कार्य एकदम सर पर आने पर ही करेंगे सेहत लगभग सामान्य रहने के बाद भी कार्य करने का उत्साह नही बन पाएगा जिसके परिणाम स्वरूप घर मे परिजन एवं कार्य क्षेत्र पर सहकर्मी अधिकारी की खरी खोटी सुन्नी पड़ेगी। दोपहर के बाद स्वभाव में एकदम से परिवर्तन आएगा जो लोग आपके विपरीत थे उन्हें गलती का अहसास कराएंगे लेकिन लोगो के मन में शक फिर भी बना रहेगा। कार्य व्यवसाय में आज कोई भी बड़ा निर्णय दोपहर के बाद ही ले अथवा कल ले लिए टालना भी बेहतर रहेगा। धन लाभ की संभावनाए बनेंगी लेकिन अंत चरण में पहुचकर या तो निरस्त होंगी या बहुत कम होने से मन निराश होगा। घर मे दोपहर तक मौन रहने का प्रयास करें खासकर महिलाए पुरानी बातों को भूलकर नए कार्यो पर ध्यान दें। यात्रा ये किसी न किसी रूप में लाभ होगा। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन आपके लिये बीते दिनों से अच्छा रहने वाला है लेकिन आज आपका स्वभाव पल पल में बदलने से आसपास का वातावरण भी कभी प्रसन्न कभी उदास बनेगा। बीते दिनों से मन मे भरी बातें आज एकदम से बाहर आने पर सामने वाले को परेशानी होगी लेकिन मन का बोझ हल्का होने से कुछ ही देर में स्थिति स्पष्ट हो जायेगी साथ ही आपके प्रति लोगो की सहानुभूति भी बढ़ेगी। कार्य व्यवसाय में कुछ समय के लिये निराशाजनक परिणाम मिलने से उदास होंगे लेकिन फिर भी परिस्थिति अनुसार स्वयं को ढाल कर कही ना कही से लाभ अवश्य उठाएंगे। धन की आमद में व्यवधान आएंगे फिर भी खर्च निकालने लायक सहज हो जाएगी ज्यादा पाने के प्रयास में गलती कर सकते है धैर्य से काम करें आगे का समय ठीक ही बना रहेगा। दाम्पत्य जीवन मे राग द्वेष लगा रहेगा जिस कारण घर की जगह बाहर का वातावरण अधिक पसंद करेंगे। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज दिन के आरंभिक भाग में सेहत चुस्त रहेगी लेकिन मन मे कोई चिंता भी बनी रहेगी। अतिआवश्यक कार्य दोपहर से पहले पूर्ण करने का प्रयास करें इसके बाद बनते कार्य बिगड़ने लगेंगे आपसी संबंधों में भी भावनाओ की कमी आएगी हर कोई अपने स्वार्थ के लिये ही व्यवहार करेगा। घर मे गकतफहमी अथवा किसी पुरानी गलती के चलते तीखी झड़प होने की संभावना है आज राह चलते लोग भी आपको बुरा भला कह सकते है प्रतिक्रिया देने से पहले आगे होने वाले नुकसान को अवश्य ध्यान में रखें। कार्य क्षेत्र पर लाभ के अवसर मिलते रहेंगे लेकिन कलह क्लेश के कारण आज कोई भी लाभ मन को लुभा नही पायेगा। नौकरी पेशाओ को कार्य क्षेत्र पर नए अनुभव मिलेंगे लापरवाही ना करें अन्यथा लंबे समय तक उन्नति को तरसेंगे। आज प्रत्येक कार्य दूरदृष्टि रखकर ही करना हितकर रहेगा। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज दिन के आरंभिक भाग में आर्थिक एवं पारिवारिक कारणों से मन मे बेचैनी बानी रहेगी सेहत भी थोड़ी नरम रहने के कारण कार्यो में ढील देंगे। दोपहर के बाद स्थिति एकदम उलट होने लगेगी स्वभाव में हल्कापन अनुभव करेंगे विपरीत परिस्थिति में भी मनोरंजन के अवसर तलाशेंगे आप स्वयं अंदर से चिंताग्रस्त होने के बाद भी आस पास के लोगो को अपने मजाकिया व्यवहार से हंसने पर मजबूर कर देंगे। कार्य व्यवसाय में दोपहर तक अतिरिक्त परिश्रम करना पड़ेगा इसका फल निश्चित रूप से धन लाभ के रूप में मिलेगा परन्तु थोड़ा इंतजार करने के बाद ही। निवेश का जोखिम आज की जगह कल लेना ज्यादा बेहतर रहेगा। गृहस्थ में प्रातः जैसा तनाव अनुभव होगा संध्या के समय उससे अधिक आनंद मिलेगा। पति पत्नी में नोकझोंक के बाद भी आवश्यक कार्यो को लेकर एकमत हो जाएंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज का दिन आपका भविष्य बनाने में सहयोग करेगा सेहत में आज कल की अपेक्षा सुधार अनुभव होगा लेकिन चुस्ती की कमी दिन के आरंभ में रहेगी बाद में धीरे धीरे सामान्य हो जाएगी। मध्यान से पहले किसी आवश्यक कार्य के लिये भागदौड़ करनी पड़ेगी लेकिन कोई न कोई अड़चन आने से तुरंत सफलता नही मिल पाएगी मन मे कुछ देर के लिए विपरीत खयाल आएंगे परन्तु धैर्य से काम लें मध्यान के बाद किसी बाहरी व्यक्ति का सहयोग समर्थन मिलने से अपनी योजनाओं में सफलता पा लेंगे। आज व्यवसाय में निवेश करने से पहले बाजार की मांग का अवश्य ख्याल करें जल्दबाजी में हानि हो सकती है। पारिवारिक वातावरण में शांति रहेगी मित्र परिचित स्वार्थ के लिये अधिक मीठे बनेंगे। आज आर्थिक कारणों से होने वाली यात्रा टालना ही बेहतर रहेगा लाभ की जगह खर्च ही होगा। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज का दिन आपके लिए मिला जुला फल देगा सेहत आज ठीक ठाक ही रहेगी आर्थिक विषयो की परवाह भी आज कम ही करेंगे। दिन के आरंभिक भाग में आध्यात्म एवं परोपकार में रुचि रहेगी लेकिन मन मे कोई न कोई उलझन रहने से ठीक से ध्यान नही दे पाएंगे। आज फिजूल की बातों पर ध्यान ना दे अपने कार्य को योजना बनाकर करे मध्यान के बाद अवश्य ही कोई सकारात्मक खबर मिल सकती है। नौकरी वालो के लिये आज दिन थोड़ा अधिक परिश्रम वाला रहेगा लेकिन इसका परिणाम अंत मे सुखद अनुभूति कराएगा। धन की आमद प्रयास करने पर आवश्यकता अनुसार हो जाएगी। दाम्पत्य जीवन एवं पैतृक कार्यो से आज उलझन के बाद भी सुख मिलेगा। तीखे वचन बोलने से बचे दिन आनददायक सिद्ध होगा। व्यावसायिक अथवा अन्य कारणों से पूर्व निर्धारित यात्रा हो सकती है। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज दिन के आरंभिक भाग में सेहत प्रतिकूल रहेगी छाती से निचले हिस्से में गड़बड़ रहने के कारण मानसिक तनाव बनेगा लेकिन दोपहर के बाद सुधार आने लगेगा गलत दवा के सेवन से एलर्जी अथवा अन्य समस्या बन सकती है देखभालकर ही इलाज करें। कार्य व्यवसाय में आज जो भी निर्णय लेंगे उसकी सफलता संदिग्ध रहेगी अन्य लोगो का दखल देना अखरेगा फिर भी व्यवहारिकता के कारण सहन करना ही पड़ेगा। निवेश करने से बचे धन फंस सकता है नौकरी पेशा भी आज प्रयोग करने से बचे अन्यथा अन्य लोगो की गलती आपके सिर आएगी। धन की आमद आज न्यून लेकिन खर्च कल की तुलना में कम होंगे। पारिवारिक वातावरण में विरोधाभास का अनुभव होगा जिससे सहयोग की आशा करेंगे वही अपना स्वार्थ सिद्ध करने के प्रयास में रहेगा। यात्रा से कोई लाभ नही मिलने वाला सम्भव हो तो टाले। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज का दिन बीते दिनों की तुलना में बेहतर रहने वाला है लेकिन इसको बेहतर बनाने के लिये दिन के आरम्भ से ही स्वभाव में नरमी और जिद को त्यागना पड़ेगा तभी दिन का आनंद उठा पाएंगे। सेहत आज ठीक ठाक ही रहेगी कार्य क्षेत्र पर व्यवस्तता के बाद भी थकान अनुभव नही करेंगे रोजगार के संबंध में छोटी बड़ी यात्रा भी हो सकती है इससे लाभ के साथ ही नई जगह देखने को मिलेगी। कार्य क्षेत्र पर पूर्व में की मेहनत दोपहर के बाद फल देने लगेगी लेकिन आर्थिक मामलों में जल्दबाजी ना करें संतोषि व्यवहार रखने पर धन के साथ सम्मान भी बढ़ेगा। नौकरी पेशाओ को जिस कार्य मे उत्साह नही रहेगा उसे करने पर प्रशंसा के साथ आय के स्त्रोत्र भी बन सकते है। घर परिवार का वातावरण आज सुखद रहेगा दाम्पत्य सुख भी उत्तम मिलेगा। विपरीत लिंगीय आकर्षण बढ़ने के कारण ख्याली पुलाव पकाएंगे। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️

+50 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 163 शेयर
Shyam Yadav Feb 28, 2021

. ।। 🕉 ।। 🚩🌞 *सुप्रभातम्* 🌞 📜««« *आज का पञ्चांग* »»»📜 कलियुगाब्द.........................5122 विक्रम संवत्........................2077 शक संवत्...........................1942 मास.................................फाल्गुन पक्ष.....................................कृष्ण तिथी...............................प्रतिपदा प्रातः 11.18 पर्यंत पश्चात द्वितीया रवि................................उत्तरायण सूर्योदय.............प्रातः 06.49.43 पर सूर्यास्त.............संध्या 06.30.18 पर सूर्य राशि...............................कुम्भ चन्द्र राशि...............................सिंह गुरु राशि...............................मकर नक्षत्र...........................पूर्वाफाल्गुनी प्रातः 09.31 पर्यंत पश्चात उत्तराफाल्गुनी योग.......................................धृति दोप 04.17 पर्यंत पश्चात शूल करण..................................कौलव प्रातः 11.18 पर्यंत पश्चात तैतिल ऋतु....................................शिशिर दिन....................................रविवार 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार :-* 28 फरवरी सन 2021 ईस्वी । ☸ शुभ अंक...........................1 🔯 शुभ रंग.........................लाल ⚜️ *अभिजीत मुहूर्त :-* दोप 12.16 से 01.02 तक । 👁‍🗨 *राहुकाल :-* संध्या 04.59 से 06.26 तक । 🌞 *उदय लग्न मुहूर्त :-* *कुम्भ* 06:02:20 07:37:21 *मीन* 07:37:21 09:07:06 *मेष* 09:07:06 10:47:48 *वृषभ* 10:47:48 12:46:26 *मिथुन* 12:46:26 15:00:07 *कर्क* 15:00:07 17:16:17 *सिंह* 17:16:17 19:28:06 *कन्या* 19:28:06 21:38:46 *तुला* 21:38:46 23:53:23 *वृश्चिक* 23:53:23 26:09:33 *धनु* 26:09:33 28:15:12 *मकर* 28:15:12 30:02:20 🚦 *दिशाशूल :-* पश्चिमदिशा - यदि आवश्यक हो तो दलिया, घी या पान का सेवनकर यात्रा प्रारंभ करें । ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 08.18 से 09.45 तक चंचल प्रात: 09.45 से 11.11 तक लाभ प्रात: 11.11 से 12.28 तक अमृत दोप. 02.05 से 03.31 तक शुभ सायं 06.25 से 07.58 तक शुभ संध्या 07.58 से 09.31 तक अमृत रात्रि 09.31 से 11.04 तक चंचल । 📿 *आज का मंत्रः* ॥ ॐ हिरण्यगर्भाय नम:॥  *संस्कृत सुभाषितानि :-* सत्यसमार्जवमक्रोधमनसूयां दमं तपः । अहिंसा चानृशंस्यं च क्षमां चैवानुपालय ॥ अर्थात :- सत्य, सरलता, अक्रोध, अनसूया, दम, तप, अहिंसा, कोमलता, क्षमा – इन सब का पालन कर । 🍃 *आरोग्यं सलाह :-* *बुढ़ापा रोकने की औषधि -* *2. गोटू कोला -* भारत के आयुर्वेद चिकित्सा में प्राचीन काल से ही कई बूटियों का उपयोग चिकित्सकीय प्रयोजनों में किया जाता है। गोटू कोला एक औषधीय जड़ी बूटी है जो भारत, दक्षिण अफ्रीका, इंडोनेशिया और चीन जैसे देशों में पाया जाता है। इन देशों में, गोटू कोला को पारंपरिक रूप से एंटी-एजिंग गुणों के लिए उपयोग किया जाता है। यह कोशिकाओं को पुन: उत्पन्न करने में मदद करता है और स्वस्थ त्वचा को भी सुनिश्चित करता है। इस अद्भुत जड़ी बूटी ने कई मामलों में शरीर पर एंटी-स्ट्रेस अर्थात तनाव के खिलाफ प्रभाव को भी प्रदर्शित करता है। इसके अलावा उम्र बढ़ने के साथ मानसिक कमजोरी को दूर करने के लिए यह एक प्रभावी टॉनिक है। ⚜ *आज का राशिफल :-* 🐐 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* परिवार में सहयोग का वातावरण रहेगा। अनायास समस्या सुलझेगी। व्यापार-व्यवसाय में आशानुकूल स्थिति बनेगी। घर-परिवार की चिंता रहेगी। भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। बाहरी सहायता प्राप्त होगी। संत-समागम होगा। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* अपनी स्थिति, योग्यता के अनुरूप कार्य कर पाएँगे। अनसोचे काम होंगे। कुसंगति से बचें। वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। वरिष्ठजन सहयोग करेंगे। प्रसन्नता बनी रहेगी। संपत्ति के लेन-देन में सावधानी रखें। व्यापार अच्छा चलेगा। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* शत्रु पक्ष से सतर्क रहें। आपके कार्यों की परिवार एवं समाज में प्रशंसा होगी। कष्ट, भय, तनाव का माहौल बनेगा। चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। संतान की मदद से आत्मविश्वास बढ़ेगा। व्यापार में नए अनुबंधों से लाभ होगा। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* सुखद यात्रा के योग बनेंगे। सोच-समझकर व्यय करें। पारिवारिक समस्याओं का हल सूझ-बूझ से करेंगे। देव दर्शन हो सकता है। सत्संग का लाभ मिलेगा। बाहरी सहयता मिलेगी। रुके कार्य बनेंगे। व्यापार लाभप्रद रहेगा। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* पिता का स्वास्थ्य संतोष देगा। आजीविका में प्रगति होगी। समय का दुरुपयोग न करें। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। अधिकारी कामकाज में सहयोग करेंगे। शत्रु भय रहेगा। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* यात्रा मनोरंजक रहेगी। धनार्जन होगा। आलस्य को त्यागकर प्रत्येक काम समय पर करें। व्यापार अच्छा चलेगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। जल्दबाजी न करें। बकाया वसूली होगी। परोपकारी स्वभाव होने के कारण दूसरों की मदद करके सुख अर्जित करेंगे। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* जल्दबाजी न करें। नौकरी, व्यवसाय में इच्छित वातावरण तैयार होगा। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। घर में अशांति रह सकती है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। तनाव रहेगा। राजनीतिक एवं सामाजिक कार्यों में सफलता की संभावना है। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* व्यवसाय ठीक चलेगा। धनलाभ के अवसर आएँगे। जीवनसाथी से संबंधों में मधुरता आएगी। यात्रा मनोरंजक रहेगी। वरिष्‍ठ जन सहयोग करेंगे। भेंट व उपहार की प्रा‍प्ति होगी। अहम का भाव मन में न पनपने दें। पूंजी निवेश लाभकारी रहेगा। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* मान बढ़ेगा। प्रसन्नता रहेगी। धनार्जन होगा। व्यापारिक उन्नति होगी। अनायास किसी समस्या का समाधान हो सकता है। अतिथियों का आवागमन होगा। शुभ समाचार मिलेंगे। अपना व्यवहार संयमित रखकर काम करना जरूरी है। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रसन्नता रहेगी। उच्च और बौद्धिक वर्ग में विशेष सम्मान मिलने की संभावना है। प्रयास सफल रहेंगे। मान-सम्मान मिलेगा। मनोरंजक यात्रा होगी। भूमि संबंधी लेन-देन में रुचि बढ़ेगी। दूसरों के काम में हस्तक्षेप न करें। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* पुराना रोग उभर सकता है। वस्तुएं संभालकर रखें। सामाजिक प्रतिष्ठा में कमी आ सकती है। कहासुनी, बहस हो सकती है। विवाद से क्लेश होगा। दु:खद समाचार मिल सकता है। विवाद समाप्त होने से शांति एवं संतोष मिलेगा। संतान के प्रति झुकाव बढ़ेगा। 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* बौद्धिक कार्य सफल रहेंगे। धर्नाजन होगा, जोखिम न लें। प्रयत्न एवं दूरदर्शिता से सहयोग एवं समर्थन मिलेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। पारिवारिक सुख प्राप्त होगा। जोखिम के कार्यों में सावधानी रखें। ☯ *आज का दिन सभी के लिए मंगलमय हो ।* ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Ajay Awasthi Mar 1, 2021

🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *********|| जय श्री राधे ||********* 🌺🙏 *महर्षि पाराशर पंचांग* 🙏🌺 🙏🌺🙏 *अथ पंचांगम्* 🙏🌺🙏 *********ll जय श्री राधे ll********* 🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *दिनाँक -: 01/03/2021,सोमवार* द्वितीया, कृष्ण पक्ष फाल्गुन """""""""""""""""""""""""""""""""""""(समाप्ति काल) तिथि --------द्वितीया 08:35:02 तक तिथि ---------तृतीया 29:45:43 पक्ष ----------------------------कृष्ण नक्षत्र ---------उ०फा०07:35:50 नक्षत्र ------------हस्त 29:30:46 योग ---------------शूल 12:53:38 करण --------------गर 08:35:02 करण ---------वणिज 19:10:35 करण ------विष्टि भद्र 29:45:43 वार -------------------------सोमवार माह -------------------------फाल्गुन चन्द्र राशि -------------------कन्या सूर्य राशि -------------------कुम्भ रितु --------------------------वसन्त आयन --------------------उत्तरायण संवत्सर -----------------------शार्वरी संवत्सर (उत्तर) -------------प्रमादी विक्रम संवत ----------------2077 विक्रम संवत (कर्तक)------2077 शाका संवत ----------------1942 वृन्दावन सूर्योदय ----------------06:44:51 सूर्यास्त -----------------18:18:29 दिन काल ------------- 11:33:38 रात्री काल -------------12:25:21 चंद्रास्त ----------------08:12:07 चंद्रोदय -----------------20:33:11 लग्न ---- कुम्भ 16°31' , 316°31' सूर्य नक्षत्र ---------------शतभिषा चन्द्र नक्षत्र ---------उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र पाया --------------------रजत *🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩* पी ----उत्तराफाल्गुनी 07:35:50 पू ----हस्त 13:04:48 ष ----हस्त 18:33:32 ण ----हस्त 24:02:08 ठ ----हस्त 29:30:46 *💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮* ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद ======================== सूर्य= कुम्भ 16°52 ' शतभिषा, 3 सी चन्द्र = कन्या 09°23 ' उ०फा० , 4 पी बुध = मकर 20°37' श्रवण ' 4 खो शुक्र= कुम्भ 10 ° 55, शतभिषा ' 2 सा मंगल=वृषभ 04°30 ' कृतिका ' 3 उ गुरु=मकर 22°22 ' श्रवण , 4 खो शनि=मकर 13°43 ' श्रवण ' 2 खू राहू=(व)वृषभ 21°40 'मृगशिरा , 4 वु केतु=(व)वृश्चिक 21°40 ज्येष्ठा , 2 या *🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩* राहू काल 08:12 - 09:38 अशुभ यम घंटा 11:05 - 12:32 अशुभ गुली काल 13:58 - 15:25 अशुभ अभिजित 12:09 -12:55 शुभ दूर मुहूर्त 12:55 - 13:41 अशुभ दूर मुहूर्त 15:14 - 15:59 अशुभ 💮चोघडिया, दिन अमृत 06:45 - 08:12 शुभ काल 08:12 - 09:38 अशुभ शुभ 09:38 - 11:05 शुभ रोग 11:05 - 12:32 अशुभ उद्वेग 12:32 - 13:58 अशुभ चर 13:58 - 15:25 शुभ लाभ 15:25 - 16:52 शुभ अमृत 16:52 - 18:18 शुभ 🚩चोघडिया, रात चर 18:18 - 19:52 शुभ रोग 19:52 - 21:25 अशुभ काल 21:25 - 22:58 अशुभ लाभ 22:58 - 24:31* शुभ उद्वेग 24:31* - 26:04* अशुभ शुभ 26:04* - 27:38* शुभ अमृत 27:38* - 29:11* शुभ चर 29:11* - 30:44* शुभ 💮होरा, दिन चन्द्र 06:45 - 07:43 शनि 07:43 - 08:40 बृहस्पति 08:40 - 09:38 मंगल 09:38 - 10:36 सूर्य 10:36 - 11:34 शुक्र 11:34 - 12:32 बुध 12:32 - 13:29 चन्द्र 13:29 - 14:27 शनि 14:27 - 15:25 बृहस्पति 15:25 - 16:23 मंगल 16:23 - 17:21 सूर्य 17:21 - 18:18 🚩होरा, रात शुक्र 18:18 - 19:21 बुध 19:21 - 20:23 चन्द्र 20:23 - 21:25 शनि 21:25 - 22:27 बृहस्पति 22:27 - 23:29 मंगल 23:29 - 24:31 सूर्य 24:31* - 25:33 शुक्र 25:33* - 26:35 बुध 26:35* - 27:38 चन्द्र 27:38* - 28:40 शनि 28:40* - 29:42 बृहस्पति 29:42* - 30:44 *नोट*-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार । शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥ रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार । अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥ अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें । उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें । शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें । लाभ में व्यापार करें । रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें । काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है । अमृत में सभी शुभ कार्य करें । *💮दिशा शूल ज्ञान---------------------पूर्व* परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा काजू खाके यात्रा कर सकते है l इस मंत्र का उच्चारण करें-: *शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l* *भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll* *🚩 अग्नि वास ज्ञान -:* *यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,* *चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।* *दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,* *नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।।* *महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्* *नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।* 15 + 2 + 2 + 1 = 20 ÷ 4 = 0 शेष मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l *💮 शिव वास एवं फल -:* 17 + 17 + 5 = 39 ÷ 7 = 4 शेष सभायां = सन्ताप कारक *🚩भद्रा वास एवं फल -:* *स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।* *मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।* सांय 19:11से प्रातः 29:46 तक मृत्यु लोक = सर्वकार्य विनाशिनी *💮🚩 विशेष जानकारी 🚩💮* * तृतीया तिथिक्षय * गाडगे महाराज जयन्ती *💮🚩💮 शुभ विचार 💮🚩💮* शान्तितुल्यं तपो नास्ति न सन्तोषात्परं सुखम् । न तृष्णया परो व्याधिर्न च धर्मो दया परः ।। ।।चा o नी o।। एक संयमित मन के समान कोई तप नहीं. संतोष के समान कोई सुख नहीं. लोभ के समान कोई रोग नहीं. दया के समान कोई गुण नहीं. *🚩💮🚩 सुभाषितानि 🚩💮🚩* गीता -: कर्मयोग अo-3 व्यामिश्रेणेव वाक्येन बुद्धिं मोहयसीव मे ।, तदेकं वद निश्चित्य येन श्रेयोऽहमाप्नुयाम्‌ ॥, आप मिले हुए-से वचनों से मेरी बुद्धि को मानो मोहित कर रहे हैं।, इसलिए उस एक बात को निश्चित करके कहिए जिससे मैं कल्याण को प्राप्त हो जाऊँ॥,2॥,॥, *💮🚩 दैनिक राशिफल 🚩💮* देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके। नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।। विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे। जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।। 🐏मेष मानसिक शांति के लिए किए गए प्रयास सफल रहेंगे। कोर्ट-कचहरी के कार्य मनोनुकूल रहेंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। प्रसन्नता रहेगी। किसी धार्मिक यात्रा की योजना बनेगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। 🐂वृष वाहन व मशीनरी इत्यादि के प्रयोग में लापरवाही न करें। वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। दूसरों के कार्य में हस्तक्षेप न करें। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। व्यापार ठीक चलेगा। 👫मिथुन कार्यक्षेत्र के लिए नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। बिगड़े काम बन सकते हैं। समाजसेवा करने का मन बनेगा। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। व्यस्तता रहेगी। आराम का समय नहीं मिलेगा। थकान रहेगी। 🦀कर्क व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। किसी प्रभावशाली व्यक्ति का सहयोग व मार्गदर्शन प्राप्त होगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। 🐅सिंह समाजसेवा करने की प्रेरणा प्राप्त होगी। मान-सम्मान मिलेगा। खोई हुई वस्तु मिलने के योग हैं। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। नौकरी में उच्चाधिकारी की प्रसन्नता प्राप्त होगी। शत्रु सक्रिय रहेंगे। जोखिम व जमानत के कार्य बिलकुल न करें। 🙍‍♀️कन्या शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। कारोबार अच्‍छा चलेगा। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। चिंता तथा तनाव रहेंगे। प्रतिद्वंद्विता में वृद्धि होगी। किसी आनंदोत्सव में भाग ले सकते हैं। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। ⚖️तुला किसी तरह से बड़ा लाभ होने की संभावना है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। किसी तरह के विवाद में विजय प्राप्त होगी। स्वास्थ्य अच्‍छा रहेगा। कारोबार में वृद्धि होगी। नौकरी में नया कार्य मिल सकता है। 🦂वृश्चिक कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। थकान व कमजोरी रह सकती है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। कर्ज लेना पड़ सकता है। दूसरों से अधिक अपेक्षा न करें। बेवजह चिड़चिड़ापन रहेगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। कार्य में मन नहीं लगेगा। 🏹धनु भावना में बहकर महत्वपूर्ण निर्णय न लें। नौकरी में कार्यभार रहेगा। लाभ होगा। स्वास्थ्य के संबंध में लापरवाही न करें। स्वास्थ्‍य पर व्यय होगा। दु:खद समाचार मिल सकता है। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। कुसंगति से हानि होगी। 🐊मकर मनपसंद व्यंजनों का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग अपने कार्य उत्साह व लगन से कर पाएगा। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त हो सकता है। धन प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। प्रमाद न करें। 🍯कुंभ घर, दुकान, फैक्टरी व शोरूम इत्यादि के खरीद-फरोख्त की योजना बनेगी। कारोबार में बड़ा लाभ हो सकता है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। रुके काम बनेंगे। घर-बाहर उत्साह व प्रसन्नता से काम कर पाएंगे। 🐟मीन प्रसन्नता का वातावरण निर्मित होगा। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल बनेगी। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। नौकरी में मातहत साथ देंगे। 🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏 🌺🌺🌺🌺🙏🌺🌺🌺🌺

+24 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 45 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻रविवार, २८ फरवरी २०२१🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:५४ सूर्यास्त: 🌅 ०६:१६ चन्द्रोदय: 🌝 १९:२५ चन्द्रास्त: 🌜०७:३४ अयन 🌕 उत्तराणायने (दक्षिणगोलीय) ऋतु: ❄️ शिशिर शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 फाल्गुन पक्ष 👉 कृष्ण तिथि 👉 प्रतिपदा (११:१८ तक) नक्षत्र 👉 पूर्वाफाल्गुनी (०९:३६ तक) योग 👉 धृति (१६:२२ तक) प्रथम करण 👉 कौलव (११:१८ तक) द्वितीय करण 👉 तैतिल (२१:५८ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 कुम्भ चंद्र 🌟 कन्या (१५:०६ से) मंगल 🌟 वृषभ (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध 🌟 मकर (उदित, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र 🌟 कुम्भ (अस्त, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त 👉 १२:०६ से १२:५३ अमृत काल 👉 २५:०१+ से २६:२९+ त्रिपुष्कर योग 👉 ११:१८ से ३०:४३+ सर्वार्थसिद्धि योग 👉 ०९:३६ से ३०:४३ विजय मुहूर्त 👉 १४:२५ से १५:११ गोधूलि मुहूर्त 👉 १८:०४ से १८:२७ निशिता मुहूर्त 👉 २४:०४+ से २४:५४+ राहुकाल 👉 १६:४९ से १८:१५ राहुवास 👉 उत्तर यमगण्ड 👉 १२:३० से १३:५६ होमाहुति 👉 चन्द्र (०९:३६ तक) दिशाशूल 👉 पश्चिम नक्षत्र शूल 👉 उत्तर (०९:३६ से) अग्निवास 👉 पाताल -(११:१८ से पृथ्वी) चन्द्रवास 👉 पूर्व (दक्षिण १५:०७ से) 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - उद्वेग २ - चर ३ - लाभ ४ - अमृत ५ - काल ६ - शुभ ७ - रोग ८ - उद्वेग ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - शुभ २ - अमृत ३ - चर ४ - रोग ५ - काल ६ - लाभ ७ - उद्वेग ८ - शुभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 पूर्व-दक्षिण (पान का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ फाल्गुन कृष्ण पक्ष आरम्भ आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज ०९:३६ तक जन्मे शिशुओ का नाम पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र के चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (टू) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमश (टे, टो, प, पी) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त कुम्भ - ३०:०२ से ०७:२७ मीन - ०७:२७ से ०८:५१ मेष - ०८:५१ से १०:२५ वृषभ - १०:२५ से १२:१९ मिथुन - १२:१९ से १४:३४ कर्क - १४:३४ से १६:५६ सिंह - १६:५६ से १९:१५ कन्या - १९:१५ से २१:३३ तुला - २१:३३ से २३:५४ वृश्चिक - २३:५४ से २६:१३ धनु - २६:१३+ से २८:१७ मकर - २८:१७+ से २९:५८ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त शुभ मुहूर्त - ०६:४४ से ०७:२७ रज पञ्चक - ०७:२७ से ०८:५१ अग्नि पञ्चक - ०८:५१ से ०९:३६ शुभ मुहूर्त - ०९:३६ से १०:२५ रज पञ्चक - १०:२५ से ११:१८ शुभ मुहूर्त - ११:१८ से १२:१९ चोर पञ्चक - १२:१९ से १४:३४ शुभ मुहूर्त - १४:३४ से १६:५६ रोग पञ्चक - १६:५६ से १९:१५ शुभ मुहूर्त - १९:१५ से २१:३३ मृत्यु पञ्चक - २१:३३ से २३:५४ अग्नि पञ्चक - २३:५४ से २६:१३+ शुभ मुहूर्त - २६:१३+ से २८:१७+ रज पञ्चक - २८:१७+ से २९:५८+ शुभ मुहूर्त - २९:५८+ से ३०:४३ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज आप प्रत्येक कार्य बुद्धि विवेक से करेंगे लेकिन पूर्व में बरती अनियमितता के कारण आज शत्रु पक्ष प्रबल रहेंगे घर के सदस्यों का व्यवहार भी आज विपरीत रहेगा फिर भी आपको सबकी कमजोरी पता होने का फायदा मिलेगा लोग पीठ पीछे ही आलोचना करेंगे सामने कोई नही आएगा। व्यवसाय की गति आज अन्य दिनों को तुलना में धीमी रहेगी किसी कार्य से लाभ होते होते अंत समय मे लटक सकता है फिर भी खर्च निकालने लायक आय किसी पुराने अनुबंध द्वारा सहज हो जाएगी। भागीदारी के कार्य मे आज निवेश से बचे नाही किसी वस्तु का संग्रह करें आगे धन फंस सकता है। घर मे आवश्यकता के समय ही बोले शांति बनी रहेगी। सेहत में कुछ न कुछ विकार लगा रहेगा। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज का दिन आपके लिये प्रतिकूल रहेगा दिन के आरंभ से ही किसी से कहासुनी की संभावना रहेगी इसके लिये ज्यादा इंतजार भी नहीं करना पड़ेगा संतान अथवा किसी अन्य परिजन का उद्दंड व्यवहार कलह करवाएगा फिर भी आप धैर्य से काम लें अन्यथा एक बार मानसिक अशान्ति बनी तो संध्या तक परेशान करेगी। कार्य क्षेत्र से आज ज्यादा संभावना नही रहेगी फिर भी किसी न किसी माध्यम से आकस्मिक लाभ संचित कोष में वृद्धि करेगा। आज वाणी एवं व्यवहार पर अधिक संयम रखने की आवश्यकता है अन्यथा कई दिनों में बनी गरिमा धूमिल होने में वक्त नही लगेगा। संध्या के समय थकान अधिक होगी लेकिन स्वास्थ्य सामान्य बना रहेगा। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज का दिन लाभदायक रहेगा लेकिन ध्यान रहे आपका व्यवहार होने वाले लाभ को कम या अधिक करने में महत्तवपूर्ण भूमिका रखेगा। वैसे तो आज काम निकालने के लिये मीठा व्यवहार ही करेंगे लेकिन जिससे ख़ट पट हुई उसकी शक्ल भी देखना पसंद नही करेंगे चाहे हानि ही क्यो ना हो। कार्य व्यवसाय के साथ अन्य मार्ग से धन की आमद अवश्य होगी माता का व्यवहार आज कुछ अटपटा रहने के बाद भी इनके सहयोग अथवा अचल संपत्ति से भी लाभ की संभावना है। पति-पत्नी में किसी बात को लेकर ठनेगी फिर भी मामला ज्यादा गंभीर नही होने देंगे। व्यावसायिक यात्रा से धन मिल सकता है। विदेश जाने के इच्छुक आज प्रयास अवश्य करें सफल होने की संभावना अधिक है। सेहत छोटी मोटी समस्या को छोड़ ठीक रहेगी। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज के दिन आपको उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा आपका स्वभाव आज संतोषी ही रहेगा फिर भी आकस्मिक आने वाले क्रोध पर नियंत्रण रखना आवश्यक है। आज आपका स्वभाव शंकालु रहेगा हर कार्य को करने से पहके हानि लाभ की परख करेंगे लेकिन किसी के दबाव अथवा बहकावे में आकर गलत निर्णय लेंगे बाद में इससे पछतावा हो इससे बेहतर आज ज्यादा झमेले वाले कार्यो से दूर ही रहे। भाई बंधुओ से संबंध ईर्ष्या युक्त होने पर भी कार्य क्षेत्र पर सहयोग अथवा मार्गदर्शन मिलने से आवश्यकता अनुसार धन सहज ही मिल जाएगा। घर मे पति-अथवा पत्नी की किसी गुप्त कामना को पूर्ण ना कर पाने पर खटास आ सकती है। धर्म कर्म में केवल व्यवहारिकता मात्र ही रहेगी। आरोग्य बना रहेगा। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) मन मे चंचलता बढ़ने के कारण आज आपका स्वभाव पल पल में बदलेगा किसी भी कार्य मे अनिर्णय की स्थिति बाधा डालेगी जिससे कार्यो में विलंब होगा। स्वभाव में आडंबर रहने पर सार्वजनिक क्षेत्र पर आपकी पहचान धनवानों जैसी बनेगी इसको बनाये रखने पर भी व्यर्थ खर्च करेंगे। कार्य व्यवसाय से आज कामना पूर्ति करना सम्भव नही माथापच्ची के बाद आय अवश्य होगी लेकिन नियमित ना होकर अंतराल पर होने से अधिक चौकन्ना रहना पड़ेगा। छाती अथवा छाती से ऊपरी भाग में कोई न कोई समस्या बनेगी समय से उपचार ले गंभीर भी हो सकती है। भावुकता अधिक रहेगी विपरीत लिंगीय के प्रति आकर्षित होंगे लेकिन मन ना मिलने पर दुख भी होगा। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन विपरीत फलदायक है स्वभाव की मनमानी आज किसी न किसी रूप में हानि कराएगी। आज भी आपका मन अनैतिक कर्मो में अधिक रहेगा किसी के टोकने पर अभद्र व्यवहार करने से भी नही शर्माएंगे। मौज शौक के पीछे संचित धन भी खर्च कर सकते है बाद में आर्थिक संकट में फसेंगे। कार्य व्यवसाय की स्थिति आज दयनीय रहेगी सहयोगी एवं समय की कमी के कारण बड़े लाभ से वंचित रह जाएंगे। मध्यान बाद थोड़ी बहुत आय होगी लेकिन आकस्मिक नुकसान भी होने से भरपाई नही कर पाएंगे। किसी से उधार लेने की नौबत आ सकती है आज वह भी मिलना मुश्किल है। घर मे माता से कलह के बाद अनैतिक लाभ उठाएंगे किसी न किसी से तकरार लगी रहेगी। किसी भी प्रकार के जोखिम से बचे दुर्घटना की सम्भवना है सेहत में उतारचढ़ाव लगा रहेगा। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज का दिन शुभफलदायक रहेगा। भागदौड़ आज किसी न किसी काम से लगी रहेगी लेकिन इसका सफल परिणाम दिन भर उत्साहित रखेगा। दिन के आरंभ में पेट अथवा मासपेशियो मे थोड़ी बहुत तकलीफ होगी लेकिन मध्यान तक स्वतः ही सही हो जाएगी। काम-धंधे को लेकर आज गंभीर रहेंगे अन्य आवश्यक कार्य भी इसके लिये निरस्त करेंगे धन लाभ भाग्य का साथ मिलने से अवश्य होगा लेकिन तुरंत कही न कही खर्च भी हो जाएगा आज खर्च दिखावे के ऊपर भी करने पड़ेंगे। घर का वातावरण मध्यान तक शांत रहेगा इसके बाद इसके बाद व्यवसाय अथवा अन्य घरेलू कारणों से किसी से खींचतान होने की संभावना है वाणी का प्रयाग संभालकर करें अन्यथा संबंधों में लंबे समय के लिये कड़वाहट बन सकती है। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज का दिन साधारण रहेगा दिन के पूर्वार्ध में स्वास्थ्य ठीक रहने पर भी आलस्य के कारण कार्यो में विलंब होगा घरेलू कार्य भी धीमी गति से चलेंगे बाद में हड़बड़ी करने पर नुकसान होने की संभावना है। कार्य क्षेत्र पर लाभ पाने के लिये विविध युक्तियां लगाएंगे लेकिन आज अधिकांश में असफलता ही मिलेगी धन लाभ अवश्य होगा पर पुराने उधार एवं दैनिक खर्च के आगे कम ही रहेगा। धर्म कर्म में आस्था रहने पर भी आज भाग्य का साथ कम ही मिलेगा नौकरी वालो को आज पुराना अधूरा कार्य मुसीबत लगेगा। विरोधी पक्ष पर ढील न बरतें अन्यथा बाद में परेशानी में डालेंगे। घर मे खर्चो को लेकर आपसी मतभेद उभरेंगे। ठंड का प्रकोप सेहत पर देखने को मिलेगा। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज के दिन आपके मन मे उधेड़ बुन लगी रहेगी जो करना चाहेंगे उसे नही कर पाएंगे उल्टे जिस का को करने से चिढ़ते है मजबूरी में वही करना पड़ेगा। मध्यान तक का समय फिर भी मानसिक एवं पारिवारिक रूप से शांतिदायक रहेगा घर मे पूजा पाठ दानपुण्य होने से वातावरण ऊर्जावान रहेगा। मध्यान बाद का समय विविध उलझनों वाला रहेगा। कार्य व्यवसाय में भी आज मंदी का सामना करना पड़ेगा भागदौड़ करने पर भी खर्च निकलने लायक आय मुश्किल से ही मिल पाएगी। सहकर्मी अपना काम आपके सर थोपेंगे व्यवहारिकता में मना भी नही कर पाएंगे। लघु यात्रा के योग है सम्भव हो तो टाले खर्च के अलावा कुछ नही मिलेगा। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज का दिन सेहत को लेकर परेशान रहेंगे। घर मे मौसमी बीमारियों के कारण सर्दी जुखाम से कोई ना कोई परेशान रहेगा दैनिक कार्य भी विलंब से होंगे जिससे अन्य कार्यो में भी विलंब होता जाएगा। कार्य व्यवसाय से आज लाभ की आशा ना रखे उल्टे किसी से धन अथवा अन्य कारणों से विवाद होने पर भविष्य के लाभ से भी हाथ धो बैठेंगे। संध्या के आस पास किसी के सहयोग से धन संबंधित कोई काम बनने से कुछ राहत मिलेगी। लेकिन आज पैतृक धन अथवा संपत्ति में हास होने के योग भी है। घरेलू एवं व्यावसायिक खर्चो को लेकर विशेष चिंता रहेगी। धर्म कर्म में आज निष्ठा तो रहेगी फिर भी रुचि नही दिखाएंगे। परिजनों को अधिक समय दे गलतफहमियां दूर होंगी। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन भागदौड़ लगी रहेगी दिन के आरंभ से ही आकस्मिक यात्रा की योजना बनेगी इसके अंत समय पर टलने की संभावना भी है। आज आप जो भी कामना करेंगे परिस्थिति स्वतः ही उसके अनुकूल बनने लगेगी कार्य व्यवसाय में प्रतिस्पर्धा रहने पर भी आपके कार्यो में बाधा नही पहुचेगी पूर्व में बनाई योजना आज फलीभूत होगी धन लाभ भी आवश्यकता पड़ने पर हो जाएगा लेकिन अतिरिक्त खर्च आने से हाथ मे रुकेगा नही। घर के सदस्यों से जबरदस्ती बात मनवाएँगे फिर भी परिजनों से भावनात्मक संबंध बने रहेंगे। संध्या बाद का समय अत्यधिक थकान वाला रहेगा फिर भी बेमन से सामाजिक व्यवहारों के कारण आराम करने का मौका चाह कर भी नही मिलेगा। सेहत में विकार आने की संभावना है सतर्क रहें। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज का दिन आपके लिये मिश्रित फलदायक रहेगा। पूर्व में किसी गलती को लेकर मन मे ग्लानि होगी लेकिन सुधार करने की जगह दोबारा वही गलती करने पर किसी से अनबन के साथ शत्रुओ में वृद्धि भी होगी। आज घरेलू एवं व्यक्तिगत सुख सुविधा जुटाने के चक्कर मे अनैतिक कार्यो करने से परहेज नही करेंगे इससे बचे अन्यथा सरकारी उलझनों में फंसने की संभावना है। कार्य व्यवसाय में स्थिरता नही रहेगी धन अन्य लोगो की नजर में आपका व्यवसाय उत्तम रहेगा लेकिन होगा इसके विपरीत ही पूर्व में किये किसी सौदे को छोड़ अन्य किसी मार्ग से धन की आमद रुकेगी। स्त्री वर्ग बोल चाल में सावधानी बरतें छोटी सी बात पर कलह हो सकती है। सेहत कुछ समय के लिये नरम रहेगी। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️

+110 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 232 शेयर
Ajay Awasthi Feb 28, 2021

🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *********|| जय श्री राधे ||********* 🌺🙏 *महर्षि पाराशर पंचांग* 🙏🌺 🙏🌺🙏 *अथ पंचांगम्* 🙏🌺🙏 *********ll जय श्री राधे ll********* 🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *दिनाँक -: 28/02/2021,रविवार* प्रतिपदा, कृष्ण पक्ष फाल्गुन """""""""""""""""""""""""""""""""""""(समाप्ति काल) तिथि --------प्रतिपदा 11:18:18 तक पक्ष ----------------------------कृष्ण नक्षत्र ---------पू०फा०09:34:29 योग --------------धृति 16:20:03 करण ---------कौलव 11:18:18 करण -----------तैतुल 21:57:59 वार --------------------------रविवार माह -------------------------फाल्गुन चन्द्र राशि ------सिंह 15:05:56 चन्द्र राशि --------------------कन्या सूर्य राशि ------------------- कुम्भ रितु ---------------------------वसन्त आयन --------------------उत्तरायण संवत्सर -----------------------शार्वरी संवत्सर (उत्तर) -------------प्रमादी विक्रम संवत ----------------2077 विक्रम संवत (कर्तक)------2077 शाका संवत ----------------1942 वृन्दावन सूर्योदय ----------------06:45:50 सूर्यास्त -----------------18:17:52 दिन काल -------------11:32:01 रात्री काल -------------12:26:58 चंद्रास्त -----------------07:34:47 चंद्रोदय -----------------19:28:42 लग्न ----कुम्भ 15°31' , 315°31' सूर्य नक्षत्र ----------------शतभिषा चन्द्र नक्षत्र -----------पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र पाया --------------------रजत *🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩* टू ---- पूर्वाफाल्गुनी 09:34:29 टे ----उत्तराफाल्गुनी 15:05:56 टो ----उत्तराफाल्गुनी 20:36:32 पा ----उत्तराफाल्गुनी 26:06:28 *💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮* ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद ======================== सूर्य= कुम्भ 15°52 ' शतभिषा, 3 सी चन्द्र = सिंह 25°23 ' पू०फा० , 4 टू बुध = मकर 19°37' श्रवण ' 3 खे शुक्र= कुम्भ 09 ° 55, शतभिषा ' 1 गो मंगल=वृषभ 03°30 ' कृतिका ' 3 उ गुरु=मकर 22°22 ' श्रवण , 4 खो शनि=मकर 13°43 ' श्रवण ' 2 खू राहू=(व)वृषभ 21°40 'मृगशिरा , 4 वु केतु=(व)वृश्चिक 21°40 ज्येष्ठा , 2 या *🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩* राहू काल 16:51 - 18:18 अशुभ यम घंटा 12:32 - 13:58 अशुभ गुली काल 15:25 - 16:51 अशुभ अभिजित 12:09 -12:55 शुभ दूर मुहूर्त 16:46 - 17:32 अशुभ 💮चोघडिया, दिन उद्वेग 06:46 - 08:12 अशुभ चर 08:12 - 09:39 शुभ लाभ 09:39 - 11:05 शुभ अमृत 11:05 - 12:32 शुभ काल 12:32 - 13:58 अशुभ शुभ 13:58 - 15:25 शुभ रोग 15:25 - 16:51 अशुभ उद्वेग 16:51 - 18:18 अशुभ 🚩चोघडिया, रात शुभ 18:18 - 19:51 शुभ अमृत 19:51 - 21:25 शुभ चर 21:25 - 22:58 शुभ रोग 22:58 - 24:31* अशुभ काल 24:31* - 26:05* अशुभ लाभ 26:05* - 27:38* शुभ उद्वेग 27:38* - 29:11* अशुभ शुभ 29:11* - 30:45* शुभ 💮होरा, दिन सूर्य 06:46 - 07:44 शुक्र 07:44 - 08:41 बुध 08:41 - 09:39 चन्द्र 09:39 - 10:37 शनि 10:37 - 11:34 बृहस्पति 11:34 - 12:32 मंगल 12:32 - 13:30 सूर्य 13:30 - 14:27 शुक्र 14:27 - 15:25 बुध 15:25 - 16:23 चन्द्र 16:23 - 17:20 शनि 17:20 - 18:18 🚩होरा, रात बृहस्पति 18:18 - 19:20 मंगल 19:20 - 20:22 सूर्य 20:22 - 21:25 शुक्र 21:25 - 22:27 बुध 22:27 - 23:29 चन्द्र 23:29 - 24:31 शनि 24:31* - 25:34 बृहस्पति 25:34* - 26:36 मंगल 26:36* - 27:38 सूर्य 27:38* - 28:40 शुक्र 28:40* - 29:43 बुध 29:43* - 30:45 *नोट*-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार । शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥ रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार । अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥ अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें । उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें । शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें । लाभ में व्यापार करें । रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें । काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है । अमृत में सभी शुभ कार्य करें । *💮दिशा शूल ज्ञान---------------------पश्चिम* परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा चिरौजी खाके यात्रा कर सकते है l इस मंत्र का उच्चारण करें-: *शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l* *भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll* *🚩 अग्नि वास ज्ञान -:* *यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,* *चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।* *दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,* *नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।।* *महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्* *नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।* 15 + 1 + 1 + 1 = 18 ÷ 4 = 2 शेष आकाश लोक पर अग्नि वास हवन के लिए अशुभ कारक है l *💮 शिव वास एवं फल -:* 16 + 16 + 5 = 37 ÷ 7 = 2 शेष गौरि सन्निधौ = शुभ कारक *🚩भद्रा वास एवं फल -:* *स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।* *मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।* *💮🚩 विशेष जानकारी 🚩💮* * सर्वार्थसिद्धि योग 09:35 से *💮🚩💮 शुभ विचार 💮🚩💮* काष्ठ-पाषाण-धातूनां कृत्वा भावेन सेवनम् । श्रध्दया च तया सिध्दिस्तस्य विष्णोः प्रसादतः ।। ।।चा o नी o।। काठ, पाषाण तथा धातु की भी श्रध्दापूर्वक सेवा करने से और भगवत्कृपा से सिध्दि प्राप्त हो जाती है। *🚩💮🚩 सुभाषितानि 🚩💮🚩* गीता -: कर्मयोग अo-03 ज्यायसी चेत्कर्मणस्ते मता बुद्धिर्जनार्दन ।, तत्किं कर्मणि घोरे मां नियोजयसि केशव ॥, अर्जुन बोले- हे जनार्दन! यदि आपको कर्म की अपेक्षा ज्ञान श्रेष्ठ मान्य है तो फिर हे केशव! मुझे भयंकर कर्म में क्यों लगाते हैं?॥,1॥, *💮🚩 दैनिक राशिफल 🚩💮* देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके। नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।। विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे। जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।। 🐂मेष यात्रा लाभदायक रहेगी। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है, प्रयास करें। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। शेयर मार्केट से बड़ा लाभ हो सकता है। संचित कोष में वृद्धि होगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। कारोबारी सौदे बड़े हो सकते हैं। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्य प्रभावित होगा, सावधानी रखें। 🐏वृष फालतू खर्च पर नियंत्रण रखें। बजट बिगड़ेगा। कर्ज लेना पड़ सकता है। शारीरिक कष्ट से बाधा उत्पन्न होगी। लेन-देन में सावधानी रखें। अपरिचित व्यक्तियों पर अंधविश्वास न करें। वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। आय होगी। संतुष्टि नहीं होगी। 👫मिथुन नवीन वस्त्राभूषण की प्राप्ति संभव है। यात्रा लाभदायक रहेगी। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। कारोबारी बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। निवेश में सोच-समझकर हाथ डालें। आशंका-कुशंका रहेगी। पुराना रोग उभर सकता है। लापरवाही न करें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 🦀कर्क कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। चिंता बनी रहेगी। जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। मेहनत का फल मिलेगा। कार्यसिद्धि होगी। निवेश लाभदायक रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में मनोनुकूल लाभ होगा। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। निवेश शुभ रहेगा। व्यस्तता रहेगी। 🐅सिंह कानूनी अड़चन दूर होकर लाभ की स्थिति निर्मित होगी। प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। व्यापार में लाभ होगा। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। निवेश में सोच-समझकर हाथ डालें। शत्रु पस्त होंगे। विवाद में न पड़ें। अपेक्षाकृत कार्य समय पर होंगे। प्रसन्नता रहेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। व्यस्तता रहेगी। प्रमाद न करें। 🙍‍♀️कन्या घर-परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। वाणी पर नियंत्रण रखें। चोट व दुर्घटना से बड़ी हानि हो सकती है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। फालतू खर्च होगा। विवाद को बढ़ावा न दें। अपेक्षाकृत कार्यों में विलंब होगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। आय में निश्चितता रहेगी। शत्रुभय रहेगा। ⚖️तुला उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। विरोधी सक्रिय रहेंगे। जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें। बड़ा काम करने का मन बनेगा। झंझटों से दूर रहें। कानूनी अड़चन का सामना करना पड़ सकता है। फालतू खर्च होगा। व्यापार मनोनुकूल लाभ देगा। जोखिम बिलकुल न लें। 🦂वृश्चिक दूर से बुरी खबर मिल सकती है। दौड़धूप अधिक होगी। बेवजह तनाव रहेगा। किसी व्यक्ति से कहासुनी हो सकती है। फालतू बातों पर ध्यान न दें। मेहनत अधिक व लाभ कम होगा। किसी व्यक्ति के उकसाने में न आएं। शत्रुओं की पराजय होगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। आय में निश्चितता रहेगी। 🏹धनु बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता प्राप्त होगी। स्थायी संपत्ति से बड़ा लाभ हो सकता है। समय पर कर्ज चुका पाएंगे। नौकरी में अधिकारी प्रसन्न तथा संतुष्ट रहेंगे। निवेश शुभ फल देगा। घर-परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी, ध्यान रखें। 🐊मकर व्यवसाय में ध्यान देना पड़ेगा। व्यर्थ समय न गंवाएं। पूजा-पाठ में मन लगेगा। कानूनी अड़चन दूर होगी। जल्दबाजी से हानि संभव है। थकान रहेगी। कुसंगति से बचें। निवेश शुभ रहेगा। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। दूसरों के काम में हस्तक्षेप न करें। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 🍯कुंभ योजना फलीभूत होगी। कार्यस्थल पर परिवर्तन संभव है। विरोधी सक्रिय रहेंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। मित्रों की सहायता कर पाएंगे। आय में वृद्धि होगी। शेयर मार्केट से लाभ होगा। नौकरी में प्रभाव वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। घर-परिवार में सुख-शांति रहेगी। जल्दबाजी न करें। पुराना रोग उभर सकता है। 🐟मीन पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। व्यापार-व्यवसाय लाभप्रद रहेगा। समय की अनुकूलता का लाभ मिलेगा। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। अपने काम पर ध्यान दें। लाभ होगा। 🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏 🌺🌺🌺🌺🙏🌺🌺🌺🌺

+53 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 126 शेयर
Ajay Awasthi Feb 27, 2021

🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *********|| जय श्री राधे ||********* 🌺🙏 *महर्षि पाराशर पंचांग* 🙏🌺 🙏🌺🙏 *अथ पंचांगम्* 🙏🌺🙏 *********ll जय श्री राधे ll********* 🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *दिनाँक -: 27/02/2021,शनिवार* पूर्णिमा, शुक्ल पक्ष माघ """""""""""""""""""""""""""""""""""""(समाप्ति काल) तिथि ---------पूर्णिमा 13:46:14 तक पक्ष ----------------------------शुक्ल नक्षत्र ------------माघ 11:17:10 योग -----------सुकर्मा 19:35:52 करण -------------बव 13:46:15 करण ----------बालव 24:34:47 वार -------------------------शनिवार माह -----------------------------माघ चन्द्र राशि --------------------- सिंह सूर्य राशि ------------------- कुम्भ रितु --------------------------शिशिर आयन ------------------- उत्तरायण संवत्सर ----------------------शार्वरी संवत्सर (उत्तर) -------------प्रमादी विक्रम संवत ----------------2077 विक्रम संवत (कर्तक)------2077 शाका संवत ----------------1942 वृन्दावन सूर्योदय ----------------06:46:50 सूर्यास्त -----------------18:17:15 दिन काल -------------11:30:25 रात्री काल -------------12:28:35 चंद्रोदय ----------------18:24:09 चंद्रास्त -----------------31:06:02 लग्न ----कुम्भ 14°31' , 314°31' सूर्य नक्षत्र ---------------शतभिषा चन्द्र नक्षत्र ---------------------मघा नक्षत्र पाया --------------------रजत *🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩* मे ----मघा 11:17:10 मो ----पूर्वाफाल्गुनी 16:53:32 टा ----पूर्वाफाल्गुनी 22:28:26 टी ----पूर्वाफाल्गुनी 28:02:02 *💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮* ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद ======================== सूर्य= कुम्भ 14°52 ' शतभिषा, 3 सी चन्द्र = सिंह 10°23 ' मघा , 4 मे बुध = मकर 18°37' श्रवण ' 3 खे शुक्र= कुम्भ 07 ° 55, शतभिषा ' 1 गो मंगल=वृषभ 02°30 ' कृतिका ' 2 ई गुरु=मकर 21°22 ' श्रवण , 4 खो शनि=मकर 13°43 ' श्रवण ' 2 खू राहू=(व)वृषभ 21°40 'मृगशिरा , 4 वु केतु=(व)वृश्चिक 21°40 ज्येष्ठा , 2 या *🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩* राहू काल 09:39 - 11:06 अशुभ यम घंटा 13:58 - 15:25 अशुभ गुली काल 06:47 - 08:13 अशुभ अभिजित 12:09 -12:55 शुभ दूर मुहूर्त 08:19 - 09:05 अशुभ 🚩गंड मूल 06:47 - 11:17 अशुभ 💮चोघडिया, दिन काल 06:47 - 08:13 अशुभ शुभ 08:13 - 09:39 शुभ रोग 09:39 - 11:06 अशुभ उद्वेग 11:06 - 12:32 अशुभ चर 12:32 - 13:58 शुभ लाभ 13:58 - 15:25 शुभ अमृत 15:25 - 16:51 शुभ काल 16:51 - 18:17 अशुभ 🚩चोघडिया, रात लाभ 18:17 - 19:51 शुभ उद्वेग 19:51 - 21:24 अशुभ शुभ 21:24 - 22:58 शुभ अमृत 22:58 - 24:32* शुभ चर 24:32* - 26:05* शुभ रोग 26:05* - 27:39* अशुभ काल 27:39* - 29:12* अशुभ लाभ 29:12* - 30:46* शुभ 💮होरा, दिन शनि 06:47 - 07:44 बृहस्पति 07:44 - 08:42 मंगल 08:42 - 09:39 सूर्य 09:39 - 10:37 शुक्र 10:37 - 11:35 बुध 11:35 - 12:32 चन्द्र 12:32 - 13:30 शनि 13:30 - 14:27 बृहस्पति 14:27 - 15:25 मंगल 15:25 - 16:22 सूर्य 16:22 - 17:20 शुक्र 17:20 - 18:17 🚩होरा, रात बुध 18:17 - 19:20 चन्द्र 19:20 - 20:22 शनि 20:22 - 21:24 बृहस्पति 21:24 - 22:27 मंगल 22:27 - 23:29 सूर्य 23:29 - 24:32* शुक्र 24:32* - 25:34 बुध 25:34* - 26:36 चन्द्र 26:36* - 27:39 शनि 27:39* - 28:41 बृहस्पति 28:41* - 29:43 मंगल 29:43* - 30:46 *नोट*-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार । शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥ रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार । अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥ अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें । उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें । शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें । लाभ में व्यापार करें । रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें । काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है । अमृत में सभी शुभ कार्य करें । *💮दिशा शूल ज्ञान---------------------पूर्व* परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो लौंग अथवा कालीमिर्च खाके यात्रा कर सकते है l इस मंत्र का उच्चारण करें-: *शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l* *भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll* *🚩 अग्नि वास ज्ञान -:* *यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,* *चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।* *दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,* *नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।।* *महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्* *नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।* 15 + 7 + 1 = 23 ÷ 4 = 3 शेष मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l *💮 शिव वास एवं फल -:* 15 + 15 + 5 = 35 ÷ 7 = 0 शेष शमशान वास = मृत्यु कारक *🚩भद्रा वास एवं फल -:* *स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।* *मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।* *💮🚩 विशेष जानकारी 🚩💮* * माघी पूर्णिमा * वृन्दावन कुम्भ मेला बैठक शाही स्न्नान * होली डण्डा रोपण द्वारिकाधीश * रविदास जयन्ती *💮🚩💮 शुभ विचार 💮🚩💮* न देवो विद्यते काष्ठे न पाषाणे न मृण्मये । भावे हि विद्यते देवस्तस्माद्भावो हि कारणम् ।। ।।चा o नी o।। देवता न काठ में, पत्थर में, और न मिट्टी ही में रहते हैं वे तो रहते हैं भाव में। इससे यह निष्कर्ष निकला कि भाव ही सबका कारण है। *🚩💮🚩 सुभाषितानि 🚩💮🚩* गीता -: कर्मसंन्यासयोग अo-04 तस्मादज्ञानसम्भूतं हृत्स्थं ज्ञानासिनात्मनः ।, छित्वैनं संशयं योगमातिष्ठोत्तिष्ठ भारत ॥, इसलिए हे भरतवंशी अर्जुन! तू हृदय में स्थित इस अज्ञानजनित अपने संशय का विवेकज्ञान रूप तलवार द्वारा छेदन करके समत्वरूप कर्मयोग में स्थित हो जा और युद्ध के लिए खड़ा हो जा॥,42॥, *💮🚩 दैनिक राशिफल 🚩💮* देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके। नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।। विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे। जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।। 🐂मेष किसी वरिष्ठ व्यक्ति के सहयोग से कार्य की बाधा दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। परिवार के लोग अनुकूल व्यवहार करेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। नए लोगों से संपर्क होगा। आय में वृद्धि तथा आरोग्य रहेगा। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। चिंता में कमी होगी। जल्दबाजी न करें। 🐏वृष स्थायी संपत्ति के कार्य बड़ा लाभ दे सकते हैं। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। आय में वृद्धि तथा उन्नति मनोनुकूल रहेंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। पार्टनरों का सहयोग समय पर प्राप्त होगा। यात्रा की योजना बनेगी। घर-बाहर कुछ तनाव रहेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। 👫मिथुन स्वास्थ्य का ध्यान रखें। चोट व दुर्घटना से बचें। आय में कमी रह सकती है। घर-बाहर असहयोग व अशांति का वातावरण रहेगा। अपनी बात लोगों को समझा नहीं पाएंगे। ऐश्वर्य के साधनों पर बड़ा खर्च होगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। हितैषी सहयोग करेंगे। धनार्जन संभव है। 🦀कर्क किसी जानकार प्रबुद्ध व्यक्ति का सहयोग प्राप्त होने के योग हैं। तंत्र-मंत्र में रुचि रहेगी। किसी राजनयिक का सहयोग मिल सकता है। लाभ के दरवाजे खुलेंगे। चोट व दुर्घटना से बचें। व्यस्तता रहेगी। थकान व कमजोरी महसूस होगी। विवाद से बचें। धन प्राप्ति होगी। प्रमाद न करें। 🐅सिंह पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बनेगा। स्वादिष्ट व्यंजनों का लाभ मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल रहेंगे। रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। काम में मन लगेगा। शेयर मार्केट में लाभ रहेगा। नौकरी में सुविधाएं बढ़ सकती हैं। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्‍य का ध्यान रखें। धन प्राप्ति सुगमता से होगी। 🙍‍♀️कन्या दु:खद सूचना मिल सकती है, धैर्य रखें। फालतू खर्च होगा। कुसंगति से बचें। बेकार की बातों पर ध्यान न दें। अपने काम पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी। लाभ होगा। ⚖️तुला भूले-बिसरे साथी तथा आगंतुकों के स्वागत तथा सम्मान पर व्यय होगा। आत्मसम्मान बना रहेगा। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। बड़ा काम करने का मन बनेगा। परिवार के सदस्यों की उन्नति के समाचार मिलेंगे। प्रसन्नता रहेगी। पारिवारिक सहयोग बना रहेगा। किसी व्यक्ति की बातों में न आएं, लाभ होगा। 🦂वृश्चिक यात्रा मनोनुकूल मनोरंजक तथा लाभप्रद रहेगी। भेंट व उपहार की प्राप्ति संभव है। व्यापार-व्यवसाय से मनोनुकूल लाभ होगा। घर-बाहर सफलता प्राप्त होगी। परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी। काम में लगन तथा उत्साह बने रहेंगे। मित्रों के साथ प्रसन्नतापूर्वक समय बीतेगा। 🏹धनु घर-बाहर प्रसन्नतादायक वातावरण रहेगा। नौकरी में चैन महसूस होगा। व्यापार से संतुष्टि रहेगी। संतान की चिंता रहेगी। प्रतिद्वंद्वी तथा शत्रु हानि पहुंचा सकते हैं। मित्रों का सहयोग व मार्गदर्शन प्राप्त होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। यात्रा की योजना बनेगी। प्रसन्नता रहेगी। 🐊मकर बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। यात्रा मनोरंजक रहेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। नौकरी में सुकून रहेगा। जल्दबाजी में कोई आवश्यक वस्तु गुम हो सकती है। कानूनी अड़चन आ सकती है। विवाद न करें। व्यवसाय ठीक चलेगा। घर-बाहर प्रसन्नता बनी रहेगी। 🍯कुंभ नई योजना लागू करने का श्रेष्ठ समय है। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। सामाजिक कार्य सफल रहेंगे। मान-सम्मान मिलेगा। कार्यसिद्धि होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। घर-बाहर प्रसन्नता का माहौल रहेगा। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। बड़ा कार्य करने का मन बनेगा। सफलता के साधन जुटेंगे। जोखिम न उठाएं। 🐟मीन स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। बनते कामों में विघ्न आएंगे। चिंता तथा तनाव रहेंगे। जीवनसाथी से सामंजस्य बैठाएं। फालतू खर्च होगा। कुसंगति से बचें। बेवजह लोगों से मनमुटाव हो सकता है। बेकार की बातों पर ध्यान न दें। आय में निश्चितता रहेगी। मित्रों का सहयोग मिलेगा। जल्दबाजी न करें। 🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏 🌺🌺🌺🌺🙏🌺🌺🌺🌺

+61 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 91 शेयर
Arun Kumar Sharma Mar 1, 2021

पुण्य लाभ के लिए इस पंचांग को औरो को भी अवश्य भेजिये🙏🏻 🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞 ⛅ *दिनांक 01 मार्च 2021* ⛅ *दिन - सोमवार* ⛅ *विक्रम संवत - 2077* ⛅ *शक संवत - 1942* ⛅ *अयन - उत्तरायण* ⛅ *ऋतु - वसंत* ⛅ *मास - फाल्गुन (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - माघ)* ⛅ *पक्ष - कृष्ण* ⛅ *तिथि - द्वितीया सुबह 08:35 तक तत्पश्चात तृतीया* ⛅ *नक्षत्र - उत्तराफाल्गुनी सुबह 07:37 तक तत्पश्चात हस्त* ⛅ *योग - शूल दोपहर 12:56 तक तत्पश्चात गण्ड* ⛅ *राहुकाल - सुबह 08:27 से सुबह 09:55 तक* ⛅ *सूर्योदय - 07:00* ⛅ *सूर्यास्त - 18:41* (सूर्योदय और सूर्यास्त के समय मे जिलेवार अंतर संभव है) ⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में* ⛅ *व्रत पर्व विवरण - तृतीया क्षय तिथि* 💥 *विशेष - द्वितीया को बृहती (छोटा बैंगन या कटेहरी) खाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *विघ्नों और मुसीबते दूर करने के लिए* 🌷 👉 *02 मार्च, मंगलवार को संकष्ट चतुर्थी (चन्द्रोदय रात्रि 09:58)* 🙏🏻 *शिव पुराण में आता हैं कि हर महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी ( पूनम के बाद की ) के दिन सुबह में गणपतिजी का पूजन करें और रात को चन्द्रमा में गणपतिजी की भावना करके अर्घ्य दें और ये मंत्र बोलें :* 🌷 *ॐ गं गणपते नमः ।* 🌷 *ॐ सोमाय नमः । 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *मंगलवार चतुर्थी* 🌷 👉 *भारतीय समय के अनुसार 02 मार्च 2021 को (सूर्योदय से 03 मार्च प्रात: 03:00 तक) चतुर्थी है, इस महा योग पर अगर मंगल ग्रह देव के 21 नामों से सुमिरन करें और धरती पर अर्घ्य देकर प्रार्थना करें,शुभ संकल्प करें तो आप सकल ऋण से मुक्त हो सकते हैं..* *👉🏻मंगल देव के 21 नाम इस प्रकार हैं :-* 🌷 *1) ॐ मंगलाय नमः* 🌷 *2) ॐ भूमि पुत्राय नमः* 🌷 *3 ) ॐ ऋण हर्त्रे नमः* 🌷 *4) ॐ धन प्रदाय नमः* 🌷 *5 ) ॐ स्थिर आसनाय नमः* 🌷 *6) ॐ महा कायाय नमः* 🌷 *7) ॐ सर्व कामार्थ साधकाय नमः* 🌷 *8) ॐ लोहिताय नमः* 🌷 *9) ॐ लोहिताक्षाय नमः* 🌷 *10) ॐ साम गानाम कृपा करे नमः* 🌷 *11) ॐ धरात्मजाय नमः* 🌷 *12) ॐ भुजाय नमः* 🌷 *13) ॐ भौमाय नमः* 🌷 *14) ॐ भुमिजाय नमः* 🌷 *15) ॐ भूमि नन्दनाय नमः* 🌷 *16) ॐ अंगारकाय नमः* 🌷 *17) ॐ यमाय नमः* 🌷 *18) ॐ सर्व रोग प्रहाराकाय नमः* 🌷 *19) ॐ वृष्टि कर्ते नमः* 🌷 *20) ॐ वृष्टि हराते नमः* 🌷 *21) ॐ सर्व कामा फल प्रदाय नमः* 🙏 *ये 21 मन्त्र से भगवान मंगल देव को नमन करें ..फिर धरती पर अर्घ्य देना चाहिए..अर्घ्य देते समय ये मन्त्र बोले :-* 🌷 *भूमि पुत्रो महा तेजा* 🌷 *कुमारो रक्त वस्त्रका* 🌷 *ग्रहणअर्घ्यं मया दत्तम* 🌷 *ऋणम शांतिम प्रयाक्ष्मे* 🙏 *हे भूमि पुत्र!..महा क्यातेजस्वी,रक्त वस्त्र धारण करने वाले देव मेरा अर्घ्य स्वीकार करो और मुझे ऋण से शांति प्राप्त कराओ..* पंचक 11 मार्च प्रात: 9.19 बजे से 16 मार्च प्रात: 4.45 बजे तक 7 अप्रैल दोपहर 3 बजे से 12 अप्रैल प्रात: 11.30 बजे तक जया एकादशी मंगलवार, 23 फरवरी 2021 विजया एकादशी मंगलवार, 09 मार्च 2021 आमलकी एकादशी गुरुवार, 25 मार्च 2021 24 फरवरी: प्रदोष व्रत 10 मार्च: प्रदोष व्रत 26 मार्च: प्रदोष व्रत माघ पूर्णिमा 27 फरवरी, शनिवार फाल्गुन पूर्णिमा 28 मार्च, रविवार फाल्गुनी अमावस्या- शनिवार, 13 मार्च 2021. *🌷मांगलिक * सर्वप्रथम यह जानना आवश्यक है कि ‘मांगलिक’ का सही अर्थ क्या है और यह हमारे जीवन को कैसे प्रभावित करता है l वास्तव में किसी भी कुण्डली में ‘मांगलिक’ एक दोष नहीं है अपितु योग माना जाता है l परन्तु बहुत से ज्योतिषी ‘मांगलिक दोष’ कहकर लोगों के मनों को डर और वहम से भर देते हैं l यदि मांगलिक के बारे में सही ढंग से पढ़ा और समझा जाये तो पता चलेगा कि ‘मांगलिक’ होना कोई दुःख वाली बात नहीं है l जब किसी माता-पिता को पता चलता है कि उनका पुत्र या पुत्री मांगलिक है, तो वें परेशान होने लगते हैं और डर जाते हैं l प्रत्येक व्यक्ति यह बात अवश्य जानना चाहता है कि इस मांगलिक योग को केवल विवाह के समय ही क्यों ध्यान में रखा जाता है l इसलिए इस बारे में विस्तारपूर्वक बात करना आवश्यक है l कुण्डली में मांगलिक योग मंगल ग्रह की स्थित से ही देखा जाता है प्रत्येक व्यक्ति यह जानता है कि मंगल ग्रह मानव के शरीर का प्रतीक माना जाता है और विवाह के सम्बन्ध में मानव शरीर की मुख्य भूमिका होती है क्यूंकि विवाह वह संस्था है जो हमारे शरीर की आवश्यकताओं को पूरा करता है और भावी पीढ़ियों के जन्म में सहायक होता है और इन दोनों कार्यों के लिए स्वस्थ शरीर होना आवश्यक है I प्रत्येक व्यक्ति को अपना जीवन सम्पूर्ण बनाने के लिए एक साथी की आवश्यकता होती है I वास्तव में मांगलिक योग के बारे में न तो – ऋगवेंद – युजर्वेद, और न ही – अथर्व वेंद में कुछ लिखा है l मांगलिक योग के बारे में इन वेंद पुस्तकों की रचना के बाद ही लिखा गया है l इस योग के बारे में ‘फलित – ज्योतिष’, फलित – मरतुण्ड’ तथा ‘महुर्त – चिंतामड़ी’ में विवरण मिलता है l मांगलिक को समझने से पहले हमें मंगल ग्रह के बारे में समझना होगा l मंगल ग्रह: मूल त्रिकोण राशि : मेष उच्च राशि : मकर नीच राशि : कर्क रत्न : मूँगा जात : क्षत्रिय तत्व : अग्नि रंग : लाल पूर्ण का समय : दोपहर मित्र ग्रह : सूर्य, चंद्र, बृहस्पति सामान्य ग्रह : शुक्र शत्रु ग्रह : बुध, शनि, राहु, केतु दृष्टियां : 4th, 7th और 8th अवस्था : युवा स्वभाव : क्रोधी कारक : जमीन, छोटा भाई इष्ट देव : बजरंग बलि, शिव जी मंगल ग्रह का लिंग : पुरुष धातु : तांबा, कांस्य, सोना दान-पुण्य की वस्तुए : ब्राउन शुगर, लाल कपडा, लाल फल, घी वैदिक मंत्र : ॐ भौमाय नमः’ तथा हनुमान चालीसा का जाप एक राशि में भ्रमण समय : 45 दिवस मांगलिक योग : यदि मंगल ग्रह कुण्डली के (प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम या बारहवें) भाव में पड़ा हो तो वह कुण्डली मांगलिक मानी जाती है l मंगल – प्रथम (1st) भाव में : यदि मंगल ग्रह कुण्डली के प्रथम भाव या लग्न भाव में पड़ा हो तो वह कुण्डली मांगलिक मानी जाती हैं l प्रथम भाव में स्थित मंगल जातक के स्वभाव को उग्र बनाता है l जातक ऊर्जा तथा गुस्से से भरपूर होता है l जातक अपनी माता के लिए परेशानी उत्पन्न करता है l जातक और उसकी माता, दोनों ही एक – दूसरे को नहीं समझते हैं l दोनों छोटी – छोटी बातों पर झगड़ते हैं l जातक को जीवन में अपनी जमीन – जायदाद बनाने में बहुत देरी होती है l अलगाव वाले झुकाव के कारण मंगल ग्रह जातक के शारीरिक – सुख भोगने में विघ्न उत्पन्न करते हैं l जातक के विवाह में देरी होती है l मंगल देवता स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं उत्पन्न करते हैं l मंगल देवता जातक को जिद्दी बनाते हैं l जिन जातको के लग्न में मंगल होता है, उनके विचार अपने जीवन साथी से नहीं मिलते हैं l जीवन में अधिक समस्याएँ l वैवाहिक जीवन में बाधाएं l शरीर के लिए अच्छा नहीं माना जाता है l मंगल – चतुर्थ भाव में :- यदि कुण्डली के 4th (चतुर्थ) भाव में मंगल देवता स्थित हों तो, उस कुण्डली के जातक को मांगलिक माना जाता है l मंगल देवता माता के साथ रिश्ते में समस्याएँ उत्पन्न करते हैं l मंगल देवता जमीन – जायदाद खरीदने या बनाने में समस्या उत्पन्न करते हैं l मंगल देवता वाहन की खरीदारी में भी देरी उत्पन्न करते हैं l जातक का स्वभाव थोड़ा डरपोंक होता हैं l किसी के साथ भागीदारी में समस्या उत्पन्न होती है l जीवन साथी के साथ समस्या विवाह में समस्या कामकाज में समस्या जातक के व्यवहार में समस्या जीवन शैली में समस्या उत्पन्न मंगल – 7th (सप्तम) भाव में :- यदि कुण्डली के 7th (सप्तम) भाव में मंगल देवता स्थित हों तो, उस कुण्डली के जातक को मांगलिक माना जाता है l स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी जातक के दृष्टिकोण में समस्या जातक के व्यवहार में गड़बड़ी जातक का जिद्दी बनना जातक की वाणी – सम्बन्धी समस्या जातक की भाषा या बोलचाल में गड़बड़ धन सम्बन्धी समस्या, कहीं धन फसने का योग बन जाता है जातक का परिवार से दूर या अलग होना मंगल – 8th (अष्टम) भाव में :- यदि मंगल देवता कुण्डली के 8th (अष्टम) भाव में विराजमान हों तो जातक मांगलिक माना जाता है l यहाँ चाहे मंगल देवता का विवाह या वैवाहित जीवन से सम्बन्ध नहीं बनता, परन्तु मंगल का हमारे शरीर का प्रतीक होने के कारण यह इस सम्बन्ध में विशेष भूमिका निभाता है l विवाह में यदि शारीरिक आवश्यकता की पूर्ति नहीं होती है तो यह विवाह के सम्बन्ध में यह एक नकारात्मक बात हुई l यदि मंगल ग्रह आठवें भाव में स्थित हों तो दोनों में से एक जीवनसाथी की मृत्यु भी हों सकती है (यदि वह कुण्डली के मारक ग्रह हों तो) l मंगल बारहवें भाव में :- यदि मंगल देवता कुण्डली के 12th (बारहवें) भाव में विराजमान हों तो जातक मांगलिक माना जाता है क्यूंकि मंगल देवता की आठवीं दृष्टि 7th (सप्तम) भाव पर पड़ती है तथा बारहवां भाव शैया – सुख का भाव भी माना जाता है l वैवाहिक -सुख सम्बन्धी समस्या अनावश्यक खर्चे बढ़ना जातक का परिवार से विमुख हों जाता है स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या छोटे भाई – बहन से सम्बन्ध – विच्छेद तर्क – वितर्क की समस्या उत्पन्न होना जातक के व्यवहार में खराबी स्वास्थ्य में समस्या दुर्घटना बीमारी का कारण लम्बी बीमारी का कारण मुक़दमे सम्बन्धी समस्या विवाह होने में देरी होना भागीदारी में रुकावटें वैवाहिक जीवन में हलचल मचना मंगली – भंग योग अभी तक आपने जाना कि मंगल ग्रह से जातक कुण्डली के अनुसार मांगलिक कैसे होता है परन्तु यह बात ध्यान देने योग्य है कि मांगलिक – योग कुछ परिस्थियों के अनुसार भंग हों जाता है l परन्तु अल्प – ज्ञानी ज्योतिष एवं पंडित मांगलिक दोष का परिहार कैसे होता है जानते ही नहीं हैं और लोगों को गुमराह करते हैं l शास्त्रों में बताये गए मंगली – भंग योग की जानकारी लेकर आप पाएंगे कि कोई – कोई व्यक्ति ही मांगलिक होता है l किन – किन स्थितियों में जातक मंगली नहीं होता : 1 जामित्रे च यदा शौरि लग्ने बा हिबुके जथा l अष्टमे, द्वादशे चैव भौम दोषो न विद्यते ll (ज्योतिष सर्वस्या) अर्थात : यदि जन्म कुण्डली में लग्न में, चतुर्थ भाव में, सप्तम भाव में, अष्टम भाव में, द्वादश भाव में शनि देवता विराजमान हों, तो जातक का मंगली – भंग योग बनता है या हम कह सकते हैं कि वह जातक मंगली नहीं होता है l 2 अजे लग्ने व्यये चावें पाताले वृश्चिके कुजे l धूने मृगे करकिचाष्टौ भौम दोषो न विद्यते ll (मु० पारिजात) अर्थात : मेष राशि का मंगल लग्न में, वृश्चिक राशि का चतुर्थ भाव में, मकर राशि का सातवें, कर्क राशि का आठवें, धनु राशि का मंगल बारहवें स्थान में हो तो मंगली योग नहीं होता l 3 यदि मंगल किसी भी भाव में सूर्य से अस्त हो जाये तोह जातक मांगलिक नहीं होता क्यूंकि सूर्य से अस्त होने के कारण मंगल ग्रह की किरणे हमारे शरीर तक पहुँचती ही नहीं है l 4 यदि बृहस्पति देवता कुण्डली में कहीं से भी मंगल देवता पर दृष्टि डालें तो मंगल दोष का परिहार हों जाता है क्यूंकि बृहस्पति ग्रह सबसे शुभ ग्रह माना जाता है और उसकी किरणें या दृष्टि में मंगल के कुप्रभाव को सामान्य करने की क्षमता होती है l 5 यदि बृहस्पति मंगल के साथ युति में स्थित हो तो मंगल दोष का परिहार हों जाता है क्यूंकि बृहस्पति देवता की शुभता मंगल के कुप्रभाव को सामान्य कर देती है l 6 यदि मंगल बलयुक्त चन्द्रमा की युति में हो तो मंगल दोष का समाप्त हो जाता है क्यूंकि मंगल अग्नि तत्व का ग्रह है और चन्द्रमा जल तत्व वाला ग्रह है l जब ये दोनों ग्रह एक ही राशि में पड़े हों तो मंगल के कुप्रभाव सामान्य हो जाते हैं l 7 यदि कुण्डली में मंगल 0° या 29° पड़ा हो तो इसका अर्थ हुआ कि इस कुण्डली में मंगल किसी भी प्रकार का परिणाम देने में समर्थ नहीं है l संछेप में कहें तो मंगल – दोष कुण्डली में विद्यमान ही नहीं है l 8 यदि मंगल देवता राहु देवता के साथ युति बनाकर कुण्डली में विराजमान हो तो भी मंगल दोष का परिहार होता है क्यूंकि राहु देवता की मंगल देवता से अति शत्रुता के कारण मंगल के कुप्रभाव शान्त हो जाते हैं l 9 कुण्डली मिलान में यदि 28 गुण मिल जाएँ तब भी मांगलिक दोष का परिहार होता है l 10 यह बात अक्सर सुनने में आती है कि यदि लड़की मांगलिक है तो उसका विवाह मांगलिक लड़के के साथ ही होना चाहिए, परन्तु यह बात बिल्कुल गलत है क्यूंकि लड़की की कुण्डली में जिस भाव में मंगल पड़ा हो, लड़के की कुण्डली में उसी भाव में कोई पापी ग्रह पड़ा हो तो मांगलिक दोष का परिहार हो जाता है l 11 यदि सातवें भाव का स्वामी कुण्डली में कहीं से भी अपने भाव को देखे तो मांगलिक दोष का परिहार होता है क्यूंकि यदि कोई भी ग्रह अपने भाव को देखता है तो इसका अर्थ होता है कि वह अपने भाव की रक्षा करेगा l मेष आज अचानक से आपके घर किसी मेहमान का आगमन हो सकता है, लेकिन आप पूरे मन से उनका स्वागत करेंगे और आपके परिवार के सभी सदस्य उनकी आवभगत में व्यस्त नजर आएंगे। छोटे बच्चे मौज मस्ती करते दिखेंगे। यात्रा से आज आपको लाभ होगा। आज किसी उच्च अधिकारी से वाद-विवाद होने की आशंका है, लेकिन आपको इससे बचना होगा, नहीं तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है। विद्यार्थियों को परीक्षा में सफलता के लिए कठिन परिश्रम करना पड़ेगा। जीवन साथी से आज छोटे-मोटे नोकझोंक हो सकती है। वृष आज आप अपने जीवनसाथी के साथ मौज मस्ती व पार्टी में कुछ समय अवश्य बताएंगे।व्यपार में आपको सावधानी रखनी होगी, तभी लाभ मिलते देख रहे हैं। भौतिक सुख के साधनों में वृद्धि होगी और आपको उसके शुभ परिणाम प्राप्त होंगे। आप अपनी बात लोगों के समक्ष सुदृढ़ता से रख पाएंगे। आज पारिवारिक प्रॉपर्टी को लेकर आपके परिवार में वाद विवाद हो सकता है, लेकिन उसमें आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। पिताजी की सलाह से शाम के समय विवाद सुलझ जाएगा। विद्यार्थियों की कुछ नया करने की इच्छा जागृत होगी मिथुन जो लोग व्यापार करते हैं, तो उनका आज का दिन नई नई प्लानिंग करने में व्यतीत होगा। आपके कर्जो मे कमी आ सकती है और संतान पक्ष से पुर्ण सहयोग आज आपको प्राप्त होगा। आज आपकी किसी विपरीत लिंग के मित्र से कटुता हो सकती है, इसलिए सावधान रहें। विद्यार्थियों को नई विधा सीखने के अवसर प्राप्त होंगे, लेकिन आज आपको व्यर्थ के व्यय से बचना होगा, जो लोग रोजगार ढूंढ रहे हैं। उनको आज सुखद समाचार प्राप्त होगा। जीवनसाथी के लिए आज कोई उपहार खरीद सकते हैं। कर्क आज आपका शाम से लेकर रात तक का समय अध्यात्म के धार्मिक कार्यों मे व्यतीत होगा, जिसमें कुछ धन भी खर्च होगा, लेकिन आपके मन को प्रसन्नता प्राप्त होगी, जिससे आपके सम्मान में वृद्धि होगी। आपके सभी कार्य सिद्ध होंगे। जिनके बारे में आप बहुत लंबे समय से सोच रहे थे, वह आज पूरे होंगे। आज आपके भौतिक सुख व समृद्धि में वृद्धि होगी। आपके माता पिता का आशीर्वाद प्राप्त होगा। आज आप अपने भाई बहन को कोई सलाह दे सकते हैं, जो उनके लिए मददगार साबित होगी। प्रेम जीवन में प्रगाढ़ता आएगी। सिंह आज आपका शाम से लेकर रात तक का समय किसी राजनीतिक समारोह में व्यतीत होगा, जिससे आपके मन को सुकून महसूस होगा। कार्यक्षेत्र में भी माहौल आपके अनुकूल रहेगा। विरोधी प्रबल रहेंगे। बुद्धि विवेक से लिए गए निर्णय आपके लिए लाभदायक सिद्ध होंगे। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, जिससे भाग्य का सितारा चमकेगा। यदि आप नौकरी बदलने की सोच रहे हैं, तो ऐसा कर सकते हैं। आपके पिताजी की सेहत में आज कुछ गिरावट देखने को मिल सकती है। विद्यार्थियों को अपने गुरुजनों का आशीर्वाद मिलेगा। कन्या आज के दिन आपकी कुछ पिछली चल रही समस्याएं अंत होंगी। दुश्मनी के साथ-साथ आपके विवादों का भी अंत होगा, जिससे आप आनंदित हो उठेंगे। आपके परिवार में किसी मांगलिक कार्यक्रम का आयोजन हो सकता है। आप के खर्चे कम हो जाने से आपकी अर्थव्यवस्था में सुधार होगा। अच्छे वाहन का सुख भी आज आपको मिलता दिख रहा है। परिवार में किसी बात को लेकर आज बैर बढ़ सकता है। आपके सारे काम बन जाने से आपके सगे संबंधी आपसे ईर्ष्या कर सकते हैं, लेकिन परेशान ना हो क्योंकि वह आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकेंगे। जीवनसाथी की सलाह आपके पारिवारिक बिजनेस को आगे बढ़ाएगी। तुला आज का दिन नौकरी वाले जातकों के अधिकारों में वृद्धि का होगा। रिश्तेदारों की ओर से आपको किसी मामले में खुशखबरी प्राप्त होने की प्रशंसा बनी हुई है। व्यापार कर रहे लोगों के लिए आज जैसे मानो धन की वर्षा होगी। इससे आपके धन कोष में वृद्धि होगी और आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। आप अपने परिवार के सदस्यों के साथ किसी मांगलिक समारोह में जा सकते हैं। विद्यार्थियों को अपनी परीक्षा की तैयारी में अब जुटना होगा। यदि ऐसा नहीं किया तो, नुकसान उठाना पड़ सकता है। वृश्चिक आपके लिए आज का दिन उत्तम लाभकारी रहेगा। आज आपकी मुलाकात किसी ऐसे व्यक्ति से हो सकती है, जिससे मिलने के लिए आप काफी समय से सोच रहे थे, लेकिन मिल नहीं पा रहे थे। आज आपके लिए निकट या दूर की यात्रा के योग बनेंगे, जिससे परिवार के सदस्य काफी खुश नजर आएंगे। आपको खाने पीने के लिए उत्तम प्रकार के व्यंजन प्राप्त होंगे, लेकिन आपको अपने खान-पान पर नियंत्रण रखना होगा। यदि ऐसा नहीं किया, तो आपको पेट की समस्या हो सकती है। संतान के भविष्य कि आज आपको कुछ चिंता हो सकती है। धनु आज आपके व्यापार में नई योजनाएं फलीभूत होंगी, जो आगे चलकर आपको अत्यधिक धन लाभ पहुंचाएंगी, जिससे आपको भविष्य की चिंता कम होगी। आज आपको अपने भाई और बहनों का सुख व सहयोग प्राप्त होता दिख रहा है, जिससे मन में प्रसन्नता का भाव दौड़ेगा। आपका आत्मविश्वास सातवें चरम पर होगा। सायंकाल से लेकर रात तक का समय आप परिवार के सदस्यों के साथ किसी विशेष चर्चा में बिताएंगे। आज का दिन आपका काफी हद तक आध्यात्मिक व ज्ञान प्राप्त करने में बीतेगा और पूजा पाठ में आपकी रुचि बढ़ती दिखेगी। मकर आज आपको अपने धन के लेन-देन में सावधानी बरतनी होगी क्योंकि इसमें भाग्य आपका बिल्कुल साथ नहीं देगा। इस मामले में आपको किसी पर भरोसा नहीं करना होगा। इससे आपके पराक्रम में वृद्धि होगी, शत्रुओं का नाश होगा। मानसिक चिंता आपको परेशान कर सकती है और किसी वजह से आप बीमार भी हो सकते हैं। मौसम की मार भी आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है, इसलिए अपना ध्यान रखें। विद्यार्थियों की मेहनत रंग लाएगी जिससे परीक्षा में अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे। पारिवारिक बिजनेस में जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा। कुंभ आज का दिन आपके कानूनी कार्यों के लिए तो फलदायक रहेगा, जिन कार्य के झंझट में पड़े हुए थे वह आज पूरे होंगे। व्यापार के क्षेत्र में आज आप अपनी बात को दूसरों के सामने पूर्ण रूप से रख पाएंगे और लोग आपकी बात को मानेंगे, जिससे आपके मान सम्मान में वृद्धि होगी और शत्रु पक्ष लज्जित होगा। आपको किसी धार्मिक समारोह में जाने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। आप जीवनसाथी को कहीं घुमाने फिराने भी ले जा सकते हैं। मीन धार्मिक कार्यों में अत्यधिक रुचि नजर आएगी। आप अपने परिवार में कोई पूजा अर्चना भी करवा सकते हैं, जिससे परिवार के बड़े सदस्य व्यस्त नजर आएंगे। आज का दिन आपके लिए उत्तम रहेगा। विद्यार्थी गुरुओं की सेवा प्राप्त करके गुप्त विद्या ग्रहण करेंगे, लेकिन आपके स्वास्थ्य में आज कुछ गिरावट आ सकती है, इसलिए स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना होगा। आज आपको कहीं से रुके हुए धन की प्राप्ति होगी। संतान की ओर से आपको सफलता दायक समाचार सुनने को मिल सकता है, जिससे आपके मन में संतोष का भाव रहेगा। जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं दिनांक 1 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 1 होगा। आपका मूलांक सूर्य ग्रह के द्वारा संचालित होता है। आप अत्यंत महत्वाकांक्षी हैं। आपकी मानसिक शक्ति प्रबल है। आपको समझ पाना बेहद मुश्किल है। आप आशावादी होने के कारण हर स्थिति का सामना करने में सक्षम होते हैं। आप सौन्दर्यप्रेमी हैं। आपमें सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला आपका आत्मविश्वास है। इसकी वजह से आप सहज ही महफिलों में छा जाते हैं। आप शाही प्रवृत्ति के हैं। आपको किसी और का शासन पसंद नहीं है। आप साहसी और जिज्ञासु हैं। शुभ दिनांक : 1, 10, 19, 28 शुभ अंक : 1, 10, 19, 28, 37, 46, 55, 64, 73, 82 शुभ वर्ष : 2026, 2044, 2053, 2062 ईष्टदेव : सूर्य उपासना तथा मां गायत्री शुभ रंग : लाल, केसरिया, क्रीम कैसा रहेगा यह वर्ष पदोन्नति के योग हैं। बेरोजगारों के लिए भी खुशखबर है इस वर्ष आपकी मनोकामना पूरी होगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम रहेगा। पारिवारिक मामलों में महत्वपूर्ण कार्य होंगे। अविवाहितों के लिए सुखद स्थिति बन रही है। विवाह के योग बनेंगे। नौकरीपेशा के लिए समय उत्तम हैं। यह वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद रहेगा। अधूरे कार्यों में सफलता मिलेगी।

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Arun Kumar Sharma Mar 1, 2021

*आज का पञ्चाङ्ग* =============== *शनिवार, २७ फरवरी २०२१* ===================== सूर्योदय: ०६:५५ सूर्यास्त: ०६:१५ चन्द्रोदय: १८:१९ चन्द्रास्त: ०६:५७ अयन उत्तराणायने (दक्षिणगोलीय) ऋतु: शिशिर कलियुगाब्दः ५१२२ शक सम्वत: १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: २०७७ (प्रमादी) मास माघ पक्ष शुक्ल तिथि पूर्णिमा (१३:४६ तक) नक्षत्र मघा (११:१८ तक) योग सुकर्मा (१९:३८ तक) प्रथम करण बव (१३:४६ तक) द्वितीय करण बालव (२४:३५ तक) *॥गोचर ग्रहा:॥* ============== सूर्य कुम्भ चंद्र सिंह मंगल वृषभ (उदित, पूर्व, मार्गी) बुध मकर (उदित, पश्चिम, मार्गी) गुरु मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) शुक्र कुम्भ (अस्त, पूर्व, मार्गी) शनि मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु वृष केतु वृश्चिक *शुभाशुभ मुहूर्त विचार* ================ अभिजित मुहूर्त १२:०७ से १२:५३ अमृत काल ०९:०२ से १०:३३ विजय मुहूर्त १४:२५ से १५:११ गोधूलि मुहूर्त १८:०३ से १८:२७ निशिता मुहूर्त २४:०४+ से २४:५४+ राहुकाल ०९:३७ से ११:०४ राहुवास पूर्व यमगण्ड १३:५६ से १५:२२ होमाहुति चन्द्र दिशाशूल पूर्व अग्निवास पृथ्वी चन्द्रवास पूर्व *चौघड़िया विचार* ============== ॥दिन का चौघड़िया॥ १ - काल २ - शुभ ३ - रोग ४ - उद्वेग ५ - चर ६ - लाभ ७ - अमृत ८ - काल ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - लाभ २ - उद्वेग ३ - शुभ ४ - अमृत ५ - चर ६ - रोग ७ - काल ८ - लाभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। *शुभ यात्रा दिशा* ============ पूर्व-उत्तर (वाय विन्डिंग अथवा तिल मिश्रित चावल का सेवन कर यात्रा करें) *तिथि विशेष* =========== माघी स्नान-दान पूर्णिमा, गुरु रविदास का ६०८ वा जन्म, श्री ललिता ज०, माघ स्नान पूर्ण आदि। *आज जन्मे शिशुओं का नामकरण* ============================ आज ११:१८ तक जन्मे शिशुओ का नाम मघा नक्षत्र के चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (में) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय चरण अनुसार क्रमश (मो, टा, टी) नामाक्षर से रखना शास्त्रसम्मत है। *उदय-लग्न मुहूर्त* ============== कुम्भ ३०:०५+ बजे से ०७:३१ मीन - ०७:३१ से ०८:५५ मेष - ०८:५५ से १०:२९ वृषभ - १०:२९ से १२:२३ मिथुन - १२:२३ से १४:३८ कर्क - १४:३८ से १७:०० सिंह - १७:०० से १९:१९ कन्या - १९:१९ से २१:३७ तुला - २१:३७ से २३:५७ वृश्चिक - २३:५७ से २६:१७+ धनु - २६:१७+ से २८:२०+ मकर - २८:२०+ से ३०:०२+ *पञ्चक रहित मुहूर्त* ================ शुभ मुहूर्त - ०६:४५ से ०७:३१ रोग पञ्चक - ०७:३१ से ०८:५५ चोर पञ्चक - ०८:५५ से १०:२९ शुभ मुहूर्त - १०:२९ से ११:१८ रोग पञ्चक - ११:१८ से १२:२३ शुभ मुहूर्त - १२:२३ से १३:४६ मृत्यु पञ्चक - १३:४६ से १४:३८ अग्नि पञ्चक - १४:३८ से १७:०० शुभ मुहूर्त - १७:०० से १९:१९ रज पञ्चक - १९:१९ से २१:३७ शुभ मुहूर्त - २१:३७ से २३:५७ चोर पञ्चक - २३:५७ से २६:१७+ शुभ मुहूर्त - २६:१७+ से २८:२०+ रोग पञ्चक - २८:२०+ से ३०:०२+ शुभ मुहूर्त - ३०:०२+ से ३०:४४ *आज का राशिफल* ============== मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज परिस्थिति में थोड़ा सुधार अनुभव करेंगे लेकिन कामना पूर्ति में आज भी कोई न कोई अड़चन बनी रहेगी। मध्यान से पहले कोई भी महत्तवपूर्ण निर्णय ना ले अन्यथा अधूरा रह सकता है मध्यान बाद मन पर चंचलता हावी रहेगी इसलिये बिना किसी अनुभवी की सलाह धन अथवा पैतृक सम्बंधित कोई कार्य ना करे। व्यावसायिक अथवा सामाजिक क्षेत्र पर लोग आपको नीचा दिखाने का प्रयास करेंगे इनको अनदेखा करना ही बेहतर रहेगा अन्यथा मन मे नकारात्मकता जन्म लेने से आगे के लिये हानिकारक रहेगा। संध्या से पहले का समय राहत भरा रहेगा घर का वातावरण आंनदित रहेगा घर मे पूजा पाठ के आयोजन होंगे। स्वास्थ्य आज ठीक रहेगा फिर भी ठंडी वस्तु के सेवन से परहेज करें। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज के दिन भी आप अपने ही स्वभाव के कारण घर मे अशांति का कारण बनेंगे। घर मे स्त्री वर्ग से सावधान रहें आपकी छोटी-छोटी बातों को भी बक्सने वाली नही। मध्यान तक का समय व्यर्थ बोलने की आदत के चलते अशांत होगा बाद में इसका पछतावा भी होगा। दोपहर के बाद से स्थिति सामान्य होने लगेगी कार्य व्यवसाय में भी प्रतिस्पर्धियों को पछाड़ लाभ के सौदे अपने हक में करेंगे इसके लिये काफी माथा पच्ची भी करनी पड़ेगी। घर के सदस्यों को मनाने के लिये अधिक खर्च करना पड़ेगा यही प्रायश्चित करने का मौका भी रहेगा हाथ से जाने ना दे। संध्या बाद सभी प्रकार से सुखों की प्राप्ती होने पर मन आनंद से भरा रहेगा लेकिन स्वयं अथवा परिजन की सेहत में अकस्मात खराबी आने पर रंग में भंग की स्थिति बनेगी। आज खर्च करने में मितव्ययता बरते अन्यथा बाद में आर्थिक उलझने हो सकती है। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज के दिन आपका व्यवहार ढुलमुल रहेगा मध्यान तक आप प्रत्येक कार्य मे आलस्य दिखाएंगे लेकिन बेमन से घरेलू कार्य करने ही पड़ेंगे। घर एव बाहर साहस का परिचय केवल बातो में ही देंगे लेकिन आवश्यकता के समय टालमटोल करेंगे। आज अधिक परिश्रम वाले कार्यो से बचने का प्रयास करेंगे फिर भी दोपहर तक किसी न किसी कारण से मेहनत करनी ही पड़ेगी। दोपहर बाद सेहत में नरमी आने लगेगी इसलिये आवश्यक कार्य पहले ही कर लें। कार्य व्यवसाय से परिश्रम के बाद ही लाभ की प्राप्ती होगी वह भी आज की जरूरत से कम ही। घर मे पति-पत्नी से वादाखिलाफी अथवा अन्य कारणों से कलह हो सकती है। संध्या बाद सेहत ठीक ना होने पर भी मनोरंजन के अवसर हाथ से नही जाने देंगे रात्रि के समय शरिरीक शिथिलता अधिक बनेगी सतर्क रहें। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज आप बीते कल की तुलना में कुछ संतोषि रहेंगे लेकिन महिला वर्ग इसके विपरीत अन्य लोगो से स्वयं एवं परिवार की तुलना करने पर कुछ समय के लिये उदास रहेंगी। दिन के पूर्वार्ध से मध्यान तक घरेलू कार्यो की व्यस्तता के चलते अन्य कार्यो में फेरबदल करनी पड़ेगी। कार्य क्षेत्र पर भी आज विलंब होगा लेकिन इसका ज्यादा प्रभाव नही पड़ेगा। व्यवसाय में दोपहर के बाद अकस्मात उछाल आने से कई दिनों से अटकी मनोकामना की पूर्ति कर सकेंगे लेकिन दैनिक खर्चो के अतिरिक्त खर्च आने से बचत संभव नही होगी। घर मे पति पत्नी के बीच भी आर्थिक विषय एवं मन मर्जी कलह का कारण बनेंगे। संध्या बाद का समय पिछले कई दिनों की तुलना में बेहतर रहेगा सुख में वृद्धि होगी। वाहन अथवा अन्य उपकरणों से दुर्घटना के योग है सावधान रहें। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज के दिन आपके व्यक्तित्त्व में निखार रहेगा लेकिन स्वभाव का जिद्दीपन अन्यलोगों विशेषकर परिजनों के लिये भारी पड़ेगा। जाने अनजाने में कोई अनैतिक कर्म करेंगे जिसे बाद में परिजनों को भुगतना पड़ेगा जिससे घर का शांत माहौल भी खराब होगा। कार्य व्यवसाय से लाभ की सम्भवना कम ही है आपके हिस्से का लाभ किसी अन्य के पक्ष में जा सकता है सतर्क रहें धन लाभ असमय और अकस्मात होने की सम्भवना है लापरवाही करी तो हाथ नही लगेगा। व्यवसाय में निवेश आज भूल से भी ना करें हानि ही होगी। घर मे कुछ समय को छोड़ उत्सव का वातावरण रहेगा। काम वासना अधिक रहेगी लेकिन ध्यान रहे कोई गलत काम सभी प्रकार से नुकसानदेह होगा। यात्रा अतिआवश्यक होने पर ही करें। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन कुछ कार्यो को छोड़ व्यर्थ की भागदौड़ में बीतेगा घरेलू कार्यो को लेकर किसी से बहस होकर दिन का आरंभ होगा मध्यान तक इसका प्रभाव मस्तिष्क पर रहेगा इसके बाद ही स्थिति सामान्य हो पायेगी। आज आपके सामाजिक दायरे में वृद्धि होगी लेकिन दुष्ट प्रकृति के लोगो की संगत से बचे अन्यथा स्वयं के साथ परिजनों का भी अपमान करवाएंगे। महिलाए को आज अन्य दिनों की तुलना में अधिक कार्य करना पड़ेगा आवश्यकता के समय सहयोग ना मिलने पर मन मे झुंझलाहट आएगी जिससे घर मे थोड़ी देर के लिये अशांति होगी। दोपहर से लेकर संध्या बाद तक का समय मनोरंजन में बीतेगा खर्च भी आज आवश्यकता से अधिक करेंगे बाद में ग्लानि होगी। सेहत संध्या बाद अस्थिर बनेगी। धन लाभ अल्प होगा। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज का दिन आपके लिये आरामदायक रहेगा लेकिन आज बेतुकी बयानबाजी से बचना होगा अन्यथा बैठे बिठाये अपमानित हो सकते है। दिन का आरंभ में सुस्ती रहेगी लेकिन घर मे आवश्यक कार्य होने के कारण बेमन से काम करना पड़ेगा। मनोरंजन को छोड़ अन्य किसी भी कार्य के लिये तैयार नही होंगे कार्य करते वक्त किसी के टोकने अथवा इच्छा पूर्ति में बाधा पहुचाने पर एक दम से उग्र हो जाएंगे। कार्य व्यवसाय में रुचि कम रहेगी फलस्वरूप सीमित आय से संतोष करना पड़ेगा। नौकरी पेशाओ को आज किसी न किसी की सुननी पड़ेगी। भाई बंधुओ को प्रसन्न देख मन मे ईर्ष्या बनेगी। सेहत सामान्य रहेगी जोखिम से बचें। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज आप किसी भी कार्य को लेकर गंभीर नही रहेंगे दिन के आरंभ से ही आलस्य और सुस्ती बनी रहेगी मध्यान बाद किसी आवश्यक कार्य को लेकर पिता अथवा घर के अन्य सदस्य से कहासुनी हो सकती है। मध्यान बाद का अधिकांश समय इधर उधर की करने में खराब करेंगे। कार्य व्यवसाय से आज ज्यादा उम्मीद ना रखे मध्यान तक आलस्य की भेंट चाहेगा इसके बाद जल्दबाजी में कार्य करेंगे फिर भी आवश्यकता अनुसार धन मिल ही जायेगा। संध्या के समय सेहत में दोबारा से नरमी बनेगी लेकिन अनदेखी करेंगे धार्मिक भावो में वृद्धि होगी धार्मिक क्षेत्र की यात्रा करेंगे। रात्रि का समय आनंद मनोरंजन में बीतेगा खर्च आज अनियंत्रित रहेंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज आप जिस भी कार्य को करना आरंभ करेंगे या करने का विचार करेंगे उसमे कोई ना कोई बिना मांगे अपनी राय देगा जिससे कुछ समय के लिये दुविधा में पड़ेंगे। मध्यान तक आलस्य के कारण कार्यो की गति धीमी रहेगी इसके बाद भी कार्य व्यवसाय में रुचि होने पर भी किसी न किसी के कारण ठीक से ध्यान नही दे पाएंगे धन की आमद आज कार्य समय से करने पर भी विलंब से अथवा आगे के लिये टलेगी ऊपर से खर्च बढ़ने से आर्थिक संतुलन गड़बड़ायेगा। घर मे वातावरण पल पल में बदलेगा सहयोग की कमी के चलते अव्यवस्था बढ़ेगी। पिता अथवा किसी वृद्ध के स्वास्थ्य के ऊपर खर्च भी करना पड़ेगा लेकिन भविष्य के लिये उत्तम मार्गदर्शन भी मिलेगा। लम्बी यात्रा की योजना आज मन मे ही रहने की संभावना है फिर भी छोटी मोटी पर्यटन अथवा धार्मिक यात्रा अवश्य होगी। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज के दिन आप कोई नापसंद कार्य करने पर गुस्से में रहेंगे लेकिन कार्य क्षेत्र पर अनुकूल वातावरण भी मिलते रहेंगे। दिन का पूर्वार्ध धीमी गति से कार्य करने पर व्यर्थ जाएगा इसके बाद कई दिनों से लटके कार्यो को पूर्ण करने में परेशानी आएगी फिर भी पारिवारिक सदस्य का सहयोग मिलने से धीरे धीरे पूर्ण कर लेंगे। व्यवसाय से आज आशा के समय लाभ नही होगा जिस समय आराम अथवा अन्य कार्यो में व्यस्त होंगे तभी अकस्मात काम मिलने से दुविधा होगी लेकिन जोड़तोड़ कर इससे कुछ लाभ ही कमाएंगे। पिता को छोड़ घर के अन्य सदस्य आपसे प्रसन्न ही रहेंगे। घरेलू खर्च में आज वृद्धि होने से बजट प्रभावित होगा। मित्र परिचितों से उपहार स्नेह का आदान-प्रदान होगा। सेहत आज ठीक रहेगी वर्जित कार्यो से बचे। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन आपको बैठे बिठाये आकस्मिक लाभ की प्राप्ति होगी चाहे किसी भी रूप में हो। दिन का पहला भाग धीमी दिनचार्य के कारण खराब होगा लेकिन इसके बाद का अधिकांश समय अपने मन की ही करेंगे जिससे कही ना कही परेशानी भी होगी। आज भूमि भवन के रखरखाव अथवा अन्य प्रकार से अचल संपत्ति के उर खर्च करना पड़ेगा। घर का वातावरण धार्मिक रहेगा मित्र रिश्तेदारों के आगमन से उत्साह बढेगा। कार्य व्यवसाय में आज ज्यादा समय नही दे पाएंगे फिर भी थोड़े समय मे ही खर्च निकाल लेंगे। महत्तवपूर्ण कार्यो को आगे के लिये ना टाले अन्यथा पूर्ण होने में संदेह रहेगा। संध्या के समय उत्तम भोजन वाहन सुख मिलेगा लेकिन किसी न किसी से कलह भी हो सकती है वाणी का प्रयोग संतुलित करें। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज के दिन परिजनों का व्यवहार आपके स्वभाव पर निर्भर रहेगा इसलिये सनकी मिजाज त्याग मिलनसार बने अन्यथा आज सुख चैन से नही बैठ पाएंगे। आज कार्य क्षेत्र के साथ घरेलू कार्य भी सर पर आने से असमंजस में रहेंगे रूखा व्यवहार रहने पर सहयोग की आशा भी ना रखे। घर मे पति पत्नी का स्वभाव पल पल में बदलने से कलह जैसी स्थिति बनेगी। कार्य क्षेत्र से आशा तो काफी रहेगी लेकिन पुर्व में कई गलतियों के कारण आज पश्चाताप होगा धन की आमद कम होने पर खर्च की पूर्ति भी नही कर पाएंगे। दोपहर बाद का समय अत्यंत खर्चीला रहेगा घरेलू आवश्यकताओं की पूर्ति में टालमटोल ना करें अन्यथा झगड़ा हो सकता। माता को छोड़ अन्य किसी से विचार मेल नही खाएंगे। स्वास्थ्य आज सामान्य रहेगा।

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB