Arpan Shukla
Arpan Shukla Dec 29, 2016

जय हो बाबा आनंदेश्वर जी महाराज जी की।।।

जय हो बाबा आनंदेश्वर जी महाराज जी की।।।
जय हो बाबा आनंदेश्वर जी महाराज जी की।।।
जय हो बाबा आनंदेश्वर जी महाराज जी की।।।
जय हो बाबा आनंदेश्वर जी महाराज जी की।।।

जय हो बाबा आनंदेश्वर जी महाराज जी की।।।

+20 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Shanti Pathak Aug 3, 2020

+81 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 27 शेयर

क्योंकि Middle Class वाले हैं हम !!! ना हम अमीर हैं, ना हम ग़रीब हैं, पर दोनो के ही क़रीब हैं। Upper Class की बराबरी करने में लगा देते हैं दम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। जब भी बच्चे के कपड़े लेने जाते हैं, तो एक दो नम्बर बड़े ही लेकर आते हैं। 2-3 साल तो चलें कम से कम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। जो भी subsidy, राहत package आते हैं, हम तक आते आते सब ख़त्म हो जाते हैं। फिर भी ख़ुद को संभाले हैं हम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। अब सरकार से तो तब गिला हो, जब पिछली से कुछ मिला हो। अब तो उम्मीदें भी तोड़ चुकी हैं दम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। Tax पूरा हम चुकाते हैं, फिर भी ख़ुद को ख़ाली हाथ ही पाते हैं। पहली तारीख़ का इंतज़ार रहता है हर दम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। ऐसा कहा जाता है, कि money plant से घर में पैसा आता है। लगाके उसे, उम्मीद को पाले हैं हम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। Savings भी करते हैं उसमें, जो कमाते हैं, ज़िंदगी भर adjust और compromise ही करते रह जाते हैं। फिर भी ख़ुश हैं, दिलवाले हैं हम, क्योंकि Middle Class वाले हैं हम। क्योंकि Middle Class वाले हैं हम।👏👏👏👏👏👏👏👏👏जब अमिताभ बच्चन की ABCL ने दिवाला निकाला तो हालात ये हो गए थे कि जलसा,प्रतीक्षा, बड़ी बड़ी लक्जरी गाड़िया सब बिकने की कगार पर आ गए थे तब अमर सिंह वो शक्श था जिसने अमिताभ को यशराज की फ़िल्म मोहब्बते दिलवाई,उसके बाद जुगाड़ लगाकर केबीसी का होस्ट बनाया और उनकी वजह से अमिताभ का डूबा हुआ स्टारडम फिर आसमान की ऊंचाइयां छूने लगा लेकिन परसो वही अमरसिंह केंसर जैसी बीमारी से लड़ते हुए इस दुनिया को अलविदा कह गए लेकिन दिन में 10-10 फालतू ओर बेतुके ट्वीट पेलने वाले अमिताभ से उनके लिए श्रधाजली में एक ट्वीट नही किया गया,ऐसे अहसान फरामोश को हम सदी का महानायक कहते है 🌹🌹🌹🔢🔢🔢इसी तरह निर्मल और स्वच्छ रहे माँ गंगा 🙏🙏🙏 प्रत्येक व्यक्ति का कर्तव्य है माँ गंगा हरिद्वार में किसी भी प्रकार की पूजन सामग्री, पन्नी, पाउच लेकर न जाए। गंदे कपड़े बाहर धोए तभी सभी गंगा भक्तों को पूजा का लाभ मिलेगा। मां गंगा की पूजा के बहाने वहां जाकर गंदगी न करें। हर ग्रामवासी जिले एवं प्रदेश, देशवासी का कर्तव्य है कि जल सरिताओं को पवित्र रखने का हर संभव प्रयास करें | ©ब्रहमा घाट हरिद्वार सेवक भरत व्यास बांगा हिसार

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 12 शेयर
Gopal Jalan Aug 3, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Durgesh Aug 3, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Malti Bansal Aug 3, 2020

+8 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Mahesh Malhotra Aug 3, 2020

+29 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Amar Singh Aug 3, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Praveen Goutam Aug 3, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB