शुभ रविवार जी, देशभक्ति गीत के साथ एक प्रेरणादायक कहानी

भगवान बचाएगा !
एक प्रेरणादायक कहानी,
पूरी जरूर पढ़े जी,

👉एक समय की बात है किसी गाँव में एक साधु रहता था, वह भगवान का बहुत बड़ा भक्त था और निरंतर एक पेड़ के नीचे बैठ कर तपस्या किया करता था ।

👉 उसका भागवान पर अटूट विश्वास था और गाँव वाले भी उसकी इज्ज़त करते थे।

👉एक बार गाँव में बहुत भीषण बाढ़ आ गई । चारों तरफ पानी ही पानी दिखाई देने लगा, सभी लोग अपनी जान बचाने के लिए ऊँचे स्थानों की तरफ बढ़ने लगे।

👉 जब लोगों ने देखा कि साधु महाराज अभी भी पेड़ के नीचे बैठे भगवान का नाम जप रहे हैं तो उन्हें यह जगह छोड़ने की सलाह दी।

👉पर साधु ने कहा-

” तुम लोग अपनी जान बचाओ मुझे तो मेरा भगवान बचाएगा!”

👉धीरे-धीरे पानी का स्तर बढ़ता गया , और पानी साधु के कमर तक आ पहुंचा , इतने में वहां से एक नाव गुजरी ।

👉 मल्लाह ने कहा- ” हे साधू महाराज आप इस नाव पर
सवार हो जाइए मैं आपको सुरक्षित स्थान तक
पहुंचा दूंगा । ”

👉 “नहीं, मुझे तुम्हारी मदद की आवश्यकता नहीं है , मुझे तो मेरा भगवान बचाएगा !!

👉“साधु ने उत्तर दिया.

नाव वाला चुप-चाप
वहां से चला गया.

👉 कुछ देर बाद बाढ़ और प्रचंड हो गयी , साधु ने पेड़ पर चढ़ना उचित समझा और वहां बैठ कर ईश्वर को याद करने लगा ।

👉 तभी अचानक उन्हें गड़गडाहत की आवाज़ सुनाई दी, एक हेलिकोप्टर उनकी
मदद के लिए आ पहुंचा,
बचाव दल ने एक रस्सी
लटकाई और साधु को उसे
जोर से पकड़ने का आग्रह किया।

👉 पर साधु फिर बोला-” मैं
इसे नहीं पकडूँगा, मुझे तो मेरा भगवान बचाएगा । ”

👉 उनकी हठ के आगे बचाव दल भी उन्हें लिए बगैर वहां से चला गया ।

👉 कुछ ही देर में पेड़ बाढ़ की धारा में बह गया और साधु की मृत्यु हो गयी ।

👉 मरने के बाद साधु महाराज स्वर्ग पहुंचे और भगवान से बोले - ” हे प्रभु
मैंने तुम्हारी पूरी लगन के साथ आराधना की… तपस्या की पर जब मैं पानी में डूब कर मर रहा था तब तुम मुझे बचाने नहीं आये, ऐसा क्यों प्रभु ?

👉 भगवान बोले , ” हे साधु महात्मा मै तुम्हारी रक्षा करने एक नहीं बल्कि तीन बार आया ,

👉पहला, ग्रामीणों के रूप में , दूसरा नाव वाले के रूप में , और तीसरा ,हेलीकाप्टर बचाव दल के रूप में. किन्तु तुम मेरे इन अवसरों को पहचान नहीं पाए । ”

~ भगवान बचाएगा !

👉 प्रेरणादायक कहानी पसंद है तो लायक कर अपनों को शेयर करें जी ।

+212 प्रतिक्रिया 38 कॉमेंट्स • 1635 शेयर

कामेंट्स

M.S.Chauhan Mar 4, 2018
@chandraprakashsoni बहुत अच्छा विचार धन्यवाद जी, जय श्री राधे कृष्ण जी की, शुभ प्रभात जी,

M.S.Chauhan Mar 4, 2018
@omkarsinghomkarsingh राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे जी,

M.S.Chauhan Mar 4, 2018
@trmadhavan आदरणीय सादर प्रणाम जी, शुभ प्रभात जी,

M.S.Chauhan Mar 4, 2018
@madhavraturi2 जय श्री राधे कृष्ण जी की, शुभ प्रभात जी,

M.S.Chauhan Mar 4, 2018
@happyhappy कहानी पसंद करने के लिए धन्यवाद जी, जय श्री राधे कृष्ण जी की, शुभ प्रभात जी,

gopal jalan Mar 27, 2020

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 52 शेयर
Manoj Kataria Mar 26, 2020

+31 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 69 शेयर
Geeta Sharma Mar 28, 2020

+205 प्रतिक्रिया 35 कॉमेंट्स • 85 शेयर

+21 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 14 शेयर
R.G.P.Bhardwaj Mar 27, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+4 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 14 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB