आशुतोष
आशुतोष Oct 19, 2020

माँ चंद्रघटा ********** देवी दुर्गा का तीसरा स्वरूप माँ चंद्रघंटा है, जिसका अर्थ है घंटी की तरह अर्धचंद्र। चंद्रघंटा को चंडिका और बहादुरी और साहस की देवी के रूप में भी जाना जाता है। इनका मंदिर वाराणसी में स्थित है। नवरात्रि के तीसरे दिन चंद्रघंटा का ध्यान। मस्तक पर है अर्ध चन्द्र, मंद मंद मुस्कान॥ दस हाथों में अस्त्र शस्त्र रखे खडग संग बांद। घंटे के शब्द से हरती दुष्ट के प्राण॥ सिंह वाहिनी दुर्गा का चमके सवर्ण शरीर। करती विपदा शान्ति हरे भक्त की पीर॥ मधुर वाणी को बोल कर सब को देती ज्ञान। जितने देवी देवता सभी करें सम्मान॥ अपने शांत सवभाव से सबका करती ध्यान। भव सागर में फँसा हूँ मैं, करो मेरा कल्याण॥ नवरात्रों की माँ, कृपा कर दो माँ। जय माँ चंद्रघंटा, जय माँ चंद्रघंटा॥

माँ चंद्रघटा
**********

देवी दुर्गा का तीसरा स्वरूप माँ चंद्रघंटा है, जिसका अर्थ है घंटी की तरह अर्धचंद्र। 
चंद्रघंटा को चंडिका और बहादुरी और साहस की देवी के रूप में भी जाना जाता है। इनका मंदिर वाराणसी में स्थित है।

नवरात्रि के तीसरे दिन चंद्रघंटा का ध्यान।
मस्तक पर है अर्ध चन्द्र, मंद मंद मुस्कान॥

दस हाथों में अस्त्र शस्त्र रखे खडग संग बांद।
घंटे के शब्द से हरती दुष्ट के प्राण॥

सिंह वाहिनी दुर्गा का चमके सवर्ण शरीर।
करती विपदा शान्ति हरे भक्त की पीर॥

मधुर वाणी को बोल कर सब को देती ज्ञान।
जितने देवी देवता सभी करें सम्मान॥

अपने शांत सवभाव से सबका करती ध्यान।
भव सागर में फँसा हूँ मैं, करो मेरा कल्याण॥

नवरात्रों की माँ, कृपा कर दो माँ।
जय माँ चंद्रघंटा, जय माँ चंद्रघंटा॥

+11 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
raadhe krishna Feb 25, 2021

+53 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+59 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 17 शेयर

+135 प्रतिक्रिया 21 कॉमेंट्स • 56 शेयर

+19 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 13 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+9 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Ramesh Kumar Shiwani Feb 25, 2021

+1 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 6 शेयर
Dinesh Singh Thakur Feb 25, 2021

+13 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Anilkumar Tailor Feb 25, 2021

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB