क्यों मनाएं हम श्राद्ध ?

क्यों मनाएं हम श्राद्ध ?

क्यों मनाएं हम श्राद्ध ???

जन्म एवं मृ्त्यु का रहस्य अत्यन्त गूढ है। वेदों में,दर्शन शास्त्रों में,उपनिषदों एवं पुराण आदि में हमारे पुर्वाचार्यों नें इस विषय पर विस्तृ्त विचार किया है। श्रीमदभागवत में भी स्पष्ठ रूप से बताया गया है कि जन्म लेने वाले की मृ्त्यु और मृ्त्यु को प्राप्त होने वाले का जन्म निश्चित है। भगवान श्री कृ्ष्ण ने स्वयं जन्म-मरण के चक्र को एक ध्रुव सत्य माना है।
मनुष्य योनि त्रिगुणात्मक है और इसमें जो गुण हो,उसके अनुसार ही उसका कर्म और स्वभाव निर्मित होता है। जिन मनुष्यों में सत्वगुण की प्रधानता रहती है--वे अपने आराध्य के प्रति श्रद्धा भाव रखते हुए,धर्म का आश्रय लिए जीवनपथ पर बढते चले जाते हैं। रजोगुण प्रधान मनुष्य भूत-प्रेत,पीरों-फकीरों के चक्कर उलझा रहता है और तमोगुणी व्यक्ति को तो भौतिक सुखों के अतिरिक्त कुछ ओर दिखाई ही नहीं देता। नास्तिक भाव का प्रादुर्भाव सिर्फ तमोगुणी व्यक्ति में ही होता है।
श्रीमदभागवत गीता भी कहती है----साथ ही पूर्वजन्म संबंधी अनेक बातें अनेक सामयिकों में भी यदा कदा पढने को मिल ही जाती है। जिसमें कि किसी मनुष्य को अपने पूर्वजन्म की बातों का स्मरण रहता है। इस प्रकार की एक घटना का प्रत्यक्षदर्शी या कहें कि भुक्तभोगी तो मैं स्वयं हूँ। ऎसी ही एक घटना मेरे परिवार में घट चुकी है,जिसके कि आज भी सैकंडों की संख्या में प्रत्यक्षदर्शी मौजूद हैं। खैर...कभी समय मिला तो उस घटना के बारे में फिर कभी लिखूँगा। बहरहाल हम मूल विषय पर बात करते हैं।
इस पूर्वजन्म के आधार पर ही कर्मकाँड में श्राद्धादि कर्म का विधान निर्मित किया गया है। अपने पूर्वजों के निमित दी गई वस्तुएँ/पदार्थ सचमुच उन्हे प्राप्त हो जाते हैं--------इस विषय में अधिकतर लोगों को संदेह है। हमारे पूर्वज अपने कर्मानुसार किस योनि में उत्पन हुए हैं,जब हमें इतना ही नहीं मालूम तो फिर उनके लिए दिए गये पदार्थ उन तक कैसे पहुँच सकते हैं? क्या एक ब्राह्मण को भोजन खिलाने से हमारे पूर्वजों का पेट भर सकता है? वैसे इन प्रश्नों का सीधे सीधे उत्तर देना तो शायद किसी के लिए भी संभव न होगा,क्यों कि वैज्ञानिक मापदंडों को इस सृ्ष्टि की प्रत्येक विषयवस्तु पर लागू नहीं किया जा सकता। दुनियाँ में कईं बातें ऎसी हैं जिनका कोई प्रमाण न मिलते हुए भी उन पर विश्वास करना पडता है। यहाँ इसके लिए हम एक व्यवहारिक उदाहरण ले सकते है---जैसे कि दवाईयाँ । अमूमन दवा के किसी भी पैक पर उसका फार्मूला या कंटेन्ट् लिखा रहता है। किन्तु हमारे पास इस बात का कोई सबूत नहीं है कि जो दवा हम खा रहे हैं;वास्तव में उसमें उसके पैक पर लिखे सभी कंटैन्स होंगे ही!!! यहाँ हम सिर्फ श्रद्धा से काम लेते हैं। यही सोच हमें कर्मकाँड के विषय में भी रखनी चाहिए। श्रद्धा रखकर ही हम फलप्राप्ति की अपेक्षा करें। मान लीजिए यदि कुछ नहीं भी हुआ तो कोई नुक्सान तो नहीं है न ? अब ये तो बात हुई सिर्फ श्रद्धा की, लेकिन इस विषय में शास्त्रों का कथन है कि--जिस प्रकार मानव शरीर पंचतत्वों से निर्मित है,उसी प्रकार से जो देव और पितर इत्यादि योनियों हैं; प्रकृ्ति द्वारा उनकी रचना नौ तत्वों द्वारा की गई है। जो कि गंध तथा रस तत्व से तृ्प्त होते हैं,शब्द तत्व में निवास करते हैं और स्पर्श तत्व को ग्रहण करते हैं। जैसे मनुष्यों का आहार अन्न है,पशुओं का आहार तृ्णादि,ठीक उसी प्रकार इन योनियों का आहार अन्न का सार-त्तत्व है। वे सिर्फ अन्न और जल का सार-त्तत्व ही ग्रहण करते हैं,शेष जो स्थूल वस्तुएं/पदार्थ हैं,वह तो यहीं स्थित रह जाते हैं।

(श्राद्ध पक्ष 5 सितंबर से 19 सितंबर तक)

#श्राद्ध #ज्योतिष #Panditastro #Pt_D_K_Sharma_Vatsa

+74 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 113 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻सोमवार, २६ अक्टूबर २०२०🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:३६ सूर्यास्त: 🌅 ०५:३५ चन्द्रोदय: 🌝 १५:०८ चन्द्रास्त: 🌜२६:२८ अयन 🌕 दक्षिणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: ❄️ शरद शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 आश्विन पक्ष 👉 शुक्ल तिथि: 👉 दशमी (०९:०० तक) नक्षत्र: 👉 शतभिषा (पूर्ण रात्रि) योग: 👉 वृद्धि (२४:४० तक) प्रथम करण: 👉 गर (०९:०० तक) द्वितीय करण: 👉 वणिज (२१:५० तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 तुला चंद्र 🌟 कुम्भ मंगल 🌟 मीन (उदित, पूर्व, वक्री) बुध 🌟 तुला (अस्त, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 धनु (उदित, पश्चिम, मार्गी) शुक्र 🌟 कन्या (उदित, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त: 👉 ११:३९ से १२:२३ अमृत काल: 👉 २२:४५ से २४:३० होमाहुति: 👉 शनि अग्निवास: 👉 आकाश दिशा शूल: 👉 पूर्व नक्षत्र शूल: 👉 ❌❌❌ चन्द्र वास: 👉 पश्चिम दुर्मुहूर्त: 👉 १२:२३ से १३:०७ राहुकाल: 👉 ०७:५३ से ०९:१५ राहु काल वास: 👉 उत्तर-पश्चिम यमगण्ड: 👉 १०:३८ से १२:०१ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - अमृत २ - काल ३ - शुभ ४ - रोग ५ - उद्वेग ६ - चर ७ - लाभ ८ - अमृत ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - चर २ - रोग ३ - काल ४ - लाभ ५ - उद्वेग ६ - शुभ ७ - अमृत ८ - चर नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 पश्चिम-दक्षिण (दर्पण देखकर अथवा खीर का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ भद्रावास मृत्युलोक में २१:५१ से आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज ३०:३७ तक जन्मे शिशुओ का नाम शतभिषा नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (गो, सा, सी, सू) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त: ०६:३० - ०८:०९ तुला ०८:०९ - १०:२८ वृश्चिक १०:२८ - १२:३२ धनु १२:३२ - १४:१३ मकर १४:१३ - १५:३९ कुम्भ १५:३९ - १७:०२ मीन १७:०२ - १८:३६ मेष १८:३६ - २०:३१ वृषभ २०:३१ - २२:४६ मिथुन २२:४६ - २५:०७ कर्क २५:०७ - २७:२६ सिंह २७:२६ - २९:४४ कन्या २९:४४ - ३०:३१ तुला 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त: ०६:३० - ०८:०९ शुभ मुहूर्त ०८:०९ - ०९:०० रोग पञ्चक ०९:०० - १०:२८ शुभ मुहूर्त १०:२८ - १२:३२ मृत्यु पञ्चक १२:३२ - १४:१३ अग्नि पञ्चक १४:१३ - १५:३९ शुभ मुहूर्त १५:३९ - १७:०२ रज पञ्चक १७:०२ - १८:३६ अग्नि पञ्चक १८:३६ - २०:३१ शुभ मुहूर्त २०:३१ - २२:४६ रज पञ्चक २२:४६ - २५:०७ शुभ मुहूर्त २५:०७ - २७:२६ चोर पञ्चक २७:२६ - २९:४४ शुभ मुहूर्त २९:४४ - ३०:३१ रोग पञ्चक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज का दिन मिश्रित फलदायक रहेगा। सेहत में उतार-चढ़ाव आएंगे स्वास्थ्य नरम रहने पर भी कार्यो को प्रभावित नहीं होने देंगे। प्रातः काल के समय व्यवसाय में लाभ निकट आते-आते किसी विवाद की भेंट चढ़ सकता है। लेकिन हिम्मत बनाये रखे आर्थिक दृष्टिकोण से दिन संतोषजक रहने वाला है। महिलाये कार्य क्षेत्र पर पुरुषों से बेहतर प्रदर्शन करेंगी बीच-बीच में मन मुटाव के प्रसंग भी बनेंगे परन्तु कार्य में बाधक नही होंगे। परिवार के बुजुर्ग आज आपसे किसी कारण से नाराज होंगे। घर के अन्य सदस्य भी बड़ो का ही पक्ष लेंगे जिससे स्वयं को अकेला अनुभव करेंगे धैर्य के साथ मौन बनाये रखें। व्यवसायी बचत कर सकेंगे। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज का दिन धन के साथ-साथ सुख शान्ति दायक भी रहेगा। व्यापारी वर्ग को लाभदायक सौदे मिलेंगे। भविष्य की योजनाओं पर भी धन का निवेश करेंगे साथ ही बचत भी कर पाएंगे। व्यवसाय में प्रतिस्पर्धा रहने पर भी आपके कार्य निर्विघ्न चलते रहेंगे परन्तु बीच-बीच में सहकर्मियो के कारण थोड़ी असुविधा बन सकती है। धन लाभ आशा के अनुरूप हो जाएगा कार्य के नए क्षेत्र मिलेंगे। मित्र स्वयजनो के साथ धार्मिक यात्रा के योग भी बनेंगे। महिला वर्ग सेहत को लेकर परेशान रह सकती है थकान अधिक रहेगी स्वभाव में भी चिड़चिड़ा पन रहने से घरेलु कार्य में विलंब होगा। विद्यार्थ पढ़ाई पर कम ध्यान देंगे। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज आपमे आध्यात्मिक उन्नति होगी। धर्म के गूढ़ रहस्यों को जानने में रुचि लेंगे। मानसिक रूप से प्रसन्न रहने के वातावरण बनते रहेंगे। सेहत में थोड़ी खराबी रह सकती है गले अथवा छाती सम्बंधित रोग एवं पेट मे दर्द से कष्ट होगा। धार्मिक स्थल के कार्यक्रमो में रूचि से हिस्सा लेंगे घर में भी पूजा पाठ का आयोजन करा सकते है। कल की अपेक्षा आज अधिकांश समय मौन रहना पसंद करेंगे जिससे आस पास संवादहीनता का वातावरण बनेगा। परिवार में आपकी आवश्यकता बढ़ेगी। कीमती सामान संभाल कर रखे चोरी अथवा नष्ट होने की संभावना है। विपरितलिंगीय के प्रति उदासीनता दिखाएंगे। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज का दिन थोड़ा उठा पटक वाला रहेगा। सेहत प्रातः काल से नरम रहेगी मन अकारण ही अशांत रहेगा। भावुकता भी स्वभाव में अधिक रहेगी जिससे अन्य लोग आपकी भावनाओं का गलत लाभ उठा सकते है। आज किसी के ऊपर जल्दी विश्वास करना हानि कराएगा सावधान रहें। धन सम्बंधित व्यवहार देख-भालकर कर ही करें। व्यवसाय आज आशा के अनुकूल नहीं रहेगा परन्तु खर्च अधिक रहने से आर्थिक संतुलन प्रभावित होगा। गृहस्थ में भी धन खर्च करने पर ही सुख की प्राप्ति हो सकेगी विवाद की स्थिति से बचकर रहें। सायंकाल का समय अपेक्षाकृत आराम से बितायेंगे। थकान मिटाने के लिए मनोरंजन के अवसर उपलब्ध हो सकेंगे। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज का दिन विविध क्षेत्रों में विजय दिलाने वाला रहेगा आज आप जिस भी कार्य को करेंगे उसमे आरम्भ में थोड़ी झिझक रहेगी परन्तु अंतिम फल शुभ ही रहेगा। सामाजिक क्षेत्र पर आपका दबदबा रहेगा। जिस किसी से भी कार्य निकालना चाहेंगे वह चाह कर भी मना नही कर सकेगा। कार्य क्षेत्र पर निर्णय लेने में थोड़ी परेशानी भी रहेगी फिर भी सोची गयी योजनाएं अवश्य फलीभूत होंगी। धन लाभ थोड़े इन्तजार के बाद होगा। शारीरिक स्वास्थ्य सामान्य रहेगा। घर में पूजा पाठ का आयोजन करवा सकते है। नए कार्य फिलहाल टालें। सुख के साधनों में वृद्धि होगी। विरोधी परास्त होंगे। परिवार में शांति रहेगी। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आपको आज का दिन मिलाजुला फल देगा। आज का दिन लाभ दिला सकता है परन्तु क्रोध को वश में रखना जरूरी है वरना बना बनाया काम बिगड़ सकता है। लोग आपको किसी ना किसी कारण क्रोध दिलाएंगे परन्तु अपने काम से काम रखें। समय धन के साथ साथ मान सम्मान में भी वृद्धि करने वाला है। विदेशी व्यापार अथवा जमीन सम्बंधित कार्यो में अधिक लाभ की संभावना है। आकस्मिक यात्रा आने से जरूरी कार्य निरस्त करने पड़ सकते है। रिश्तेदारो के द्वारा लाभ के मार्ग प्रशस्त होंगे। पारिवारिक वातावरण में थोड़ी नोंकझोंक चलती रहेगी फिर भी स्थिति गंभीर नही होगी। महिलाये सहयोगी रहेंगी। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज के दिन भाग दौड़ अधिक रहेगी परन्तु परिणाम आशा के विपरीत रहने से मन मे नकारात्मक विचार बनेंगे। आर्थिक कारणों से कोई कार्य अधूरा रहेगा अथवा मनोकामना पूर्ति नही कर सकेंगे। कई कार्यो को एकसाथ करने के कारण दुविधा में पड़ेंगे। घर एवं व्यवसाय के कार्यो में तालमेल बैठाने में असहजता रहेगी। फिर भी धन लाभ थोड़े विलंब से हो जाने से कार्यो में अड़चन नहीं आएगी। महिलाओं से आर्थिक सहयोग मिल सकता है। सरकारी कार्य थोड़ी शिफारिश के बाद आगे बढ़ेंगे। शेयर सट्टे में आज निवेश से बचे हानि हो सकती है। अन्य दैनिक उपभोग के व्यावसायिक कार्यो में निवेश उत्तम रहेगा। दैनिक जीवन में कोई चमत्कार होने से आश्चर्य होगा। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज का दिन सावधानी से बिताने की सलाह है आज राह चलते लोग भी आपके व्यक्तित्त्व पर छींटाकशी करेंगे जिससे मानसिक स्थिति खराब रहेगी। ना चाहकर भी कटु वचन बोलने पड़ेंगे जिसके कारण बाद में आत्मग्लानि रहेगी। कार्य क्षेत्र पर उधार वाले परेशान कर सकते है आज किसी से भी उधार के व्यवहार ना करें अन्यथा हानि में रहेंगे। असंयमित दिनचर्या के कारण शारीरिक स्वास्थ्य भी कार्यो में बाधक बनेगा रक्त-पित्त सम्बंधित समस्या रहेगी। विरोधी आपकी बातों को बढ़ा चढ़ा कर पेश करेंगे जिस वजह से मान हानि होगी। भाई-बंधुओ से वैर-विरोध रहने के कारण पारिवारिक वातावरण अशान्त रहेगा। धन संबंधित कार्य लटके रहेंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज आप अधिकांश समय आराम में बिताना पसंद करेंगे। स्वास्थ्य सम्बंधित शिकायत पेट सम्बंधित समस्या मुख्यतः रहेगी। आकस्मिक कार्य आने से यात्रा करनी पड़ सकती है। धन लाभ दोपहर से पूर्व आसानी से होगा इसके बाद परिश्रम साध्य लाभ होगा सरकारी कार्य करना मध्यान से पहले उचित रहेगा बाद में लंबित रह सकता है। पुरानी उधारी चुकता होने से राहत मिलेगी। घर में महिलाओं एवं सन्तानो की फरमाइश पूरी करनी पड़ेगी। माता पिता से भावनात्मक सम्बन्ध रहेंगे इस कारण किसी अन्य सदस्य से क्लेश भी रह सकता है। संध्या का समय थकान वाला रहेगा फिर भी हास्य परिहास के अवसर मिलेंगें। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज के दिन आप अपना ध्यान आवश्यक कार्यो पर एकाग्र करने का प्रयास करें अन्यथा जहाँ लाभ होना है वहां हानि मिलेगी। मन अनर्गल कार्यो में अधिक भटकेगा। विष्योपभोग में अधिक रुचि रहने के कारण धन खर्च की परवाह नहीं करेंगे। मौज-शौक पर अधिक खर्च रह सकता है। धन लाभ लापरवाही के चलते आगे के लिए टलेगा। व्यवसाय में निवेश अतिआवश्यक होने पर ही करें। स्वयं अथवा परिजन की स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं की अनदेखी आगे भारी पड़ सकती है। परिवार में आपके कारण खींच-तान रह सकती है किसी की बीमारी पर खर्च होगा। विवेकी व्यवहार अपनाए बेवजह की परेशानी से बचेंगे। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन प्रातः काल से ही मन मौज मस्ती की ओर आकर्षित रहेगा यात्रा प्रवास के योग भी बन रहे है ना चाहकर भी करनी पड़ सकती है। दिनचर्या व्यवस्थित रहने पर भी कुछ ना कुछ फेर बदल करना पड़ेगा। सामाजिक व्यवहारों के कारण भाग-दौड़ करनी पड़ेगी। स्वास्थ्य उत्तम बना रहेगा लोगो को आज आपकी सहायता की आवश्यकता पड़ेगी। कार्य क्षेत्र पर प्रतिस्पर्धिओ पर विजय प्राप्त करेंगे विरोधियो को आज पनपने ही नहीं देंगे। जिस भी कार्य में निवेश करेंगे उसमे थोड़े विलम्ब से ही पर सफलता निश्चित मिलेगी। पूजा पाठ में सम्मिलित होने के अवसर आएंगे। घर का वातावरण भी मंगलकारी रहेगा। स्त्रीवर्ग आध्यत्म में ज्यादा भाव रखेंगी। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज के दिन भी आपको विविध कष्टो का सामना करना पड़ेगा दिनचर्या अस्त व्यस्त रहेगी। आप पूर्वाग्रह से ग्रसित रहेंगे। अपने जिद्दी स्वभाव के कारण आसपास का वातावरण अशान्त बनाएंगे। मनमानी के चलते घर में भी तनाव का वातावरण बनेगा। सामाजिक क्षेत्र पर धन के साथ साथ मान हानि के योग है बेहतर रहेगा की आज कोई भी बड़ा कार्य ना करें यात्रा भी अति आवश्यक होने पर ही करें व्यर्थ समय एवं धन नष्ट होने की संभावनाएं अधिक है। परन्तु जोखिम वाले कार्यो में निवेश निकट भविष्य में अवश्य लाभ कराएगा। परिवारक वातावरण आपकी गलतियों के कारण पहले कलुषित होगा सामान्य होने में समय लगेगा। महिलाओं से सतर्क रहें। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️

+92 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 105 शेयर

2077-विजय श्री हिंदू पंचांग-राशिफल-1942 (26.10.2020) श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा (राजस्थान) 74.30 - रेखांतर मध्य मान - 75.30 उद्देश्य ज्योतिष विद्या संरक्षण प्रसार प्रशिक्षण शुभ सोमवार - शुभ प्रभात् ___________________________________ __विभिन्न शहरों के लिये समयांतर संस्कार __ (लगभग-वास्तविकता के समीप) दिल्ली +10मिनट---------जोधपुर --6 मिनट जयपुर +5 मिनट------अहमदाबाद--8 मिनट कोटा +5 मिनट----------- -मुंबई --7 मिनट लखनऊ +25 मिनट-------बीकानेर--5 मिनट --------------------------------------------------------- --------------------आज विशेष------------------ विवाह में विलंब हो रहा हो उपाय तो करें उपाय --------------------------------------------------------- दिनांक............................. .26.10.2020 कलियुग संवत्................................5122 विक्रम संवत................................ ..2077 शक संवत.....................................1942 संवत्सर................................... श्री प्रमादी अयन..........................................दक्षिण गोल.......................................... .दक्षिण ऋतु..............................................हेमंत मास................................(द्वितीय) आश्विन पक्ष..............................................शुक्ल तिथि........ .दशमी. प्रातः 9.00 तक/ एकादशी वार...........................................सोमवार नक्षत्र... शतभिषा. रात्रि. 6.36 AM / पूर्वाभाद्र चंद्र राशि................... कुंभ. संपूर्ण (अहोरात्र) योग.............. वृद्धि. रात्रि. 12.38 तक / ध्रुव करण........................ .गर. प्रातः 9.00 तक करण........... वणिज. रात्रि. 9.00 तक / विष्टि ---------------------------------------------------------- सूर्योदय.............................. .6.36.58 पर सूर्यास्त............................... 5.53.23 पर दिनमान................................. 11.16.25 रात्रिमान.................................12.44.09 चंद्रोदय................ ..प्रातः.3.17.19 PM पर चंद्रास्त.................. रात्रि. 2.48.34 AM पर सूर्य.........................(तुला) 06.08.56.44 चंद्र......................... (कुंभ) 10.07.49.28 राहुकाल......... प्रातः 8.02 से 9.26 (अशुभ) यमघंट...... पूर्वाह्न. 10.51 से 12.25 (अशुभ) अभिजित........(मध्या.)11.53 से 12.38 तक पंचक........................................... जारी पंचक समाप्ति......30.10.2020---2.56 PM शुभ हवन मुहूर्त(अग्निवास).......... आज नहीं है दिशाशूल................................. .पूर्व दिशा दोष निवारण........ दूध का सेवन कर यात्रा करें ____________________________________ चौघड़िया (दिन-रात)..... .(केवल शुभ कारक) *दिवा कालीन* अमृत.................प्रातः 6.37 से 8.02 तक शुभ.................प्रातः 9.26 से 10.51 तक चंचल...............अपरा. 1.40 से 3.04 तक लाभ................अपरा. 3.04 से 4.29 तक अमृत.................सायं. 4.29 से 5.53 तक *रात्रि कालीन* चंचल..................रात्रि. 5.53 से 7.29 तक लाभ.........रात्रि.10.40 से 12.15 AM तक शुभ.......रात्रि. 1.51 AM से 3.27 AM तक अमृत.... रात्रि. 3.27 AM से 5.02 AM तक चंचल.....रात्रि. 5.02 AM से 6.38 AM तक __________________________________ *शुभ शिववास की तिथियां* शुक्ल पक्ष-2-----5-----6---- 9-------12----13. कृष्ण पक्ष-1---4----5----8---11----12----30. ____________________________________ आज जन्मे शिशुओं का नक्षत्र चरण के अनुसार नामकरण हेतु नामाक्षर. 10.53 AM तक--शतभिषा---1-------(गो) 05.26 PM तक--शतभिषा---2-------(सा) 12.00 PM तक--शतभिषा---3-------(सी) 06.36 AM तक--शतभिषा---4-------(सु) (पाया-ताम्र) उपरांत रात्रि तक-- पूर्वाभाद्र---1-------(से) (पाया-लोह) _______सभी की राशि कुंभ रहेगी ________ ___________________________________ ____________आज का दिन_____________ तिथि..... (द्वि.)आश्विन शुक्ला दशमी सोमवार व्रत विशेष......................................नहीं दिन विशेष.....................................नहीं सर्वा.सिद्धयोग.................................नहीं सिद्ध रवियोग...................संपूर्ण (अहोरात्र) ___________________________________ _____________कल का दिन____________ दिनांक.............................27.10.2020 तिथि.(द्वि.)आश्विन शुक्ला एकादशी मंगलवार व्रत विशेष...... पापांकुशा एकादशी (सर्वेषाम्) दिन विशेष.....................................नहीं सर्वा.सिद्धयोग.................................नहीं सिद्ध रवियोग................................. नहीं ___________________________________ विवाह में आ रही हो अड़चन और हो रहा है विलम्ब तो जानिये कारण और उपाय... भारतीय धर्म ग्रंथों के अनुसार देखा जाये तो शादी का मौसम शुरु होते ही विवाह योग्य संतान के माता-पिता चिंतित‍ होने लगते हैं। ज्योतिषियों के चक्कर लगाने लगते हैं और अपने संतान के लिए एक योग्य वर/वधु की प्राप्ति के लिए विचार विमर्श करने लगते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कहा गया है कि, यदि किसी भी जातक की मनपसंद वर-कन्या नहीं मिल रही हो या फिर शादी में कोई ना कोई बाधा आ जाती हो तो इससे ना सिर्फ लड़का या लड़की परेशान रहते हैं, बल्कि उनका पूरा परिवार ही परेशान रहने लगता है। कुंडली के ये दोष बनते हैं विवाह में रुकावट/देरी का कारण । यह सारा खेल जन्म-कुंडली में स्थित ग्रह योगों व दशाओं का होता है। कहा जाता है कि, यदि किसी भी जातक की जन्म-कुंडली का सप्तम घर किसी अशुभ ग्रहों से ग्रसित हो तो ऐसे जातकों का दांपत्य जीवन का सुख कम और उनके विवाह में विलम्ब होने लगता है। जैसे अशुभ ग्रहों की सप्तम भाव में युति और दृष्टि होने के कारण। जन्म-कुंडली में मांगलिक दोष होने के कारण। सातवें घर का स्वामी नीच ग्रह के साथ अशुभ भाव में बैठा हो तो शादी होने में विलम्ब होता है। यदि किसी भी जातक की जन्म-कुंडली में सप्तम भाव में मंगल, शनि व शुक्र के साथ युति कर रहा हो तो विवाह बड़ी उम्र (विलम्ब) में होता है। यदि कन्या की कुंडली में लग्न में मंगल, सूर्य व बुध हो और गुरु द्वादश भाव में हो तो कन्या का विवाह देरी से होता है। सप्तम भाव में नीच का सूर्य हो तो शादी विलम्ब से होती है या बार-बार बात बनते-बनते बिगड़ जाती है। नवमांश कुंडली के लग्न या सप्तम भाव में शनि ग्रह स्थित हो तो शादी विलम्ब से होती है या बार-बार बात बनते बनते बिगड़ जाती है। शिक्षा और करियर क्षेत्र में आ रही हैं परेशानियां तो इस्तेमाल करें कॉग्निएस्ट्रो रिपोर्ट विवाह में विलम्ब तो करें ये उपाय 11 सोमवार को 1200 ग्राम चने की दाल लेकर इसके साथ सवा लीटर कच्चा दूध का दान करें और भगवान विष्णु का ध्यान करें। ऐसा करने से बन रहे रिश्तों में अड़चन नहीं आती है। 43 दिन तक किसी भी अलग- अलग कुवांरी कन्याओं को नेलपॉलिश दान करने से शीघ्र विवाह के योग बनते हैं और आ रही बढ़ाएं दूर होती है। 21 दिन तक संकल्प ले कर ‘दुर्गासप्तशती’ से ‘अर्गलास्तोत्रम्’ तक पाठ करें व साथ ही कन्यायें माँ कात्यायनी देवी की पूजा करें। कन्याओं के विवाह में विलम्ब हो रहा हो तो कन्यायें सोमवार के दिन भगवान शिव की उपासना कर 5 नारियल लेकर भगवान शिव के मूर्ति के आगे रखकर “ॐ श्रीं वर प्रदाय श्रीं नमः” , मंत्र की पांच माला का जप करें और सभी नारियल मंदिर में चढ़ा दें। यदि आपकी पत्रिका में शनि के कारण विवाह में बाधा या विवाह की बात नहीं बन रही है तो शनिवार को शिवलिंग पर काले तिल अर्पित करें व शनिवार के दिन साबुत उड़द, लोहा, काला तिल और साबुन काले कपड़े में बांधकर दान करें। ऐसा करने से शनि ग्रह से आ रही बाधा दूर होती है और शीघ्र विवाह के योग बनते हैं। यदि जन्म-कुंडली में मांगलिक दोष होने के कारण अगर विवाह में अड़चन आ रही हो तो लड़का या लड़की प्रत्येक मंगलवार श्री मंगल चंडिका स्त्रोत का पाठ करें। इस मंत्र का जप करे- ‘ॐ ह्री श्री क्ली सर्व पूज्य देवी मंगल चण्डिके हूँ फट स्वाह।’ विवाह में आ रही रुकावट दूर करनी हो तो जातक को पीपल की जड़ में लगातार 13 दिन जल चढ़ाने की सलाह दी जाती है। ऐसा करने से विवाह में आ रही अड़चन दूर होती है। नित्य प्रतिदिन पानी में एक चुटकी हल्दी डालकर स्नान करें व गुरुवार को गाय को दो आटे के पेड़े पर थोड़ी हल्दी लगाकर गुड़ तथा चने की गीली दाल के साथ देना चाहिए। कुंडली में मंगलिक दोष होने पर शादी में बाधा आ रही है तो मंगलवार के दिन व्रत रखकर हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए। हनुमान जी को गेहूं के आटे एवं गुड़ से बने लड्डू का भोग लगाएँ। हनुमान जी को सिन्दूर चढ़ाएं। संकलन-श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा(राज) _____________________________________ आज का राशिफल... मेष-(चू चे चो ला ली लू ले लो आज हृदय-रोगियों के लिए कॉफ़ी छोड़ने का सही समय है। अब इसका ज़रा भी इस्तेमाल दिल पर अतिरिक्त दबाव डालेगा। आज के दिन भूलकर भी किसी को पैसे उधार न दें और यदि देना जरुरी हो तो देने वाले से लिखित में लें कि वो पैसा वापस कब करेगा। आप सभी पारिवारिक कर्ज़े ख़त्म करने में क़ामयाब रहेंगे। याद रखिए कि आँखें कभी झूठ नहीं बोलतीं। आज आपके प्रिय की आँखें आपको वाक़ई कुछ ख़ास बताएंगी। इस राशि के जातक आज खाली वक्त में रचनात्मक काम करने का प्लान तो बनाएंगे लेकिन उनका यह प्लान पूरा नहीं हो पाएगा। आपका वैवाहिक जीवन इससे अधिक रंगों से भरा कभी नहीं रहा है। छोटे भाई के साथ घूमने जा सकते हैं इससे आप दोनों के रिश्तों में प्रगाढ़ता आएगी। वृषभ-(इ उ एओ वा वी वू वे वो) आज अपनी शारीरिक चुस्ती-फुर्ती को बनाए रखने के लिए आप आज का दिन खेलने में व्यतीत कर सकते हैं। अगर आप लोन लेने वाले थे और काफी दिनों से इस काम में लगे थे तो आज के दिन आपको लोन मिल सकता है। दोस्तों और परिवार के साथ मज़ेदार समय बीतेगा। हर बात पर प्यार का दिखावा करना ठीक नहीं है इससे आपका रिश्ता सुधरने की जगह बिगड़ सकता है। कई कामों को छोड़कर आप आज अपने पसंदीदा कामों को करने का मन बनाएंगे लेकिन काम की अधिकता के कारण आप ऐसा नहीं कर पाएँगे। कोई फिल्म या नाटक देखकर आज आपका मन पहाड़ों में जाने का कर सकता है। मिथुन- (क की कू घ ङ छ के को ह) आज मौज-मस्ती की यात्राएं और सामाजिक मेलजोल आपको ख़ुश रखेंगे और सुकून देंगे। यदि शादीशुदा हैं तो आज अपने बच्चों का विशेष ख्याल रखें क्योंकि यदि आप ऐसा नहीं करते तो उनकी तबीयत बिगड़ सकती है और आपको उनके स्वास्थ्य पर काफी पैसा खर्च करना पड़ सकता है। घर में मरम्मत का काम या सामाजिक मेल-मिलाप आपको व्यस्त रखेगा। आपको प्यार में ग़म का सामना करना पड़ सकता है। आपमें से कुछ लोगों को लंबा सफ़र करना पड़ सकता है - जो काफ़ी दौड़-भाग भरा होगा - लेकिन साथ ही बहुत फ़ायदेमंद भी साबित होगा। उबाऊ होती शादीशुदा ज़िन्दगी के लिए कुछ रोमांच ढूंढने की ज़रूरत है। आज का दिन उन चन्द दिनों जैसा है जब घड़ी की सुईयाँ बहुत धीरे-धीरे हिलती हैं और आप लंबे समय तक बिस्तर में पड़े रहते हैं। लेकिन इसके बाद ख़ुद को तरोताज़ा भी महसूस करेंगे और इसकी आपको काफ़ी ज़रूरत भी है। कर्क- (ही हू हे हो डा डी डू डे डो) आज सेहत से जुड़ी समस्याएँ आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती हैं। आप ख़ुद को नए रोमांचक हालात में पाएंगे- जो आपको आर्थिक फ़ायदा पहुँचाएंगे। किसी बुज़ुर्ग की सेहत चिंता का सबब बनेगी। अपने दिल की बात ज़ाहिर करके आप ख़ुद को काफ़ी हल्का और रोमांचित महसूस करेंगे। आज के दिन घटनाएँ अच्छी तो होंगी, लेकिन तनाव भी देंगी - जिसके चलते आप थकान और दुविधा महसूस करेंगे। बाहरी लोगों का हस्तक्षेप आपके वैवाहिक जीवन में परेशानी उत्पन्न कर सकता है। अपनी रचनाधर्मिता को नया आयाम देने के लिए अच्छा दिन है। कुछ ऐसे विचार आ सकते हैं जो वाक़ई ज़बरदस्त और सृजनात्मक। सिंह- (मा मी मू मे मो टा टी टू टे) आज व्यस्त दिनचर्या के बावजूद स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। आज धन आपके हाथ में नहीं टिकेगा, आपको धन संचय करने में आज बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। अपने जीवन-साथी की उपलब्धियों की सराहना करें और उसकी सफलता और ख़ुशक़िस्मती का जश्न मनाएँ। उदार बनें और ईमानदारी से तारीफ़ करें। आज अपने प्रिय से दूर होने का दुःख आपको टीस देता रहेगा। दिक़्क़तों का तेज़ी से मुक़ाबला करने की आपकी क्षमता आपको ख़ास पहचान दिलाएगी। आपके लिए यह ख़ूबसूरत रोमानी दिन रहेगा, लेकिन सेहत को लेकर थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। मानसिक शान्ति बहुत महत्वपूर्ण है - इसके लिए आप किसी बाग़ीचे, नदी के तट या मंदिर पर जा सकते हैं। कन्या- (टो प पी पू ष ण ठ पे पो) आज आपकी सकारात्मक सोच पुरस्कृत होगी, क्योंकि आप अपनी कोशिशों में क़ामयाबी पा सकते हैं। ख़र्चों में हुई अप्रत्याशित बढ़ोत्तरी आपके मन की शांति को भंग करेगी। बुज़ुर्ग और परिवार के सदस्य स्नेह देंगे और ख़याल रखेंगे। थोड़े बहुत टकराव के बावजूद भी आज आपका प्रेम जीवन अच्छा रहेगा और आप अपने संगी को खुश रखने में कामयाब होंगे। अगर आज आप यात्रा कर रहे हैं तो आपको अपने सामान की अतिरिक्त सुरक्षा करने की ज़रूरत है। आज आप अपने जीवनसाथी से काफ़ी आत्मीय बातचीत कर सकते हैं। जिन्दगी का स्वाद तो स्वादिष्ट भोजन को करने में ही है। यह बात आज आपके जुबान पर आ सकती है क्योंकि आप के घर में आज स्वादिष्ट भोजन बन सकता है। तुला- (रा री रू रे रो ता ती तू ते आज आपका तल्ख़ बर्ताव जीवनसाथी के साथ आपके संबंधों में तनाव डाल सकता है। कोई भी ऐसा काम करने से पहले इसके परिणामों के बारे में सोच लें। अगर मुमकिन हो तो अपना मूड बदलने के लिए कहीं और जाएँ। आर्थिक दृष्टि से आज का दिन मिलाजुला रहने वाला है। आज आपको धन लाभ तो हो सकता है लेकिन इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। बच्चे उम्मीदों पर खरे न उतरकर आपको निराश कर सकते हैं। सपनों को साकार करने के लिए उन्हें प्रोत्साहन देने की ज़रूरत है। लेकिन अपने जज़्बात क़ाबू में रखें, नहीं तो रिश्ते में खटास पैदा हो सकती है। भरपूर रचनात्मकता और उत्साह आपको एक और फ़ायदेमंद दिन की ओर ले जाएंगे। सम्भव है कि आपके जीवनसाथी की वजह से आपकी प्रतिष्ठा को थोड़ी ठेस पहुँचे। घर का कोई वरिष्ठ आज आपको कोई ज्ञान की बात बता सकता है। उनकी बातें आपको अच्छी लगेंगी और आप उनपर अमल भी करेंगे। वृश्चिक- (तो ना नी नू ने नो या यी यू) आज आपका उदार स्वभाव आपके लिए कई ख़ुशनुमा पल लेकर आएगा। आपकी ग़ैर-यथार्थवादी योजनाएँ आपके धन को कम कर सकती हैं। आपके व्यक्तिगत मोर्चे पर कोई बड़ी चीज़ होने वाली है, जो आपके और आपके परिवार के लिए उल्लास लेकर आएगी। समय, कामकाज, पैसा, यार-दोस्त, नाते-रिश्ते सब एक ओर और आपका प्यार एक तरफ़, दोनों आपस में खोए हुए - कुछ ऐसा मिज़ाज रहेगा आपका आज। व्यस्त दिनचर्या के बावजूद भी आज आप अपने लिए समय निकालपाने में सक्षम होंगे। खाली वक्त में आज कुछ रचनात्मक कर सकते हैं। सुबह जीवनसाथी से आपको कुछ ऐसा मिल सकता है, जिससे आपका सारा दिन ख़ुशगवार गुज़रेगा। माता-पिता को बिना बताए आज आप उनके पसंद की कोई डिश घर पर ला सकते हैं इससे घर में सकारात्मक माहौल बन जाएगा। धनु-ये यो भा भी भू धा फा ढ़ा भे) आज सफलता हासिल करने के लिए समय के साथ अपने विचारों में बदलाव लाएँ। इससे आपका दृष्टिकोण व्यापक होगा, समझ का दायरा बढ़ेगा, व्यक्तित्व में निखार आएगा और दिमाग़ विकसित होगा। बिना किसी की मदद के भी आप धन कमा पाने में सक्षम हो सकते हैं बस आपको खुद पर विश्वास करने की जरुरत है। परिवार के सदस्यों का आपके जीवन में विशेष महत्व होगा। समय का अच्छा इस्तेमाल करने के लिए आज आप पार्क में घूमने का प्लान बना सकते हैं लेकिन वहां किसी अनजान शख्स से आपकी बहस होने की अशंका है जिससे आपका मूड खराब हो जाएगा। आज आपका जीवनसाथी आपको प्यार और सुख के लोक की सैर करा सकता है। लोगोंं के बीच रहकर सबका सम्मान करना आपको आता है इसलिए आप भी सबकी नजरों में अच्छी छवि बना पाते हैं। मकर- (भो जा जी खी खू खे खो गा गी) आज शारीरिक लाभ के लिए, विशेषकर मानसिक तौर पर मज़बूती हासिल करने के लिए ध्यान और योग का आश्रय लें। अपनेे लिए पैसा बचाने का आपका ख्याल आज पूरा हो सकता है। आज आप उचित बचत कर पाने में सक्षम होंगे। ग़लत बातों को ग़लत वक़्त पर कहने से बचें। जिन्हें आप चाहते हैं, उनका दिल दुखाने से बचें। सम्हल कर दोस्तों से बात करें, क्योंकि आज के दिन दोस्ती में दरार पड़ने की आशंका है। शहर से बाहर यात्रा ज़्यादा आरामदेह नहीं रहेगी, लेकिन आवश्यक जान-पहचान बनाने के लिहाज़ से फ़ायदेमंद साबित होगी। अपने जीवनसाथी के किसी काम की वजह से आप कुछ शर्मिन्दगी महसूस कर सकते हैं। लेकिन बाद में आपको महसूस होगा कि जो हुआ, अच्छे के लिए ही हुआ। खुलकर गाना गाना और जमकर नाचना आपकी हफ़्ते भर की थकान व तनाव को रफ़ूचक्कर कर सकता है। कुंभ- (गू गे गो सा सी सू से सो द) आज का दिन ऐसे काम करने के लिए बेहतरीन है, जिन्हें करके आप ख़ुद के बारे में अच्छा महसूस करते हैं। आज किसी विपरीत लिंगी की मदद से आपको करोबार या नौकरी में आर्थिक लाभ होने की संभावना है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुकून भरे और शांत दिन का लुत्फ़ लें। अगर लोग परेशानियों के साथ आपके पास आएँ तो उन्हें नज़रअंदाज़ करें और उन्हें अपनी मानसिक शांति भंग न करने दें। आपको पहली नज़र में किसी से प्यार हो सकता है। दिक़्क़तों का तेज़ी से मुक़ाबला करने की आपकी क्षमता आपको ख़ास पहचान दिलाएगी। थोड़ी-सी कोशिश करें तो यह दिन आपके वैवाहिक जीवन के सबसे विशेष दिनों में से एक हो सकता है। बिना किसी का साथ पाये भी आजके दिन का आप भरपूर आनंद उठा पाएंगे। मीन- (दी दू थ झ ञ दे दो च ची) आज ऐसी गतिविधियों में संलग्न रहें, जो आपको सुकून दें। अगर आप लोन लेने वाले थे और काफी दिनों से इस काम में लगे थे तो आज के दिन आपको लोन मिल सकता है। जब आप समूह में हों तो ध्यान रखें कि आप क्या कह रहे हैं, बिना ज़्यादा समझे-बूझे अचानक कहे गए शब्दों के चलते आप कड़ी आलोचना के शिकार हो सकते हैं। अपने प्रिय के लिए बदले की भावना से कुछ हासिल नहीं होगा- बजाय इसके आपको दिमाग़ शांत रखना चाहिए और अपने प्रिय को अपनी सच्चे जज़्बात से परिचित कराना चाहिए। आज समय की नजाकत को देखते हुए आप अपने लिए समय निकाल सकते हैं लेकिन ऑफिस के किसी काम के अचानक आ जाने के कारण आप ऐसा करने में सफल नहीं हो पाएँगे। वैवाहिक जीवन में आप कुछ निजता की ज़रूरत महसूस करेंगे। आपकी बात करने का तरीका आज बहुत खराब होगा जिसकी वजह से समाज में आप अपना मान सम्मान खो सकते हैं। __________________________________ पं. रामपाल भट्ट श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा (राजस्थान) ___________________________________

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 13 शेयर
Pt Vinod Pandey 🚩 Oct 24, 2020

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄 #सुप्रभातम 🌄 🗓 आज का #पञ्चाङ्ग 🗓 🌻रविवार, २५ अक्टूबर २०२०🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:३६ सूर्यास्त: 🌅 ०५:३६ चन्द्रोदय: 🌝 १४:३४ चन्द्रास्त: 🌜२५:३२ अयन 🌕 दक्षिणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: ❄️ शरद शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 आश्विन पक्ष 👉 शुक्ल तिथि: 👉 नवमी (०७:४१ तक) नक्षत्र: 👉 धनिष्ठा (२८:२३ तक) योग: 👉 गण्ड (२४:२९ तक) प्रथम करण: 👉 कौलव (०७:४१ तक) द्वितीय करण: 👉 तैतिल (२०:१६ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 तुला चंद्र 🌟 कुम्भ (१५:२५ से) मंगल 🌟 मीन (उदित, पूर्व, वक्री) बुध 🌟 तुला (अस्त, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 धनु (उदित, पश्चिम, मार्गी) शुक्र 🌟 कन्या (उदित, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त: 👉 ११:३९ से १२:२३ अमृत काल: 👉 १७:१४ से १८:५७ होमाहुति: 👉 शुक्र (२८:२३ तक) अग्निवास: 👉 पृथ्वी दिशा शूल: 👉 पश्चिम नक्षत्र शूल: 👉 ❌❌❌ चन्द्र वास: 👉 दक्षिण (पश्चिम १५:२७ से) दुर्मुहूर्त: 👉 १६:०३ से १६:४७ राहुकाल: 👉 १६:०९ से १७:३२ राहु काल वास: 👉 उत्तर यमगण्ड: 👉 १२:०१ से १३:२३ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - उद्वेग २ - चर ३ - लाभ ४ - अमृत ५ - काल ६ - शुभ ७ - रोग ८ - उद्वेग ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - शुभ २ - अमृत ३ - चर ४ - रोग ५ - काल ६ - लाभ ७ - उद्वेग ८ - शुभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 पश्चिम-दक्षिण (पान का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ श्रीदुर्गा विसर्जन, विजयादशमी (दशहरा), आयुध-शमी वृक्ष पूजा, पंचक आरम्भ १५:२५ से आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज २८:२३ तक जन्मे शिशुओ का नाम धनिष्ठा नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (ग, गी, गू, गे) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम शतभिषा नक्षत्र के प्रथम चरण अनुसार क्रमश (गो) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त: ०६:३० - ०८:१३ तुला ०८:१३ - १०:३२ वृश्चिक १०:३२ - १२:३६ धनु १२:३६ - १४:१७ मकर १४:१७ - १५:४३ कुम्भ १५:४३ - १७:०६ मीन १७:०६ - १८:४० मेष १८:४० - २०:३५ वृषभ २०:३५ - २२:५० मिथुन २२:५० - २५:११ कर्क २५:११ - २७:३० सिंह २७:३० - २९:४८ कन्या २९:४८ - ३०:३० तुला 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त: ०६:३० - ०७:४१ रज पञ्चक ०७:४१ - ०८:१३ शुभ मुहूर्त ०८:१३ - १०:३२ चोर पञ्चक १०:३२ - १२:३६ शुभ मुहूर्त १२:३६ - १४:१७ रोग पञ्चक १४:१७ - १५:४३ शुभ मुहूर्त १५:४३ - १७:०६ मृत्यु पञ्चक १७:०६ - १८:४० रोग पञ्चक १८:४० - २०:३५ शुभ मुहूर्त २०:३५ - २२:५० मृत्यु पञ्चक २२:५० - २५:११ अग्नि पञ्चक २५:११ - २७:३० शुभ मुहूर्त २७:३० - २८:२३ रज पञ्चक २८:२३ - २९:४८ शुभ मुहूर्त २९:४८ - ३०:३० चोर पञ्चक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज का दिन कार्य सफलता वाला रहेगा। प्रातः काल जल्दी कार्यो में जुटने का फल शीघ्र ही धन लाभ के रूप में मिलेगा। अधिकांश कार्य थोड़े से परिश्रम से पूर्ण हो जाएंगे। अधिकारी वर्ग मुश्किल कार्यो में सहयोग करेंगे। आज आप जोड़ तोड़ वाली नीति अपना कर कठिन परिस्थितियों में भी अपना काम निकाल लेंगे। सरकारी कार्य मे भी सफलता की उम्मद जागेगी प्रयास करते रहे। दाम्पत्य जीवन मे छोटी-मोटी बातों को दिल पर ना लें स्थिति सामान्य ही रहेगी। मित्रो से कोई दुखद समाचार मिलेगा। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज का दिन काफी उठा पटक वाला रहेगा। व्यावसायिक योजनाओं में अचानक बदलाव करना पड़ेगा। दिन के आरंभ में कार्यो की गति धीमी रहेगी समय पर वादा पूरा ना करने से व्यावसायिक संबंध खराब हो सकते है। कार्यो के प्रति नीरसत अधिक रहेगी। किसी भी कार्य को लेकर ठोस निर्णय नही ले पाएंगे परन्तु जिस भी कार्य में निवेश करेंगे उसमे विलंभ से ही सही सफल अवश्य होंगे धन लाभ भी आवश्यकता अनुसार हों जायेगा लेकिन संध्या पश्चात धन संबंधित कोई भी कार्य-व्यवहार ना करें। परिजन आपके टालमटोल वाले व्यवहार से दुखी रहेंगे। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज के दिन आप सम्भल कर ही कार्य करेंगे फिर भी सफलता में संशय बना रहेगा। व्यवहारिकता की कमी के कारण जितना लाभ मिलना चाहिए उतना नही मिल सकेगा। घर अथवा बाहर बेवजह कलह के प्रसंग बनेगे। व्यापार व्यवसाय में सहकर्मियो की।मनमानी के कारण असुविधा एवं अव्यवस्था बनेंगी लेकिन फिर भी स्वयं के पराक्रम से खर्च लायक धनार्जन कर ही लेंगे। आस-पड़ोसी एवं भाई बंधुओ से बात का बतंगड़ ना बने इसके लिए मौन रखने की जरूरत है फिर भी महिलाये स्वभावानुसार बनती बात बिगाड़ लेंगी। विपरीत लिंग के प्रति कामासक्त रहेंगे। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज के दिन लाभ के अवसर आपकी तलाश में रहेंगे। दिन में जिस किसी के भी संपर्क में रहेंगे उससे कुछ ना कुछ लाभ अवश्य होगा। कार्य क्षेत्र पर भी एक से अधिक साधनो से आय होगी। व्यावसायिक क्षेत्र से जुड़ी महिलाओ को पदोन्नति के साथ प्रोत्साहन के रूप में आर्थिक सहायता भी मिल सकती है। सामाजिक कार्यो में रुचि ना होने पर भी सम्मिलित होना पड़ेगा मान-सम्मान बढेगा। परिजनों का मार्गदर्शन आज प्रत्येक क्षेत्र पर काम आएगा। महिलाओं का सुख सहयोग मिलेगा। प्रेम प्रसंगों में निकटता रहेगी। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज का दिन भी आशानुकूल रहेगा। सेहत उत्तम रहने से कार्यो को मन लगाकर करेंगे लेकिन किसी के हस्तक्षेप करने से मन विक्षिप्त हो सकता है। किसी के ऊपर ध्यान ना दें एकाग्र होकर अपने कार्य मे लगे रहे धन एवं सम्मान दोनों मिलने के योग है। लेकिन उधार के व्यवहार बढ़ने से असुविधा भी होगी। व्यावसाय में वृद्धि के लिए निवेश करना शुभ रहेगा। भाई-बंधुओ का सहयोग आज अपेक्षाकृत कम ही रहेगा। महिलाओं को छोड़ घर के अन्य सदस्य आपसे ईर्ष्यालु व्यवहार रखेंगे। स्त्री से सुखदायक समाचार मिलेंगे। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज के दिन आप बुद्धि विवेक से कार्य करेंगे परन्तु परिस्थिति हर तरह से कार्यो में बाधा डालेगी। कार्य व्यवसाय से मन ऊबने लगेगा धैर्य से कार्य करते रहें संध्या तक संतोषजक लाभ अवश्य मिलेगा पारिवारिक एवं सामाजिक क्षेत्र पर आपके विचारो की प्रशंसा होगी लेकिन केवल व्यवहार मात्र के लिए ही। आर्थिक विषयो को लेकर किसी से विवाद ना करें धन डूबने की आशंका है। गृहस्थ में प्रेम स्नेह तो मिलेगा परन्तु स्वार्थ सिद्धि की भावना भी अधिक रहेगी। महिलाये अधिक बोलने की समस्या से ग्रस्त रहेंगी। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आपको आज के दिन प्रत्येक कार्यो में सावधान रहने की आवश्यकता है। धन के पीछे भागने की प्रवृति पर आज लगाम लगाकर रखे अन्यथा धन के साथ-साथ मान हानि भी होगी। दोपहर से पहले के भाग में पुराने कार्य पूर्ण होने से थोड़ा बहुत धन मिलने से दैनिक खर्च निकल जाएंगे। इसके बाद का समय प्रतिकूल बनता जाएगा। कार्य व्यवसाय में प्रतिस्पर्धी हर प्रकार से आपके कार्यो में व्यवधान डालने का प्रयास करेंगे। परिजनों से भी मामूली बात पर झगड़ा होगा। वाणी एवं व्यवहार से संयम बरतें। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज का दिन आर्थिक दृष्टिकोण से उन्नति वाला रहेगा। धन संबंधित समस्याएं काफी हद तक सुलझने पर दिन भर प्रसन्नता रहेगी। कार्य व्यवसाय से प्रारंभिक परिश्रम के बाद दोपहर के समय से धन की आमद शुरू हो जाएगी जो संध्या तक रुक रुक कर चलती रहेगी। मितव्ययी रहने के कारण खर्च भी हिसाब से करेंगे धन कोष में वृद्धि होगी। महिलाये किसी मनोकामना पूर्ति से उत्साहित होंगी। आज महिला वर्ग से कोई भी काम निकालना आसान रहेगा मना नही कर सकेंगी। दाम्पत्य सुख में भी वृद्धि होगी। पर्यटन की योजना बनेगी। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज के दिन आप किसी भी कार्य को लेकर ज्यादा भाग-दौड़ करने के पक्ष में नही रहेंगे। आसानी से जितना मिल जाये उसी में संतोष कर लेंगे। परन्तु महिलाये इसके विपरीत रहेंगी अल्प साधनो से कार्य करने पर भाग्य को दोष देंगी। व्यवसाय की गति पल पल में बदलेगी जिससे सुकून से बैठने का समय नही मिलेगा। किसी पुरानी घटना को याद करके दुखी रहेंगे। पारिवारिक खर्चो में अकस्मात वृद्धि होने से बजट गड़बड़ा सकता है। महिलाओं के मन मे आज उथल पुथल अधिक रहने के कारण बड़ी जिम्मेदारी का कार्य सौपना उचित नही रहेगा। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज के दिन मानसिक चंचलता के कारण बनते कार्यो को दुविधा के कारण आप स्वयं बिगाड़ लेंगे। सरकारी कार्य आज सावधानी से करें अन्यथा लंबित रखें हानि निश्चित रहेगी। संबंधो के प्रति भी आज ईमानदार नही रहेंगे। पारिवारिक वातावरण आपके गलत आचरण से कलुषित होगा। सामाजिक क्षेत्र पर लोग पीठ पीछे बुराई करेंगे। सेहत में मानसिक दबाव के चलते उतार चढ़ाव लगा रहेगा। घर के बुजुर्ग आपसे नाराज रहेंगे। धन लाभ अचानक होने से स्थिति संभाल नही सकेंगे रुपया आते ही हाथ से निकल भी जायेगा। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज का दिन आशाओं के विपरीत रहने वाला है। सोची हुई योजनाए आरम्भ में सफल होती नजर आएंगी परन्तु मध्यान तक इनसे निराशा ही मिलेगी। आज आप जिससे भी सहायता मांगेंगे वो भ्रम की स्थिति में रखेगा। आज आप आत्मनिर्भर होकर अपने कार्यो को करें। भागीदारों से धन को लेकर अनबन हो सकती है। मीठा व्यवहार रखने पर भी लोग आपको केवल कार्य निकालने के लिए इस्तेमाल करेंगे। कार्य क्षेत्र की भड़ास घर पर निकालने से घर का माहौल भी बेवजह खराब होगा। पुराने कार्यो को पूर्ण करने की चिंता रहेगी। प्रेम प्रसंगों से निराश होंगे। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज के दिन अनैतिक कार्यो से बच कर रहें मन भ्रमित रहने के कारण निषेधात्मक कार्यो में भटकेगा। लोग आपसे भावनात्मक संबंध बनाएंगे परन्तु आवश्यकता के समय कोई आगे नही आएगा। कार्य क्षेत्र पर भी सहकर्मियो का रूखा व्यवहार रहने से स्वयं के ऊपर ज्यादा निर्भर रहना पड़ेगा। लंबी यात्रा के प्रसंग बनेंगे संभव हो तो आज टालें। पेट अथवा स्वांस, छाती संबंधित व्याधि हो सकती है। अधिकांश समय मानसिक रूप से भी अशान्त रहेंगे। परिवार में अनावश्यक खर्च बढ़ेंगे किसी की गलती का विरोध करना भी बेवजह कलह का कारण बनेगा। 🌐http://www.vkjpandey.in 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/HKT9FhsdspHGntDGCZjVx3

+64 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 301 शेयर
Pt Vinod Pandey 🚩 Oct 24, 2020

🌞 ~ आज का हिन्दू #पंचांग ~ 🌞 ⛅ दिनांक 25 अक्टूबर 2020 ⛅ दिन - #रविवार ⛅ विक्रम संवत - 2077 (गुजरात - 2076) ⛅ शक संवत - 1942 ⛅ अयन - दक्षिणायन ⛅ ऋतु - हेमंत ⛅ मास - अश्विन ⛅ पक्ष - शुक्ल  ⛅ तिथि - नवमी सुबह 07:41 तक तत्पश्चात दशमी ⛅ नक्षत्र - धनिष्ठा 26 अक्टूबर प्रातः 04:23 तक तत्पश्चात शतभिषा ⛅ योग - गण्ड 26 अक्टूबर रात्रि 12:29 तक तत्पश्चात वृद्धि ⛅ राहुकाल - शाम 04:39 से शाम 06:07 तक  ⛅ सूर्योदय - 06:37  ⛅ सूर्यास्त - 18:05  ⛅ दिशाशूल - पश्चिम दिशा में ⛅ व्रत पर्व विवरण - शारदिय नवरात्र समाप्त, विजयादशमी (पूरा दिन शुभ मुहूर्त), विजय मुहूर्त (दोपहर 02:18 से 03:04 तक), (संकल्प, शुभारंभ, नूतन कार्य, सीमोल्लंधन लिए), दशहरा, गुरु-पूजन, अस्त्र-शस्त्र-शमी वृक्ष-आयुध-वाहन पूजन   💥 विशेष - नवमी को लौकी खाना गोमांस के समान त्याज्य है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34) 💥 रविवार के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38) 💥 रविवार के दिन मसूर की दाल, अदरक और लाल रंग का साग नहीं खाना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75.90) 💥 रविवार के दिन काँसे के पात्र में भोजन नहीं करना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75) 💥 स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन करना चाहिए। इससे ब्रह्महत्या आदि महापाप भी नष्ट हो जाते हैं। 🌷 बिना मुहूर्त के मुहूर्त (दशहरा) 🌷 👉🏻 विजयादशमी का दिन बहुत महत्त्व का है और इस दिन सूर्यास्त के पूर्व से लेकर तारे निकलने तक का समय अर्थात् संध्या का समय बहुत उपयोगी है। रघु राजा ने इसी समय कुबेर पर चढ़ाई करने का संकेत कर दिया था कि ‘सोने की मुहरों की वृष्टि करो या तो फिर युद्ध करो।’ रामचन्द्रजी रावण के साथ युद्ध में इसी दिन विजयी हुए। ऐसे ही इस विजयादशमी के दिन अपने मन में जो रावण के विचार हैं काम, क्रोध, लोभ, मोह, भय, शोक, चिंता – इन अंदर के शत्रुओं को जीतना है और रोग, अशांति जैसे बाहर के शत्रुओं पर भी विजय पानी है। दशहरा यह खबर देता है। 👉🏻 अपनी सीमा के पार जाकर औरंगजेब के दाँत खट्टे करने के लिए शिवाजी ने दशहरे का दिन चुना था – बिना मुहूर्त के मुहूर्त ! (विजयादशमी का पूरा दिन स्वयंसिद्ध मुहूर्त है अर्थात इस दिन कोई भी शुभ कर्म करने के लिए पंचांग-शुद्धि या शुभ मुहूर्त देखने की आवश्यकता नहीं रहती।) इसलिए दशहरे के दिन कोई भी वीरतापूर्ण काम करने वाला सफल होता है। 👉🏻 वरतंतु ऋषि का शिष्य कौत्स विद्याध्ययन समाप्त करके जब घर जाने लगा तो उसने अपने गुरुदेव से गुरूदक्षिणा के लिए निवेदन किया। तब गुरुदेव ने कहाः वत्स ! तुम्हारी सेवा ही मेरी गुरुदक्षिणा है। तुम्हारा कल्याण हो।’ 👉🏻 परंतु कौत्स के बार-बार गुरुदक्षिणा के लिए आग्रह करते रहने पर ऋषि ने क्रुद्ध होकर कहाः ‘तुम गुरूदक्षिणा देना ही चाहते हो तो चौदह करोड़ स्वर्णमुद्राएँ लाकर दो।” 👉🏻 अब गुरुजी ने आज्ञा की है। इतनी स्वर्णमुद्राएँ और तो कोई देगा नहीं, रघु राजा के पास गये। रघु राजा ने इसी दिन को चुना और कुबेर को कहाः “या तो स्वर्णमुद्राओं की बरसात करो या तो युद्ध के लिए तैयार हो जाओ।” कुबेर ने शमी वृक्ष पर स्वर्णमुद्राओं की वृष्टि की। रघु राजा ने वह धन ऋषिकुमार को दिया लेकिन ऋषिकुमार ने अपने पास नहीं रखा, ऋषि को दिया। 👉🏻 विजयादशमी के दिन शमी वृक्ष का पूजन किया जाता है और उसके पत्ते देकर एक-दूसरे को यह याद दिलाना होता है कि सुख बाँटने की चीज है और दुःख पैरों तले कुचलने की चीज है। धन-सम्पदा अकेले भोगने के लिए नहीं है। तेन त्यक्तेन भुंजीथा….। जो अकेले भोग करता है, धन-सम्पदा उसको ले डूबती है। 👉🏻 भोगवादी, दुनिया में विदेशी ‘अपने लिए – अपने लिए….’ करते हैं तो ‘व्हील चेयर’ पर और ‘हार्ट अटैक’ आदि कई बीमारियों से मरते हैं। अमेरिका में 58 प्रतिशत को सप्ताह में कभी-कभी अनिद्रा सताती है और 35 प्रतिशत को हर रोज अनिद्रा सताती है। भारत में अनिद्रा का प्रमाण 10 प्रतिशत भी नहीं है क्योंकि यहाँ सत्संग है और त्याग, परोपकार से जीने की कला है। यह भारत की महान संस्कृति का फल हमें मिल रहा है। 👉🏻 तो दशहरे की संध्या को भगवान को प्रीतिपूर्वक भजे और प्रार्थना करें कि ‘हे भगवान ! जो चीज सबसे श्रेष्ठ है उसी में हमारी रूचि करना।’ संकल्प करना कि’आज प्रतिज्ञा करते हैं कि हम ॐकार का जप करेंगे।’ 👉🏻 ‘ॐ’ का जप करने से देवदर्शन, लौकिक कामनाओं की पूर्ति, आध्यात्मिक चेतना में वृद्धि, साधक की ऊर्जा एवं क्षमता में वृद्धि और जीवन में दिव्यता तथा परमात्मा की प्राप्ति होती है। 🌐http://www.vkjpandey.in 🙏🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/HKT9FhsdspHGntDGCZjVx3

+59 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 76 शेयर

2077-विजय श्री हिंदू पंचांग-राशिफल-1942 (25.10.2020) श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा (राजस्थान) 74.30 - रेखांतर मध्य मान - 75.30 उद्देश्य ज्योतिष विद्या संरक्षण प्रसार प्रशिक्षण शुभ रविवार - शुभ प्रभात् ___________________________________ __विभिन्न शहरों के लिये समयांतर संस्कार __ (लगभग-वास्तविकता के समीप) दिल्ली +10मिनट---------जोधपुर --6 मिनट जयपुर +5 मिनट------अहमदाबाद--8 मिनट कोटा +5 मिनट----------- -मुंबई --7 मिनट लखनऊ +25 मिनट-------बीकानेर--5 मिनट --------------------------------------------------------- --------------------आज विशेष------------------ --विजयादशमी एक अबूझ सिद्धिदायक मुहूर्त-- -------------------------------------------------------- दिनांक..............................25.10.2020 कलियुग संवत्...............................5122 विक्रम संवत................................ .2077 शक संवत....................................1942 संवत्सर...................................श्री प्रमादी अयन.........................................दक्षिण गोल.......................................... दक्षिण ऋतु.............................................हेमंत मास..............................(द्वितीय) आश्विन पक्ष.............................................शुक्ल तिथि............नवमी. प्रातः 7.41 तक/ दशमी वार...........................................रविवार नक्षत्र......धनिष्ठा. रात्रि. 4.22 तक / शतभिषा चंद्र राशि.......मकर. अपरा. 3.25 तक / कुंभ योग..............गंड. रात्रि. 12.27 तक / वृद्धि करण....................कौलव. प्रातः 7.41 तक करण.............तैत्तिल. रात्रि. 8.16 तक / गर ---------------------------------------------------------- सूर्योदय...............................6.36.24 पर सूर्यास्त................................5.54.10 पर दिनमान.................................11.17.46 रात्रिमान................................12.42.48 चंद्रोदय................. प्रातः.2.40.22 PM पर चंद्रास्त..................रात्रि. 1.54.53 AM पर सूर्य........................(तुला) 06.07.56.26 चंद्र.........................(मकर) 9.25.15.46 राहुकाल.........सायं. 4.29 से 5.54 (अशुभ) यमघंट........अपरा. 12.15 से 1.40 (अशुभ) अभिजित......(मध्या.)11.53 से 12.38 तक पंचक आरंभ.................. .अपरा. 3.25 पर पंचक समाप्ति....30.10.2020---2.56 PM शुभ हवन मुहूर्त(अग्निवास).............. आज है दिशाशूल..............................पश्चिम दिशा दोष निवारण........घी का सेवन कर यात्रा करें ___________________________________ चौघड़िया (दिन-रात)......(केवल शुभ कारक) *दिवा कालीन* चंचल..................प्रातः 8.01से 9.26 तक लाभ................प्रातः 9.26 से 10.51 तक अमृत...........पूर्वाह्न. 10.51 से 12.15 तक शुभ.................अपरा. 3.05 से 4.30 तक *रात्रि कालीन* शुभ..................रात्रि. 5.54 से 7.30 तक अमृत.................रात्रि.7.30 से 9.05 तक चंचल..............रात्रि. 9.05 से 10.40 तक लाभ.................रात्रि. 1.51 से 3.26 तक शुभ..................रात्रि. 5.02 से 6.37 तक __________________________________ *शुभ शिववास की तिथियां* शुक्ल पक्ष-2-----5-----6---- 9-------12----13. कृष्ण पक्ष-1---4----5----8---11----12----30. ___________________________________ आज जन्मे शिशुओं का नक्षत्र चरण के अनुसार नामकरण हेतु नामाक्षर. 09.00 AM तक----धनिष्ठा---1-------(खी) 03.25 PM तक----धनिष्ठा---2-------(खु) (पाया - ताम्र) ________सभी की राशि मकर रहेगी_______ ___________________________________ 09.53 PM तक----धनिष्ठा---3-------(खे) 04.22 AM तक----धनिष्ठा---4-------(खो) उपरांत रात्रि तक--शतभिषा---1-------(गो) (पाया - ताम्र) _______सभी की राशि कुंभ रहेगी ________ ___________________________________ ____________आज का दिन____________: व्रत विशेष............. अपराजिता / शमी पूजा पर्व विशेष...............विजयादशमी (दशहरा) दिन विशेष...पंचक आरंभ.अपरा. 3.25 PM सर्वा.सिद्धयोग................................ नहीं सिद्ध रवियोग...................संपूर्ण (अहोरात्र) ___________________________________ _____________कल का दिन____________ दिनांक..............................26.10.2020 तिथि.......(द्वि.)आश्विन शुक्ला दशमी सोमवार व्रत विशेष.......................................नहीं दिन विशेष..................................... नहीं सर्वा.सिद्धयोग..................................नहीं सिद्ध रवियोग....................संपूर्ण (अहोरात्र) _____________________________________ दशहरा यानि विजयादशमी सर्वसिद्धिदायक, इस दिन बिना मुहूर्त भी किए जा सकते हैं ये शुभ कार्य अश्विन मास की दशमी तिथि को पूरे देश में दशहरा या विजयादशमी का त्योहार बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। दुर्गा पूजा की दशमी तिथि को मनाया जाने वाले दशहरा बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य की विजय का प्रतीक है। कहा जाता है कि दशहरा या विजयादशमी के दिन बिना शुभ मुहूर्त भी शुभ कार्यों को किया जा सकता है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, इस दिन किए गए नए कार्यों में सफलता हासिल होती हैं। विजयादशमी या दशहरा के दिन श्रीराम, मां दुर्गा, श्री गणेश और हनुमान जी की अराधना करके परिवार के मंगल की कामना की जाती है। मान्यता है कि दशहरा के दिन रामायण पाठ, सुंदरकांड, श्रीराम रक्षा स्त्रोत करने से मन की मुरादें पूरी होती हैं। मांगलिक कार्यों के लिए यह दिन माना जाता है शुभ दशहरा या विजयादशमी सर्वसिद्धिदायक तिथि मानी जाती है। इसलिए इस दिन सभी शुभ कार्य फलकारी माने जाते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, दशहरा के दिन बच्चों का अक्षर लेखन, घर या दुकान का निर्माण, गृह प्रवेश, मुंडन, नामकरण, अन्नप्राशन, कर्ण छेदन, यज्ञोपवीत संस्कार और भूमि पूजन आदि कार्य शुभ माने गए हैं। विजयादशमी के दिन विवाह संस्कार को निषेध माना गया है। जानिए कब है दशहरा- हिंदू पंचांग के अनुसार, इस साल दशहरा या विजयादशमी का त्योहार 25 अक्टूबर को मनाया जाएगा। दशहरा हर साल दीपावली से ठीक 20 दिन पहले मनाया जाता है। हालांकि इस साल नवरात्रि 9 दिन के न होकर 8 दिन में ही समाप्त हो रहे हैं। दरअसल, इस साल अष्टमी और नवमी का एक ही दिन पड़ रही है। 24 अक्टूबर को सुबह 6 बजकर 58 मिनट तक ही अष्टमी है, उसके बाद नवमी लग जाएगी। जिसके चलते दशहरा 25 अक्टूबर को मनाया जाएगा। शुभ मुहूर्त- दशमी तिथि प्रारंभ - 25 अक्टूबर को सुबह 07:41 मिनट से विजय मुहूर्त - दोपहर 01:55 मिनट से 02 बजकर 40 तक। अपराह्न पूजा मुहूर्त - 01:11 मिनट से 03:24 मिनट तक। दशमी तिथि समाप्त - 26 अक्टूबर को सुबह 08:59 मिनट तक रहेगी। पौराणिक कथा- पौराणिक कथा के अनुसार, इस दिन मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम ने लंकापति रावण का वध किया था। भगवान राम के रावण पर विजय प्राप्त की थी इसी स्मृति में यह महापर्व मनाया जाता है। संकलन-श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा(राज) ____________________________________ आज का राशिफल... मेष-(चू चे चो ला ली लू ले लो आज हृदय-रोगियों के लिए कॉफ़ी छोड़ने का सही समय है। अब इसका ज़रा भी इस्तेमाल दिल पर अतिरिक्त दबाव डालेगा। आज के दिन भूलकर भी किसी को पैसे उधार न दें और यदि देना जरुरी हो तो देने वाले से लिखित में लें कि वो पैसा वापस कब करेगा। आप सभी पारिवारिक कर्ज़े ख़त्म करने में क़ामयाब रहेंगे। याद रखिए कि आँखें कभी झूठ नहीं बोलतीं। आज आपके प्रिय की आँखें आपको वाक़ई कुछ ख़ास बताएंगी। इस राशि के जातक आज खाली वक्त में रचनात्मक काम करने का प्लान तो बनाएंगे लेकिन उनका यह प्लान पूरा नहीं हो पाएगा। आपका वैवाहिक जीवन इससे अधिक रंगों से भरा कभी नहीं रहा है। छोटे भाई के साथ घूमने जा सकते हैं इससे आप दोनों के रिश्तों में प्रगाढ़ता आएगी। वृषभ-(इ उ एओ वा वी वू वे वो) आज अपनी शारीरिक चुस्ती-फुर्ती को बनाए रखने के लिए आप आज का दिन खेलने में व्यतीत कर सकते हैं। अगर आप लोन लेने वाले थे और काफी दिनों से इस काम में लगे थे तो आज के दिन आपको लोन मिल सकता है। दोस्तों और परिवार के साथ मज़ेदार समय बीतेगा। हर बात पर प्यार का दिखावा करना ठीक नहीं है इससे आपका रिश्ता सुधरने की जगह बिगड़ सकता है। कई कामों को छोड़कर आप आज अपने पसंदीदा कामों को करने का मन बनाएंगे लेकिन काम की अधिकता के कारण आप ऐसा नहीं कर पाएँगे। आज कोई फिल्म या नाटक देखकर आज आपका मन पहाड़ों में जाने का कर सकता है। मिथुन- (क की कू घ ङ छ के को ह) आज मौज-मस्ती की यात्राएं और सामाजिक मेलजोल आपको ख़ुश रखेंगे और सुकून देंगे। यदि शादीशुदा हैं तो आज अपने बच्चों का विशेष ख्याल रखें क्योंकि यदि आप ऐसा नहीं करते तो उनकी तबीयत बिगड़ सकती है और आपको उनके स्वास्थ्य पर काफी पैसा खर्च करना पड़ सकता है। घर में मरम्मत का काम या सामाजिक मेल-मिलाप आपको व्यस्त रखेगा। आपको प्यार में ग़म का सामना करना पड़ सकता है। आपमें से कुछ लोगों को लंबा सफ़र करना पड़ सकता है - जो काफ़ी दौड़-भाग भरा होगा - लेकिन साथ ही बहुत फ़ायदेमंद भी साबित होगा। उबाऊ होती शादीशुदा ज़िन्दगी के लिए कुछ रोमांच ढूंढने की ज़रूरत है। आज का दिन उन चन्द दिनों जैसा है जब घड़ी की सुईयाँ बहुत धीरे-धीरे हिलती हैं और आप लंबे समय तक बिस्तर में पड़े रहते हैं। लेकिन इसके बाद ख़ुद को तरोताज़ा भी महसूस करेंगे और इसकी आपको काफ़ी ज़रूरत भी है। कर्क- (ही हू हे हो डा डी डू डे डो) आज सेहत से जुड़ी समस्याएँ आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती हैं। आप ख़ुद को नए रोमांचक हालात में पाएंगे- जो आपको आर्थिक फ़ायदा पहुँचाएंगे। किसी बुज़ुर्ग की सेहत चिंता का सबब बनेगी। अपने दिल की बात ज़ाहिर करके आप ख़ुद को काफ़ी हल्का और रोमांचित महसूस करेंगे। आज के दिन घटनाएँ अच्छी तो होंगी, लेकिन तनाव भी देंगी - जिसके चलते आप थकान और दुविधा महसूस करेंगे। बाहरी लोगों का हस्तक्षेप आपके वैवाहिक जीवन में परेशानी उत्पन्न कर सकता है। अपनी रचनाधर्मिता को नया आयाम देने के लिए अच्छा दिन है। कुछ ऐसे विचार आ सकते हैं जो वाक़ई ज़बरदस्त और सृजनात्मक हों। सिंह- (मा मी मू मे मो टा टी टू टे) आज व्यस्त दिनचर्या के बावजूद स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। आज धन आपके हाथ में नहीं टिकेगा, आपको धन संचय करने में आज बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। अपने जीवन-साथी की उपलब्धियों की सराहना करें और उसकी सफलता और ख़ुशक़िस्मती का जश्न मनाएँ। उदार बनें और ईमानदारी से तारीफ़ करें। आज अपने प्रिय से दूर होने का दुःख आपको टीस देता रहेगा। दिक़्क़तों का तेज़ी से मुक़ाबला करने की आपकी क्षमता आपको ख़ास पहचान दिलाएगी। आपके लिए यह ख़ूबसूरत दिन रहेगा, लेकिन सेहत को लेकर थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। मानसिक शान्ति बहुत महत्वपूर्ण है - इसके लिए आप किसी बाग़ीचे, नदी के तट या मंदिर पर जा सकते हैं। कन्या- (टो प पी पू ष ण ठ पे पो) आज आपकी सकारात्मक सोच पुरस्कृत होगी, क्योंकि आप अपनी कोशिशों में क़ामयाबी पा सकते हैं। ख़र्चों में हुई अप्रत्याशित बढ़ोत्तरी आपके मन की शांति को भंग करेगी। बुज़ुर्ग और परिवार के सदस्य स्नेह देंगे और ख़याल रखेंगे। थोड़े बहुत टकराव के बावजूद भी आज आपका प्रेम जीवन अच्छा रहेगा और आप अपने संगी को खुश रखने में कामयाब होंगे। अगर आज आप यात्रा कर रहे हैं तो आपको अपने सामान की अतिरिक्त सुरक्षा करने की ज़रूरत है। आज आप अपने जीवनसाथी से काफ़ी आत्मीय बातचीत कर सकते हैं। जिन्दगी का स्वाद तो स्वादिष्ट भोजन को करने में ही है। यह बात आज आपके जुबान पर आ सकती है क्योंकि आप के घर में आज स्वादिष्ट भोजन बन सकता है। तुला- (रा री रू रे रो ता ती तू ते आज आपका तल्ख़ बर्ताव जीवनसाथी के साथ आपके संबंधों में तनाव डाल सकता है। कोई भी ऐसा काम करने से पहले इसके परिणामों के बारे में सोच लें। अगर मुमकिन हो तो अपना मूड बदलने के लिए कहीं और जाएँ। आर्थिक दृष्टि से आज का दिन मिलाजुला रहने वाला है। आज आपको धन लाभ तो हो सकता है लेकिन इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। बच्चे उम्मीदों पर खरे न उतरकर आपको निराश कर सकते हैं। सपनों को साकार करने के लिए उन्हें प्रोत्साहन देने की ज़रूरत है। रोमांस का मौसम है। लेकिन अपने जज़्बात क़ाबू में रखें, नहीं तो रिश्ते में खटास पैदा हो सकती है। भरपूर रचनात्मकता और उत्साह आपको एक और फ़ायदेमंद दिन की ओर ले जाएंगे। सम्भव है कि आपके जीवनसाथी की वजह से आपकी प्रतिष्ठा को थोड़ी ठेस पहुँचे। घर का कोई वरिष्ठ आज आपको कोई ज्ञान की बात बता सकता है। उनकी बातें आपको अच्छी लगेंगी और आप उनपर अमल भी करेंगे। वृश्चिक- (तो ना नी नू ने नो या यी यू) आज आपका उदार स्वभाव आपके लिए कई ख़ुशनुमा पल लेकर आएगा। आपकी ग़ैर-यथार्थवादी योजनाएँ आपके धन को कम कर सकती हैं। आपके व्यक्तिगत मोर्चे पर कोई बड़ी चीज़ होने वाली है, जो आपके और आपके परिवार के लिए उल्लास लेकर आएगी। समय, कामकाज, पैसा, यार-दोस्त, नाते-रिश्ते सब एक ओर और आपका प्यार एक तरफ़, दोनों आपस में खोए हुए - कुछ ऐसा मिज़ाज रहेगा आपका आज। व्यस्त दिनचर्या के बावजूद भी आज आप अपने लिए समय निकालपाने में सक्षम होंगे। खाली वक्त में आज कुछ रचनात्मक कर सकते हैं। सुबह जीवनसाथी से आपको कुछ ऐसा मिल सकता है, जिससे आपका सारा दिन ख़ुशगवार गुज़रेगा। माता-पिता को बिना बताए आज आप उनके पसंद की कोई डिश घर पर ला सकते हैं इससे घर में सकारात्मक माहौल बन जाएगा। धनु-ये यो भा भी भू धा फा ढ़ा भे) आज आपका तेज़ दिमाग किसी अच्छे काम को करने के लिए आपको प्रेरित करेगा। सफलता हासिल करने के लिए समय के साथ अपने विचारों में बदलाव लाएँ। इससे आपका दृष्टिकोण व्यापक होगा, समझ का दायरा बढ़ेगा, व्यक्तित्व में निखार आएगा और दिमाग़ विकसित होगा। बिना किसी की मदद के भी आप धन कमा पाने में सक्षम हो सकते हैं बस आपको खुद पर विश्वास करने की जरुरत है। परिवार के सदस्यों का आपके जीवन में विशेष महत्व होगा। साथ ही । समय का अच्छा इस्तेमाल करने के लिए आज आप पार्क में घूमने का प्लान बना सकते हैं लेकिन वहां किसी अनजान शख्स से आपकी बहस होने की अशंका है जिससे आपका मूड खराब हो जाएगा। आज आपका जीवनसाथी आपको प्यार और सुख के लोक की सैर करा सकता है। लोगोंं के बीच रहकर सबका सम्मान करना आपको आता है इसलिए आप भी सबकी नजरों में अच्छी छवि बना पाते हैं। मकर- (भो जा जी खी खू खे खो गा गी) आज शारीरिक लाभ के लिए, विशेषकर मानसिक तौर पर मज़बूती हासिल करने के लिए ध्यान और योग का आश्रय लें। अपनेे लिए पैसा बचाने का आपका ख्याल आज पूरा हो सकता है। आज आप उचित बचत कर पाने में सक्षम होंगे। ग़लत बातों को ग़लत वक़्त पर कहने से बचें। जिन्हें आप चाहते हैं, उनका दिल दुखाने से बचें। सम्हल कर दोस्तों से बात करें, क्योंकि आज के दिन दोस्ती में दरार पड़ने की आशंका है। शहर से बाहर यात्रा ज़्यादा आरामदेह नहीं रहेगी, लेकिन आवश्यक जान-पहचान बनाने के लिहाज़ से फ़ायदेमंद साबित होगी। अपने जीवनसाथी के किसी काम की वजह से आप कुछ शर्मिन्दगी महसूस कर सकते हैं। लेकिन बाद में आपको महसूस होगा कि जो हुआ, अच्छे के लिए ही हुआ। खुलकर गाना गाना और जमकर नाचना आपकी हफ़्ते भर की थकान व तनाव को समाप्त कर सकता है। कुंभ- (गू गे गो सा सी सू से सो द) आज का दिन ऐसे काम करने के लिए बेहतरीन है, जिन्हें करके आप ख़ुद के बारे में अच्छा महसूस करते हैं। आज किसी विपरीत लिंगी की मदद से आपको करोबार या नौकरी में आर्थिक लाभ होने की संभावना है। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुकून भरे और शांत दिन का लुत्फ़ लें। अगर लोग परेशानियों के साथ आपके पास आएँ तो उन्हें नज़रअंदाज़ करें और उन्हें अपनी मानसिक शांति भंग न करने दें। आपको पहली नज़र में किसी से प्यार हो सकता है। दिक़्क़तों का तेज़ी से मुक़ाबला करने की आपकी क्षमता आपको ख़ास पहचान दिलाएगी। थोड़ी-सी कोशिश करें तो यह दिन आपके वैवाहिक जीवन के सबसे विशेष दिनों में से एक हो सकता है। बिना किसी का साथ पाये भी आजके दिन का आप भरपूर आनंद उठा पाएंगे। मीन- (दी दू थ झ ञ दे दो च ची) आज आप ऐसी गतिविधियों में संलग्न रहें, जो आपको सुकून दें। अगर आप लोन लेने वाले थे और काफी दिनों से इस काम में लगे थे तो आज के दिन आपको लोन मिल सकता है। जब आप समूह में हों तो ध्यान रखें कि आप क्या कह रहे हैं, बिना ज़्यादा समझे-बूझे अचानक कहे गए शब्दों के चलते आप कड़ी आलोचना के शिकार हो सकते हैं। अपने प्रिय के लिए बदले की भावना से कुछ हासिल नहीं होगा- बजाय इसके आपको दिमाग़ शांत रखना चाहिए और अपने प्रिय को अपनी सच्चे जज़्बात से परिचित कराना चाहिए। आज समय की नजाकत को देखते हुए आप अपने लिए समय निकाल सकते हैं लेकिन ऑफिस के किसी काम के अचानक आ जाने के कारण आप ऐसा करने में सफल नहीं हो पाएँगे। वैवाहिक जीवन में आप कुछ निजता की ज़रूरत महसूस करेंगे। आपके बात करने का तरीका आज बहुत खराब होगा जिसकी वजह से समाज में आप अपना मान सम्मान खो सकते हैं। __________________________________ पं. रामपाल भट्ट श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा (राजस्थान) ___________________________________

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 17 शेयर

***अपना पोस्ट*** **नक्षत्रवाणी** *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻*  गजाननं भूतगनादि सेवितम, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम। उमासुतं शोकविनाशकारकम, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम।। श्रीमते रघुवीराय सेतूल्लङ्घितसिन्धवे। जितराक्षसराजाय रणधीराय मङ्गलम्।। भुजगतल्पगतं घनसुन्दरं गरुडवाहनमम्बुजलोचनम् । नलिनचक्रगदाकरमव्ययं भजत रे मनुजाः कमलापतिम् ।।  क्यों भटके मन बावरा, दर-दर ठोकर खाये...! शरण श्याम की ले ले प्यारे, जनम सफल हो जाये...!! 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ मित्रों...! सबसे पहले तो नक्षत्रवाणी की पोस्टिंग में व्यस्तत्तम शेड्यूल के चलते ना चाहते हुए भी होने वाले विलंब के लिए आप सभी से हृदयपूर्वक क्षमा प्रार्थना सहित.....🙏🙏 आप सभी परम प्रिय धर्मपारायण, ज्योतिषविद्या प्रेमी विद्वतजनों को आचार्य/पं.मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम 🌸 जय गणेश 🌸 जय अंबे 🌸 *जय श्री कृष्ण*🌷मंगल प्रभात🌷इसी के साथ आप सभी सनातनी, धर्म-उत्सवप्रेमी, राम-कृष्ण-हरि-शिवभक्त, शक्ति उपासक व राष्ट्रप्रेमी मित्र-बंन्धुओं को **आज शुद्ध आश्विन (द्वितीय आश्विन) मास शुक्ल श्री दुर्गानवमी व्रत, नवरात्र समाप्त -पारणा उत्सव, श्री विजयदशमी महापर्व की (शमी/खेजड़ी /जांटी/जंड पूजा, अपराजिता पूजा महत्व/विधान), आयुद्ध/शस्त्र पूजा एवं बौद्धावतार महोत्सव** की भी बहुत-बहुत हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...!!!** ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ आइये...! अब चलें आपके प्रिय पोस्ट 'नक्षत्रवाणी' के अंतर्गत आज कुछ विशेष महत्वपूर्ण जानकारी, दृकपंचांग, चन्द्र राशिफल' एवं 'आरोग्य मंत्र' की ज्ञानयात्रा पर...🙏 ```༺⊰🕉⊱༻ ``` *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻* ☘️🌸!! ॐ श्री गणेशाय नमः!! 🌸☘️ ****************************** 𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :- आज दिनांक *25 ऑक्टोबर 2020 ई.*रविवार/सन्डे* 🇮🇳राष्ट्रीय सौर कार्तिक*दि.०३अश्विन*(नभस्यमास)‌१९४२* प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग:««« 👉 ध्यान दें **यहाँ दिये गए तिथि, नक्षत्र, योग व करण आदि के समय इनके समाप्ति काल हैं और सूर्योदयास्त व चंद्रोदय का गणना स्थल मुंबई हैं।** कलियुगाब्द......5122 ( ५१२२ ) विक्रम संवत्.....2077 (प्रमादी नाम) शक संवत्......1942 🌤मास......आश्विन/आसु/आसोज 🌓पक्ष.......शुक्ल/सुदी/चानण पछ/उतरतो आसोज **तिथि.......नवमी/नोमी** प्रातः 07.41 पर्यंत पश्चात दशमी *वार/दिन....रविवार/भानुवासर/दीतवार/इतवार **नक्षत्र.......धनिष्ठा** दुसरे दिन प्रातः 04.23 पर्यंत पश्चात शतभिषा योग..............गंड रात्रि 12.26 पर्यंत पश्चात वृद्धि करण..........कौलव प्रातः 07.42 पर्यंत पश्चात तैतिल सूर्योदय.........प्रातः 06.30.00 पर सूर्यास्त.........संध्या 06.05.38 पर चंद्रोदय........(दिन) 02.48.00 पर रवि(अयन )...दक्षिणायन **ऋतु (दृक)...शरद** **वैदिक........शरद** **गुरु राशि.....धनु (पश्चिम में उदित, मार्गी)** **सूर्य राशि.....तुला** **चन्द्र राशि....मकर (15.27 पर्यंत पश्चात कुंभ)** 🚦 *दिशाशूल :-* पश्चिम दिशा - यदि अति आवश्यक हो तो दलिया/घी या पान का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें । ☸ शुभ अंक......7 🔯 शुभ रंग.......सिंदूरी/नारंगी या केसरिया लाल ⚜ *अभिजीत मुहूर्त :-* मध्याह्न/दोपहर 11.59 से 12.45 तक । 👁‍🗨*राहुकाल :-* अपराह्न/संध्या 04.39 से 06.05 तक । 👁‍🗨 *गुलिक काल :-* अपराह्न 03.14 से 04.39 तक। 🌞 *उदय लग्न मुहूर्त :-* *तुला* 05:54:46 08:14:38 *वृश्चिक* 08:14:38 10:33:36 *धनु* 10:33:36 12:37:57 *मकर* 12:37:57 14:20:33 *कुम्भ* 14:20:33 15:48:16 *मीन* 15:48:16 17:13:27 *मेष* 17:13:27 18:48:55 *वृषभ* 18:48:55 20:44:45 *मिथुन* 20:44:45 22:59:43 *कर्क* 22:59:43 25:20:26 *सिंह* 25:20:26 27:38:06 *कन्या* 27:38:06 29:54:46 ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 07.55 से 09.20 तक चंचल प्रात: 09.20 से 10.45 तक लाभ प्रात: 10.45 से 12.09 तक अमृत दोप. 01.34 से 02.59 तक शुभ सायं 05.48 से 07.24 तक शुभ संध्या 07.24 से 08.59 तक अमृत रात्रि 08.59 से 10.34 तक चंचल । *************************** ✍ आज के विशेष योगायोग/युति संयोग, वेध, ग्रहचार (ग्रहचाल), व्रत/पर्व/प्रकटोत्सव, जयंती/जन्मोत्सव व मोक्ष दिवस/स्मृतिदिवस/पुण्यतिथि आदि 🙏👇:- 👉 **आज द्वितीय आश्विन (शुद्ध) मास शुक्ल पक्ष रविवार को 👉 वर्ष का 215 दो सौ पंद्रहवाँ दिन, आश्विन शुक्ल/सुदी नवमी 07:41 तक पश्चात् दशमी शुरु, माँ सिद्धिदात्री/श्री दुर्गानवमी व्रत, नवरात्र समाप्त-व्रतोपवास पारणा, श्री विजयदशमी (विजय मुहुर्त 13:17 से 14:29 तक), सर्वदोषनाशक रवि योग जारी, पंचक प्रारम्भ 15:27 से, शमी/खेजड़ी /जांटी/जंड पूजा, अपराजिता पूजा, आयुद्ध पूजा, सीमोल्लंघन, नीलकंठ दर्शन, दशमी में श्रवण नक्षत्र में राजाओं का पट्टाभिषेक, बौद्धावतार, श्री घनश्यामभाई ओझा जयन्ती, कैप्टन विसलियमसन अम्पांग संगमा स्मृति दिवस व श्री दिलीप रमणभाई पारिख स्मृति दिवस।** 🏡 *वास्तु टिप्स*🏡 1) **कभी भी घर/ऑफिस के मुख्य द्वार के सामने खम्भा, स्तम्भ या मीनार नहीं होनी चाहिए, यह द्वारवेध कहलाता है। इससे घर में लगातार कष्ट की सम्भावनाएँ बनी रहती हैं। विषेषतःयह उन्नति में बाधक बन जाता है।** 2) आपके घर से अगर अकारण ही बरकत जा रही है या आपको नेगेटिव एनर्जी दिख रही है या परिवार में निरंतर कलह रहता है, तो कपूर और फिटकरी को पीस के गौझारण (गौमूत्र) जो बहुत ही आसानी से मिल जाता है (अन्यथा पतंजलि आदि का ले लें), इससे घर मे पोछा लगाने वाले क्लीनर या पानी मे मिला लें और रोज़ सुबह-शाम घर मे पोछा लगाये और गंगाजल का पूजा-आरती के बाद छिड़काव भी करें फिर चमत्कारिक परिवर्तन देखें। 🙏 💥 **विशेष ध्यातव्य 👉 नवमी/नोमी को लौकी/दूधी का सेवन करना गोमांस के समान त्याज्य है इसलिए पूर्णतः वर्जित है। यह बुद्धि व आरोग्यतानाशक होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34।** 📿 *आज का आराधना मंत्र* **🕉 ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः ‼️ 🎪🚩** *🚩🎪 ‼️ 🕉 हिरण्यगर्भाय नमः ‼️ 🎪🚩* 📿 *आज का उपासना मंत्र :-* ॥ ॐ सिद्धिदात्र्यै नम: ॥ आज का *॥ ध्यान मंत्र ॥* सिद्धगन्धर्वयक्षाघैरसुरैरमरैरपि । सेव्यमाना सदा भूयात् सिद्धिदा सिद्धिदायिनी॥ै।** 🌚 *त्रिरात्रोत्सव ज़ारी :-* 🔱 *नवम सिद्धिदात्री पूजन (नवम दिवस) :-* *सिद्धिदात्री* : मां दुर्गा का नवम स्वरूप :- सिद्धियों की दाता "माँ सिद्धिदात्री" देवी दुर्गा का अंतिम स्वरुप हैं। नवमी के दिन माँ सिद्धिदात्री की पूजा और कन्या पूजन के साथ ही नवरात्रि का अंत होता है। मां का स्वरूप: माँ सिद्धिदात्री भक्तों को सभी प्रकार की सिद्धियाँ प्रदान करती हैं। मान्यता अनुसार भगवान शिव ने इन्हीं की उपासना कर सिद्धियों को प्राप्त किया था। माँ सिद्धिदात्री चार भुजाओं वाली हैं, जिनमें गदा, कमल पुष्प, शंख और चक्र लिये माँ कमल के फूल पर आसीन हैं। माँ सिद्धिदात्री का वाहन सिंह है। ****************************** ⚜ 👉🙏 🚩 ☸ *तिथि विशेष :* 🚩 **आश्विन (शुद्ध) शुक्ल पक्ष नवमी/नोमी, नवमी/नोमां नवरात्र व्रत एवं नवम स्वरूप में माँ सिद्धिदात्री का पूजन उत्सव, कंजक/कन्या पूजन, व्रतोपवास पारणा, विजयदशमी उत्सव, शस्त्र पूजन (दशहरा पूजन)** 👉 **बहुत अच्छे से ध्यान दें मित्रों...!!!**🙏👇 **देवी भक्तों परम पवित्र एवं महा सौभाग्यप्रद शारदीय नवरात्रि का चल रही है। इसलिए इस दिव्य नवदिवसीय समय को ऐसे ही व्यर्थ नहीं जाने दें और इस संबंध में आज नवम/नोवें दिन किये जाने वाले माता सिद्धिदात्रि जी के विशेष पूजा व जपानुष्ठान आदि के बारे में हमसे बिल्कुल फ्री मार्गदर्शन लेकर भगवती की कृपा द्वारा अपना तथा अपनों का बड़ी ही सरलता और सहजता से कल्याण करें, अपनी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करने का मार्ग प्रशस्त करें। विशेषकर वे श्रद्धालुगण जो शत्रुवृद्धि/शत्रुबाधा या जीवन के सभी क्षेत्रों में तरह-2 के संकटों या कष्टों का सामना कर रहे हैं और जिनकी प्रगति पूरी तरह से रुक गई है वे...! कैसे...??? तो इसपर ज्यादा जानकारी प्राप्त करने के लिए या फिर अपनी जन्मलग्न या जन्म राशिनुसार किये जाने वाला भगवती पराम्बा का विशेष पूजन-अर्चन एवं जाप/जप विधान यानि अपना जपमंत्र व उसकी जपविधि भी आप हमसे पूर्णतः निःशुल्क जान सकते हैं और आपको इसके लिए हमें व्हाट्सएप्प message भर करना हैं। हमारे मोबाइल नम्बर्ज़ हैं: 9987815015/9991610514. ध्यान रखें कृपया सीधा कॉल ना करके पहले आप हमें व्हाट्सएप्प मैसेज ही करें...!!! **जो प्रोफेशनल्ज/कामकाजी होने के चलते या अन्य कारणों से शास्त्रोक्त 'कात्यायनी साधना' कल ना कर सकी हों वे सौभाग्यकांक्षिणियाँ 'सर्वसिद्ध कात्यायनी महायंत्र' के लिए हमसे तुरंत संपर्क करें। धन्यवाद...!!**  *संस्कृत सुभाषितानि :-* द् दत्त्वा तप्यते पश्चादपात्रेभ्यस्तथा च यत् । अश्रद्धया च यद्दानं दाननाशास्त्रयः स्वमी ॥ अर्थात :- देने के बाद पश्चात्ताप होना, अपात्र को देना, और श्रद्धारहित देना – इनसे दान नष्ट हो जाता है । 🍃 *आरोग्य मंत्र :-* *नवदुर्गा के औषधि रूप :-* *नवम सिद्धदात्री (शतावरी) -* दुर्गा का नवम रूप सिद्धिदात्री है। जिसे नारायणी या शतावरी कहते हैं। शतावरी बुद्धि बल एवं वीर्य के लिये उत्तम औषधि है। रक्त विकार एवं वात पित्त शोध नाशक है। हृदय को बल देने वाली महाऔषधि है। सिद्धिधात्री का जो मनुष्य नियमपूर्वक सेवन करता है, उसके सभी कष्ट स्वयं ही दूर हो जाते हैं। इससे पीड़ित व्यक्ति को सिद्धिदात्री देवी की आराधना करना चाहिए। इस प्रकार प्रत्येक देवी आयुर्वेद की भाषा में मार्कण्डेय पुराण के अनुसार नौ औषधि के रूप में मनुष्य की प्रत्येक बीमारी को ठीक कर मनुष्य को स्वस्थ करती है। अत: मनुष्य को देवी की आराधना के साथ साथ औषधियों का सेवन भी करना चाहिए। **************************** ⚜ **अब आज का संभावित चन्द्र राशिफल** ⚜ 👉लेकिन पहले सबसे एक करबद्ध निवेदन 🙏👇:- मित्रों सर्वप्रथम तो कल आपको आपकी प्रिय पोस्ट कुछ घरेलू कारणों से नहीं मिल पाई इसके लिए मैं आप सभी से क्षमा प्रार्थी हूँ। ततपश्चात निवेदन करना चाहता हूँ कि आपकी इस परमप्रिय ज्ञानवर्धक 'अपना पोस्ट' *नक्षत्रवाणी* को आप जितना हो सकता हो उतना लाइक व शेयर/फॉरवर्ड तो करें ही, आलस्य त्याग कर कृपया इसपर अपनी बुद्धि व विवेक के अनुसार अपने सही-सही कमैंट्स भी अवश्य करें। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और अपने फीडबैक से व लाइक/सराहना करके भी अवश्य ही मेरा उत्साहवर्धन करेंगे। नक्षत्रवाणी के संदर्भ में आप सभी के बहुमूल्य सुझाव भी सादर आमंत्रित हैं। धन्यवाद...!!! 💐💐 **ख़ुशख़बर।। आज की सबसे बड़ी ख़ुशख़बर।।**👇 प्रियवरों गणेशोत्सव के अंतर्गत और भाद्रपद मास के अंतिम सोमवार के शुभावसर पर त्रिगुणात्मक भगवान महाकालेश्वर शिव जो कि एकादश रुद्र रूपों में भी प्रस्फुटित होते हैं, उनके साक्षत स्वरूप व कृपाप्रसाद *'रुद्राक्ष रत्न*" जिसे रुद्र के अक्ष या भगवान शिव के अक्ष के रूप में जाना जाता है, को पहली बार अब हम विधिवत **अभिमंत्रित** करके आपको आपके सभी दैहिक-दैविक-भौतिक कष्टों से मुक्ति दिलाने हेतु, विषेषतः इस **कोरोना काल** में बहुत अधिक बढ़ चुके मानसिक संताप (Mental stress/depression) को पूर्ण रूप से दूर करने के लिए, आपकी आर्थिक तँगीं की स्थिति को समझते हुए **केवल मात्र 111₹** में आप शिवभक्त सुधि पाठकों के लिए उपलब्ध करवाना प्रारंभ किया है। जिसे भी यह दिव्य सर्वसिद्ध **रुद्राक्ष रत्न** चाहिए, वे कृपया हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। ध्यान रखें यह योजना सीमित समय के लिए ही है, इसलिए इस सुनहरे अवसर को आप चूकें नहीं। 🙏 👉 **एक विशेष व अति शुभ सूचना:👇** **मित्रों हमारे 'ऐस्ट्रो वर्ल्ड' के दिव्य कोष में शुद्ध केसर (काश्मीरी व ईरानी A तथा B दोनों ग्रेड की), पारिजात, चम्पा, अनन्त, पुन्नाग, श्वेत/सफ़ेद ऊद, केसर, खस, भीना गुलाब व असली चंदन जैसे दिव्य इत्रों की पूरी रेंज, भीमसेनी कर्पूर, उत्तम क्वालिटी की शुद्ध गुग्गल व शुद्ध लोबान, शुद्ध राशि रत्न-उपरत्न, असली नेपाली रुद्राक्ष रत्न व गण्डकी नदी से प्राप्त असली शालग्राम जी भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे इस संग्रहालय में और भी कई दिव्य व चमत्कारिक वस्तुएं उपलब्ध हैं। ये सभी दिव्य वस्तुएं हम अपने ज्योतिष-वास्तु एवं वैदिक पूजा-अनुष्ठानों के नियमित यजमानों के लिए बहुत ही सही रेट पर और कम मार्जिन पर देते हैं तथा इनके असली होने की मनी बैक गारंटी के साथ भी। तो आप 'नक्षत्रवाणी' के सभी पाठक भी हमारे परम प्रिय होने से इसका लाभ निःसन्देह ले सकते हैं। इसके लिए आप हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। जल्दी रिप्लाई ना मिलने पर आप कॉल भी कर सकते हैं। धन्यवाद...!!!** 🐏 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेंगे। आशंका-कुशंका रहेगी। घर-परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी। थकान व कमजोरी रह सकती है। जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें। यात्रा लाभदायक रहेगी। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है। धन प्राप्ति सुगम होगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। लंबे प्रवास की योजना बन सकती है। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* मित्रों व संबंधियों की सहायता कर पाएंगे। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। ईष्यालु व्यक्तियों से बचें। शेयर मार्केट व म्यूचुअल फंड से लाभ होगा। कार्यस्‍थल पर सुधार व परिवर्तन हो सकता है। योजना फलीभूत होगी किंतु तत्काल लाभ नहीं मिलेगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल बनेगी। कारोबारियों को लाभ के अवसर बढ़ेंगे। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। मेहनत अधिक होने से स्वास्थ्य कमजोर हो सकता है। किसी तीर्थस्थान के दर्शन हो सकते हैं। अध्यात्म में रुचि रहेगी। किसी साधु-संत का आशीष मिल सकता है। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* यात्रा यथासंभव टालें। दूसरों के काम में हस्तक्षेप न करें। शत्रु सक्रिय रहेंगे। किसी छोटी सी बात पर विवाद हो सकता है। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। चोट व दुर्घटना से हानि संभव है। व्यापार, नौकरी व निवेश आदि मनोनुकूल रहेंगे। लाभ होगा। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* छोटे भाइयों व मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा। किसी के झगड़ों में न पड़ें। विवाद से क्लेश संभव है। व्यापारियों को खुशखबर मिल सकती है। पति-पत्नी में संबंध मधुर होंगे। राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। रुके कार्यों में गति आएगी। निवेश लाभप्रद रहेगा। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* प्रसन्नता व संतुष्टि रहेंगे। परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता प्राप्त होगी। नौकरी में उच्चाधिकारी प्रसन्न रहेंगे। भूमि व भवन संबंधी बाधा दूर होकर स्थिति अनुकूल होगी। स्थायी संपत्ति के बड़े सौदे हो सकते हैं। जोखिम उठाने व जल्दबाजी करने से बचें। धनार्जन होगा। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* किसी प्रबुद्ध व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। जल्दबाजी में कोई कार्य न करें। थकान रह सकती है। व्यापार लाभदायक रहेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। शैक्षणिक व शोध कार्य मनोनुकूल रहेंगे। पार्टी व पिकनिक का आनंद प्राप्त हो सकता है। नौकरी में कोई नया कार्य कर पाएंगे। निवेश शुभ रहेगा। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* वाणी पर नियंत्रण रखें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। लेन-देन में सावधानी आवश्यक है। कारोबार में लाभ होगा। नए संबंध बनाने के पहले विचार कर लें। नौकरी में समस्याएं आ सकती हैं। कार्यभार रहेगा। आय बनी रहेगी। कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय लेने में जल्दबाजी न करें। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* मित्रों व संबंधियों की सहायता कर पाएंगे। मान-सम्मान मिलेगा। कारोबार से लाभ वृद्धि होगी। नौकरी में अधिकारी वर्ग प्रसन्न रहेगा। मेहनत का फल पूरा-पूरा मिलेगा। कार्यसिद्धि से प्रसन्नता रहेगी। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। पति-पत्नी के संबंधों में मधुरता बढ़ेगी। धनागम होगा। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। विवेक का प्रयोग लाभ में वृद्धि करेगा। व्यापार-व्यवसाय से आय बढ़ेगी। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। आत्मसम्मान बना रहेगा। कोई बड़ा कार्य व लंबे प्रवास का मन बनेगा। जल्दबाजी न करें। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* व्यापार-व्यवसाय लाभप्रद रहेगा। निवेश शुभ रहेगा। पार्टनरों से सहयोग प्राप्त होगा। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। यात्रा लाभप्रद रहेगी। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। भाग्य का साथ मिलेगा। झंझटों से दूर रहें। 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* आर्थिक परेशानी आ सकती है। फालतू खर्च होगा। समय पर व्यवस्था नहीं होगी। आशा-निराशा के भाव रहेंगे। विचारों में स्पष्टता नहीं होने से समस्या बढ़ सकती है। आय में निश्चितता रहेगी। विवाद न करें। जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। ****************************************** *🎊🎉🎁 आज जिनका जन्मदिवस या विवाह की वर्षगांठ हैं, उन सभी प्रिय मित्रो को कोटिशः शुभकामनायें🎁🎊🎉* ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ और ज़रा इन बातों पर भी ज़रूर ध्यान दें मित्रों...! अगर...??? 1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं....? 2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है...? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं...? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं...? 3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..? 4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं...? 5) बिमारी आपको छोड़ ही रही है...? घर का हरएक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है...? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है...? 6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं...? 7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है...? 8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है...? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं...? 9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं...? 10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं...? 11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही...? 12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा...? यदि हाँ...??? तो यह सब अकारण ही नहीं है...! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं...? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें...! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं...! ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.) (चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai साभार: बाँके बिहारी (धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच) कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा (सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान) अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान) नोट: हमारी या हमारे संस्थान 'एस्ट्रो-वर्ल्ड' तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच 'सातफेरे डॉट कॉम' मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, दक्षिणावर्ती शँख (जो कि घर में विधिवत रखने मात्र से ही बदल दे आपका भाग्य हमेशां-2 के लिए...!), सियारसिंगी, भुजयुग्म (हत्थाजोड़ी, जो तिज़ोरी आपकी कभी ख़ाली ना होने दे), नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे... सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514 ईमेल आई डी: [email protected] 🌺आपका सप्ताहांत आदि वैद्य (भगवान धन्वंतरि जी) की कृपा से परम मंगलमय हो मित्रो! *🚩जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्रम🚩* 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩 ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻शनिवार, २४ अक्टूबर २०२०🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:३४ सूर्यास्त: 🌅 ०५:३७ चन्द्रोदय: 🌝 १३:५४ चन्द्रास्त: 🌜२४:३५ अयन 🌕 दक्षिणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: ❄️ शरद शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 आश्विन पक्ष 👉 शुक्ल तिथि: 👉 अष्टमी (०६:५८ तक) नक्षत्र: 👉 श्रवण (२६:३८ तक) योग: 👉 शूल (२४:४२ तक) प्रथम करण: 👉 बव (०६:५८ तक) द्वितीय करण: 👉 बालव (१९:१५ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 तुला चंद्र 🌟 मकर मंगल 🌟 मीन (उदित, पूर्व, वक्री) बुध 🌟 तुला (अस्त, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 धनु (उदित, पश्चिम, मार्गी) शुक्र 🌟 कन्या (उदित, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त: 👉 ११:३९ से १२:२३ अमृत काल: 👉 १५:४४ से १७:२५ होमाहुति: 👉 शुक्र अग्निवास: 👉 पृथ्वी (०६:५८ तक) दिशा शूल: 👉 पूर्व नक्षत्र शूल: 👉 ❌❌❌ चन्द्र वास: 👉 दक्षिण दुर्मुहूर्त: 👉 ०६:२९ से ०७:१३ राहुकाल: 👉 ०९:१५ से १०:३८ राहु काल वास: 👉 पूर्व यमगण्ड: 👉 १३:२४ से १४:४७ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - काल २ - शुभ ३ - रोग ४ - उद्वेग ५ - चर ६ - लाभ ७ - अमृत ८ - काल ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - लाभ २ - उद्वेग ३ - शुभ ४ - अमृत ५ - चर ६ - रोग ७ - काल ८ - लाभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 पूर्व-दक्षिण (वाय विन्डिंग अथवा तिल मिश्रित चावल का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ सरस्वती विसर्जन, दुर्गानवमी पूजा आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज २६:३८ तक जन्मे शिशुओ का नाम श्रवण नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (खी, खू, खे, खो) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम धनिष्ठा नक्षत्र के प्रथम चरण अनुसार क्रमश (ग) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त: ०६:२९ - ०८:१७ तुला ०८:१७ - १०:३६ वृश्चिक १०:३६ - १२:४० धनु १२:४० - १४:२१ मकर १४:२१ - १५:४७ कुम्भ १५:४७ - १७:१० मीन १७:१० - १८:४४ मेष १८:४४ - २०:३९ वृषभ २०:३९ - २२:५४ मिथुन २२:५४ - २५:१५ कर्क २५:१५ - २७:३४ सिंह २७:३४ - २९:५२ कन्या २९:५२ - ३०:३० तुला 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त: ०६:२९ - ०६:५८ रोग पञ्चक ०६:५८ - ०८:१७ शुभ मुहूर्त ०८:१७ - १०:३६ मृत्यु पञ्चक १०:३६ - १२:४० अग्नि पञ्चक १२:४० - १४:२१ शुभ मुहूर्त १४:२१ - १५:४७ रज पञ्चक १५:४७ - १७:१० शुभ मुहूर्त १७:१० - १८:४४ शुभ मुहूर्त १८:४४ - २०:३९ रज पञ्चक २०:३९ - २२:५४ शुभ मुहूर्त २२:५४ - २५:१५ चोर पञ्चक २५:१५ - २६:३८ शुभ मुहूर्त २६:३८ - २७:३४ रोग पञ्चक २७:३४ - २९:५२ शुभ मुहूर्त २९:५२ - ३०:३० मृत्यु पञ्चक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज दिन का पूर्वार्ध नयी उलझने लाएगा। हठी प्रवृति रहने से व्यापार में हानि एवं प्रियजनों से दूरी बढ़ सकती है। महत्त्वपूर्ण कार्य को अनुभवियों के परामर्श के बाद ही करें अन्यथा थोड़े समय के लिए टाल दें। नौकरों के व्यवहार से भी परेशानी हो सकती है। दोपहर के बाद स्थिति धीरे-धीरे नियंत्रण में आने लगेगी। आपके लिए निर्णय सफल होने से प्रातः जो आपसे विपरीत व्यवहार कर रहे थे वो भी स्वार्थ सिद्धि करने लगेंगे। आकस्मिक धन लाभ होने से राहत मिलेगी। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज आपकी महात्त्वकांक्षाओ की पूर्ती में अड़चने आने से हताश हो सकते है। फिर भी भले-बुरे का विवेक रहने से मानसिक रूप से परेशान नहीं होंगे। कार्य क्षेत्र पर अधिकारी एवं सहकर्मी सहयोग करेंगे निश्चित समय से पहले कार्य पूर्ण कर घरेलु कार्यो में व्यस्त रहेंगे। धार्मिक गतिविधियों में भी सक्रियता दिखाएँगे। आज आप किसी भी प्रकार के अनैतिक कार्यो से खुद को दूर रखने का हर संभव प्रयास करेंगे जिससे सम्मान के पात्र बनेंगे। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज भी दिन विपरीत फल देने वाला रहेगा। स्वयं अथवा किसी पारिवारिक सदस्य के स्वास्थ्य को लेकर चिंता रहेगी दवाओं पर खर्च बढ़ेगा। कार्य क्षेत्र पर भी परिश्रम के अनुसार लाभ मिलेगा नए कार्य के आरम्भ के विचार को टालना पड सकता है। सरकारी कार्यो में भी धन खर्च होने से आर्थिक कारणों से चिंता रहेगी परन्तु मध्यान के आस-पास थोड़े धन की आमद होने से दैनिक कार्य चलते रहेंगे। परिवार में तालमेल बना रहेगा। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज भी परिस्थितियां आपके अनुकूल रहने से लाभ के कई अवसर मिलेंगे परन्तु अज्ञान की स्थिति अथवा गलत सलाह के कारण लाभ होना संदिग्ध ही रहेगा। बहुप्रतीक्षित अतिमहत्त्वपूर्ण कार्य पूरा होगा। धन लाभ रुक-रुक कर होता रहेगा। घर में सुख के साधनों की वृद्धि होगी इसपर अधिक खर्च भी रहेगा। नए सम्बन्ध बनने से अतिरिक्त आय के मार्ग भी खुलेंगे। पारिवारिक दायित्वों की पूर्ति से आज पीछे नहीं हटेंगे। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज आप उदासीनता युक्त जीवन जीयेंगे। पेट सम्बंधित शिकायत रहने एवं अन्य शारीरिक कष्ट के कारण शरीर शिथिल रहेगा। मन के अनुसार कार्य नहीं होंगे। कार्यो में विलम्ब के कारण परेशानियां होंगी। सरकारी कार्यो में भी अल्प सफलता मिलेगी। आस पास का वातावरण भी विरोधाभासी रहने से मन में वैराग्य उत्पन्न होगा। आध्यत्म के प्रति अधिक रुचि दिखाएँगे। परिजनों से शिकायत रहेगी। धन प्राप्ति के लिए संघर्ष करना पड़ेगा। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज के दिन धन की कमी रहने पर भी खुश रहने का सफल प्रयास करेंगे। परिजनों से भावनात्मक सम्बन्ध रहने से मन को शान्ति मिलेगी। परन्तु आज प्रेम प्रसंगों से दूरी बनाना ही बेहतर रहेगा अन्यथा धन और पारिवारिक मान हानि हो सकती है। किसी मांगलिक आयोजन में जाने के कारण अतिरिक्त खर्च करना पड़ेगा फिर भी आनंददायक वातावरण मिलने से खर्च व्यर्थ नहीं लगेगा। स्त्री पक्ष से विशेष निकटता रहेगी। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आपका आज का दिन मिश्रित फलदायक रहेगा। कार्यो की असफलता अथवा किसी महत्त्वपूर्ण अनुबंध के निरस्त होने से स्वभाव में चिड़चिड़ा पन आ सकता है। वाणी का रूखापन कार्य क्षेत्र एवं घर का वातावरण बिगाड़ेगा। विवेक से कार्य करें दोपहर के बाद किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति से सहयोग मिलने की संभावना है। धन नाश होने के प्रबल योग है इसका भी ध्यान रखें गलत जगह निवेश हो सकता है। स्वास्थ्य में भी उतार चढ़ाव बना रहेगा। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज भी दिन का अधिकांश समय शांति से व्यतीत होगा। थोड़ी आर्थिक परेशानियां रह सकती है परंतु मानसिक रूप से दृढ़ रहेंगे। जिस भी कार्य को करने की ठानेंगे उसे हानि-लाभ की परवाह किये बिना पूर्ण करके छोड़ेंगे। कार्य क्षेत्र पर अन्य व्यक्ति की दखलंदाजी से थोड़ी परेशानी एवं बहस हो सकती है। सामूहिक आयोजन में सम्मिलित होने का अवसर भी मिलेगा। बाहर की अपेक्षा घर में समय बिताना पसंद करेंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज आपको प्रतिकूल फल मिलने से मन में नकारत्मकता रहेगी। कार्य को करने से पहले ही हार मान लेने से सफलता की उम्मीद भी अल्प रहेगी। आज किसी व्यक्ति का ना चाहते हुए भी सहयोग अथवा कोई अप्रिय कार्य करना पडेगा। परिवार में आपसी मतभेद रहने से तालमेल नहीं बैठा पाएंगे। एकदम से ख़ुशी अगले ही पल दुःख वाली स्थिति दिन भर रहेगी। धन के कारण मनोदशा में विकृत आ सकती है। सेहत पर ध्यान दें। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज दिन का प्रारंभिक भाग सुख-शांति से बितायेंगे। मन खुश रहने से आसपास का वातावरण भी हास्यमय बनाएंगे। मित्र प्रियजनों के साथ भविष्य की योजनाओं पर खुल कर विचार करेंगे। परन्तु दोपहर के समय स्थिति एक दम उलट हो जायेगी। किसी मनोकामना के अपूर्ण रहने से ठेस पहुंचेगी इससे उबरने में भी थोड़ा समय लगेगा। आज स्वभाव में ज्यादा खुलापन भी ना रखें मन का भेद अन्य को देने से हानि भी हो सकती है। परिजनों से लाभ होने की संभावना है। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन आपको प्रत्येक कार्य में सावधानी रखने की सलाह है। जल्दबाजी में लिए गए निर्णय के कारण धन के साथ सम्मान की भी हानि हो सकती है। कार्य क्षेत्र पर अप्रिय घटनाओं के कारण दुविधा की स्थिति बनेगी। किसी पारिवारिक सदस्य के गलत आचरण से मन दुखी रहेगा मन में गलत विचार की भरमार रहने से सेहत पर बुरा असर पड़ेगा। सर अथवा अन्य शारीरिक अंग निष्क्रिय होते अनुभव होंगे। धैर्य से समय बिताएं। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज दिन का पूर्वार्ध आशा से अधिक शुभ रहेगा। आज के दिन आकस्मिक घटनाएं अधिक घटित होंगी चाहे वो आर्थिक या पारिवारिक हों। नौकरी पेशा जातको को भी मेहनत का फल मिलेगा सम्मान में वृद्धि के साथ आय के मार्ग खुलेंगे। बेरोजगारों को थोड़ा प्रयास करने पर रोजगार उपलब्ध हो सकता है। खर्च भी अचानक होने से थोड़ी असहजता रहेगी परन्तु स्थिति पूर्ण रूप से आपके नियंत्रण में ही रहेगी। भाग्योन्नति के योग बनेगे। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️

+44 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 129 शेयर
Pt Vinod Pandey 🚩 Oct 23, 2020

🌞 ~ आज का हिन्दू #पंचांग ~ 🌞 ⛅ दिनांक 24 अक्टूबर 2020 ⛅ दिन - #शनिवार ⛅ विक्रम संवत - 2077 (गुजरात - 2076) ⛅ शक संवत - 1942 ⛅ अयन - दक्षिणायन ⛅ ऋतु - हेमंत ⛅ मास - अश्विन ⛅ पक्ष - शुक्ल  ⛅ तिथि - अष्टमी सुबह 06:58 तक तत्पश्चात नवमी ⛅ नक्षत्र - श्रवण 25 अक्टूबर रात्रि 02:38 तक तत्पश्चात धनिष्ठा ⛅ योग - शूल 25 अक्टूबर रात्रि 12:42 तक तत्पश्चात गण्ड ⛅ राहुकाल - सुबह 09:32 से सुबह 10:57 तक  ⛅ सूर्योदय - 06:38  ⛅ सूर्यास्त - 18:06  ⛅ दिशाशूल - पूर्व दिशा में ⛅ व्रत पर्व विवरण - दुर्गाष्टमी, महानवमी, सरस्वती विसर्जन   💥 विशेष - अष्टमी को नारियल का फल खाने से बुद्धि का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34) 💥 अष्टमी तिथि के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38) 🌷 नेत्रज्योति बढ़ाने के लिए 🌷 🌙 दशहरे से शरद पूनम तक चन्द्रमा की चाँदनी में विशेष हितकारी रस, हितकारी किरणें होती हैं। इन दिनों चन्द्रमा की चाँदनी का लाभ उठाना, जिससे वर्षभर आप स्वस्थ और प्रसन्न रहें। नेत्रज्योति बढ़ाने के लिए दशहरे से शरद पूर्णिमा तक प्रतिदिन रात्रि में 15 से 20 मिनट तक चन्द्रमा के ऊपर त्राटक (पलकें झपकाये बिना एकटक देखना) करें।  🌷 दशहरे के दिन 🌷 ➡ 25 अक्टूबर 2020 रविवार को दशहरा, विजयादशमी (पूरा दिन शुभ मुहूर्त), संकल्प, शुभारम्भ, नूतन कार्य, सीमोल्लंघन के लिए विजय मुहूर्त (दोपहर 2:18 से 3:04 तक), गुरु-पूजन, अस्त्र-शस्त्र-शमी वृक्ष-आयुध-वाहन पूजन 🙏🏻 दशहरा के दिन शाम को जब सूर्यास्त होने का समय और आकाश में तारे उदय होने का समय हो वो सर्व सिद्धिदायी विजय काल कहलाता है। 👉🏻 उस समय घूमने-फिरने मत जाना। दशहरा मैदान मत खोजना ... रावण जलता हो देखकर क्या मिलेगा ? धूल उड़ती होगी, मिटटी उड़ती होगी रावण को जलाया उसका धुआं वातावरण में होगा .... गंदा वो श्वास में लेना .... धूल, मिटटी श्वास में लेना पागलपन है।  ये दशहरे के दिन शाम को घर पे ही स्नान आदि करके, दिन के कपडे बदल के शाम को धुले हुए कपडे पहनकर ज्योत जलाकर बैठ जाये। थोडा 🌷 " राम रामाय नम:। " 🙏🏻 मंत्र जपते, विजयादशमी है ना तो रामजी का नाम और फिर मन-ही-मन गुरुदेव को प्रणाम करके गुरुदेव सर्व सिद्धिदायी विजयकाल चल रहा है की हम विजय के लिए ये मंत्र जपते है - 🌷 "ॐ अपराजितायै नमः " ➡ ये मंत्र १ - २ माला जप करना और इस काल में श्री हनुमानजी का सुमिरन करते हुए इस मंत्र की एक माला जप करें :- 🌷 "पवन तनय बल पवन समाना, बुद्धि विवेक विज्ञान निधाना। कवन सो काज कठिन जग माहि, जो नहीं होत तात तुम पाहि ॥" 🙏🏻 पवन तनय समाना की भी १ माला कर ले उस विजय काल में, फिर गुरुमंत्र की माला कर ले। फिर देखो अगले साल की दशहरा तक गृहस्थ में जीनेवाले को बहुत-बहुत अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते है। 🌐http://www.vkjpandey.in 🙏🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/HKT9FhsdspHGntDGCZjVx3

+38 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 47 शेयर
Pt Vinod Pandey 🚩 Oct 23, 2020

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄 #सुप्रभातम 🌄 🗓 आज का #पञ्चाङ्ग 🗓 🌻शनिवार, २४ अक्टूबर २०२०🌻 सूर्योदय: 🌄 ०६:३४ सूर्यास्त: 🌅 ०५:३७ चन्द्रोदय: 🌝 १३:५४ चन्द्रास्त: 🌜२४:३५ अयन 🌕 दक्षिणायने (उत्तरगोलीय) ऋतु: ❄️ शरद शक सम्वत: 👉 १९४२ (शर्वरी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७७ (प्रमादी) मास 👉 आश्विन पक्ष 👉 शुक्ल तिथि: 👉 अष्टमी (०६:५८ तक) नक्षत्र: 👉 श्रवण (२६:३८ तक) योग: 👉 शूल (२४:४२ तक) प्रथम करण: 👉 बव (०६:५८ तक) द्वितीय करण: 👉 बालव (१९:१५ तक) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 तुला चंद्र 🌟 मकर मंगल 🌟 मीन (उदित, पूर्व, वक्री) बुध 🌟 तुला (अस्त, पश्चिम, मार्गी) गुरु 🌟 धनु (उदित, पश्चिम, मार्गी) शुक्र 🌟 कन्या (उदित, पूर्व, मार्गी) शनि 🌟 मकर (उदय, पूर्व, मार्गी) राहु 🌟 वृष केतु 🌟 वृश्चिक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ 〰〰〰〰〰〰〰 अभिजित मुहूर्त: 👉 ११:३९ से १२:२३ अमृत काल: 👉 १५:४४ से १७:२५ होमाहुति: 👉 शुक्र अग्निवास: 👉 पृथ्वी (०६:५८ तक) दिशा शूल: 👉 पूर्व नक्षत्र शूल: 👉 ❌❌❌ चन्द्र वास: 👉 दक्षिण दुर्मुहूर्त: 👉 ०६:२९ से ०७:१३ राहुकाल: 👉 ०९:१५ से १०:३८ राहु काल वास: 👉 पूर्व यमगण्ड: 👉 १३:२४ से १४:४७ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ☄चौघड़िया विचार☄ 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - काल २ - शुभ ३ - रोग ४ - उद्वेग ५ - चर ६ - लाभ ७ - अमृत ८ - काल ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - लाभ २ - उद्वेग ३ - शुभ ४ - अमृत ५ - चर ६ - रोग ७ - काल ८ - लाभ नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 पूर्व-दक्षिण (वाय विन्डिंग अथवा तिल मिश्रित चावल का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ सरस्वती विसर्जन, दुर्गानवमी पूजा आदि। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰️〰️ आज २६:३८ तक जन्मे शिशुओ का नाम श्रवण नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (खी, खू, खे, खो) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम धनिष्ठा नक्षत्र के प्रथम चरण अनुसार क्रमश (ग) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त: ०६:२९ - ०८:१७ तुला ०८:१७ - १०:३६ वृश्चिक १०:३६ - १२:४० धनु १२:४० - १४:२१ मकर १४:२१ - १५:४७ कुम्भ १५:४७ - १७:१० मीन १७:१० - १८:४४ मेष १८:४४ - २०:३९ वृषभ २०:३९ - २२:५४ मिथुन २२:५४ - २५:१५ कर्क २५:१५ - २७:३४ सिंह २७:३४ - २९:५२ कन्या २९:५२ - ३०:३० तुला 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 पञ्चक रहित मुहूर्त: ०६:२९ - ०६:५८ रोग पञ्चक ०६:५८ - ०८:१७ शुभ मुहूर्त ०८:१७ - १०:३६ मृत्यु पञ्चक १०:३६ - १२:४० अग्नि पञ्चक १२:४० - १४:२१ शुभ मुहूर्त १४:२१ - १५:४७ रज पञ्चक १५:४७ - १७:१० शुभ मुहूर्त १७:१० - १८:४४ शुभ मुहूर्त १८:४४ - २०:३९ रज पञ्चक २०:३९ - २२:५४ शुभ मुहूर्त २२:५४ - २५:१५ चोर पञ्चक २५:१५ - २६:३८ शुभ मुहूर्त २६:३८ - २७:३४ रोग पञ्चक २७:३४ - २९:५२ शुभ मुहूर्त २९:५२ - ३०:३० मृत्यु पञ्चक 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज का राशिफल 🐐🐂💏💮🐅👩 〰️〰️〰️〰️〰️〰️ मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज दिन का पूर्वार्ध नयी उलझने लाएगा। हठी प्रवृति रहने से व्यापार में हानि एवं प्रियजनों से दूरी बढ़ सकती है। महत्त्वपूर्ण कार्य को अनुभवियों के परामर्श के बाद ही करें अन्यथा थोड़े समय के लिए टाल दें। नौकरों के व्यवहार से भी परेशानी हो सकती है। दोपहर के बाद स्थिति धीरे-धीरे नियंत्रण में आने लगेगी। आपके लिए निर्णय सफल होने से प्रातः जो आपसे विपरीत व्यवहार कर रहे थे वो भी स्वार्थ सिद्धि करने लगेंगे। आकस्मिक धन लाभ होने से राहत मिलेगी। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज आपकी महात्त्वकांक्षाओ की पूर्ती में अड़चने आने से हताश हो सकते है। फिर भी भले-बुरे का विवेक रहने से मानसिक रूप से परेशान नहीं होंगे। कार्य क्षेत्र पर अधिकारी एवं सहकर्मी सहयोग करेंगे निश्चित समय से पहले कार्य पूर्ण कर घरेलु कार्यो में व्यस्त रहेंगे। धार्मिक गतिविधियों में भी सक्रियता दिखाएँगे। आज आप किसी भी प्रकार के अनैतिक कार्यो से खुद को दूर रखने का हर संभव प्रयास करेंगे जिससे सम्मान के पात्र बनेंगे। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज भी दिन विपरीत फल देने वाला रहेगा। स्वयं अथवा किसी पारिवारिक सदस्य के स्वास्थ्य को लेकर चिंता रहेगी दवाओं पर खर्च बढ़ेगा। कार्य क्षेत्र पर भी परिश्रम के अनुसार लाभ मिलेगा नए कार्य के आरम्भ के विचार को टालना पड सकता है। सरकारी कार्यो में भी धन खर्च होने से आर्थिक कारणों से चिंता रहेगी परन्तु मध्यान के आस-पास थोड़े धन की आमद होने से दैनिक कार्य चलते रहेंगे। परिवार में तालमेल बना रहेगा। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज भी परिस्थितियां आपके अनुकूल रहने से लाभ के कई अवसर मिलेंगे परन्तु अज्ञान की स्थिति अथवा गलत सलाह के कारण लाभ होना संदिग्ध ही रहेगा। बहुप्रतीक्षित अतिमहत्त्वपूर्ण कार्य पूरा होगा। धन लाभ रुक-रुक कर होता रहेगा। घर में सुख के साधनों की वृद्धि होगी इसपर अधिक खर्च भी रहेगा। नए सम्बन्ध बनने से अतिरिक्त आय के मार्ग भी खुलेंगे। पारिवारिक दायित्वों की पूर्ति से आज पीछे नहीं हटेंगे। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज आप उदासीनता युक्त जीवन जीयेंगे। पेट सम्बंधित शिकायत रहने एवं अन्य शारीरिक कष्ट के कारण शरीर शिथिल रहेगा। मन के अनुसार कार्य नहीं होंगे। कार्यो में विलम्ब के कारण परेशानियां होंगी। सरकारी कार्यो में भी अल्प सफलता मिलेगी। आस पास का वातावरण भी विरोधाभासी रहने से मन में वैराग्य उत्पन्न होगा। आध्यत्म के प्रति अधिक रुचि दिखाएँगे। परिजनों से शिकायत रहेगी। धन प्राप्ति के लिए संघर्ष करना पड़ेगा। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज के दिन धन की कमी रहने पर भी खुश रहने का सफल प्रयास करेंगे। परिजनों से भावनात्मक सम्बन्ध रहने से मन को शान्ति मिलेगी। परन्तु आज प्रेम प्रसंगों से दूरी बनाना ही बेहतर रहेगा अन्यथा धन और पारिवारिक मान हानि हो सकती है। किसी मांगलिक आयोजन में जाने के कारण अतिरिक्त खर्च करना पड़ेगा फिर भी आनंददायक वातावरण मिलने से खर्च व्यर्थ नहीं लगेगा। स्त्री पक्ष से विशेष निकटता रहेगी। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आपका आज का दिन मिश्रित फलदायक रहेगा। कार्यो की असफलता अथवा किसी महत्त्वपूर्ण अनुबंध के निरस्त होने से स्वभाव में चिड़चिड़ा पन आ सकता है। वाणी का रूखापन कार्य क्षेत्र एवं घर का वातावरण बिगाड़ेगा। विवेक से कार्य करें दोपहर के बाद किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति से सहयोग मिलने की संभावना है। धन नाश होने के प्रबल योग है इसका भी ध्यान रखें गलत जगह निवेश हो सकता है। स्वास्थ्य में भी उतार चढ़ाव बना रहेगा। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज भी दिन का अधिकांश समय शांति से व्यतीत होगा। थोड़ी आर्थिक परेशानियां रह सकती है परंतु मानसिक रूप से दृढ़ रहेंगे। जिस भी कार्य को करने की ठानेंगे उसे हानि-लाभ की परवाह किये बिना पूर्ण करके छोड़ेंगे। कार्य क्षेत्र पर अन्य व्यक्ति की दखलंदाजी से थोड़ी परेशानी एवं बहस हो सकती है। सामूहिक आयोजन में सम्मिलित होने का अवसर भी मिलेगा। बाहर की अपेक्षा घर में समय बिताना पसंद करेंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज आपको प्रतिकूल फल मिलने से मन में नकारत्मकता रहेगी। कार्य को करने से पहले ही हार मान लेने से सफलता की उम्मीद भी अल्प रहेगी। आज किसी व्यक्ति का ना चाहते हुए भी सहयोग अथवा कोई अप्रिय कार्य करना पडेगा। परिवार में आपसी मतभेद रहने से तालमेल नहीं बैठा पाएंगे। एकदम से ख़ुशी अगले ही पल दुःख वाली स्थिति दिन भर रहेगी। धन के कारण मनोदशा में विकृत आ सकती है। सेहत पर ध्यान दें। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज दिन का प्रारंभिक भाग सुख-शांति से बितायेंगे। मन खुश रहने से आसपास का वातावरण भी हास्यमय बनाएंगे। मित्र प्रियजनों के साथ भविष्य की योजनाओं पर खुल कर विचार करेंगे। परन्तु दोपहर के समय स्थिति एक दम उलट हो जायेगी। किसी मनोकामना के अपूर्ण रहने से ठेस पहुंचेगी इससे उबरने में भी थोड़ा समय लगेगा। आज स्वभाव में ज्यादा खुलापन भी ना रखें मन का भेद अन्य को देने से हानि भी हो सकती है। परिजनों से लाभ होने की संभावना है। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन आपको प्रत्येक कार्य में सावधानी रखने की सलाह है। जल्दबाजी में लिए गए निर्णय के कारण धन के साथ सम्मान की भी हानि हो सकती है। कार्य क्षेत्र पर अप्रिय घटनाओं के कारण दुविधा की स्थिति बनेगी। किसी पारिवारिक सदस्य के गलत आचरण से मन दुखी रहेगा मन में गलत विचार की भरमार रहने से सेहत पर बुरा असर पड़ेगा। सर अथवा अन्य शारीरिक अंग निष्क्रिय होते अनुभव होंगे। धैर्य से समय बिताएं। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज दिन का पूर्वार्ध आशा से अधिक शुभ रहेगा। आज के दिन आकस्मिक घटनाएं अधिक घटित होंगी चाहे वो आर्थिक या पारिवारिक हों। नौकरी पेशा जातको को भी मेहनत का फल मिलेगा सम्मान में वृद्धि के साथ आय के मार्ग खुलेंगे। बेरोजगारों को थोड़ा प्रयास करने पर रोजगार उपलब्ध हो सकता है। खर्च भी अचानक होने से थोड़ी असहजता रहेगी परन्तु स्थिति पूर्ण रूप से आपके नियंत्रण में ही रहेगी। भाग्योन्नति के योग बनेगे। 🌐http://www.vkjpandey.in 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 🚩 दैनिक पंचांग, राशिफल, व्रत त्योहार तथा हिन्दू धार्मिक जानकारी जैसे पोस्ट पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप समूह ऑनलाइन मंदिर से जुड़े। 🤳 लिंक- 👇🏻 https://chat.whatsapp.com/HKT9FhsdspHGntDGCZjVx3

+29 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 29 शेयर

2077-विजय श्री हिंदू पंचांग-राशिफल-1942 (24.10.2020) श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा (राजस्थान) 74.30 - रेखांतर मध्य मान - 75.30 उद्देश्य ज्योतिष विद्या संरक्षण प्रसार प्रशिक्षण शुभ शनिवार - शुभ प्रभात् ___________________________________ __विभिन्न शहरों के लिये समयांतर संस्कार __ (लगभग-वास्तविकता के समीप) दिल्ली +10मिनट---------जोधपुर --6 मिनट जयपुर +5 मिनट------अहमदाबाद--8 मिनट कोटा +5 मिनट----------- -मुंबई --7 मिनट लखनऊ +25 मिनट------बीकानेर--5 मिनट --------------------------------------------------------- --------------------आज विशेष------------------ -पांच प्रकार के लोगों से दूर रहती है देवी लक्ष्मी -------------------------------------------------------- दिनांक..............................24.10.2020 कलियुग संवत्...............................5122 विक्रम संवत................................ 2077 शक संवत....................................1942 संवत्सर...................................श्री प्रमादी अयन.........................................दक्षिण गोल.......................................... दक्षिण ऋतु.............................................हेमंत मास..............................(द्वितीय) आश्विन पक्ष.............................................शुक्ल तिथि............अष्टमी. प्रातः 6.58 तक/ नवमी वार..........................................शनिवार नक्षत्र.........श्रवण. रात्रि. 2.37 तक / धनिष्ठा चंद्र राशि.................मकर. संपूर्ण (अहोरात्र) योग...............शूल. रात्रि. 12.40 तक / गंड करण........................बव. प्रातः 6.58 तक करण.........बालव. रात्रि. 7.05 तक / कौलव ---------------------------------------------------------- सूर्योदय..............................6.35.50 पर सूर्यास्त...............................5.54.58 पर दिनमान................................11.19.07 रात्रिमान................................12.41.26 चंद्रोदय................ .प्रातः.1.58.49 PM पर चंद्रास्त................रात्रि. 12.59.04 AM पर सूर्य........................(तुला) 06.06.56.58 चंद्र.........................(मकर) 9.12.45.16 राहुकाल........प्रातः 9.26 से 10.51 (अशुभ) यमघंट..........अपरा. 1.40 से 3.05 (अशुभ) अभिजित......(मध्या.)11.53 से 12.38 तक पंचक..................................आज नहीं है शुभ हवन मुहूर्त(अग्निवास)...............आज है दिशाशूल..................................पूर्व दिशा दोष निवारण......उड़द का सेवन कर यात्रा करें _____________________________________ चौघड़िया (दिन-रात)......(केवल शुभ कारक) *दिवा कालीन* शुभ...................प्रातः 8.01से 9.26 तक चंचल............अपरा. 12.15 से 1.40 तक लाभ...............अपरा. 1.40 से 3.05 तक अमृत..............अपरा. 3.05 से 4.30 तक *रात्रि कालीन* लाभ.................रात्रि. 5.55 से 7.30 तक शुभ................ रात्रि.9.05 से 10.41 तक अमृत............रात्रि. 10.41 से 12.16 तक चंचल..............रात्रि. 12.16 से 1.51 तक लाभ................ रात्रि. 5.01 से 6.36 तक __________________________________ *शुभ शिववास की तिथियां* शुक्ल पक्ष-2-----5-----6---- 9-------12----13. कृष्ण पक्ष-1---4----5----8---11----12----30. ___________________________________ आज जन्मे शिशुओं का नक्षत्र चरण के अनुसार नामकरण हेतु नामाक्षर. 07.41 AM तक--श्रवण---1-------(खी) 01.57 PM तक--श्रवण---2------- (खु) 08.16 PM तक--श्रवण---3------- (खे) 02.37 AM तक--श्रवण---4-------(खो) उपरांत रात्रि तक--धनिष्ठा--1--------(गा) (पाया - ताम्र) _______सभी की राशि मकर रहेगी _______ ___________________________________ ____________आज का दिन____________ व्रत विशेष..शारदीय नवरात्रि व्रत(अष्टम्-नवम) नवरात्रि(8-9)... .मां महागौरी-सिद्धिदात्री पूजा दिन विशेष.............. दुर्गा नवमी - महानवमी दिनविशेष.................नवरात्रि विधान संपूर्ण दिन विशेष................संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस सर्वा.सिद्धयोग.... ..प्रातः 6.35 से रात्रि. 2.37 सिद्ध रवियोग........ रात्रि. 2.37 से रात्रि पर्यंत ___________________________________ _____________कल का दिन____________ दिनांक.............................25.10.2020 तिथि.......(द्वि.)आश्विन शुक्ला नवमी रविवार व्रत विशेष............. अपराजिता / शमी पूजा पर्व विशेष...............विजयादशमी (दशहरा) दिन विशेष................संयुक्त राष्ट्र संघ दिवस दिन विशेष...पंचक आरंभ.अपरा. 3.25 PM सर्वा.सिद्धयोग.................................नहीं सिद्ध रवियोग...................संपूर्ण (अहोरात्र) ___________________________________ इन 5 प्रकार के लोगों के पास कभी नहीं आती हैं देवी लक्ष्मी... क्या कहती है विदुर नीति। विदुर जी को बहुत विद्वान माना जाता हैं। महाभारत काल के प्रभावशाली व्यक्तियों में विदुर जी का नाम सबसे पहले याद आता हैं। माना जाता है कि विदुर जी हर विषय पर बहुत सटीक राय दिया करते थे और वह सोच समझकर फैसले लेने के बारे में बात किया करते थे। कुछ विद्वानों का मानना है कि महाभारत में पांडवों की विजय का एक बहुत बड़ा कारण विदुर जी की कूटनीति थी। इसलिए आज भी लोग विभिन्न विषयों पर उनकी राय जानना चाहते हैं। विदुर नीति में यह बताया गया है कि वह कौन से 5 लोग हैं जिनके पास कभी देवी लक्ष्मी नहीं आती हैं। ऐसे लोगों पर कभी माता महालक्ष्मी की कृपा नहीं होती हैं। इन लोगों को धन के अभाव में ही जीवन व्यतीत करना पड़ता हैं। विदुर जी कहते हैं कि अत्यंत श्रेष्ठ – विदुर नीति में विदुर जी कहते हैं कि जो व्यक्ति अत्यंत श्रेष्ठ होता है माता महालक्ष्मी उस पर कभी कृपा नहीं बरसाती हैं। क्योंकि ऐसे व्यक्ति को अपनी श्रेष्ठता पर अहंकार होने लगता है और देवी लक्ष्मी अहंकारी व्यक्ति पर कभी प्रसन्न नहीं होती हैं। अतिशय दानी – जो व्यक्ति अतिशय दानी होता है उसके पास माता महालक्ष्मी कभी नहीं जाती हैं। विदुर नीति में ऐसा कहा गया है कि अतिशय दानी व्यक्ति दान करने से पूर्व यह भी नहीं सोचता है कि उसके और उसके परिवार के भविष्य के लिए कुछ शेष रह जाएगा या नहीं। अति शूरवीर – विदुर जी कहते हैं कि जो व्यक्ति अति शूरवीर होता है देवी लक्ष्मी उसके पास नहीं जाते हैं। क्योंकि शूरवीर व्यक्ति को यह अभिमान होता है कि वह अपने शक्ति और बल से संपूर्ण विश्व को जीतने का सामर्थ्य रखता है। अधिक व्रत और नियमों का पालन करने वाला व्यक्ति – विदुर नीति ऐसा कहती है कि जो लोग अधिक व्रत और नियमों का पालन करते हैं देवी लक्ष्मी उन पर कृपा नहीं बरसाती हैं। क्योंकि ऐसे लोगों को धन की अधिक आवश्यकता भी नहीं होती हैं। बुद्धि के घमंड में चूर व्यक्ति – जो व्यक्ति अपनी बुद्धिमता के घमंड में चूर रहता है ऐसे व्यक्ति के पास देवी लक्ष्मी कभी नहीं जाती हैं। क्योंकि ऐसे व्यक्ति को हमेशा ही यह घमंड रहता है कि वह बहुत बुद्धिमान हैं और हर स्थिति में अपनी बुद्धि के सहारे धनवान बना रहेगा। जय जय श्री राधे जय जय श्री कृष्णा. हरि ॐ. संकलन-श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा(राज) ___________________________________ आज का राशिफल... मेष-(चू चे चो ला ली लू ले लो जिस तरह मिर्च खाने को स्वादिष्ट बनाती है, उसी तरह थोड़ा-सा दुःख भी जीवन में ज़रूरी है और तभी सुख की असली क़ीमत पता लगती है। आपके घर से जुड़ा निवेश फ़ायदेमंद रहेगा। पुराने दोस्त मददगार और सहयोगी साबित होंगे। शाम के वक्त आज आप किसी करीबी के घर वक्त बिताने जा सकते हैं लेकिन इस दौरान आपको उनकी कोई बात बुरी लग सकती है और आप तय समय से पहले वापस लौट सकते हैं। आप अपने जीवनसाथी के प्यार की मदद से ज़िन्दगी की मुश्किलों का आसानी से सामना कर सकते हैं। रिश्तों से परे आपकी अपनी भी एक दुनिया है और उस दुनिया में आज आप दस्तक दे सकते हैं। वृषभ-(इ उ एओ वा वी वू वे वो) आज अवांछित विचार दिमाग़ में छा सकते हैं। ख़ुद को शारीरिक व्यायाम का मज़ा लेने दें, क्योंकि खाली दिमाग़ शैतान का घर होता है। विवाहित दंपत्तियों को आज अपनी संतान की शिक्षा पर अच्छा खासा धन खर्च करना पड़ सकता है। परिवार की किसी महिला सदस्य की सेहत चिंता की वजह बन सकती है। इस राशि वालों को आज के दिन अपने लिए समय निकालने की सख्त जरुरत है अगर आप ऐसा नहीं करते तो आपको मानसिक परेशानियां हो सकती हैं। आपका जीवनसाथी वाक़ई आपके लिए फ़रिश्तों की तरह है और आपको आज यह एहसास होगा। लोग आपके बारे में क्या सोचते हैं इसकी फीक्र न करें, अगर आप सही हैं तो आपका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। मिथुन- (क की कू घ ङ छ के को ह) आज आपकी शारीरिक बीमारी के सही होने की काफ़ी संभावनाएँ हैं और इसके चलते आप शीघ्र ही खेल-कूद में हिस्सा ले सकते हैं। दीर्घावधि मुनाफ़े के नज़रिए से स्टॉक और म्यूचुअल फ़ंड में निवेश करना फ़ायदेमंद रहेगा। आपके माता-पिता की सेहत चिंता और घबराहट का कारण बन सकती है। आप अनुभव करेंगे कि आपके प्रिय का आपके प्रति प्यार वाक़ई बहुत गहरा है। कार्यक्षेत्र की बात करें तो आपकी टीम का सबसे ज़्यादा खीझने वाला व्यक्ति काफ़ी समझदारी की बातें करता नज़र आ सकता है। आज किसी सहकर्मी के साथ आप शाम का वक्त बिता सकते हैं हालांकि अंत में आपको महसूस होगा कि आपने उनके साथ समय बर्बाद किया है और कुछ नहीं। बारिश को रोमांस से जुड़ा माना जाता है और आज आप अपने जीवनसाथी के साथ प्यार की बारिश महसूस कर सकते हैं। कर्क- (ही हू हे हो डा डी डू डे डो) आज आप अपने विचार व्यक्त करने में हिचकिचाएँ नहीं। आत्मविश्वास की कमी को ख़ुद पर हावी न होने दें, क्योंकि यह सिर्फ़ आपकी समस्या को और जटिल बनाएगा, साथ ही आपकी तरक़्क़ी में भी रोड़ा अटकाएगा। अपना आत्मविश्वास फिर से हासिल करने के लिए अपनी बात खुल कर कहें और परेशानियों का सामना होठों पर मुस्कुराहट के साथ करें। यह बात भली भांति समझ लें कि दुख की घड़ी में आपका संचित धन ही आपके काम आएगा इसलिए आज के दिन अपने धन का संचय करने का विचार बनाएं। अपने दोस्तों को अपने उदार स्वभाव का ग़लत फ़ायदा न उठाने दें। अपनी दीवानगी को क़ाबू में रखें, नहीं तो यह आपके प्रेम-संबंध को मुश्किल में डाल सकती है। कार्यक्षेत्र में आज आप अपने काम में प्रगति देखेंगे। आपके द्वारा आज खाली समय में ऐसे काम किये जाएंगे जिनके बारे में आप अक्सर सोचा करते हैं लेकिन उन कामों को कर पाने में समर्थ नहीं हो पाते। परिवार के सदस्यों के साथ थोड़ी दिक़्क़त का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन दिन के आख़िर में आपका जीवनसाथी आपकी परेशानियों को कम करेगा। सिंह- (मा मी मू मे मो टा टी टू टे) आज पुरानी परियोजनाओं की सफलता आत्मविश्वास में वृद्धि करेगी। अगर आप लोन लेने वाले थे और काफी दिनों से इस काम में लगे थे तो आज के दिन आपको लोन मिल सकता है। प्यार, मेलजोल और आपसी जुड़ाव में इज़ाफा होगा। आपका प्रिय आज कुछ खीझा हुआ महसूस कर सकता है, जो आपके दिमाग़ पर दबाव और बढ़ा देगा। आज के दिन आप कार्यक्षेत्र में कुछ बढ़िया कर सकते हैं। लम्बे वक़्त से लटकी हुई दिक़्क़तों को जल्द ही हल करने की ज़रूरत है और आप जानते हैं कि आपको कहीं-न-कहीं से शुरुआत करनी होगी- इसलिए सकारात्मक सोचें और आज से ही प्रयास शुरू करें। मुमकिन है कि आपका जीवनसाथी आज आपके लिए पर्याप्त समय न निकाल पाए। कन्या- (टो प पी पू ष ण ठ पे पो) आज चूँकि यात्रा के लिहाज़ से आप अभी कुछ कमज़ोर हैं, इसलिए लंबी यात्राओं से बचने की कोशिश कीजिए। आज सिर्फ़ बैठने की बजाय कुछ ऐसा कीजिए जो आपकी कमाई में इज़ाफ़ा कर सके। घर में और आस-पास छोटे-मोटे बदलाव घर की सजावट में चार चांद लगा देंगे। आज प्रेम-संबंधों में अपने स्वतन्त्र विवेक का इस्तेमाल कीजिए। आपको कुछ सबसे बढ़िया अवसर नये लोगों के माध्य से मिलेंगे। समय का अच्छा इस्तेमाल करने के लिए आज आप पार्क में घूमने का प्लान बना सकते हैं लेकिन वहां किसी अनजान शख्स से आपकी बहस होने की अशंका है जिससे आपका मूड खराब हो जाएगा। आप और आपका हमदम एक-दूसरे से आज एक-दूसरे की ख़ूबसूरत भावनाओं का इज़हार कर सकेंगे। तुला- (रा री रू रे रो ता ती तू ते तुला राशि का आज का राशिफल (23 अक्तूबर, 2020)<br/><br/>आप खाली समय का आनंद ले सकेंगे। पैसा अचानक आपके पास अएगा, जो अपके ख़र्चों और बिल आदि को सम्हाल लेगा। आपकी स्वच्छन्द जीवनशैली घर में तनाव पैदा कर सकती है, इसलिए देर रात तक बाहर रहने और ज़्यादा ख़र्च करने से बचें। नये रोमांस की संभावना प्रबल है, प्रेम का फूल आपकी ज़िन्दगी में जल्दी ही खिल सकता है। आज के दिन आप सबके ध्यान का केंद्र होंगे और सफलता आपकी पहुँच में होगी। वक्त की नाजाकत को समझते हुए आज आप सब लोगों से दूरी बनाकर एकांत में वक्त बिताना पसंद करेंगे। ऐसा करना आपके लिए हितकर भी होगा। आज आपका वैवाहिक जीवन हँसी-ख़ुशी, प्यार और उल्लास का केन्द्र बन सकता है। वृश्चिक- (तो ना नी नू ने नो या यी यू) आज लोगों से साथ बात करने और समारोहों में शिरकत करने का डर आपके घबराहट की वजह बन सकता है। इस परेशानी से बचने के लिए अपने आत्मविश्वास में इज़ाफ़ा करें। आपके मन में जल्दी पैसे कमाने की तीव्र इच्छा पैसा होगी। व्यक्तिगत मामलों को सुलझाते समय उदारता दिखाएँ, लेकिन अपनी ज़ुबान पर क़ाबू रखें ताकि उन्हें चोट न पहुँचे जो आपसे प्यार करते हैं और आपकी परवाह करते हैं। आज आपको रिश्तों की अहमियत का अंदाज हो सकता है क्योंकि आज के दिन का ज्यादातर समय आप अपने परिवार के लोगों के साथ बिताएंगे। आज आपको अपने जीवनसाथी का दैवीय पक्ष देखने को मिल सकता है। आज विदेश में रहने वाले किसी शख्स से आपको कोई बुरी खबर मिल सकती है। धनु-ये यो भा भी भू धा फा ढ़ा भे) आज का दिन ऐसे काम करने के लिए बेहतरीन है, जिन्हें करके आप ख़ुद के बारे में अच्छा महसूस करते हैं। हालाँकि धन आपकी मुट्ठियों से आसानी से सरक जाएगा, लेकिन आपके अच्छे सितारे तंगी नहीं आने देंगे। दोस्त और जीवनसाथी आपके लिए सुकून और ख़ुशी लेकर आएंगे, नहीं तो आपका दिन बुझा-बुझा और दौड़-भाग से भरा रहेगा। आप साथ में कहीं घूमने-फिरने जाकर अपने प्रेम-जीवन में नयी ऊर्जा का संचार कर सकते हैं। कार्यक्षेत्र के नज़रिए से आज का दिन आपका है। इसका भरपूर फ़ायदा उठाएँ। आज आपको रिश्तों की अहमियत का अंदाज हो सकता है क्योंकि आज के दिन का ज्यादातर समय आप अपने परिवार के लोगों के साथ बिताएंगे। अगर आप अपने जीवनसाथी से स्नेह की आशा रखते हैं, तो यह दिन आपकी आशाओं को पूरा कर सकता है। मकर- (भो जा जी खी खू खे खो गा गी) आज व्यस्त दिनचर्या के बावजूद स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। आप ख़ुद को नए रोमांचक हालात में पाएंगे- जो आपको आर्थिक फ़ायदा पहुँचाएंगे। काम का तनाव आपके दिमाग़ पर छा सकता है जिसकी वजह से परिवार और मित्रों के लिए वक़्त नहीं निकाल सकेंगे। आपका बेपनाह प्यार आपके प्रिय के लिए बेहद क़ीमती है। आज लोग आपकी वह प्रशंसा करेंगे, जिसे आप हमेशा से सुनना चाहते थे। जीवनसाथी के साथ थोड़ा हँसी-मज़ाक़, थोड़ी छेड़-छाड़ आपको किशोरावस्था के दिनों की याद दिला देंगे। किसी पेड़ की छांव में बैठकर आज आपको सुकून मिलेगा। जीवन को आज आप नजदीक से जान पाएंगे। कुंभ- (गू गे गो सा सी सू से सो द) आज आप अपने मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दें, जो आध्यात्मिक जीवन के लिए आवश्यक है। मस्तिष्क जीवन का द्वार है, क्योंकि अच्छा-बुरा सब-कुछ इसी के माध्यम से आता है। यही ज़िंदगी की समस्याएँ दूर करने में सहायक सिद्ध होता है और सही सोच से इंसान को आलोकित करता है। दीर्घावधि मुनाफ़े के नज़रिए से स्टॉक और म्यूचुअल फ़ंड में निवेश करना फ़ायदेमंद रहेगा। दोस्त शाम के लिए कोई बढ़िया योजना बनाकर आपका दिन ख़ुशनुमा कर देंगे। कुछ लोगों के लिए जल्द ही शादी की शहनाई बज सकती है, जबकि दूसरे ज़िन्दगी में नए रोमांच का अनुभव करेंगे। दिन अच्छा है दूसरों के साथ-साथ आप अपने लिए भी वक्त निकाल पाएंगे। आज आप एक बार फिर समय में पीछे जाकर शादी के शुरुआती दिनों के प्यार और रुमानियत को महसूस कर सकते हैं। दोस्तों के साथ मजाक करते दौरान अपनी सीमाओं को लांघने से बचें नहीं तो दोस्ती खराब हो सकती है। मीन- (दी दू थ झ ञ दे दो च ची) आज आप उदास और अवसादग्रस्त न हों। आज निवेश के जो नए अवसर आपकी ओर आएँ, उनपर विचार करें। लेकिन धन तभी लगाएँ जब आप उन योजनाओं का भली-भांति अध्ययन कर लें। शाम के समय अपने जीवनसाथी के साथ बाहर खाना या फ़िल्म देखना आपको सुकून देगा और ख़ुशमिज़ाज बनाए रखेगा। बाहरी चीज़ों का अब कोई ख़ास मायने आपके लिए नहीं बचा है, क्योंकि आप ख़ुद को हमेशा प्यार की ख़ुमारी में महसूस करते हैं। बातों को सही तरीके से समझने का आज आपको प्रयास करना चाहिए नहीं तो इसकी वजह से आप खाली समय में इन्हीं बातों के बारे में सोचते रहेंगे और अपना समय बर्बाद करेंगे। वैवाहिक जीवन के लिहाज़़ से यह बढ़िया दिन है। साथ में एक अच्छी शाम गुज़ारने की योजना बनाएँ। जीवन की उलझनों का हल आपको खुद ढूंढने की जरुरत है क्योंकि लोग आपको बस सलाह दे सकते हैं और कुछ नहीं। __________________________________ पं. रामपाल भट्ट श्री ज्योतिष सेवाश्रम भीलवाड़ा (राजस्थान) ___________________________________

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 21 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB