Kishore Bhambhani
Kishore Bhambhani Aug 26, 2017

श्री गणेश की सुंदर वंदना एक बच्ची के मुख से जरूर सुने

#गणेशजी

+449 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 333 शेयर

कामेंट्स

Hemlata Soni Aug 27, 2017
सरस्वती की वाणी है।God bless you little girl.

Jagdish Koshti Aug 27, 2017
Nice prastuti and voice🌹🌹🌹🌹🌹🌷🌷🌷🌷🌷🌲🌲🌲🌲🌲

Ramkumar Varma Aug 27, 2017
गुड़िया की वाणी में सरस्वती विराजमान रहे उज्वल भविष्य की कामना सहित हार्दिक शुभकामनाएं

anshika Aug 29, 2017
bahut sweet gaya hai dono ne

krishnan Kumar jha Jan 28, 2020

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 9 शेयर
sonia rana HP Jan 28, 2020

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Sanjay Singh Jan 28, 2020

+14 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 4 शेयर
savai rathi Jan 28, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
neeraj Jan 28, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Minakshi Tiwari Jan 28, 2020

*सफल जीवन -: एक बार अर्जुन ने कृष्ण से पूछा-* *माधव.. ये 'सफल जीवन' क्या होता है ?* *कृष्ण अर्जुन को पतंग उड़ाने ले गए।अर्जुन कृष्ण को ध्यान से पतंग उड़ाते देख रहा था।* *थोड़ी देर बाद अर्जुन बोला-* *माधव.. ये धागे की वजह से पतंग अपनी आजादी से और ऊपर की ओर नहीं जा पा रही है,क्या हम इसे तोड़ दें?ये और ऊपर चली जाएगी|* *कृष्ण ने धागा तोड़ दिया ..* *पतंग थोड़ा सा और ऊपर गई और उसके बाद लहरा कर नीचे आयी और दूर अनजान जगह पर जा कर गिर गई...* *तब कृष्ण ने अर्जुन को जीवन का दर्शन समझाया,पार्थ..'जिंदगी में हम जिस ऊंचाई पर हैं,* *हमें अक्सर लगता की कुछ चीजें, जिनसे हम बंधे हैं वे हमें और ऊपर जाने से रोक रही हैं;* *जैसे :* *-घर-* *-परिवार-* *-अनुशासन-* *-माता-पिता-* *-गुरू-और-* *-समाज-* *और हम उनसे आजाद होना चाहते हैं...* *वास्तव में यही वो धागे होते हैं - जो हमें उस ऊंचाई पर बना के रखते हैं..* *'इन धागों के बिना हम एक बार तो ऊपर जायेंगे परन्तु बाद में हमारा वो ही हश्र होगा, जो बिन धागे की पतंग का हुआ...'* *"अतः जीवन में यदि तुम ऊंचाइयों पर बने रहना चाहते हो तो, कभी भी इन धागों से रिश्ता मत तोड़ना.."* *धागे और पतंग जैसे जुड़ाव के सफल संतुलन से मिली हुई ऊंचाई को ही '"सफल" जीवन कहते हैं*.." 🌲🙏🙏🌲

+72 प्रतिक्रिया 30 कॉमेंट्स • 29 शेयर
sonia rana HP Jan 28, 2020

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB