M.S.Chauhan
M.S.Chauhan Mar 28, 2021

*शुभ दिन रविवार* *ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नम:* *हरि भक्त प्रहलाद जी जय* *सुनो बुरे कर्म का बुरा नतीजा* *जल गई बुआ बच गया भतीजा* *होलिका दहन और फाल्गुन मास की पूर्णिमा की हार्दिक शुभकामनाएं* *बुराई पर अच्छाई की जीत भक्त प्रहलाद और होलिका दहन की कथा* *इस त्योहार का मुख्य संबंध बालक प्रहलाद से है। प्रहलाद था तो विष्णुभक्त मगर उसने ऐसे परिवार में जन्म लिया, जिसका मुखिया क्रूर और निर्दयी था।* *प्रहलाद का पिता अर्थात निर्दयी हिरण्यकश्यप अपने आपको भगवान समझता था और प्रजा से भी यही उम्मीद करता था कि वह भी उसे ही पूजे और भगवान माने। ऐसा नहीं करने वाले को या तो मार दिया जाता था या कैद-खाने में डाल दिया जाता था।* *जब हिरण्यकश्यप का पुत्र प्रहलाद विष्णु भक्त निकला तो पहले तो उस निर्दयी ने उसे डराया-धमकाया और अनेक प्रकार से उस पर दबाव बनाया कि वह विष्णु को छोड़ उसका पूजन करे। मगर प्रहलाद की भगवान विष्णु में अटूट श्रद्धा थी और वह विचलित हुए बिना उन्हीं को पूजता रहा*। *सारे यत्न करने के बाद भी जब प्रहलाद नहीं माना तो हिरण्यकश्यप ने उसे मार डालने की सोची। इसके लिए उसने अनेक उपाय भी किए मगर वह मरा नहीं। अंत में हिरण्यकश्यप ने अपनी बहन होलिका, जिसे अग्नि में न जलने का वरदान था, को बुलाया और प्रहलाद को मारने की योजना बनाई। एक दिन निर्दयी राजा ने बहुत सी लकड़ियों का ढेर लगवाया और उसमें आग लगवा दी।* *जब सारी लकड़ियाँ तीव्र वेग से जलने लगीं, तब राजा ने अपनी बहन को आदेश दिया कि वह प्रहलाद को लेकर जलती लकड़ियों के बीच जा बैठे। होलिका ने वैसा ही किया*। *दैवयोग से प्रहलाद तो बच गया, परन्तु होलिका वरदान प्राप्त होने के बावजूद जलकर भस्म हो गई। तभी से प्रहलाद की भक्ति और आसुरी राक्षसी होलिका की स्मृति में इस त्योहार को मनाते आ रहे हैं।* 🌷🌼💐🙏💐🌼🌷

*शुभ दिन रविवार* 
*ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नम:*
*हरि भक्त प्रहलाद जी जय*
*सुनो बुरे कर्म का बुरा नतीजा* 
*जल गई बुआ बच गया भतीजा* 
*होलिका दहन और फाल्गुन मास की पूर्णिमा की हार्दिक शुभकामनाएं*
*बुराई पर अच्छाई की जीत भक्त प्रहलाद और होलिका दहन की कथा* 
*इस त्योहार का मुख्य संबंध बालक प्रहलाद से है। प्रहलाद था तो विष्णुभक्त मगर उसने ऐसे परिवार में जन्म लिया, जिसका मुखिया क्रूर और निर्दयी था।*

*प्रहलाद का पिता अर्थात निर्दयी हिरण्यकश्यप अपने आपको भगवान समझता था और प्रजा से भी यही उम्मीद करता था कि वह भी उसे ही पूजे और भगवान माने। ऐसा नहीं करने वाले को या तो मार दिया जाता था या कैद-खाने में डाल दिया जाता था।*

*जब हिरण्यकश्यप का पुत्र प्रहलाद विष्णु भक्त निकला तो पहले तो उस निर्दयी ने उसे डराया-धमकाया और अनेक प्रकार से उस पर दबाव बनाया कि वह विष्णु को छोड़ उसका पूजन करे। मगर प्रहलाद की भगवान विष्णु में अटूट श्रद्धा थी और वह विचलित हुए बिना उन्हीं को पूजता रहा*।

*सारे यत्न करने के बाद भी जब प्रहलाद नहीं माना तो हिरण्यकश्यप ने उसे मार डालने की सोची। इसके लिए उसने अनेक उपाय भी किए मगर वह मरा नहीं। अंत में हिरण्यकश्यप ने अपनी बहन होलिका, जिसे अग्नि में न जलने का वरदान था, को बुलाया और प्रहलाद को मारने की योजना बनाई। एक दिन निर्दयी राजा ने बहुत सी लकड़ियों का ढेर लगवाया और उसमें आग लगवा दी।*

*जब सारी लकड़ियाँ तीव्र वेग से जलने लगीं, तब राजा ने अपनी बहन को आदेश दिया कि वह प्रहलाद को लेकर जलती लकड़ियों के बीच जा बैठे। होलिका ने वैसा ही किया*।

*दैवयोग से प्रहलाद तो बच गया, परन्तु होलिका वरदान प्राप्त होने के बावजूद जलकर भस्म हो गई। तभी से प्रहलाद की भक्ति और आसुरी राक्षसी होलिका की स्मृति में इस त्योहार को मनाते आ रहे हैं।*
🌷🌼💐🙏💐🌼🌷

+132 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 536 शेयर

कामेंट्स

deraj Sharma Mar 28, 2021
सुबह का प्यार भरा होली नमस्कार

RAJ RATHOD Mar 28, 2021
💐🌺🌹शुभ रविवार 🌹🌹💐 🌼जय सुर्यदेव 🌼🙏सुप्रभात वंदन 🙏 होली के खूबसूरत रंगों की तरह, आपको और आपके सुरे परिवार को, हमारी तरफ से बहुत-बहुत, रंग भरे, उमंगो की शुभकामनाएँ…!

M.S.Chauhan Mar 28, 2021
@धीरजशर्मा22 आदरणीय सादर नमन, फाल्गुन मास की पूर्णिमा और होलिका दहन की आप को सपरिवार हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं जी आपका हर पल शुभ हो! जय श्रीकृष्ण गोविंद! 🌷🌷🌷💐🙏💐🌷🌷🌷

seema bhardwaj Mar 28, 2021
ओम सूर्य देवाय नमः 🙏🙏🌹 आप को ओर आप के परिवार को होलिका दहन की हार्दिक शुभकामनाएं भाई जी 🌹🙏🌸🌿🌺

BK WhatsApp STATUS Mar 28, 2021
जय श्री राधे कृष्ण शुभ प्रभात स्नेह वंदन धन्यवाद 🌹🙏🙏🙏

Kamlesh Mar 28, 2021
जय श्री राधे राधे

Neha Sharma, Haryana Mar 28, 2021
💞🌹💞🌹❤️"जय श्री राधेकृष्णा"❤️🌹💞🌹💞 💖"आपको और आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई,,🤡🙂🙂 💖"ये होली आपके और आपके परिवार के लिए सुखमय, आनंदमय और मंगलकारी हो!💦💦💦 🥀"आपकी खुशियों से ना हो कोई दूरी"🥀 🥀"आपकी रहे ना कोई ख्वाहिश अधूरी"🥀 🥀"रंगो से भरे इस मौसम में"🥀 🥀"रंगीन हो आपकी दुनिया पूरी"🥀 🌷"राधा का रंग और कान्हा की पिचकारी"🌷 🌷"प्यार के रंग से, रंग दो दुनिया सारी"🌷 ✨"ये रंग ना जाने, कोई जात कोई बोली"✨ 🌹"मुबारक हो आपको रंगो भरी होली"🌹 💞"राधेकृष्णा""राधेकृष्णा"💞

🇮🇳🇮🇳GEETA DEVI🇮🇳🇮🇳 Mar 28, 2021
🌹🌹RADHEY RADHEY 🌹🌹 🎉HAPPY 🎉 HOLIKA DAHAN 🤗🤗🍫🍫🤗🤗 🍃🌹💕MY SWEET 💕🌹🍃 🌹🌹🙏BHAI JI🙏🌹🌹 💐🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏💐

Sanjay Rastogi Mar 28, 2021
Om suryay Namah subh prabhat vandan ji Holika Dahan ki hardik subhkamnaye

ramkumarverma Apr 16, 2021

+25 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 70 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर
yogesh jani Apr 16, 2021

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर
shiv bhakte Apr 16, 2021

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

आप के चले जाने का कुछ ऐसा असर हुआ हम पर, आपको ढूंढते ढूंढते हम ने खुद को खो दिया.... Good Night Everyone....*देश में अनेक विभिन्नताएं..... फिर भी... एकता* *सही कहा जाता है भारत देश विविधताओं में एकता वाला देश है* *कैसी भयानक विडंबना है, कहीं पर गरीबी छुपाने के लिए दीवार बनाई जा रही है। तो कहीं जलती चिताओं को छुपाने के लिए टीन लगाए जा रहे हैं।* *कैसा इंसानियत का जनाजा निकल रहा है। कहीं पर शवों को जलाने तक की जगह नहीं है।* *जबकि दूसरी ओर देश‌ के चुनावी रैलियों में लाखों लोगों की भीड़ जुटाने के लिए नोटों की बारिश की जा रही है।* *क्या सच में यही देश में विभिन्नता में एकता का नायाब नमूना है*😷😢🌹🌹🌹ਜੈ ਮਾਤਾ ਦੀ 🌹🌹🌹"ॐ जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु‍ते।।" || ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै: || 🙏🌺#_जय_श्री_महाकाली_माँ सेवक भरत व्यास बांगा हिसार हरिद्वार वान_प्रस्थ ऋषिकेश,हरिद्वार ।

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 26 शेयर
Radhe Krishna Apr 16, 2021

+65 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 143 शेयर
Meenu Apr 16, 2021

+65 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 30 शेयर
Meenu Apr 16, 2021

+47 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 38 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 13 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB