Naval Yadav
Naval Yadav May 18, 2018

जशोदा का नंदलाला ब्रज का उजाला है

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर

अधिक मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी 27 सितंबर को है। अधिकमास में पड़ने वाली एकादशी को कमला एकादशी, पद्मिनी एकादशी भी कहा जाता है। इस एकादशी का बहुत महत्व होता है। एकादशी तिथि 27 सितंबर को सुबह 06:02 बजे शुरू होगी और एकादशी तिथि 28 सितंबर को सुबह 07.50 मिनट पर समाप्त होगी। अधिकमास भगवान विष्णु का मास है। इसलिए इस महीने में भगवान विष्णु की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। कहते हैं कि इस व्रत को करने वाला हर प्रकार के दुखों से छूट जाता है और अंत में उसे बैकुंठ धाम की प्राप्ति होती है। आपको बता दें कि यह एकादशी रविवार को पड़ रही है, इसलिए इसका महत्व औऱ भी बढ़ गया है। आपको बता दें कि जिस तरह अधिकमास तीन साल में एक बार आता है, उसी प्रकार यह एकादशी भी तीन साल में एक बार आती है।

+39 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 23 शेयर
Mahesh Malhotra Sep 27, 2020

+30 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 2 शेयर
TEHSIL DAR Sep 27, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
shekhar Kumar Sep 27, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB