Nagjibhai
Nagjibhai Sep 25, 2017

जय श्री माताजी

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

नवरात्रि सातवां दिन: मां कालरात्रि की होती है पूजा मां कालरात्रि की कथा: रक्तबीज का किया था वध पौराणिक कथा के मुताबिक दैत्य शुंभ-निशुंभ और रक्तबीज ने तीनों लोकों में अपना आंतक मचाना शुरू कर दिया तो देवतागण परेशान हो गए और भगवान शंकर के पास पहुंचे. तब भगवान शंकर ने देवी पार्वती से राक्षसों का वध कर अपने भक्तों की रक्षा करने के लिए कहा. भगवान शंकर का आदेश प्राप्त करने के बाद पार्वती जी ने दुर्गा का रूप धारण किया और शुंभ-निशुंभ का वध किया. लेकिन जैसे ही मां दुर्गा ने रक्तबीज को मारा उसके शरीर से निकले रक्त की बूंदों से लाखों रक्तबीज उत्पन्न हो गए. तब मां दुर्गा ने मां कालरात्रि के रूप में अवतार लिया. मां कालरात्रि ने इसके बाद रक्तबीज का वध किया और उसके शरीर से निकलने वाले रक्त को अपने मुख में भर लिया. मां कालरात्रि का मंत्र 1- या देवी सर्वभूतेषु माँ कालरात्रि रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। 2- ॐ कालरात्रि देव्ये नम:🌺🌺🌺🌺🌹ज़िन्दगी से लम्हे चुरा बटुए मे रखता रहा! फुरसत से खरचूंगा, बस यही सोचता रहा। उधड़ती रही जेब, करता रहा तुरपाई। फिसलती रही खुशियाँ, करता रहा भरपाई। इक दिन फुरसत पायी, सोचा ....... खुद को आज रिझाऊं बरसों से जो जोड़े वो लम्हे खर्च आऊं। खोला बटुआ..लम्हे न थे जाने कहाँ रीत गए ! मैंने तो खर्चे नही, जाने कैसे बीत गए !! फुरसत मिली थी सोचा, खुद से ही मिल आऊं। आईने में देखा जो, पहचान ही न पाऊँ। ध्यान से देखा बालों पे, चांदी सा चढ़ा था। था तो मुझ जैसा पर, जाने कौन खड़ा था।🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🍅✴☀❣जय मां अंबे भवानी ❣☀✴🍅❣ 🍂🐚 गंगा गीता गायत्री 🍂🐚 (¯`•.•´¯) *`•.¸(¯`•.•´¯)¸.•´ `•.¸.•´ ჱܓ*“ 🍅✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴🍅 ☆*´¨`☽  ¸.★* ´¸.★*´¸.★*´☽ (  ☆** Ψ त्रिवेणी घाट हरिद्वार .Ψ `★.¸¸¸. ★• ° 🙏सेवक भरत व्यास बांगा ब्रह्मकुंड हरकी पैड़ी हरिद्वार हिसार 🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳*पुण्य किसी को दगा नहीं देता, और* *पाप किसी का सगा नहीं होता* *जो कर्म को समझता है, उसे* *धर्म को समझने की जरूरत ही नहीं* *सम्पत्ति के अधिकारी कोई भी, या* *एक से ज्यादा हो सकते हैं, लेकिन* *कर्मों के* *उत्तराधिकारी केवल हम स्वयं ही होते हैं* *🙏जय श्री कृष्ण🙏*

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 12 शेयर
simran Oct 23, 2020

+117 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 184 शेयर
Rammohan Mahant Oct 23, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB