Bhavana Gupta
Bhavana Gupta May 5, 2021

Jai Shree Radhe Krishna ji. Good Morning 🏵🌸🌹🏵🌸🌹🙏🙏🙏🙏

+104 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 95 शेयर

कामेंट्स

Jai Mata Di May 5, 2021
Radhey Krishna Ji. Good Morning Dear Sister. God Bless You And Your Family

Rajesh Kumar May 5, 2021
Radhe Krishna Bhavna ji Gbu and your family always be Happy 🌹🌹🙏🌺🌺

GOVIND CHOUHAN May 5, 2021
Jai Shree Radhe Radhe Jiii 🌹 Jai Shree Radhe Krishna Jiii 🌹 Good Morning Jii 🙏 Prabhu sawre ki kripa se Aapka hr ek Pl Subh Hoo Jiiii 🙏🌹🙏 Vvvery Nice Post Jiii 👌👌👌

Gajendrasingh kaviya May 5, 2021
Radhe Radhe good morning have a nice day my sweet sis 🌷🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Sanjiv9779584243 May 5, 2021
प्यारे कृष्ण,  मुझे एक ऐसा हृदय प्रदान करें जो, चाहे कुछ भी हो, आपसे प्रेम करें और आपकी आज्ञा का पालन करें।💖🙏

Nitin Sharma May 5, 2021
*. 🌺ॐ🌺 🌹ॐ गं गंणपतये नमो नमः 🌹 🐚🌴सुप्रभात🌴🐚 🌹 जय श्री राम 🙏🌹

🔴 Suresh Kumar 🔴 May 5, 2021
राधे राधे जी 🙏 शुभ प्रभात वंदन मेरी बहन।

Arvid bhai May 5, 2021
jay shri Ram jay hnumanji ji jay mhakal baba bholenath har har mhadev har

Arvid bhai May 5, 2021
jay shri radhe krisna radhe krisna radhe krisna radhe radhe nmskar ji ram ram ji subh prbhat vandan

🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚 *ऐसी बात नहीं है कि आदमी दुखों व क्लेशों से मुक्त नहीं होना चाहता हो। वह अतिशीघ्र इन द्वंदों से छुटकारा और जीवन में परिवर्तन चाहता है मगर मन बदलकर नहीं मन्त्र बदलकर। आज का आदमी हर समस्या के लिए मन्त्र चाहता है।*       *मन्त्र में भी उसे ज्यादा विश्वास नहीं है मगर वो उस समाधान से बचना चाहता है जो यथार्थ में होना चाहिए। आदमी की चतुराई तो देखो, पूरा दिन बैठे- बैठे बात निकालकर निकाल देता है और फिर कहता फिरता है कि हमें कोई ऐसा मन्त्र या दवा बतादे जिससे दिन में भूख लग जाये और रातमें नींद आ जाए।*           *इसका एक ही मन्त्र है और वो है " परिश्रम " उन लोगों से जाकर पता करो जो सड़क पर बड़ी गहरी नीद में सोते हैं। उनका दिन भर का परिश्रम ही उनकी भूख व नींद का कारण है। अतः मन बदलने का प्रयास करो मन्त्र बदलने का नहीं।* ओम शांति 🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚🦚

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर

*🙏सुबह की सभी को प्रणाम🙏* भगवान का हाथ पकड़ लो तो कभी किसी के पैर नहीं पकड़ने पड़ेंगे | हम अपना हाथ भगवान के हाथों में देकर चलें | भायँ कुभायँ अनख आलस हूँ। नाम जपत मंगल दिसि दसहूँ॥ सुमिरि सो नाम राम गुन गाथा। करउँ नाइ रघुनाथहि माथा॥ भावार्थ- अच्छे भाव (प्रेम) से, बुरे भाव (बैर) से, क्रोध से या आलस्य से, किसी तरह से भी नाम जपने से दसों दिशाओं में कल्याण होता है। उसी राम नाम का स्मरण करके और रघुनाथ को मस्तक नवाकर मैं राम के गुणों का वर्णन करता हूँ। अमृत के कुंड में चाहे कोई इच्छापूर्वक उतरकर नहा ले या भूल से गिर पड़े अथवा कोई धक्का देकर गिरा दे - अमृत का स्पर्श होते ही वह अमर हो जाता है | इसी प्रकार भगवान का नाम चाहे जैसे भी लिया जाय--वह भगवान को मिला देता है | अगर परमात्मा तुम्हें कष्ट के पास ले आया है तो अवश्य ही वो तुम्हें कष्ट के पार भी ले जाएगा ..!! हमने पूंछा श्याम से :-- जीत जाएंगे क्या इस दर्द से प्रभु ? मुस्कुराते हुए श्याम ने कहा :-- पहले कभी हारने दिया है तुम्हें ..! *🌸जय जय श्री राधे🌸*

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+151 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 96 शेयर
priyanka thakur May 10, 2021

+10 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 17 शेयर
Anita Sharma😊 May 10, 2021

+25 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 51 शेयर
pandey ji May 10, 2021

+29 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 19 शेयर
pandey ji May 10, 2021

+17 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 24 शेयर
Aastha 🌹 May 10, 2021

+17 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 17 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB