guru dev datt
guru dev datt Jun 10, 2018

Aao sehat banaye....

+17 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 50 शेयर
Shyam Yadav May 14, 2021

🥗 *स्वास्थ्य संजीवनी*🥗 *धनिये का जूस लीवर और किडनी करेगा साफ रहेंगीं बीमारियाँ दूर!* हमारी किडनी का काम है ब्लड को शुद्ध करना और शरीर के बेकार और विषैले पदार्थों को बाहर निकालना। पैन्क्रीयाज आंतो में कुछ पाचक एंजाइम का स्राव करके पाचन क्रिया में अहम भूमिका अदा करता है। इसके अलावा यह इन्सुलिन नामक एक हार्मोन भी स्रावित करता है जोकि शरीर के ग्लूकोस लेवल को नियंत्रित करने का काम करता है जिससे डायबिटीज नहीं होती है। कुछ ऐसी प्राकृतिक चीजें हैं जो हमारे शरीर के अंगो को साफ़ करके इन्हें ठीक ढंग से रखती हैं। उनमे से ही एक है धनिया या धनिये का जूस जोकि लिवर, किडनी और पैन्क्रीयाज को अच्छे से साफ़ करके इन्हें स्वस्थ रखता है। धनिया के और भी फायदे हैं जैसे लिवर से फैट को बाहर निकालना और शरीर के शुगर लेवल को नियंत्रित करना। इसके अलावा धनिया किडनी में स्टोन को बनने से रोकता है। इसमें वो सारे औषधीय गुण मौजूद हैं जो शरीर को डीटोक्सीफाई करने के लिए जरुरी होते हैं। धनिया की चटनी भी स्वस्थ लाभों से भरी होती है आज हम आपको इस धनिये के सही इस्तेमाल के बारे में बतायेगे जिससे, आपके लिवर, किडनी और पैन्क्रीयाज ठीक से काम कर सकें। 1. *धनिये का पानी* धनिये को अपने डाइट में इस्तेमाल करना कोई मुश्किल काम नहीं है। आप सबसे पहले पानी में धनिये के पत्ते को डालकर उसे कम से कम 15 मिनट तक उबालें और फिर उसे एक साफ़ बोतल में छानकर रख लें। इसके बाद इस पानी को आप रोज कुछ दिनों तक पियें फिर आप देखेंगे कि आपके हेल्थ में किस तरह से सुधार हो रहा है। 2. *नींबू धनिये का जूस* एक बर्तन में नींबू को दो हिस्सों में काटकर निचोड़ें। उसमें मसला हुआ धनिया और पानी मिला लें। अच्छी तरह से मिक्स करें। आपका हेल्दी जूस तैयार है। इस जूस को खाली पेट लगातार 5 दिन तक लें। हरा धनिया पाचन शक्ति तो बढ़ाता ही है साथ ही शरीर में प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है। यह खून की अशुद्धियों को दूर करता है। नींबू उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करता है। इस जूस को 5 दिन तक लगातार खाली पेट लेने से आप अपना वजन भी कम कर सकते हैं। इस तरह से आप अपने घर में ही इन प्राकृतिक चीजों के इस्तेमाल से अपने शरीर के अंगो को साफ़ रख सकते हैं जिससे कि वो सुचारू रूप से अपना काम कर सकें और आप स्वस्थ रह सकें।

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Madan Kaushik May 14, 2021

***अपना पोस्ट*** **नक्षत्रवाणी** *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻*  गजाननं भूतगनादि सेवितम, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम। उमासुतं शोकविनाशकारकम, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम।। श्रीमते रघुवीराय सेतूल्लङ्घितसिन्धवे। जितराक्षसराजाय रणधीराय मङ्गलम्।। - भुजगतल्पगतं घनसुन्दरं गरुडवाहनमम्बुजलोचनम् । नलिनचक्रगदाकरमव्ययं भजत रे मनुजाः कमलापतिम् ।।  क्यों भटके मन बावरा, दर-दर ठोकर खाये...! शरण श्याम की ले ले प्यारे, जनम सफल हो जाये...!! 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ मित्रों...! सबसे पहले तो नित्यप्रति आपकी प्रिय पोस्ट "नक्षत्रवाणी" की पोस्टिंग में होने वाले विलंब के लिए आप सभी से हृदयपूर्वक क्षमा प्रार्थना सहित...🙏🙏 आप सभी परम प्रिय धर्मपारायण, ज्योतिषविद्या प्रेमी विद्वतजनों को आचार्य/पं.मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम 🌸 जय गणेश 🌸 जय अंबे 🌸 *जय श्री कृष्ण*🌷मंगल प्रभात🌷इसी के साथ आप सभी सनातनी, धर्म-उत्सवप्रेमी, राम-कृष्ण-हरि-शिवभक्त, शक्ति उपासक, मातृपितृ भक्त व राष्ट्रप्रेमियों को आज पवित्र **वैशाख शुक्ल पक्ष/सुदी तृतीया की, अक्षय तृतीया/आखा तीज (भगवान श्री परशुराम जयंती) महोत्सव की, संक्रान्ति महापर्व (सूर्य की वृष संक्रान्ति उत्सव) एवं छत्रपति श्री शम्भाजी महाराज जयन्ती** की भी बहुत-बहुत हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...!!!** ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ आइये...! अब चलें आपके प्रिय पोस्ट 'नक्षत्रवाणी' के अंतर्गत आज कुछ विशेष महत्वपूर्ण जानकारी, दृकपंचांग, चन्द्र राशिफल' एवं 'आरोग्य मंत्र'पुओ की ज्ञानयात्रा पर...🙏 ```༺⊰🕉⊱༻ ``` *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻* ☘️🌸!! ॐ श्री गणेशाय नमः!! 🌸☘️ ****************************** 𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :- आज दिनांक **१४ मई सन-२०२१/14 मई-2021 ईस्वी** शुक्रवार/Thurssday* *🇮🇳 राष्ट्रीय सौर वैशाख, दिनांक २४* *चैत्र (मधुमास)* प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग* 👉 ध्यान दें **यहाँ दिये गए तिथि, नक्षत्र, योग व करण आदि के समय इनके समाप्ति काल हैं और सूर्योदयास्त व चंद्रोदय का गणना स्थल मुंबई हैं।** कलियुगाब्द......5122 (५१२२) विक्रम संवत्.....२०७८/2078 (आंनद नाम) शक संवत्......१९४३/1943 मास....वैशाख (सं./हिंदी)/बैसाख (मारवाड़ी/पं.) पक्ष........शुक्ल/चानण/सुदी/उतरतो बैशाख **तिथी...(०३/03) तृतीया/तीज** *दूसरे दिन प्रातः 05.38 पर्यंत पश्चात चतुर्थी* दुसरे दिन प्रातः 07.59 पर्यंत पश्चात चतुर्थी **वार/दिन....भृगुवासर/शुक्रवार/Friday** **नक्षत्र........मृगशीर्ष🌠** *दुसरे दिन प्रातः 08.39 पर्यंत पश्चात आर्द्रा योग..............सुकर्मा संध्या 01.47 पर्यंत पश्चात धृति करण............तैतिल संध्या 06.51 पर्यंत पश्चात गर सूर्योदय.......प्रातः 06.04.00 पर सूर्यास्त........सांय 07.06.00 पर चंद्रोदय........प्रातः 07.45.00 पर रवि(अयन-दृक)......उत्तरायण रवि(अयन-वैदिक)...उत्तरायण **ऋतु (दृक).....ग्रीष्म** **ऋतु वैदिक)...वसंत** **सूर्य राशि.......वृषभ** **चन्द्र राशि......वृषभ (सांय 07.14 बजे तक पश्चात मिथुन)** **गुरु राशी.......कुंभ (पूर्व में उदय, मार्गी)** 🚦 *दिशाशूल :-* पश्चिम दिशा: यदि बहुत ही आवश्यक हो तो घी/काजू या जौ का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ☸ शुभ अंक......5 🔯 शुभ रंग......श्वेत/गुलाबी/आसमानी नीला ⚜️ *अभिजीत मुहूर्त :-* मध्याह्न 12.09 से 13.01 तक। 👁‍🗨 **राहुकाल (अशुभ) :-* पूर्वान्ह 10.57 से 12.35 तक । 👁‍🗨 *गुलिक काल (अशुभ) :-* प्रातः 07.42 से 09.20 तक । ************************** 🌞 *उदय लग्न मुहूर्त -* *मेष* 04:11:14 05:52:19 *वृषभ* 05:52:19 07:50:45 *मिथुन* 07:50:45 10:04:26 *कर्क* 10:04:26 12:20:36 *सिंह* 12:20:36 14:32:25 *कन्या* 14:32:25 16:43:05 *तुला* 16:43:05 18:57:42 *वृश्चिक* 18:57:42 21:13:53 *धनु* 21:13:53 23:19:31 *मकर* 23:19:31 25:06:39 *कुम्भ* 25:06:39 26:40:12 *मीन* 26:40:12 28:11:14 ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 07.27 से 09.06 तक लाभ प्रात: 09.06 से 10.44 तक अमृत दोप. 12.22 से 02.00 तक शुभ सायं 05.16 से 06.54 तक चंचल रात्रि 09.38 से 11.00 तक लाभ । *****""""""******"""*******"""******** आज के विशेष योगायोग/युति संयोग, वेध, ग्रहचार (ग्रहचाल), व्रत/पर्व/प्रकटोत्सव, जयंती/जन्मोत्सव व मोक्ष दिवस/स्मृतिदिवस/पुण्यतिथि आदि 🙏👇:- 👉 **आज वैशाख शुक्ल पक्ष/सुदी शुक्रवासर/शुक्रवार/Friiday को हिंदु नववर्ष/विक्रमी संवत् का 32वाँ/ बत्तीसवां दिन👉 बैशाख सुदी तृतीया/तीज दूसरे दिन प्रातः 05.38 पर्यंत पश्चात चतुर्थी शुरू, तृतीया तिथि वृद्धि, अक्षय तृतीया/आखातीज (देशाचारे), सूर्य की वृष संक्रान्ति 23:25 पर (विशेष पुण्यकाल 17:01 से सूर्योदय तक, सामान्य पुण्यकाल दोपहर बाद से (गो - अन्न - जल - तिल दान , गोदावरी स्नान विधान), कल्पादि, त्रेतायुगादि, संकल्पादि में प्रयोजनीय ग्रीष्म ऋतु प्रारम्भ, गंगोत्री - यमुनोत्री - बद्रीनाथ - केदारनाथ यात्रा (कोरोना काल में नहीं होगी यात्रा), जैन वर्षी तप पारण, शव्वाल मुस्लिम माह प्रारम्भ, श्री मातंगी जयन्ती (बैशाख शुक्ल तृतीया अनुसार कल शुक्रवार को श्रेष्ठ), भगवान श्री परशुराम जयन्ती (प्रदोष काल व्यापिनी तृतीया में, एकाध पंचांग में अक्षय तृतीया को कल मानकर 15 मई को भी), स्नान कुम्भ महापर्व (हरिद्वार), ईदुल फितर (मीठी ईद, मुस्लिम, चन्द्रदर्शन पर निर्भर), छत्रपति श्री शम्भाजी महाराज जयन्ती व डॉ. श्री रघुवीर स्मृति दिवस।** ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ 🙏📿*आज का आराधना मंत्र🙏:- **🕉 ॐ द्रां द्रीं द्रॏं सः शुक्राय नमः।।🎪🚩** **🕉 ॐ लक्ष्मी नारायणाभ्यां नमः ॥ 📿 *आज का उपासना मंत्र :- ॥ ॐ कुमुदवासिन्यै नम: ॥ *********************** ⚜ 👉🙏☸*आज की महत्वूर्ण तिथि विशेष :*🚩 **वैशाख शुक्ल पक्ष/सुदी तृतीया/तीज, अक्षय तृतीया/आखातीज (देशाचारे), सूर्य की वृषभ संक्रान्ति महापर्व। मदनरत्न के अनुसार :* “अस्यां तिथौ क्षयमुर्पति हुतं न दत्तं। तेनाक्षयेति कथिता मुनिभिस्तृतीया। उद्दिष्य दैवतपितृन्क्रियते मनुष्यैः। तत् च अक्षयं भवति भारत सर्वमेव॥ अक्षय तृतीया या आखा तीज वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को कहते हैं। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो भी शुभ कार्य किये जाते हैं, उनका अक्षय फल मिलता है । इसी कारण इसे अक्षय तृतीया कहा जाता है । वैसे तो सभी बारह महीनों की शुक्ल पक्षीय तृतीया शुभ होती है, किंतु वैशाख माह की तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो में मानी गई है। भविष्य पुराण के अनुसार इस तिथि की युगादि तिथियों में गणना होती है, सतयुग और त्रेता युग का प्रारंभ इसी तिथि से हुआ है । भगवान विष्णु ने नर-नारायण, हयग्रीव और परशुराम जी का अवतरण भी इसी तिथि को हुआ था । ब्रह्माजी के पुत्र अक्षय कुमार का आविर्भाव भी इसी दिन हुआ था । इस दिन श्री बद्रीनाथ जी की प्रतिमा स्थापित कर पूजा की जाती है और श्री लक्ष्मी नारायण के दर्शन किए जाते हैं। प्रसिद्ध तीर्थ स्थल बद्रीनारायण के कपाट भी इसी तिथि से ही पुनः खुलते हैं। वृंदावन स्थित श्री बांके बिहारी जी मन्दिर में भी केवल इसी दिन श्री विग्रह के चरण दर्शन होते हैं, अन्यथा वे पूरे वर्ष वस्त्रों से ढके रहते हैं। इसी दिन महाभारत का युद्ध समाप्त हुआ था और द्वापर युग का समापन भी इसी दिन हुआ था। ऐसी मान्यता है कि इस दिन से प्रारम्भ किए गए कार्य अथवा इस दिन को किए गए दान का कभी भी क्षय नहीं होता। इस दिन से शादी-ब्याह करने की शुरुआत हो जाती है। बड़े-बुजुर्ग अपने पुत्र-पुत्रियों के लगन का मांगलिक कार्य आरंभ कर देते हैं। अनेक स्थानों पर छोटे बच्चे भी पूरी रीति-रिवाज के साथ अपने गुड्‌डा-गुड़िया का विवाह रचाते हैं। इस प्रकार गाँवों में बच्चे सामाजिक कार्य व्यवहारों को स्वयं सीखते व आत्मसात करते हैं। स्कंद पुराण और भविष्य पुराण में उल्लेख है कि वैशाख शुक्ल पक्ष की तृतीया को रेणुका के गर्भ से भगवान विष्णु ने परशुराम रूप में जन्म लिया। कोंकण और चिप्लून के परशुराम मंदिरों में इस तिथि को परशुराम जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई जाती है। दक्षिण भारत में परशुराम जयंती को विशेष महत्व दिया जाता है। परशुराम जयंती होने के कारण इस तिथि में भगवान परशुराम के आविर्भाव की कथा भी सुनी जाती है। इस दिन परशुराम जी की पूजा करके उन्हें अर्घ्य देने का बड़ा माहात्म्य माना गया है। सौभाग्यवती स्त्रियाँ और क्वारी कन्याएँ इस दिन गौरी-पूजा करके मिठाई, फल और भीगे हुए चने बाँटती हैं, गौरी-पार्वती की पूजा करके धातु या मिट्टी के कलश में जल, फल, फूल, तिल, अन्न आदि लेकर दान करती हैं। मान्यता है कि इसी दिन जन्म से ब्राह्मण और कर्म से क्षत्रिय भृगुवंशी परशुराम का जन्म हुआ था। एक कथा के अनुसार परशुराम की माता और विश्वामित्र की माता के पूजन के बाद प्रसाद देते समय ऋषि ने प्रसाद बदल कर दे दिया था। जिसके प्रभाव से परशुराम ब्राह्मण होते हुए भी क्षत्रिय स्वभाव के थे और क्षत्रिय पुत्र होने के बाद भी विश्वामित्र ब्रह्मर्षि कहलाए। उल्लेख है कि सीता स्वयंवर के समय परशुराम जी अपना धनुष बाण श्री राम को समर्पित कर संन्यासी का जीवन बिताने अन्यत्र चले गए। अपने साथ एक फरसा रखते थे तभी उनका नाम परशुराम पड़ा। 🙏 💥 **विशेष ध्यातव्य👉 तीज/तीज को परवल/कलंबी बैंगन का सेवन शत्रु वृद्धिकारक व बुद्धिनाशक होने से पूर्णतः वर्जित है (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)।* साभार: 🌞 *~हिन्दू पंचांग ~* 🌞।** 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 👉 **🏡वास्तु टिप्स🏢🏡 1) गृहवास्तु विज्ञान के अनुसार प्रवेश/मुख्य द्वार के सामने दूसरे कमरे का द्वार हो तो शुभ होता है। 2) गृहवास्तु के अनुसार यथासंभव शयनकक्ष में दर्पण न लगाएँ। इससे घर के सदस्यों के विचारों में मतभेद और कलह की स्थिति उत्पन्न होती रहती है।** 3) यदि आपके घर से अगर अकारण ही बरकत जा रही है या आपको नेगेटिव एनर्जी दिख रही है या परिवार में निरंतर कलह रहता है, तो कपूर और फिटकरी को पीस के गौझारण (गौमूत्र) जो बहुत ही आसानी से मिल जाता है (अन्यथा पतंजलि आदि का ले लें), इससे घर मे पोछा लगाने वाले क्लीनर या पानी मे मिला लें और रोज़ सुबह-शाम घर मे पोछा लगाये और गंगाजल का पूजा-आरती के बाद छिड़काव भी करें फिर चमत्कारिक परिवर्तन देखें। 4) **घर की मुख्य सीढ़ियाँ सदैव दक्षिण या पश्चिम की ओर होनी चाहिए। ईशान में कभी भी होनी चाहिए। विशेष परस्थिति में वायव्य तथा आग्नेय कोण में बना सकते हैं। *****""""""******"""*******"""******** 📢 *संस्कृत सुभाषितानि -* यदि पुत्रः कुपुत्रः स्यात् व्यर्थो हि धनसञ्चयः । यदि पुत्रः सुपुत्रः स्यात् व्यर्थो हि धनसञ्चयः ॥ अर्थात :- यदि पुत्र कुपुत्र हो तो धनसंचय व्यर्थ है; और यदि पुत्र सुपुत्र हो, तो भी धनसंचय व्यर्थ है । **💊💉आरोग्य मंत्र🌿🍃** *दाढ़ी के सफेद बालों का घरेलू उपचार -* *2. एलोवेरा जेल -* एलोवेरा जेल स्वास्थ्य लाभों का एक बड़ा हिस्सा है और बालों को समय से पहले भूरे रंग होने से रोकने में भी मदद करता है। यदि आप एलोवेरा का रस पीते हैं तो यह अच्छी तरह से काम करता है। यह बालों को सफेद होने से रोकने में प्रभावी ढंग से काम करता है। *****""""""******"""*******"""******** ⚜*🐑🐂🦔 आज का संभावित चन्द्र राशिफल🦂🐊🐟:- 👉 किंतु पहले सबसे एक करबद्ध निवेदन🙏 मित्रों सर्वप्रथम तो कुछ तकनीकी कारणों से आपको आपकी प्रिय पोस्ट नक्षत्रवानी विलंब से मिल पाती है इसके लिए मैं आप सभी से क्षमा प्रार्थी हूँ। तत्पश्चात मैं निवेदन करना चाहता हूँ कि आपकी इस परमप्रिय ज्ञानवर्धक 'अपना पोस्ट' *नक्षत्रवाणी* को आप जितना हो सकता हो उतना लाइक-शेयर तथा फॉरवर्ड तो करें ही, आलस्य त्याग कर कृपया इसपर अपनी बुद्धि व विवेक के अनुसार अपने सही-सही कमैंट्स भी अवश्य करें। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और अपने फीडबैक से व लाइक/सराहना करके भी अवश्य ही मेरा उत्साहवर्धन करेंगे। नक्षत्रवाणी के संदर्भ में आप सभी के बहुमूल्य सुझाव भी सदैव सादर आमंत्रित हैं।धन्यवाद...!!! **ख़ुशख़बर।। सबसे बड़ी ख़ुशख़बर।।**👇 Free। फ्री।। निःशुल्क।।। बिना मूल्य।।।।। फ्री।।।।।👇 🙏👉 किसी भी जन्मलग्न या जन्मराशि या अपनी प्रसिद्ध राशि के लिए भाग्यशाली रत्न-रुद्राक्ष हमसे जानें फ्री ऑफ Charge यानि पूर्णतः निःशुल्क व निःसंकोच। इसके अलावा लैब टेस्टेड उच्चतम क्वालिटी के रत्न-रुद्राक्ष प्राप्त करने के लिए भी हमसे संपर्क करें :👇 9987815015 या 9991610514 पर। 🙏👉 प्रियवरों शिवकृपा प्राप्ति के सबसे बड़े शुभावसर 'महाशिरात्रि' के पावन पर्व पर (यानि कि 11 मार्च को) भगवान महाकालेश्वर शिव जो कि एकादश रुद्र रूपों में भी तीनों लोकों में प्रस्फुटित होते हैं, उनके साक्षात स्वरूप व कृपाप्रसाद *पंचमुखी 'रुद्राक्ष रत्न*" जिसे रुद्र के अक्ष या भगवान शिव के अक्ष के रूप में भी जाना जाता है, को इसबार फिर से इस परम शुभ अवसर पर विधिवत् *अभिमंत्रित* करके आपको आपके सभी दैहिक-दैविक-भौतिक कष्टों से मुक्ति दिलाने हेतु, विशेषतः इस **कोरोना काल** में बहुत अधिक बढ़ चुके मानसिक संताप (Mental stress/depression) तथा आर्थिक संताप को पूर्ण रूप से दूर करने के लिए, इस समय आपकी आर्थिक तँगीं की स्थिति को समझते हुए **केवल मात्र 111₹** में आप शिवभक्त सुधि पाठकों के लिए उपलब्ध करवाना प्रारंभ किया हैं। जिसे भी यह दिव्य सर्वसिद्ध **रुद्राक्ष रत्न** चाहिए, वे कृपया हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। ध्यान रखें यह योजना सीमित समय के लिए ही है, इसलिए इस सुनहरे अवसर को आप चूकें नहीं। 🙏 👉 **एक विशेष व अति शुभ सूचना:** **मित्रों हमारे 'ऐस्ट्रो वर्ल्ड' के दिव्य कोष में शुद्ध केसर (काश्मीरी व ईरानी A तथा B दोनों ग्रेड की), पारिजात, चम्पा, अनन्त, पुन्नाग, श्वेत/सफ़ेद ऊद, केसर, खस, भीना गुलाब व असली चंदन जैसे दिव्य इत्रों की पूरी रेंज, भीमसेनी कर्पूर, उत्तम क्वालिटी की शुद्ध गुग्गल व शुद्ध लोबान, शुद्ध राशि रत्न-उपरत्न, असली नेपाली रुद्राक्ष रत्न व गण्डकी नदी से प्राप्त असली शालिग्राम जी भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे इस संग्रहालय में और भी कई दिव्य व चमत्कारिक वस्तुएं उपलब्ध हैं। ये सभी दिव्य वस्तुएं हम अपने ज्योतिष-वास्तु एवं वैदिक पूजा-अनुष्ठानों के नियमित यजमानों के लिए बहुत ही सही कीमत/रेट पर और बहुत ही कम मार्जिन पर आपको देते हैं तथा इनके असली होने की मनीबैक गारंटी भी। तो आप 'नक्षत्रवाणी' के सभी पाठक भी हमारे परमप्रिय होने से इसका लाभ निःसन्देह ले सकते हैं। इसके लिए आप हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। जल्दी रिप्लाई ना मिलने पर आप कॉल भी कर सकते हैं। धन्यवाद...!!!** 🙏ध्यान दें मित्रों 👉 **जिनका भी 'FB यानि फ़ेसबुक' अकाउंट नहीं है और जो पाठकगण हमारे द्वारा भेजे जा रहे 'FB लिंक' के माध्यम से 'नक्षत्रवाणी पोस्ट' नहीं देख या पढ़ पा रहे हों वे इसके बारे में हमें अविलंब बताएं ताकि उन्हें बिना FB लिंक वाली 'पूरी पोस्ट' भेजी जा सके। इसके अलावा जिन पाठक गणों को नक्षत्रवाणी पोस्ट एक से अधिक बार प्राप्त हो रही हो, वे भी हमें तुरंत सूचित करने की कृपा करें ताकि उन्हें हमारी एक से अधिक ब्रॉडकास्ट लिस्ट्स/BCLs से उन्हें रिमूव किया जा सके। आप हमें प्रतिक्रिया नहीं देते हैं तो हमें तो यही लगेगा कि आप को नक्षत्रवाणी केवल एक ही बार प्राप्त हो रही है। इसलिए हमें सूचित अवश्य करें। धन्यवाद...!!! *****""""""******"""*******"""******** देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके। नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत् ।। विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे। जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिंतयेत।। 🐐 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* रोजगार में वृद्धि होगी। भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। शत्रु सक्रिय रहेंगे। गर्व-अहंकार को दूर करें। राजनीतिक व्यक्तियों से लाभकारी योग बनेंगे। मनोबल बढ़ने से तनाव कम होगा। साझेदारी में नवीन प्रस्ताव प्राप्त हो सकेंगे। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* फालतू खर्च होगा। दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। विवाद को बढ़ावा न दें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। व्यावसायिक योजनाओं का क्रियान्वयन नहीं हो पाएगा। परिवार की चिंता रहेगी। आय से व्यय अधिक होंगे। अजनबियों पर विश्वास से हानि हो सकती है। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। यात्रा सफल रहेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। जोखिम न लें। अपने व्यसनों पर नियंत्रण रखें। पत्नी के बतलाए रास्ते पर चलने से लाभ की संभावना बनती है। यात्रा से लाभ। वाहन-मशीनरी खरीदी के योग हैं। व्यवसाय में अड़चनें आएंगी। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। मान-सम्मान मिलेगा। नेत्र पीड़ा हो सकती है। अधिकारी वर्ग विशेष सहयोग नहीं करेंगे। ऋण लेना पड़ सकता है। यात्रा आज नहीं करें। परिवार के कार्यों को प्राथमिकता दें। आपकी बुद्धिमत्ता सामाजिक सम्मान दिलाएगी। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। कोर्ट व कचहरी के कार्य बनेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। चोट व रोग से बचें। कार्य-व्यवसाय में लाभ होने की संभावना है। दांपत्य जीवन में अनुकूलता रहेगी। सामाजिक समारोहों में भाग लेंगे। सुकर्मों के लाभकारी परिणाम मिलेंगे। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। विवाद को बढ़ावा न दें। मितव्ययिता को ध्यान में रखें। कुटुंबियों से संबंध सुधरेंगे। शत्रुओं से सावधान रहें। व्यापार लाभप्रद रहेगा। खर्चों में कमी करें। सश्रम किए गए कार्य पूर्ण होंगे। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* भ्रम की स्थिति बन सकती है। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। कानूनी अड़चन दूर होगी। भौतिक सुख-सुविधाओं में वृद्धि होगी। स्वास्थ्य संबंधी समस्या हल हो सकेगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। अपनी वस्तुएँ संभालकर रखें। रुका धन मिलेगा। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। अर्थ संबंधी कार्यों में सफलता से हर्ष होगा। सुखद भविष्य का स्वप्न साकार होगा। विचारों से सकारात्मकता बढ़ेगी। दुस्साहस न करें। व्यापार में इच्छित लाभ होगा। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। अच्छे लोगों से भेंट होगी जो आपके हितचिंतक रहेंगे। योजनाएं फलीभूत होंगी। नौकरी में पदोन्नाति के योग हैं। आलस्य से बचकर रहें। परिवार की मदद मिलेगी। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* कष्ट, भय, चिंता व बेचैनी का माहौल बन सकता है। दु:खद समाचार मिल सकता है, धैर्य रखें। किसी के भरोसे न रहकर अपना कार्य स्वयं करें। महत्वपूर्ण कार्यों में हस्तक्षेप से नुकसान की आशंका है। परिवार में तनाव रहेगा। व्यापार-व्यवसाय मध्यम रहेगा। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* पुराना रोग उभर सकता है। प्रयास सफल रहेंगे। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। यात्रा का शुभ योग होने के साथ ही कठिन कार्य में भी सफलता मिल सकेगी। रिश्तेदारों से संपत्ति संबंधी विवाद हो सकता है। व्यापार-नौकरी में लाभ होगा। 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* पुराने मित्र व संबंधियों से मुलाकात होगी। शुभ समाचार मिलेंगे। मान बढ़ेगा। प्रसन्नता रहेगी। मन में उत्साह रहेगा, जिससे कार्य की गति बढ़ेगी। आपके कार्यों को समाज में प्रशंसा मिलेगी। भागीदारी में आपके द्वारा लिए गए निर्णयों से लाभ होगा। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ *🎊🎉🎁 आज जिनका जन्मदिवस या विवाह की वर्षगांठ हैं, उन सभी प्रिय मित्रो को कोटिशः शुभकामनायें🎁🎊🎉* ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ और ज़रा इन बातों पर भी ज़रूर ध्यान दें मित्रों...! अगर...??? 1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं....? 2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है...? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं...? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं...? 3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..? 4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं...? 5) बीमारी आपको छोड़ ही नहीं रही है...? घर का हर एक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है...? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है...? 6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं...? 7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है...? 8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है...? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं...? 9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं...? 10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं...? 11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही...? 12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा...? यदि हाँ...??? तो यह सब अकारण ही नहीं है...! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं...? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें...! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं...! ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.) (चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai साभार: बाँके बिहारी (धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच) कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा (सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान) अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान) नोट: हमारी या हमारे संस्थान 'एस्ट्रो-वर्ल्ड' तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच 'सातफेरे डॉट कॉम' मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, दक्षिणावर्ती शँख (जो कि घर में विधिवत रखने मात्र से ही बदल दे आपका भाग्य हमेशां-2 के लिए...!), सियारसिंगी, भुजयुग्म (हत्थाजोड़ी, जो तिज़ोरी आपकी कभी ख़ाली ना होने दे), नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे... सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514 ईमेल आई डी: [email protected] 🌺आपका दिन आदि वैद्य (भगवान धन्वंतरि जी) की कृपा से परम मंगलमय हो मित्रो! *🚩जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्रम🚩* 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩 ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

💢 घरेलू उपाय ================================== 💢जुकाम से नाक बंद हो जाना : ठंड या बारिश के मौसम में जुकाम के कारण नाक बंद हो जाती है। ऐसे मौसम में यह समस्या एक आम बात है। इससे बचाव के लिए अजवाय को भून कर पीस ले। उसे एक सूती कपड़े में बांधकर इनहेलर बना लें। इसे बच्चों को सुघांते रहे इससे निकलने वाली सुगंध नाक को खोलने में मदद करती है। 💢रात को सोते समय रोज आंवले का चूर्ण शहद या पानी से लेने से पेट साफ रहता है और आंखों से संबंधित रोगों में लाभ मिलता है। सूखे आंवले को शुद्ध घी में तलकर पीस लें, इस चूर्ण का सिर पर लेप करने से नकसीर में लाभ मिलता है। 💢पपीते के छिलकों को सुखाकर और पीसकर चूर्ण बना लीजिए। इस चूर्ण में ग्लिसीरीन मिलाकर दिन में दो बार फटी हुई एड़ियों में लगाने से बहुत जल्दी फायदा होता है। 💢भोजन करने से पहले दो या तीन पके टमाटरों को काटकर उसमें पिसी हुई कालीमिर्च, सेंधा नमक एवं हरा धनिया मिलाकर खाएं। इससे चेहरे पर लाली आती है व पौरूष शक्ति बढ़ती है। 💢पेट में कीड़े होने पर सुबह खाली पेट टमाटर में पिसी हुई कालीमिर्च लगाकर खाने से लाभ होता है।या उसमे हींग का छौंका लगा दीजिये ,अब उसे पी जाइए, सारे कीड़े मर जायेंगे. 💢बालों को स्वस्थ रखने और उनको बीमारी इत्यादि से बचाने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे ना सिर्फ आपके बालों में चमक आएगी बल्कि आपके बाल किसी भी होने वाली बीमारी से भी बच पाएंगे। 💢त्वचा पर कहीं भी फुंसी उठने पर, काली मिर्च पानी के साथ पत्थर पर घिस कर अनामिका अंगुली से सिर्फ फुंसी पर लगाने से फुंसी बैठ जाती है। 💢सिरदर्द होने पर दालचीनी को पानी के साथ महीन पीसकर माथे पर पतला लेप कर लगा लीजिए। लेप सूख जाने पर उसे हटा लीजिए। 3-4 लेप लगाने पर सिरदर्द होना बंद हो जाएगा। 💢चेहरे की झांई- कुछ दिनों तक चेहरे पर मटर के आटे का उबटन मलते रहने से झांई और धब्बे समाप्त हो जाते है। 💢आंवला का सेवन करने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। 💢सुबह नाश्ते में आंवले का मुरब्बा खाने आपका शरीर स्वस्थ बना रहता है। 🌀टेंशन ..... 💢जब आप घर में हों तो बच्चों के साथ खूब मस्ती करें, उछल-कूद करें, यह क्रिया आपको एनर्जी देगी और मन प्रफुल्लित रखेगी। वैसे भी बच्चों के साथ सारे टेंशन दूर हो जाते हैं। 🌀मुँहासे ...... 💢हल्दी, बेसन का उबटन बनाकर चेहरे पर लगाने से भी मुँहासे दूर होते हैं। 💢नीम की पत्तियों के चूर्ण में मुलतानी मिट्टी और गुलाबजल मिलाकर पेस्ट बना लें व इसे चेहरे पर लगाएँ। 💢नीम की जड़ को पीसकर मुँहासों पर लगाने से भी वे ठीक हो जाते हैं। 💢काली मिट्टी को घिसकर मुँहासों पर लगाने से भी वे नष्ट हो जाते हैं।

+8 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 23 शेयर
prakash patel May 14, 2021

===🌹=ॐ=🌹===🏥 पेप्टिक अल्सर के 🌀Acupressure 🔑 Point 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और पेप्टिक अल्सर की गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/101139925132263/posts/254858096427111/ 👉परिचय- शरीर में पाये जाने वाले पाचनतन्त्र में होने वाले घाव को अल्सर कहते हैं। इस रोग में रोगी के आमाशय तथा आंत दोनों में अल्सर हो जाता है। वैसे यह रोग अधिकतर अधेड़ उम्र के पुरुषों तथा स्त्रियों में होता है। जब आमाशय या आंत के किसी भाग की सतह में पाचक रसों के प्रतिरोध की क्षमता खो जाती है तो इस प्रकार का रोग हो जाता है। 👉 कारण- आमाशय तथा आंत का अल्सर कई कारणों से हो सकता है जैसे- अधिक मात्रा में शराब का सेवन या धूम्रपान करने आदि से। यह रोग उन व्यक्तियों को भी हो सकता है जो अनियमित रूप से भोजन का सेवन करते हैं। इस कारण से होने वाले रोगों को पेप्टिक अल्सर कह सकते हैं। इनके अलावा यह रोग कई सारी दवाईयों के साइड इफेक्ट से भी हो सकता है। 👉 लक्षण- इस रोग के कारण व्यक्ति के पेट के ऊपरी भाग या बाईं पसलियों के नीचे की ओर जलन युक्त दर्द होता है। कई बार यह दर्द खाना खाने के बाद शुरू हो जाता है। लेकिन कई बार खाना खाने से यह दर्द कम भी हो जाता है। वैसे यह दर्द लम्बे समय तक रुक-रुककर भी होता रहता है। कुछ अल्सर रोग में रोगी को उल्टी या मल के साथ खून आना शुरू हो जाता है। यह रोग आगे चलकर कैंसर का रूप भी धारण कर सकता है। 🌀 एक्यूप्रेशर चिकित्सा- पेप्टिक अल्सर के रोग में रोगी को सबसे पहले शराब-धूम्रपान करना बंद कर देना चाहिए। रोगी को अपने भोजन पर खासतौर से ध्यान देना चाहिए। 👉 एक्यूप्रेशर चिकित्सा द्वारा तस्वीर में प्रतिबिम्ब बिन्दुओं के अनुसार रोगी के शरीर पर एक्यूप्रेशर बिंदु योग्य दिशा में दबाव दे 4 मिनिट दिन में दो बार लेने से पेप्टिक अल्सर बिमारी-समस्या में राहत मिलेगी, 👉..संपूर्ण स्वस्थ होना है तो आपको पेप्टिक अल्सर के महत्वपूर्ण एक्यूप्रेशर🔑 बिंदु के उपचार की आवश्यकता है। जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। 👉एक्यूप्रेशर बिंदु शरीर पर कहां कहां स्थित हैं? किस दिशा में दबाव देकर कितनी सेकंड मिनिट लेना चाहिए? एक्यूप्रेशर पॉइंट ट्रीटमेंट की संपूर्ण जानकारी देंगे, ताकि आप एक्यूप्रेशर ट्रीटमेंट खुद ले सकें और स्वस्थ हो सकें। जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। 🏥 AUM HEALTH CARE 🏥 (Acupressure Clinic) 🏥 स्वस्थ & स्लीम होने की दुनियामें आपका स्वागत है। 🏥 ===🌹=ॐ=🌹===

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

आम एक औषधि भी है 🍋👇🍋👇🍋👇 आम का सीजन शुरू हो चूका है और इस सीजन में स्वास्थ्य लाभ भी लेना जरुरी है। आज हम आपको आम के उपयोग बता रहे है इसे जरूर लिख के रखे। 1🍋सुखी खासी - पके आम को गर्म राख में भूनकर खाने से सुखी खासी ख़त्म हो जाती है। यह प्रयोग खासी ठीक होने तक कर सकते है इसका कोई नुकसान नहीं है। 2🍋भूक ना लगना - आम के रस में २ ग्राम सेंधानमक तथा थोड़ी सी चीनी मिलाकर पिने से भूक बढती है। 3🍋खून की कमी - 1 गिलास देसी गाय का दूध और एक कप आम का रस मिक्स करके उसमे एक चम्मच शहद मिलाकर नियमित रूप से सुबह शाम पिने से खून बढ़ता है। 4🍋दात और मसूड़ों के लिए आम की गुठली की गिरी पीसकर मंजन बनाके रख दीजिये और इससे मंजन कीजिये दात और मसूड़ों के रोग दूर हो जाएंगे। 5🍋गर्मी में अगर नाक से खून बहता हो तो आम की गुठली की गिरी का एक बून्द रस नाक में टपकाए आराम मिलेगा। 6🍋आग से जलने पर आम के पत्तो को जलाकर राख बना लीजिए और जले हुए स्थान पर राख को लगा दे इससे जला हवा अंग ठीक हो जाता है। 7🍋हाथ पैरो की जलन के लिए आम के फूलों को रगड़ने से जलन दूर हो जाती है। 8🍋अगर पाचन कमजोर है तो 100 मिली मीठे आम के रस में 2 ग्राम सोंठ मिलाकर सुबह भूके पेट पिने से पाचनशक्ति बढती है। याद रहे की रेशेदार आम कब्जनाशक होते है और सेहत के लिए लाभदायक भी होते है। 9🍋आम के 8 10 ताजे पत्ते रोजाना चबाकर खाने से शुगर कंट्रोल में रहता है। 10🍋आम के अंदर की छाल का रस दिन में 40 मिली सुबह शाम पिने से बवासीर, रक्तप्रदर और खुनी दस्त में लाभ मिलता है। रस रोजाना ताजा होना चाहिए। 🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋🍋

+24 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 58 शेयर
prakash patel May 14, 2021

💎आंखों को आकर्षक बनाने के 12 मेकअप - महत्वपूर्ण टिप्स https://www.facebook.com/groups/367351564605027/permalink/486513102688872/ अंडाकार चेहरे के लिए बेस्‍ट मेकअप टिप्स 1. नेचुरल फाउंडेशन: जब भी आप अपने अंडाकार चेहरे के लिए उपयुक्त फाउंडेशन इंटरनेट पर ढूंढते हैं तो परेशान हो जाते हैं। झूठे दावों पर विश्वास न करें। आप जिस फाउंडेशन का उपयोग कर रहे हैं केवल उसमें परिवर्तन करके आप अपने अंडाकार चेहरे में परिवर्तन नहीं कर सकते। यदि आपका चेहरा अंडाकार है तो आपको सिर्फ इतना करना है कि आप एक ही प्रकार के ऐसे फाउंडेशन का उपयोग करें जो आपकी त्वचा के रंग से मेल खाता हो। जी हाँ, आपको ऐसे फाउंडेशन का उपयोग करना चाहिए जो आपकी त्वचा के रंग से मेल खाता हो न कि आपके चेहरे के आकार से तथा दावा करने वाले अधिकतर ब्रांड आपको केवल दिगभ्रमित करते हैं। 💎 खूबसूरत त्वचा, वजन कम करने के & हर गंभीर बिमारी के एक्यूप्रेशर पॉइंट की जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। ✅और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/ 2. लिप आर्ट: आपको अपने चेहरे तथा होंठों को एक साथ हाईलाईट नहीं करना चाहिए। यह बहुत अधिक भड़कीला दिखता है तथा इससे चेहरा खराब दिखता है। आप गहरे रंग के लिपस्टिक, आकर्षक ग्लॉस और स्पारकल्स का उपयोग करके अपने होंठों को आकर्षक बना सकते हैं। आपको सिर्फ इतना ध्यान रखना है कि जब आप अपने होंठों को हाईलाईट करें तब अपने आँखों के मेकअप को सिंपल रखें। 3. आँखों का मेकअप: अंडाकार चेहरे पर हर तरह का आई मेकअप बहुत सुंदर दिखता है। यदि आपको अधिकाँश महिलाओं की तरह आँखों पर अधिक मेकअप लगाना पसंद है तो आपको क्रीमी आईशैडोज़ का उपयोग करना चाहिए तथा आपको पलकें थोड़ी मोटी दिखानी चाहिए। जब कभी आपको आँखों पर बहुत अधिक मेकअप करने के कारण शर्म महसूस हुई है तो इसमें दोष आपके चेहरे के आकार का नहीं है। बल्कि आपने उस समय अपने होंठ तथा आँखों दोनों को एक साथ हाईलाईट किया होगा। जैसा कि पहले बताया गया है एक समय में या तो अपने होंठों को हाईलाईट करें या आँखों को, परंतु दोनों को एक साथ हाईलाईट न करें। 4. गालों का मेकअप: अंडाकार चेहरे पर आप कितने अच्छे से मेकअप कर पाते हैं इस बात का पता ब्रोंज़र का उपयोग करने पर चलता है। आप साधारण शेड्स का उपयोग कर सकते हैं या गहरे रंग भी चुन सकते हैं परंतु इसकी बहुत कम मात्रा का उपयोग करें। बहुत अधिक गहरा ब्रोंज़र आपके लुक को ख़राब कर सकता है। अंडाकार चेहरे पर गालों पर बहुत कम मेकअप की आवश्यकता होती है। हल्का ब्रोंज़र लगायें और ध्यान रखें कि यह मेकअप आपके चेहरे पर बहुत अधिक प्रभाव डालता है। क्योंकि गालों की हड्डियां अंडाकार चेहरे पर सबसे अधिक जगह घेरती है अत: इस टिप का उपयोग करके आप अपने लुक को पूरी तरह बदल सकते हैं। 5. शेड्स में फेरबदल: अंडाकार चेहरे के लिए कभी भी एक ही रंग के ब्रोंज़र और हाईलाइटर का उपयोग न करें। यदि आप गहरे रंग का ब्रोंज़र लगा रहे हैं तो उसके साथ हलके रंग का हाईलाइटर लगायें तथा यदि हलके रंग का ब्रोंज़र लगा रहे हैं तो गहरे रंग का हाईलाइटर लगायें। एक ही रंग के ब्रोंज़र और हाईलाइटर लगाने पर आपका चेहरा दबा हुआ दिखेगा जिसे आप निश्चित रूप से पसंद नहीं करेंगे। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/groups/367351564605027/ 6. ब्लश: मेकअप की यह टिप केवल अंडाकार चेहरे वालों के लिए नहीं है बल्कि उन सभी के लिए है जिन्हें मेकअप करना पसंद है। आप मोती के रंग का या हलके गुलाबी रंग का ब्लश अपने चेहरे पर लगायें। याद रखें अंत में हलके हाथों से अंदर बाहर ले जाते हुए गुलाबी रंग का पावडर ब्लश लगायें। 7. लिप ग्लॉस: अंडाकार चेहरे पर लिपस्टिक की तुलना में लिप ग्लॉस ज़्यादा अच्छा दिखता है। अंडाकार चेहरे पर जब लिपग्लॉस लगाया जाता है तो चेहरा बहुत शानदार दिखता है। यदि आप लिपस्टिक के बिना रह सकते हैं तो जो मैंने कहा है उस पर विश्वास करें। आँखों पर अधिक मेकअप (जैसे कैट आई मेकअप) लगाने के स्थान पर शाम की पार्टी के लिए चमकीले लिप ग्लॉस का उपयोग करें। ☘️सभी जानकारी, घरेलू और आयुर्वेदिक चिकित्सा के इस इलाज केवल शैक्षिक हेतु के लिए है.. उपचार के लिए हमेशा चिकित्सक की सलाह ले। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट की जानकारी के लिए 📞👉 +91 9974592157 🌀 MSG 👉 +91 7016609049 हमारा संपर्क करें। और हर गंभीर बिमारी मिटाये।

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
prakash patel May 14, 2021

💎 माला मटर के उपयोग.... . माला मटर लंबे, सुफ़ने-leafleted ढंका पत्तियों के साथ, एक ट्विनिंग जड़ी बूटी है. इसके फूल एक डंठल के अंत में बढ़ रही है, बैंगनी रंग में करने के लिए गुलाब रहे हैं. दूसरी ओर, फल,, हार्ड चमकदार लाल और काले रंग के बीज युक्त, छोटी फली हैं. जड़ी बूटी भी संस्कृत में Gunja और कुछ भारतीय भाषाओं के रूप में पहचान की है. इंडोनेशिया के मूल निवासी, संयंत्र ज्यादातर दुनिया के उष्णकटिबंधीय और subtropical क्षेत्रों में पाया जाता है. यह बढ़ रही है, जबकि उचित देखभाल नहीं लिया है, संयंत्र शायद यह शुरू किया गया है जहां क्षेत्रों में पतला और आक्रामक हो जाता है. 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/groups/367351564605027/ Syn: Abrus नाबालिग और ए pauciflorus Desv. अंग्रेजी नाम: गुँजा, केकड़े की आंख. संस्कृत नाम: कृष्णा गुंजा. स्थानीय भाषा के नाम: Assami: Latuwani, बंगाली: रति, Kunch, गुजराती: Gumchi, हिन्दी और पंजाबी: रति, कन्नड़: Gurgunn, Gulaganji, ओरिया: Kaincha, Gunja, मलयालम: Kunnikkura; तमिल: Kunthamani, तेलुगू: Gumginja. व्यापार के नाम: रति, Kunch. पारंपरिक का उपयोग करें : 1. , जड़ों पीस छोटे गोलियों बनाने, गुड़ में गोलियाँ डिब्बे में बंद और रात blindedness के इलाज के लिए एक ही खाते हैं. 2. सफेद fruited किस्म की जड़ों को पीस द्वारा एक प्लास्टर बनाओ और गम की inflammated वर्गों की दर्दनाक हिस्से पर प्लास्टर लागू होते हैं. 3. वे निम्नलिखित की जड़ों को पीस द्वारा किए गए एक मिश्रण पीने सफेद रंग का मूत्र का इलाज करने के लिए: (क) सफेद फलदार ए precatorius, (ख) इंडिगोफेरा pulchella, (ग) panicum repens और (घ) Spatholobus roxburghii; 4. बजरी के इलाज के लिए वे निम्नलिखित से बना एक मिश्रण पी: (क) ए precatorius की जड़ों, (ख) गुड़ का इनकार, (ग) Diospyros टोमेनटोसा का एक पौधा से रसकर बहना, बबूल कत्था से (घ) स्त्राव, (ई) छोटे शोरा, और (च) सल्फर की चुटकी; 5. विपुल दस्त द्वारा विशेषता (आमतौर पर एनीमिया के कारण) प्रसूति शिकायतों का किस्म का इलाज, ए precatorius की जड़ों मिश्रण के दो अलग अलग किस्मों की तैयारी में इस्तेमाल किया जाता है, मिश्रण की सामग्री नीचे दिए गए हैं: (एक) पहली किस्म: ए precatorius की जड़ों, Elaeodendron roxburghii, Coix lachryma-Jobi, मुरलीवाला longum, Ruellia suffruticosa, सफेद प्याज, officinale Zingiber के प्रकंद; (ख) दूसरे किस्म: ए precatorius की जड़ों, Coix lachryma-Jobi, Embelia रोबस्टा, मुरलीवाला longum, Casearea टोमेनटोसा, Elaeodendron roxburghii की छाल, Gmelina Arborea, Emblica officinalis, सफेद प्याज, तुलसी, Curcuma अन्गुस्तिफोलिया का कंद की पत्तियों और अदरक - इन सभी उबला हुआ और गुड़ का इंकार साथ मिश्रित, एक साथ भूमि रहे हैं; 6. जड़ों के रूप में गर्भान्तक और पक्षाघात में; 7. ग्रंथियों की सूजन पर चूने का पानी (2:1) के साथ पत्ती का पेस्ट लागू करें; 💎 खूबसूरत त्वचा, वजन कम करने के & हर गंभीर बिमारी के एक्यूप्रेशर पॉइंट की जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। ✅और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/8. वहाँ दर्द मारने की लंगोटी पर सफेद फूल ए precatorius, गर्म थोड़ा और प्लास्टर की पत्तियों को पीस; 9. , एक छोटा सा नमक जोड़ने के एक छोटे से फोड़ा और overexhaustion की वजह से मांसपेशियों में दर्द से राहत पाने के लिए पूरे शरीर पर प्लास्टर लागू, Lawsonia अल्बा और अम्लिका (01:01:01) की पत्तियों के साथ ए precatorius की पत्तियों को पीस; (एक्स), Carissa carandas और उद्यान कार्पास की जड़ों के साथ ए precatorius की पत्तियों का पेस्ट बनाने चुपके आक्षेप से पीड़ित रोगी के पूरे शरीर पर थोड़ा पेस्ट और प्लास्टर ही गर्म; 10. पत्ता पेस्ट leucoderma में, (बारहवीं) त्वचा रोगों में बीज पेस्ट; 11. गर्भनिरोधक के रूप में कुछ प्रसंस्करण के बाद बीज. मुंडा: सूजाक में जड़ पेस्ट. ओरांव: सूखे रूट पाउडर के रूप में हल्के रेचक. अग्नि पुराण: द्राक्षा और Polyalthia longifolia के काढ़े की इसी के साथ ए precatorius (i) भूसी, Moringa pterigosperma, payomuca और tripha / A (टर्मीनालिया belerica का फल, टर्मीनालिया chebula और Emblica officinalis) सभी पेट के कीड़े नष्ट कर देता है; (Ii) गर्म पानी में ए precatorius, समुद्री नमक और pathya के पाउडर का मिश्रण सभी बुखार को हटा; मेलिया azadiracta, Holarrhena antidysenterica (पत्ते) के फल के साथ ए precatorius के बीज (iii) की खपत. बचा (युवा पत्तियों) और Glycyrrhiza glabra (स्टेम का पाउडर) उल्टी का कारण बनता है; Acorus कैलमेस, जी / oriosa Superba, वासा, nisagada के साथ ए precatorius (iv) नियमित रूप से पीने, Zingiber officinalis, Glycyrrhiza glabra और सुबह में दैनिक समुद्री नमक युवा लड़कों की स्मृति को बढ़ाता है; यह समुद्री नमक और कुछ अन्य पौधों (Tinospora cordifolia, pathya, citraka, Zingiber officinalis के सूखे प्रकंद) के साथ खाया जाता है, तो (वी) ए precatorius, एक आदमी के जीवन की अवधि को बढ़ा सकते हैं. आधुनिक उपयोग : जड़ें: उबकाई और विषनाशक, जड़ों और पत्तियों के काढ़े: खांसी के लिए, ठंड और पेट का दर्द, बीज: तंत्रिका विकार और मवेशियों की विषाक्तता में इस्तेमाल रेचक, उबकाई, टॉनिक, कामोद्दीपक,, बीज का प्रलेप: वर्तिका गर्भपात के बारे में लाने के रूप में; बीज का पेस्ट: कटिस्नायुशूल, कंधे के जोड़ों की कठोरता में और पक्षाघात में स्थानीय रूप से लागू होता है. ☘️सभी जानकारी, घरेलू और आयुर्वेदिक चिकित्सा के इस इलाज केवल शैक्षिक हेतु के लिए है.. उपचार के लिए हमेशा चिकित्सक की सलाह ले। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट की जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
prakash patel May 14, 2021

☘️ *_ह्रदय रोगियों के लिए जानिए कौन कौनसी सब्जियां लाभदायक है_* स्वस्थ भारत सबल भारत *डॉ राव पी सिंह* हमारे भोजन में अनेक ऐसी सब्जियां हैं, जिन्हें प्रतिदिन प्रयोग करके हार्ट की सभी बीमारियों से बचा जा सकता है। दिल के रोगों के लिए लाभकारी सब्जियां *प्याज*- इसका प्रयोग सलाद के रूप में कर सकते हैं। इसके प्रयोग से रक्त का प्रवाह ठीक रहता है। कमजोर हृदय होने पर जिनको घबराहट होती है या हृदय की धड़कन बढ़ जाती है उनके लिए प्याज बहुत ही लाभदायक है। 💎 खूबसूरत त्वचा, वजन कम करने के & हर गंभीर बिमारी के एक्यूप्रेशर पॉइंट की जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। ✅और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/ *टमाटर-* इसमें विटामिन सी, बीटाकेरोटीन, लाइकोपीन, विटामिन ए व पोटेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिससे दिल की बीमारी का खतरा कम हो जाता है। *लौकी-* इसे घिया भी कहते हैं। इसके प्रयोग से कोलोस्ट्रॉल का स्तर सामान्य अवस्था में आना शुरू हो जाता है। ताजी लौकी का रस निकालकर पोदीना पत्ती-5 कालीमिर्च 50व तुलसी के पत्ते डालकर दिन में दो बार पीना चाहिए। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/groups/367351564605027/ *लहसुन-* भोजन में इसका प्रयोग करें। खाली पेट सुबह के समय दो कलियां पानी के साथ भी निगलने से फायदा मिलता है। *गाजर-* बढ़ी हुई धड़कन को कम करने के लिए गाजर बहुत ही लाभदायक है। गाजर का रस पिएं, सब्जी खाएं व सलाद के रूप में प्रयोग करें। ☘️सभी जानकारी, घरेलू और आयुर्वेदिक चिकित्सा के इस इलाज केवल शैक्षिक हेतु के लिए है.. उपचार के लिए हमेशा चिकित्सक की सलाह ले। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट की जानकारी के लिए हमारा संपर्क करें। और हर गंभीर बिमारी मिटाये। 👉 https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/ वंदे मातरम 🇮🇳 सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Yogendra Chaudhary May 14, 2021

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Madan Kaushik May 13, 2021

***अपना पोस्ट*** **नक्षत्रवाणी** *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻*  गजाननं भूतगनादि सेवितम, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम। उमासुतं शोकविनाशकारकम, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम।। श्रीमते रघुवीराय सेतूल्लङ्घितसिन्धवे। जितराक्षसराजाय रणधीराय मङ्गलम्।। - भुजगतल्पगतं घनसुन्दरं गरुडवाहनमम्बुजलोचनम् । नलिनचक्रगदाकरमव्ययं भजत रे मनुजाः कमलापतिम् ।।  क्यों भटके मन बावरा, दर-दर ठोकर खाये...! शरण श्याम की ले ले प्यारे, जनम सफल हो जाये...!! 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ मित्रों...! सबसे पहले तो नित्यप्रति आपकी प्रिय पोस्ट "नक्षत्रवाणी" की पोस्टिंग में होने वाले विलंब के लिए आप सभी से हृदयपूर्वक क्षमा प्रार्थना सहित...🙏🙏 आप सभी परम प्रिय धर्मपारायण, ज्योतिषविद्या प्रेमी विद्वतजनों को आचार्य/पं.मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम 🌸 जय गणेश 🌸 जय अंबे 🌸 *जय श्री कृष्ण*🌷मंगल प्रभात🌷इसी के साथ आप सभी सनातनी, धर्म-उत्सवप्रेमी, राम-कृष्ण-हरि-शिवभक्त, शक्ति उपासक, मातृपितृ भक्त व राष्ट्रप्रेमियों को आज पवित्र **वैशाख शुक्ल/सुदी द्वितीया/दूज की, रोहिणी व्रत/पर्व की, वीर शिवाजी जयंती की एवं मानव एकता दिवस** की भी बहुत-बहुत हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...!!!** ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ आइये...! अब चलें आपके प्रिय पोस्ट 'नक्षत्रवाणी' के अंतर्गत आज कुछ विशेष महत्वपूर्ण जानकारी, दृकपंचांग, चन्द्र राशिफल' एवं 'आरोग्य मंत्र' की ज्ञानयात्रा पर...🙏 ```༺⊰🕉⊱༻ ``` *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻* ☘️🌸!! ॐ श्री गणेशाय नमः!! 🌸☘️ ****************************** 𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :- आज दिनांक **१३ मई सन-२०२१/13 मई-2021 ईस्वी** गुरुवार/Thurssday* *🇮🇳 राष्ट्रीय सौर वैशाख, दिनांक २३* *चैत्र (मधुमास)* प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग:««« 👉 ध्यान दें **यहाँ दिये गए तिथि, नक्षत्र, योग व करण आदि के समय इनके समाप्ति काल हैं और सूर्योदयास्त व चंद्रोदय का गणना स्थल मुंबई हैं।** कलियुगाब्द......5122 (५१२२) विक्रम संवत्.....२०७८/2078 (आंनद नाम) शक संवत्......१९४३/1943 मास....वैशाख (सं./हिंदी)/बैसाख (मारवाड़ी/पं.) पक्ष........शुक्ल/चानण/सुदी/उतरतो बैशाख **तिथी...(०२/02) द्वितीया/दूज** *दूसरे दिन प्रातः 05.38 पर्यंत पश्चात तृतीया* वार/दिन....गुरुवासर/गुरुवार/भिस्पत/वीरवार** **नक्षत्र........रोहिणी🌠** *दूसरे दिन प्रातः 05.45 पर्यंत पश्चात मृगशिरा* योग.............अतिगंड रात्रि 12.51 पर्यंत पश्चात सुकर्मा करण.............बालव अपराह्न 04.23 पर्यंत पश्चात कौलव दूसरे दिन प्रातः 05.38 सूर्योदय.......प्रातः 06.05.00 पर सूर्यास्त........सांय 07.05.00 पर चंद्रोदय........प्रातः 07.02.00 पर रवि(अयन-दृक)......उत्तरायण रवि(अयन-वैदिक)...उत्तरायण **ऋतु (दृक).....ग्रीष्म** **ऋतु वैदिक)...वसंत** **सूर्य राशि.......मेष** **चन्द्र राशि......वृषभ** **गुरु राशी.......कुंभ (पूर्व में उदय, मार्गी)** 🚦 *दिशाशूल :-* दक्षिण दिशा- यदि बहुत ही आवश्यक हो तो बेसन के लड्डू/केसर) दही या जीरा का सेवन करके यात्रा प्रारंभ करें। ☸ शुभ अंक......4 🔯 शुभ रंग........ पीत/पीला/केसरिया/सुनहरा ⚜️ *अभिजीत मुहूर्त :-* मध्याह्न 12.09 से 13.01 तक। 👁‍🗨 *राहुकाल :-* अपराह्न 02.12 से 03.50 तक । 👁‍🗨 *गुलिक काल (अशुभ) :-* पूर्वान्ह 09.20 से 10.57 तक । ************************** *उदय लग्न मुहूर्त :-* *मेष* 04:15:09 05:56:23 *वृषभ* 05:56:23 07:54:41 *मिथुन* 07:54:41 10:08:23 *कर्क* 10:08:23 12:24:33 *सिंह* 12:24:33 14:36:22 *कन्या* 14:36:22 16:47:01 *तुला* 16:47:01 19:01:39 *वृश्चिक* 19:01:39 21:17:49 *धनु* 21:17:49 23:23:27 *मकर* 23:23:27 25:10:35 *कुम्भ* 25:10:35 26:44:09 *मीन* 26:44:09 28:15:09 ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 10.44 से 12.22 तक चंचल दोप. 12.22 से 02.00 तक लाभ दोप. 02.00 से 03.38 तक अमृत सायं 05.16 से 06.54 तक शुभ सायं 06.54 से 08.16 तक अमृत रात्रि 08.16 से 09.38 तक चंचल | *****""""""******"""*******"""******** आज के विशेष योगायोग/युति संयोग, वेध, ग्रहचार (ग्रहचाल), व्रत/पर्व/प्रकटोत्सव, जयंती/जन्मोत्सव व मोक्ष दिवस/स्मृतिदिवस/पुण्यतिथि आदि 🙏👇:- 👉 **आज वैशाख शुक्ल पक्ष/सुदी गुरुवासर/गुरुवार/Thurssday को हिंदु नववर्ष/विक्रमी संवत् का 31वाँ/इकतीसवां दिन👉 बैशाख सुदी द्वितीया/दूज दूसरे दिन प्रातः 05.38 पर्यंत पश्चात तृतीया शुरू, रोहिणी व्रत/पर्व, वीर शिवाजी जयंती एवं मानव एकता दिवस।** ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ 🙏📿*आज का आराधना मंत्र🙏:- **🕉 ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरुवे नमः‼️🚩* *🚩🕉️ गरुड़वाहनाय नमः।। 🎪🚩* 📿 *आज का उपासना मंत्र :- ।। ॐ स्वयम्भुवे नमः ।। *********************** ⚜ 👉🙏☸*आज की महत्वूर्ण तिथि विशेष :*🚩 **वैशाख शुक्ल पक्ष/सुदी द्वितीया/दूज, रोहिणी व्रत/पर्व। 🙏 💥 **विशेष ध्यातव्य👉 द्वितीया/दूज को बृहति/छोटा बैंगन का सेवन धन व बुद्धिनाशक होने से पूर्णतः वर्जित है (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)।* साभार: 🌞 *~हिन्दू पंचांग ~* 🌞।** 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 👉 **🏡वास्तु टिप्स🏢🏡 1) गृहवास्तु विज्ञान के अनुसार प्रवेश/मुख्य द्वार के सामने दूसरे कमरे का द्वार हो तो शुभ होता है। 2) गृहवास्तु के अनुसार यथासंभव शयनकक्ष में दर्पण न लगाएँ। इससे घर के सदस्यों के विचारों में मतभेद और कलह की स्थिति उत्पन्न होती रहती है।** 3) यदि आपके घर से अगर अकारण ही बरकत जा रही है या आपको नेगेटिव एनर्जी दिख रही है या परिवार में निरंतर कलह रहता है, तो कपूर और फिटकरी को पीस के गौझारण (गौमूत्र) जो बहुत ही आसानी से मिल जाता है (अन्यथा पतंजलि आदि का ले लें), इससे घर मे पोछा लगाने वाले क्लीनर या पानी मे मिला लें और रोज़ सुबह-शाम घर मे पोछा लगाये और गंगाजल का पूजा-आरती के बाद छिड़काव भी करें फिर चमत्कारिक परिवर्तन देखें। 4) **घर की मुख्य सीढ़ियाँ सदैव दक्षिण या पश्चिम की ओर होनी चाहिए। ईशान में कभी भी होनी चाहिए। विशेष परस्थिति में वायव्य तथा आग्नेय कोण में बना सकते हैं। *****""""""******"""*******"""******** 📢 *सुभाषितानि :-* वरमेको गुणी पुत्रो न च मूर्खशतान्यपि । एकश्चन्द्रस्तमो हन्ति न च तारागणोऽपि च ॥ अर्थात :- मूर्ख शिष्य को उपदेश देने से, दुष्ट स्त्री का भरण पोषण करने से, और दुष्टके संयोग से पंडित भी नष्ट होता है । **💊💉आरोग्य मंत्र🌿🍃** *दाढ़ी के सफेद बालों का घरेलू उपचार -* *1. कड़ी पत्ता -* कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन और विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन बी और विटामिन ई जैसे पौष्टिक तत्वों से भरपूर करी पत्ता आपके दिल को बेहतर तरीके से काम करने में सहायता करता है तथा संक्रमण से लड़ता हैं और आपके बालों और त्वचा को जीवंत बनाता है। कड़ी पत्ते का पानी बालों को काला करने में काफी मदद करता है। आप कड़ी पत्तों को थोड़े से पानी में उबाल लें। फिर इस पानी को ठंडा करके छानें और अब पिएं। ऐसा रोजना करने से फायदा होगा। *****""""""******"""*******"""******** ⚜*🐑🐂🦔 आज का संभावित चन्द्र राशिफल🦂🐊🐟:- 👉 किंतु पहले सबसे एक करबद्ध निवेदन🙏 मित्रों सर्वप्रथम तो कुछ तकनीकी कारणों से आपको आपकी प्रिय पोस्ट नक्षत्रवानी विलंब से मिल पाती है इसके लिए मैं आप सभी से क्षमा प्रार्थी हूँ। तत्पश्चात मैं निवेदन करना चाहता हूँ कि आपकी इस परमप्रिय ज्ञानवर्धक 'अपना पोस्ट' *नक्षत्रवाणी* को आप जितना हो सकता हो उतना लाइक-शेयर तथा फॉरवर्ड तो करें ही, आलस्य त्याग कर कृपया इसपर अपनी बुद्धि व विवेक के अनुसार अपने सही-सही कमैंट्स भी अवश्य करें। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और अपने फीडबैक से व लाइक/सराहना करके भी अवश्य ही मेरा उत्साहवर्धन करेंगे। नक्षत्रवाणी के संदर्भ में आप सभी के बहुमूल्य सुझाव भी सदैव सादर आमंत्रित हैं।धन्यवाद...!!! **ख़ुशख़बर।। सबसे बड़ी ख़ुशख़बर।।**👇 Free। फ्री।। निःशुल्क।।। बिना मूल्य।।।।। फ्री।।।।।👇 🙏👉 किसी भी जन्मलग्न या जन्मराशि या अपनी प्रसिद्ध राशि के लिए भाग्यशाली रत्न-रुद्राक्ष हमसे जानें फ्री ऑफ Charge यानि पूर्णतः निःशुल्क व निःसंकोच। इसके अलावा लैब टेस्टेड उच्चतम क्वालिटी के रत्न-रुद्राक्ष प्राप्त करने के लिए भी हमसे संपर्क करें :👇 9987815015 या 9991610514 पर। 🙏👉 प्रियवरों शिवकृपा प्राप्ति के सबसे बड़े शुभावसर 'महाशिरात्रि' के पावन पर्व पर (यानि कि 11 मार्च को) भगवान महाकालेश्वर शिव जो कि एकादश रुद्र रूपों में भी तीनों लोकों में प्रस्फुटित होते हैं, उनके साक्षात स्वरूप व कृपाप्रसाद *पंचमुखी 'रुद्राक्ष रत्न*" जिसे रुद्र के अक्ष या भगवान शिव के अक्ष के रूप में भी जाना जाता है, को इसबार फिर से इस परम शुभ अवसर पर विधिवत् *अभिमंत्रित* करके आपको आपके सभी दैहिक-दैविक-भौतिक कष्टों से मुक्ति दिलाने हेतु, विशेषतः इस **कोरोना काल** में बहुत अधिक बढ़ चुके मानसिक संताप (Mental stress/depression) तथा आर्थिक संताप को पूर्ण रूप से दूर करने के लिए, इस समय आपकी आर्थिक तँगीं की स्थिति को समझते हुए **केवल मात्र 111₹** में आप शिवभक्त सुधि पाठकों के लिए उपलब्ध करवाना प्रारंभ किया हैं। जिसे भी यह दिव्य सर्वसिद्ध **रुद्राक्ष रत्न** चाहिए, वे कृपया हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। ध्यान रखें यह योजना सीमित समय के लिए ही है, इसलिए इस सुनहरे अवसर को आप चूकें नहीं। 🙏 👉 **एक विशेष व अति शुभ सूचना:** **मित्रों हमारे 'ऐस्ट्रो वर्ल्ड' के दिव्य कोष में शुद्ध केसर (काश्मीरी व ईरानी A तथा B दोनों ग्रेड की), पारिजात, चम्पा, अनन्त, पुन्नाग, श्वेत/सफ़ेद ऊद, केसर, खस, भीना गुलाब व असली चंदन जैसे दिव्य इत्रों की पूरी रेंज, भीमसेनी कर्पूर, उत्तम क्वालिटी की शुद्ध गुग्गल व शुद्ध लोबान, शुद्ध राशि रत्न-उपरत्न, असली नेपाली रुद्राक्ष रत्न व गण्डकी नदी से प्राप्त असली शालिग्राम जी भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे इस संग्रहालय में और भी कई दिव्य व चमत्कारिक वस्तुएं उपलब्ध हैं। ये सभी दिव्य वस्तुएं हम अपने ज्योतिष-वास्तु एवं वैदिक पूजा-अनुष्ठानों के नियमित यजमानों के लिए बहुत ही सही कीमत/रेट पर और बहुत ही कम मार्जिन पर आपको देते हैं तथा इनके असली होने की मनीबैक गारंटी भी। तो आप 'नक्षत्रवाणी' के सभी पाठक भी हमारे परमप्रिय होने से इसका लाभ निःसन्देह ले सकते हैं। इसके लिए आप हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। जल्दी रिप्लाई ना मिलने पर आप कॉल भी कर सकते हैं। धन्यवाद...!!!** 🙏ध्यान दें मित्रों 👉 **जिनका भी 'FB यानि फ़ेसबुक' अकाउंट नहीं है और जो पाठकगण हमारे द्वारा भेजे जा रहे 'FB लिंक' के माध्यम से 'नक्षत्रवाणी पोस्ट' नहीं देख या पढ़ पा रहे हों वे इसके बारे में हमें अविलंब बताएं ताकि उन्हें बिना FB लिंक वाली 'पूरी पोस्ट' भेजी जा सके। इसके अलावा जिन पाठक गणों को नक्षत्रवाणी पोस्ट एक से अधिक बार प्राप्त हो रही हो, वे भी हमें तुरंत सूचित करने की कृपा करें ताकि उन्हें हमारी एक से अधिक ब्रॉडकास्ट लिस्ट्स/BCLs से उन्हें रिमूव किया जा सके। आप हमें प्रतिक्रिया नहीं देते हैं तो हमें तो यही लगेगा कि आप को नक्षत्रवाणी केवल एक ही बार प्राप्त हो रही है। इसलिए हमें सूचित अवश्य करें। धन्यवाद...!!! *****""""""******"""*******"""******** देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके। नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत् ।। विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे। जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिंतयेत।। 🐐 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* चिंता तथा तनाव रहेंगे। फालतू खर्च होगा। कुसंगति से बचें। चोट व रोग से बचें। विवाद न करें। आवश्यकताएं बढ़ेंगी। आर्थिक तंगी हो सकती है। कर्ज से बचें। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। शत्रु परेशान करेंगे। हानि नहीं पहुंचा पाएंगे। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* यात्रा, नौकरी व निवेश मनोनुकूल रहेंगे। बकाया वसूली होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। विवाद न करें। नेत्र पीड़ा की संभावना। कुछ लाभ। यात्रा के योग टलेंगे। विरोधी सक्रिय होंगे। ज्ञानीजनों से मुलाकात होगी। शांति बनाना आवश्यक है। अकारण भय व्याप्त होगा। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* कार्यप्रणाली में सुधार होगा। योजना फलीभूत होगी। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। यात्रा के योग बनेंगे। लाभ होगा। राज्य से परेशानी हो सकती है। स्त्री को कष्ट। जायदाद वृद्धि के योग बनेंगे। विरोधी सक्रिय होंगे। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बढ़ेगी। हानि-लाभ का वातावरण बनेगा। पराक्रम बढ़ेगा। विजय मिलेगी, गर्व न करें। ईमानदारी से कार्य करते रहें। समय पक्ष का है। स्त्री सुख, यात्रा में हानि, दुख। विरोधी कष्ट देंगे। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। व्यवसाय ठीक चलेगा। जल्दबाजी न करें। कष्ट होंगे। खर्च बढ़ेंगे। कर्ज लेना पड़ सकता है। धनागम के अवसर बनेंगे। 'आ बैल मुझे मार' की स्‍थिति निर्मित न होने दें। अकारण भय बना रहेगा। व्यापारी सोच-समझकर निर्णय लें। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* कोर्ट व कचहरी के कार्य बनेंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। हानि, भय, कष्ट का वातावरण बनेगा। कुछ लाभ के आसार दिखेंगे। दुखद समाचार मिलने की संभावना है। अस्वस्थता होगी। कुसंग से हानि, कुछ लाभ के आसार दिखेंगे। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। थकान महसूस होगी। रोजगार में वृद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। कष्टों में वृद्धि के योग हैं। कुछ नए कार्य की संभावना सिद्ध होगी। कष्टों में निवृत्ति नहीं होगी। कलह से बचना होगा। अधिकार के लिए प्रयत्न करना होगा। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। व्यवसाय मनोनुकूल लाभ होगा। रोग घेरेंगे। चिंताएं बढ़ेंगी। शत्रु शांत होंगे। अपमान, कष्ट, कलह से बचना होगा। राज्य से लाभ के अवसर बढ़ेंगे। लाभ होगा। शत्रु परेशान करेंगे। कुछ नुकसान होगा। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* दौड़-धूप अधिक होगी। बुरी सूचना मिल सकती है। विवाद न करें। स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। धनलाभ के अवसर प्राप्त होंगे। अकारण भय व्याप्त होगा। शत्रु शांत होंगे। वाहन देखकर चलाएं। परिस्‍थितियां अनुकूल होंगी। कुछ विरोध होगा। विरोधी अपमान करेंगे। शांति होगी। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* मेहनत‍ का फल मिलेगा। कार्यसिद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। घर-बाहर पूछ-परख बनी रहेगी। मातृपक्ष से परेशानी होगी। दुर्घटना की संभावना। धन मिलने की परिस्‍थिति निर्मित होगी। अंतरप्रेरणा से कार्य करें। धनागम के अवसर बढ़ेंगे। प्रमाद का त्याग करना होगा। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। शत्रु शांत होंगे। कष्ट-भय की संभावना, अस्वस्थता, आलस्य का अनुभव करेंगे। धनागम होगा। शरीर शिथिल होगा। शत्रु शांत रहेंगे। लाभ-हानि बराबर रहेंगे। प्रमाद बढ़ेगा। 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* यात्रा, नौकरी व निवेश मनोनुकूल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ होगा। प्रसन्नता रहेगी। प्रमाद न करें। शुभ समाचार की आशा बंधेगी। शत्रु षड्यंत्र रचेंगे। सावधान रहने की आवश्यकता है। पराक्रम दिखलाने का अवसर है। लाभ होगा। रिश्वत न लें। नम्रता बनाए रखें। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ *🎊🎉🎁 आज जिनका जन्मदिवस या विवाह की वर्षगांठ हैं, उन सभी प्रिय मित्रो को कोटिशः शुभकामनायें🎁🎊🎉* ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ और ज़रा इन बातों पर भी ज़रूर ध्यान दें मित्रों...! अगर...??? 1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं....? 2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है...? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं...? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं...? 3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..? 4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं...? 5) बीमारी आपको छोड़ ही नहीं रही है...? घर का हर एक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है...? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है...? 6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं...? 7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है...? 8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है...? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं...? 9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं...? 10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं...? 11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही...? 12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा...? यदि हाँ...??? तो यह सब अकारण ही नहीं है...! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं...? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें...! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं...! ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.) (चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai साभार: बाँके बिहारी (धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच) कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा (सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान) अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान) नोट: हमारी या हमारे संस्थान 'एस्ट्रो-वर्ल्ड' तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच 'सातफेरे डॉट कॉम' मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, दक्षिणावर्ती शँख (जो कि घर में विधिवत रखने मात्र से ही बदल दे आपका भाग्य हमेशां-2 के लिए...!), सियारसिंगी, भुजयुग्म (हत्थाजोड़ी, जो तिज़ोरी आपकी कभी ख़ाली ना होने दे), नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे... सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514 ईमेल आई डी: [email protected] 🌺आपका दिन आदि वैद्य (भगवान धन्वंतरि जी) की कृपा से परम मंगलमय हो मित्रो! *🚩जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्रम🚩* 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩 ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB