प्रबोधिनी एकादशी, जिसे देवुत्थान एकादशी के रूप में भी जाना जाता है, कार्तिक मास के के शुक्ल पक्ष का

प्रबोधिनी एकादशी, जिसे देवुत्थान एकादशी के रूप में भी जाना जाता है, कार्तिक मास के के शुक्ल पक्ष का

प्रबोधिनी एकादशी, जिसे देवुत्थान एकादशी के रूप में भी जाना जाता है, कार्तिक मास के के शुक्ल पक्ष का ग्यारवाँ दिन है। यह चतुर्मास की अवधि के अंत का प्रतीक है जिस समय के दौरान, ऐसा माना जाता है की भगवान विष्णु सोते है। यह माना जाता है कि विष्णु शयनी एकादशी पर सोते है और प्रबोधिनी एकादशी पर उठते हैं। इसीलिए इसका नाम "प्रबोधिनी" (englightenment) एकादशी पड़ा।

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+7 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 3 शेयर
SunitaSharma Apr 20, 2021

+61 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 7 शेयर
Geeta sahu. Apr 20, 2021

+5 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Malti Bansal Apr 20, 2021

+34 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 54 शेयर

+9 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 1 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB