anju mishra
anju mishra Dec 26, 2017

कर्म का फल कहानी

कर्म का फल कहानी

एक बार नारदजी भगवन विष्णु के पास पहुचे और बोले , भगवन धरती पर बहुत पाप बढ़ गया है अच्छे लोगों के साथ बुरा और बुरे लोगों के साथ अच्छा हो रहा है ये देख कर मन क्षुब्ध होजाता है. तो भगवन बोले ऐसा क्या होगया.. अगर कोई घटना याद हो तो बताइये।तब नारद जी ने उन्हें एक घटना सुनाई , नारद जी बोले प्रभु आज सुबह मैंने देखा एक गाय दलदल में फंस गई थी , तभी उधर से एक चोर जा रहा था उसने उस गाय को देखा तो वो उसे बचाने की जगह उसी पे पर रख कर दलदल पार  करके चला गया।  कुछ दुर जाने के बाद उसको सोने के जेवरों की थैली मिली।  फिर कुछ देर बाद उधर से एक साधु जा रहा था जब उसने गाय  को देखा तो उससे रहा नही गया और उसने गाय  को बड़ी जतन  से कीचड़ से निकाला। फिर कुछ दूर जाने के बाद वो साधु एक गड्ढे  में गिर गया जिससे उसे थोड़ी चोट भी आगई , तो प्रभु ऐसा अन्याय क्यं। जिसने अच्छा की उसके साथ उल्टा बुरा हुआ।
तब विष्णु भगवन बोले जिसे सुनकर नारद जी  ऑंखें खुल गई। भगवान् बोले सुनो नारद उस चोर  के भाग्य में  खजाना था लेकिन उसने उस गाय को नहीं बचाया इसलिए उसे कुछ मोहरे ही मिले. जबकि उस साधु की आज मृत्यु थी लेकिन  उस  गाय को बचाया इसलिए उसे बस हल्की- फुल्की  चोट आई। इसलिए कर्म का फल तो मिलता ही है. हो सकता है उसका माध्यम अलग हो। 

+182 प्रतिक्रिया 16 कॉमेंट्स • 229 शेयर

कामेंट्स

Mani Rana Dec 26, 2017
Om Lakshmi Narayan Bhagwan Ki Jai good afternoon ji nice g

LR Sharma Dec 26, 2017
श्रीमन्नारायण नारायण हरि हरि

Santosh Chandoskar Dec 26, 2017
Shreeman.Narayan. Namo.NamAH.Aapke.Jivan.Me.shreenarayan.Chatrachaya.Bani.Rahe.Hare.RAm.Hare.Krishna.Good.Evening

ramesh Dec 26, 2017
thoda. aur example dekar samjhaya hota

Sanju Kumar Dec 26, 2017
अति सुन्दर 👌 👌 👌 👌 👌

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB