Mamta Chauhan
Mamta Chauhan Apr 16, 2021

Shubh Ratri Vandan Rathey Radhey 🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌷🌿🌿🌿🌿🌿🌷🌿🌿🌿🌿

Shubh Ratri Vandan Rathey Radhey 🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌷🌿🌿🌿🌿🌿🌷🌿🌿🌿🌿

+243 प्रतिक्रिया 78 कॉमेंट्स • 358 शेयर

कामेंट्स

atul tiwari Apr 16, 2021
@mamtachauhan3 Good Night with Sweet dreams.. God bless you nd your family sist.. my dear sist ko Nmskar 🌷🙏🌷🙏 🎣🌸🎣जय माता दी 🌹🔯🌹🔯🌹🔯🌹

Ashwinrchauhan Apr 16, 2021
राधे राधे बहना जी राधारानी की कृपा आप पर आप के पुरे परिवार पर सदेव बनी रहे मेरी आदरणीय बहना जी आप का हर पल मंगल एवं शुभ रहे मुरलीवाले कान्हा जी आप की हर मनोकामना पूरी करे आप का आने वाला दिन शुभ रहे गुड नाईट बहना जी

Ranveer soni Apr 16, 2021
🌹🌹जय श्री राधे🌹🌹

Ansouya M 🍁 Apr 16, 2021
जय श्री राधे कृष्ण 🙏🙏🕉 श्री कृष्ण गोविन्द हरी मूरारी हे नाथ नारायण वासुदेव 🙏🕉🌷 शुभ रात्रि प्यारी बहना जी 🌷🙏🌷🙏 मुरली मनोहर कुन्जविहारी जी की कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बना रहे जी मेरी प्यारी बहना जी 🌷🙏🌷🙏

दादाजी 🌹 Apr 16, 2021
जय माता दी🌹🙏 सुभ रात्री बंदन मेरी पियारि बिटिया🌹🌹

Mamta Chauhan Apr 16, 2021
@ramvilaspandey Jai mata di🌷🙏shubh ratri vandan bhai ji aapka har pal khushion bhara ho mata rani ki kripa sda aap or aapke priwar pr bni rhe🌷🌷🌷🙏🙏🙏

saumya sharma Apr 16, 2021
jai mata di 🙏Good night my dear sis🌹 sweet dreams 😊🌹

RAKESH SHARMA Apr 16, 2021
WELCOME And WISHING FOR BEAUTIFUL MORNING 🙏🙏🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Kamala Sevakoti Apr 17, 2021
jai shree Radhey jai shree Radhey jai shree Radhey jai shree Radhey jai shree Radhey good night ji 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

EXICOM Apr 22, 2021
🌹🙏ऊँ🙏🌹 🌹🙏शाँतिं🙏🌹 🌹🙏दीदी🙏🌹 🌹🙏जी🙏🌹

Renu Singh May 11, 2021

+483 प्रतिक्रिया 87 कॉमेंट्स • 315 शेयर

*एक प्रेरक प्रसंग :-* प्रतिवर्ष माता पिता अपने पुत्र को गर्मी की छुट्टियों में उसके दादा दादी के घर ले जाते । 10-20 दिन सब वहीं रहते और फिर लौट आते। ऐसा प्रतिवर्ष चलता रहा। बालक थोड़ा बड़ा हो गया । एक दिन उसने अपने माता पिता से कहा कि अब मैं अकेला भी दादी के घर जा सकता हूं ।तो आप मुझे अकेले को दादी के घर जाने दो । माता पिता पहले तो राजी नहीं हुए। परंतु बालक ने जब जोर दिया तो उसको सारी सावधानी समझाते हुए अनुमति दे दी । जाने का दिन आया । बालक को छोड़ने स्टेशन पर गए। ट्रेन में उसको उसकी सीट पर बिठाया । फिर बाहर आकर खिड़की में से उससे बात की ।उसको सारी सावधानियां फिर से समझाई। बालक ने कहा कि मुझे सब याद है। आप चिंता मत करो । *ट्रेन को सिग्नल मिला। व्हीसिल लगी। तब पिता ने एक लिफाफा पुत्र को दिया कि बेटा अगर रास्ते में तुझे डर लगे तो यह लिफाफा खोल कर इसमें जो लिखा उसको पढ़ना* बालक ने पत्र जेब में रख लिया । माता पिता ने हाथ हिलाकर विदा किया। ट्रैन चलती रही। हर स्टेशन पर लोग आते रहे पुराने उतरते रहे । सबके साथ कोई न कोई था । अब बालक को अकेलापन लगा। ट्रेन में अगले स्टेशन पर ऐसी शख्सियत आई जिसका चेहरा भयानक था। पहली बार बिना माता-पिता के, बिना किसी सहयोगी के ,यात्रा कर रहा था। उसने अपनी आंखें बंद कर सोने का प्रयास किया परंतु बार-बार वह चेहरा उसकी आंखों के सामने घूमने लगा। बालक भयभीत हो गया ।रुंआसा हो गया । तब उसको पिता की चिट्ठी। याद आई। उसने जेब में हाथ डाला। हाथ कांपरहा था। पत्र निकाला । लिफाफा खोला । पढा *पिता ने लिखा था तू डर मत* *मैं पास वाले कंपार्टमेंट में ही इसी गाड़ी में बैठा हूं ।* बालक का चेहरा खिल उठा। सब डर काफूर हो गया। मित्रों जीवन भी ऐसा ही है । *जब भगवान ने हमको इस दुनिया में भेजा उस समय उन्होंने हमको भी एक पत्र दिया है ,जिसमें लिखा है , "उदास मत होना ,मैं हर पल, हर क्षण ,हर जगह तुम्हारे साथ हूं । पूरी यात्रा तुम्हारे साथ करता हूं । केवल तुम मुझे स्मरण रखते रहो। सच्चे मन से याद करना, मैं एक पल में आ जाऊंगा। चिंता करने से मानसिक और शारीरिक दोनों स्वास्थ्य प्रभावित होते हैं । परमात्मा पर ,प्रभु पर, अपने इष्ट पर, हर क्षण विश्वास रखें । वह हमेशा हमारे साथ हैं । हमारी पूरी यात्रा के दौरान.. *अन्तिम श्वास तक*। प्रभु पर सदैव विश्वास रखें 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

+255 प्रतिक्रिया 78 कॉमेंट्स • 277 शेयर

+251 प्रतिक्रिया 56 कॉमेंट्स • 131 शेयर
SUREKHA RANA May 11, 2021

+190 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 167 शेयर
ANITA THAKUR May 11, 2021

+216 प्रतिक्रिया 22 कॉमेंट्स • 126 शेयर
sanjay Awasthi May 11, 2021

+209 प्रतिक्रिया 33 कॉमेंट्स • 10 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB